गुटखा छोड़ने का मंत्र और 9 असरदार उपाय : सिगरेट-तंबाकू सब छोड़ दोगे | Gutkha chodne ka mantra

गुटखा छोड़ने का मंत्र | Gutkha chodne ka mantra : दोस्तों आज भारत में लगभग 90% लोग गुटका खाने के आदी हो चुके हैं. जबकि लगभग हर आदमी यह जानता है कि गुटखा खाने से कैंसर जैसी घातक बीमारी होती है और फिर आदमी का बचना संभव नहीं हो पाता. जब आदमी गुटके का आदी हो चुका होता है तो वह फिर गुटखा छोड़ने का मंत्र ढूंढता है परंतु उसे फिर कोई उपाय नजर नहीं आता है.



gutka chodne ke faydeRemove term: gutka chodne ke upay gutka chodne ke upayRemove term: gutka chodne ki ayurvedic dawa gutka chodne ki ayurvedic dawaRemove term: gutkha chodne ka mantra gutkha chodne ka mantraRemove term: गुटखा छोड़ने का आसान तरीका गुटखा छोड़ने का आसान तरीकाRemove term: गुटखा छोड़ने का घरेलू उपाय गुटखा छोड़ने का घरेलू उपायRemove term: गुटखा छोड़ने का दवाई गुटखा छोड़ने का दवाईRemove term: गुटखा छोड़ने का मंत्र गुटखा छोड़ने का मंत्रRemove term: गुटखा छोड़ने की आयुर्वेदिक दवा गुटखा छोड़ने की आयुर्वेदिक दवाRemove term: गुटखा छोड़ने की विधि गुटखा छोड़ने की विधिRemove term: गुटखा छोड़ने के उपाय medicine गुटखा छोड़ने के उपाय medicineRemove term: गुटखा छोड़ने के टोटके गुटखा छोड़ने के टोटके

फिर भी हम अपने आर्टिकल में आपको गुटका छोड़ने का मंत्र के बारे में बताएंगे क्योंकि बढ़ते हुए गुटका का सेवन लोगों की आर्थिक और शारीरिक स्थिति पर गहरा प्रभाव डाल रही है यह एक तंबाकू का उत्पाद है जिससे कई प्रकार के घातक प्रभाव शरीर पर देखने को मिलते हैं. फिर भी लोग बड़े चाव से आज गुटका खा रहे हैं.

शुरुआत में व्यक्ति दिन भर में एक आध गुटका खाना शुरू करता है धीरे-धीरे उसकी लत इतनी बिगड़ जाती है कि दिन भर में 10 से 20 गुटखा खा जाता है बहुत से लोग ऐसे हैं जो दिन भर में 40 से 50 गुटखा खाते हैं अब जरा आप ही सोचिए कि जो व्यक्ति इतनी मात्रा में गुटखा खाएगा तो उसके हालात क्या होंगे ? क्या उसके लिए गुटखा छोड़ने का मंत्र काम आएगा ?

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

लेकिन फिर भी हम आप लोगों को गुटखा छोड़ने का मंत्र बताएंगे जिससे आपको गुटका छोड़ने में बहुत मदद होगी इसलिए इस लेख को अंत तक पढ़े क्योंकि गुटका छोड़ने से जुड़ी सारी जानकारी हमने इस लेख में आप लोगों को उपलब्ध कराई है.

गुटखा छोड़ने के उपाय | Gutkha chodne ka upaay

गुटखा खाने की आदत को लोग छोड़ना चाहते हैं फिर भी नहीं छोड़ पाते हैं. गुटखा खाने वाले लोगों में सबसे बड़ी समस्या मुंह का छोटा हो जाना है. वास्तव में गुटखा में कुछ ऐसे केमिकल मिले होते हैं जो हमारे मुंह की कोशिकाओं को निष्क्रिय बना देते हैं जिसके चलते मुंह की कोशिकाएं नष्ट हो जाते हैं और धीरे-धीरे मुंह फैलना बंद हो जाता है.


गुटका कोई खाद्य पदार्थ नहीं है बल्कि यह सुपारी और तंबाकू से बना हुआ नशीला पदार्थ है अर्थात अगर आप गुटका जैसा नशा करते हैं तो फिर धीरे-धीरे गुटखा आपको खाने लगता है तब आप गुटखा छोड़ने के लिए प्रयास करते हैं लेकिन बहुत ही मुश्किल हो जाता है.

अगर आप गुटखा छोड़ने का विचार कर रहे या आप गुटका छोड़ना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको आत्म स्वयं की जरूरत है जब आप मानसिक रूप से अपने ऊपर कंट्रोल कर लेते हैं तो गुटका छोड़ना आसान हो जाता है अर्थात आत्म नियंत्रण से बड़ा गुटखा छोड़ने का मंत्र कोई नहीं है.

