गिलोय से गठिया का इलाज : गठिया का दर्द हो जायेगा हरदम के लिये गायब | Giloy se gathiya ka ilaj

गिलोय से गठिया का इलाज Giloy se gathiya ka ilaj : दोस्तों क्या पता है आपको की गिलोय से गठिया का इलाज किया जाता है हालांकि गिलोय गठिया के साथ-साथ अन्य बीमारियों में भी उपयोगी है प्रमुख रूप से इसे बुखार सर्दी जुकाम जैसी बीमारी में अधिकता से किया जाता है।

गिलोय से गठिया का इलाज, gathiya me giloy ke fayde, gathiya ka ilaj gharelu, kya gathiya ka ilaj sambhav hai, gathiya ka ilaj bataye, gathiya ka ilaj baba ramdev, gathiya ka ilaaj bataiye, gathiya ka ilaj patanjali, gathiya ka ilaj in hindi, पतंजलि में गठिया रोग की दवा, गिलोय से गठिया का इलाज, gathiya ka ilaj kya hai,, gathiya me giloy ke fayde, gathiya ka ilaj kya hai,, gathiya ka ilaj kya hai, gathiya ka ilaj kaise kiya jata hai, kya gathiya ka ilaj sambhav hai, gathiya ko jad se khatam karne ka ilaj kya hai, gathiya me giloy ke fayde, गठिया रोग में गिलोय के फायदे, गठिया में गिलोय के फायदे, benefits of giloy in marathi, giloy benefits for skin in hindi, gathiya me giloy ke fayde, gathiya me methi ke fayde, arthritis me giloy ke fayde, gathiya me kya khaye, gathiya me kya khaye kya nahi, gathiya me kya hota hai, gathiya me kya na khaye, gathiya ke liye oil, गठिया का इलाज क्या है, गठिया बाई का इलाज क्या है, गठिया का घरेलू इलाज क्या है, गठिया बीमारी का इलाज क्या है, sar ka dard ka ilaaj, gathiya ka kya ilaj hai, gathiya bai ka kya ilaj hai, gathiya ka ilaaj kaise karen, gathiya bai ka ilaj kaise hota hai, गठिया रोग में गिलोय के फायदे, गठिया में गिलोय के फायदे, गठिया रोग क्या है ?, गठिया रोग क्या है, गठिया रोग क्या होता है, गठिया रोग का देसी इलाज क्या है, गठिया रोग की क्या पहचान है, गठिया रोग को इंग्लिश में क्या कहते हैं, गठिया रोग के लक्षण क्या है, गठिया रोग का इलाज क्या है, गठिया रोग की दवा क्या है, गठिया रोग के लक्षण, गठिया रोग के लक्षण और उपाय, गठिया रोग के लक्षण इन हिंदी, गठिया रोग के लक्षण और उपचार, गठिया रोग के लक्षण क्या है, गठिया रोग के लक्षण बताएं, गठिया रोग के लक्षण बताइए, गठिया रोग के कारण लक्षण, गठिया रोग लक्षण, गठिया रोग क्यों होता है, गठिया रोग स्पेशलिस्ट डॉक्टर, गठिया बाय का रामबाण इलाज, गठिया रोग में क्या खाना चाहिए, गठिया का पौधा, गठिया के प्रकार, गठिया रोग में क्या नहीं खाना चाहिए, गठिया बाय का दर्द, gathiya ke lakshan aur upay, गठिया रोग के लक्षण और उपाय, गठिया बीमारी के लक्षण और उपाय, गठिया बाई के लक्षण और उपाय, gathiya ke lakshan aur upay, gathiya ke lakshan kya hai, gathiya ke lakshan in hindi, gathiya ke kya lakshan hai, gathiya ke lakshan hindi, gathiya rog ke upay in hindi, gathiya rog ke lakshan in hindi, गठिया रोग की पहचान, gathiya ke lakshan hindi, gathiya ke lakshan aur upay, gathiya bimari ke lakshan, gathiya rog ke lakshan, गठिया रोग के लक्षण, गठिया रोग का लक्षण, gathiya rog ke bare mein jankari, गठिया रोग के क्या लक्षण होते हैं, gathiya rog ke upay in hindi, gathiya vaat ke lakshan, gathiya rog ke lakshan hindi, गठिया रोग की अंग्रेजी दवा, gathiya rog kya hai in hindi, गठिया रोग की पहचान, गठिया रोग की अंग्रेजी दवा, gathiya rog kya hota hai in hindi, gathiya rog kya hai, गठिया रोग में क्या खाना चाहिए, gathiya rog ka ilaaj kya hai, gathiya rog kya hota hai, benefits of giloy in marathi, giloy benefits for skin in hindi, gathiya me giloy ke fayde, gathiya me methi ke fayde, arthritis me giloy ke fayde, gathiya me kya khaye, gathiya me kya khaye kya nahi, gathiya me kya hota hai,

गिलोय एक ऐसा पौधा जिस का प्रयोग जड़ी-बूटी के रूप में किया जाता है इसके विषय में आप सभी लोग भली भांति परिचित हैं भारत में गिलोय को अमृता के नाम से जाना जाता है। गिलोय का पौधा एक बेल के रूप में पेड़ों के सहारे चढ़ता है इसके पत्ते पान की तरह होते हैं।

गिलोय को प्रमुख रूप से काढ़ा बनाकर लोग विभिन्न प्रकार की बीमारियों में प्रयोग करते हैं यह वास्तव में बुखार जैसी समस्या को जड़ से खत्म करने के लिए कारगर जड़ी बूटी है। गिलोय के पत्ते जड़ और तना तीनों का प्रयोग भारतीय आयुर्वेद में बड़े पैमाने पर किया जाता है।

गिलोय से गठिया का इलाज | Giloy se gathiya ka ilaj

गठिया एक ऐसा रोग जिसके होने पर शरीर में हड्डियों के जोड़ों में दर्द होता है साथ ही जोड़ के स्थान पर सूजन भी हो जाती है गठिया सबसे ज्यादा जाड़े के मौसम में व्यक्ति को परेशान करती है। जब ठंडा का मौसम आता है और सुबह शाम ठंड है या सर्दी बढ़ जाती है तो इस मौसम में गठिया के रोगियों को सबसे ज्यादा समस्या होती है और इस दौरान आपको अपनी सेहत को लेकर काफी सजग रहने की जरूरत है।

यदि आपको गठिया की समस्या है तो आपको अपनी इस समस्या से निजात पाने के लिए प्रमुख रूप से हरी सब्जियों का प्रयोग करना चाहिए फिर भी यदि समस्या का समाधान नहीं है तो गिलोय से गठिया का इलाज संभव है। गिलोय का रस प्रतिदिन सेवन करने से गठिया ठीक हो जाता है इसके लिए आप गिलोय के तना और जड़ को काढ़ा के रूप में प्रयोग कर सकते हैं या फिर ठंडे पानी में पीसकर रस का सेवन कर सकते हैं।

यदि आप प्रतिदिन गिलोय का रस लगभग एक गिलास पीते हैं तो गिलोय से गठिया का इलाज हो जाता है अर्थात धीरे-धीरे गठिया समाप्त हो जाता है क्योंकि गठिया एक ऐसा रोग है जिसमें व्यक्ति को चलने फिरने में दिक्कत होती है।आइए हम जानते हैं की गिलोय से गठिया का इलाज किस प्रकार से किया जा सकता है और गिलोय का उपयोग हम शरीर के कौन-कौन से रोगों के लिए किया जा सकता है।


1. प्रतिरक्षा को बढ़ाता है

गिलोय एक ऐसा औषधि पौधा है जिसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जिसकी वजह से यदि इसका हम सेवन करते हैं तो हमारे शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होता है और विभिन्न प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। गिलोय किडनी और लीवर से अनावश्यक विषाक्त पदार्थों को अलग करके रक्त को शुद्ध करता है जिसकी वजह से हमारा पाचन तंत्र मजबूत होता है और रोगों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि होती है।

2. डेंगू को ठीक करता है

गठिया रोग क्या है ?