1. दृढ़ संकल्प

दोस्तों नशा किसी भी प्रकार का हो आप चाहे बीड़ी, सिगरेट, तंबाकू, गुटका, शराब, जो भी खाते हैं उनको छोड़ना आसान नहीं होता लेकिन जब व्यक्ति के अंदर दृढ़ संकल्प जाग उठता है तो हर चीज को छोड़ सकता है.

 

किसी भी प्रकार के नशा छोड़ने का सबसे बड़ा मंत्र दृढ़ संकल्प है आप प्रण करें कि आज के बाद गुटका नहीं खाएंगे तो फिर अन्य सारे मंत्र आपके लिए बेकार हो जाएंगे केवल दृढ़ संकल्प से ही गुटखा जैसा नशा छोड़ा जा सकता है.

2. धीरे-धीरे कम करें

दोस्तों तंबाकू, बीड़ी, सिगरेट, गुटखा, पान मसाला, यह सब निकोटीन युक्त होते हैं जिसकी एक बार लत पड़ने से छोड़ना आसान नहीं होता है फिर भी अगर आप चाहते हैं कि गुटखा छोड़ दें तो आप जितनी पुड़िया पहले खाते हैं उसमें से कुछ कम करें. इसके बाद आप एक या 2 दिन कारगर  करके खाना शुरू करें धीरे धीरे कम करते जाएंगे और आपकी पुड़िया की आदत छूट सकती है.

3. चुइंगम खाए

दोस्तों आज के समय में गुटका की लत छुड़ाने के लिए चुइंगम का प्रयोग किया जा सकता है अगर आप प्रतिदिन जब गुटखा खाने की इच्छा हो तब आप चुइंगम का प्रयोग करें इससे आपकी गुटखा खाने की आदत छूट जाएगी.

4. माउथ फ्रेशनर खाएं

अगर आप चुइंगम नहीं खाना चाहते हैं या आपको नहीं पसंद है तो आप माउथ फ्रेशनर का भी प्रयोग कर सकते हैं आज कई तरह के माउथ फ्रेशनर गुटखा पान मसाला, बीड़ी, सिगरेट, छुड़ाने के लिए बाजार में उपलब्ध है. इसमें हमारे कुछ लाभदायक तत्व मिले होते हैं जैसे सॉन्ग, सौंफ, गरी, छुहारा मिश्री आदि. यह सभी चीजें हमारे लिए अच्छी होती हैं साथ-साथ मुंह की दुर्गंध ही दूर हो जाती है. आपको जब गुटखा खाने का मन करे तब आप एक माउथ फ्रेशनर खाएं.

5. अदरक वाली चटपटी गोलियां

Ginger

गुटखा छोड़ने का सबसे अच्छा तरीका कि आप अदरक वाली चटपटी गोलियां अपने पास रखें या फिर अदरक को ही अपने पास रखें जब भी आपका मन गुटखा खाने का करे तब आप एक छोटा सा टुकड़ा अदरक का मुंह में रख ले.

इसके अलावा आप अदरक को कूटकर बढ़िया पाउडर बना लें और उसमें थोड़ी सी अजवाइन, काला नमक मिलाकर एक डिब्बी में बंद करके अपनी जेब में रख ले जब आपको गुटखा खाने की तलब लगे तब आप इसे खा ले. यह सेठ की समस्याओं में भी लाभकारी है और गुटखा खाने की आदत भी छूट जाती है.

6. सौंफ इलायची और लौंग पास रखें

तंबाकू और गुटखा खाने वाले लोगों को अपनी इस लत को दूर करने के लिए हमेशा अपने पास सौंफ इलायची और लौंग रखना चाहिए जब आपका मन गुटका खाने का हो तो आप उनके स्थान पर इन्हीं चीजों को खा ले यह आदत जब आप डाल लेते हैं तो गुटका खाने की आदत छूट जाती है.

7. सौंफ और अजवाइन

अजवाइन

उसको गुटका की लत छोड़ने के लिए आपको सौंफ और अजवाइन जैसी चीजें एक अच्छा प्रभाव दिखाती है सौंफ और अजवाइन लेकर तवे पर भून लें और इसमें नींबू का रस व काला नमक मिलाकर अपने पास डिब्बी में रख ले जब आपकी इच्छा करें तब आप इसे ही खाले आपकी गुटखा खाने की आदत छूट जाएगी.

8. गुटखा खाने वालों का साथ छोड़े

old friends

गुटके की आदत तब तक नहीं छूट सकती है जब तक आप गुटका खाने वालों का साथ नहीं छोड़ते क्योंकि जब हमारे मित्र गुटखा खाते हैं तो वह हमें भी खिला देते हैं ऐसे में आपकी गुटका खाने की आदत किरण संकल्प के बावजूद भी नहीं छूटती है तो सबसे अच्छा गुटखा छोड़ने का मंत्र यही है कि इन लोगों का साथ छोड़ दें.