हमारे शरीर में जब डेंगू का अटैक होता है तो तेज बुखार के साथ जाड़ा लगता है जिसकी वजह से हमारे अंदर रक्त कणिकाओं की कमी हो जाती हैं और व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। जब हम पर डेंगू बुखार अटैक करता है तो रक्त में प्लेटलेट्स कणिकाओं की कमी की वजह से शरीर में तेज बुखार के साथ साथ संपूर्ण शरीर मृत अवस्था में पहुंचने की स्थिति हो जाती है ऐसी स्थिति में गिलोय का जूस एक कारगर औषधि है।

3. पाचन दुरुस्त होता है

गिलोय से गठिया के इलाज के साथ-साथ अन्य कई बीमारियों को दूर किया जा सकता है क्योंकि गिलोय पूर्ण रूप से शरीर को स्वस्थ बनाता है ऐसे में यदि आपका पाचन सही नहीं है तो गिलोय का प्रयोग किया जा सकता है। पाचन तंत्र की मजबूती के लिए गिलोय पाउडर को को आंवला के साथ नियमित सेवन करना चाहिए अगर गिलोय के रस को दूध के साथ लिया जाए तो यह बवासीर से पीड़ित व्यक्ति के लिए काफी फायदेमंद होता है।

4. मस्तिष्क की मजबूती होती है

जब दिखती के अंदर किसी भी प्रकार से तनाव और चिंता उत्पन्न होती है तो मानसिक स्थिति में विकृति उत्पन्न होती है जिसकी वजह से सर दर्द की समस्या होती हैं। गिलोय में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट गुण सभी प्रकार के विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर कर देता है ऐसे में यदि गिलोय को अन्य किसी जड़ी-बूटी के साथ मिश्रित करके लिया जाता है तो मस्तिष्क को मजबूती मिलती हैं साथ ही याददाश्त बढ़ जाती है।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 748 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

सपने में बैंगन देखना : सफ़ेद बैंगन,खाने,तोड़ने या खरीदते हुए देखने का मतलब जाने| सपने में बैंगन देखना – Sapne mein baingan dekhna
भारत में प्रसिद्ध काली माता के 5 मंदिर कौन से है ? Which are the 5 famous temples of Kali Mata in India?

गठिया रोग क्या है ?

गठिया रोग क्या है ?

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

गठिया रोग प्रमुख रूप से जोड़ों का दर्द है जब हमारे हाथ पैरों के जोड़ों ने पाया जाने वाला अस्थि मज्जा का तरल सूख जाता है तो हड्डियां एक दूसरे से रगड़ने लगती हैं जिनकी वजह से जोड़ों में दर्द उत्पन्न होता है जिससे हमें उठने बैठने में चलने फिरने में तथा हाथिया पैरों को इधर-उधर घुमाने में दिक्कत होती है। आज के समय में लगभग हर व्यक्ति गठिया रोग का शिकार हो चुका है जिसकी वजह से कम उम्र में ही जोड़ों में दर्द के कारण कार्य करने में अक्षम हो जाता है।

गठिया रोग के लक्षण

जब भी किसी व्यक्ति के अंदर गठिया रोग उत्पन्न होता है अर्थात गठिया की समस्या होती है तो कुछ सामान्य से लक्षण दिखाई देते हैं आइए हम गठिया रोग के सामान्य लक्षण जानते हैं।

1. थकावट महसूस होना

जब शरीर में गठिया की शुरुआत होती है तो धीरे-धीरे व्यक्ति के अंदर थकावट महसूस होने लगती है हालांकि कमजोरी के कारण थकावट होती है लेकिन थकावट महसूस होने लगे तो हो सकता है कि आपको गठिया की शुरुआत हो चुकी है।

2. हाथ पैरों में अकड़न

गठिया रोग क्या है ?

गठिया रोग होने पर व्यक्ति के हाथ पैर पकड़ने लगते हैं ऐठन महसूस होती हैं कभी-कभी ऐसा लगता है कि हाथ या पैर ऐठन की वजह से टेढ़ापन हो जाता है हालांकि कुछ ही देर में सामान्य स्थिति में आ जाते हैं।

3. जोड़ों में दर्द

गठिया के कारण व्यक्ति के हाथ पैरों में दर्द होने लगता है प्रमुख रूप से पैरों की अंगुलियां पैर के घुटने और पैरों की उंगलियों में दर्द होता है जिससे चलने फिरने में दिक्कत होने लगती है इसके अलावा कंधों में भी खींचा उत्पन्न हो जाता है।

4. चलने फिरने उठने बैठने में दिक्कत होती है

गठिया के रोगियों को सबसे ज्यादा चलने फिरने उठने बैठने में दिक्कत होती है साथ ही यदि अपने सिर पर कोई बाहर लेकर चलते हैं तो पैरों की वजह से चल नहीं पाते हैं इसके अलावा जब हम घरों की सीढ़ियां चढ़ते हैं तो चढ़ने में हमें घुटनों में दर्द होता है।

FAQ : गिलोय से गठिया का इलाज

गठिया किस प्रकार का रोग है ?

गठिया एक वात पित्त का रोग है जब हमारे शरीर में अत्यधिक मात्रा में वात पित्त बनने लगता है तो गठिया के साथ-साथ अन्य कई बीमारी भी जन्म लेती हैं जैसे बवासीर।

गठिया का प्रमुख कारण क्या है ?

गठिया रोग का प्रमुख कारण फास्ट फूड जंक फूड और असंतुलित दिनचर्या के कारण होता है।

गठिया शरीर के किस हिस्से को प्रभावित करती है ?

गठिया रोग प्रमुख रूप से शरीर के जोड़ों को प्रभावित करती है क्योंकि जब भी गठिया रोग उत्पन्न होता है तो हमारे शरीर के सभी जोड़ दर्द करने लगते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों गिलोय से गठिया का इलाज संभव है इसके अलावा गठिया होने की स्थिति में हम अन्य कई प्रकार के आयुर्वेदिक और घरेलू उपाय आजमा सकते हैं जिनका उपयोग करने से गठिया जैसी बीमारी से निजात पाया जा सकता है।

osir news

हमारे घरों में ऐसे कई प्रकार के घरेलू उपाय हैं जिनका मात्र प्रयोग करने से गठिया की समस्या खत्म हो जाएगी और हमारा शरीर कई बीमारियों से भी लड़ने की क्षमता प्राप्त कर लेता है। उदाहरण के तौर पर अगर अरंडी के तेल के साथ गिलोय का प्रयोग किया जाता है तो भी गठिया रोग समाप्त हो जाता है।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

लिविंग रूम के लिए वास्तु शास्त्र और सही दिशा जाने living room vastu in hindi
गूगल पर अपना फोटो कैसे डाले लगाये ? गूगल पर अपनी फोटो कैसे अपलोड करें ? How to upload your photo on Google in hindi?
शनिवार वशीकरण टोटके और मंत्र एवं वशीकरण प्रयोग विधि | shanivaar vashikaran totke 
Free घर का 3D नक्शा कैसे बनाएं ? होम मैप डिजाइन सोफ्टवेयर फ्री 3d home floor plan design software in hindi
जाने कंही आप को नजर तो नहीं लगी है? नजर हटाने के लिये अभी ये उपाय करे | नजर लगने के लक्षण और उपाय : Najar ka sabar mantra
★ सम्बंधित लेख ★