9. नो एडिक्शन दवाई ले

अगर आप बीड़ी, सिगरेट, तंबाकू, एल्कोहलिक पदार्थों, का सेवन करते हैं तो आपको नो एडिक्शन दवाई लेनी चाहिए यह दवाएं आपके शरीर पर अच्छा प्रभाव डालती है क्योंकि इसमें सभी प्रकार से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां होती हैं जो शरीर की सेहत को भी बनाती हैं.

medicine

साथ में गुटखा खाने जैसी लत को भी दूर कर देती है इसके साथ-साथ अन्य कई नशीले पदार्थों का अगर आप सेवन करते हैं तो उनकी आदत भी छूट जाती है.

गुटखा छोड़ने का मंत्र : गायत्री मंत्र | Gutkha chodne ka mantra gayatri mantra

दोस्तों अगर आप वास्तव में गुटखा छोड़ना चाहते हैं तो आप गायत्री मंत्र के साथ संकल्प लें और इसका प्रतिदिन जाप करे. इस मंत्र का   जाप करने से और संकल्प लेने से आपकी गुटका खाने की आदत निश्चित हो जाएगी. गायत्री मंत्र इस प्रकार से हैं.

ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्।

अगर आप किसी मंत्र के साथ संकल्प ले लेते हैं तो निश्चित रूप से आपको गुटखा छोड़ना ही पड़ेगा इसलिए जब भी आपको गुटखा छोड़ना है उस दिन गायत्री मंत्र के साथ संकल्प लेकर गुटखा छोड़ दें. क्योंकि जब आप किसी भी गुटखा छोड़ने के मंत्र के साथ संकल्प लेते हैं तो निश्चित रूप से गुटखा की आदत छूट जाती है.

गुटखा छोड़ने की आयुर्वेदिक दवा | Gutkha chodne ki ayurvedic dawa

अगर आप मुझसे कोई भी व्यक्ति गुटका छोड़ने की आयुर्वेदिक दवा के नाम के बारे में जानना चाहता है तो आज हम आपको यहां पर गुटखा छोड़ने की आयुर्वेदिक दवा के बारे में जानकारी देंगे गुटखा के लिए आपको यहां पर हम एक ऐसी दवा का नाम बताएंगे जिसके माध्यम से आप हमेशा के लिए इस गुटके को छोड़ देंगे इस आयुर्वेदिक दवा का नाम Nonico है.

इस दवा का सेवन करने से गुटके की लगी हुई हमेशा के लिए छूट जाती है.

गुटका छोड़ने की आयुर्वेदिक दवा Nonico

तम्बाकू , गुटका , पान मसाला और सिग्रेट को छोड़ने वाला च्विंगम

गुटका खाने से नुकसान | Gutkha khane se nuksan

दोस्तों अगर आप गुटका खाने की आदत से परेशान हैं और आप छोड़ना नहीं चाहते हैं तो आपको यह जानना अति आवश्यक है कि गुटखा खाने से नुकसान क्या हो सकता है ? आइए हम आपको इसी संदर्भ में बताते हैं.

  1. गुटखा खाने से मुंह छोटा हो जाता है क्योंकि इसमें मिलने वाले केमिकल मुंह की कोशिकाओं को सख्त बना देते हैं और मुंह खुलना बंद हो जाता है.
  2. गुटखा पान मसाला खाने से आपको फाइब्रोसिस होने की समस्या बढ़ जाती है.
  3. गुटका एक तंबाकू का उत्पाद है जिसका सेवन करने से मुंह का गले का कैंसर होता है आप सब जानते हैं कि कैंसर कितना असाध्य और घातक रोग है जिसको ये हो जाता है उसकी मौत होना निश्चित माना जाता है.
  4. अधिक गुटका सेवन करने से मुंह में छाले पड़ जाते हैं क्योंकि गुटखा खाने से हमारा पाचन भी गड़बड़ हो जाता है जिसके चलते कब्ज और एसिडिटी की समस्या बनती है. पेट साफ ना होने की वजह से मुंह में छाले पड़ने लगते हैं.
  5. अत्यधिक मात्रा में गुटखा सेवन करने से कार्डियोवस्कुलर रोग हो जाता है जो फेफड़ों से संबंधित होता है. गुटखा में पाई जाने वाली तत्व लार के माध्यम से फेफड़ों तक पहुंच जाते हैं जो धीरे-धीरे जमा हो जाते हैं जिससे फेफड़े और ह्रदय दोनों खराब हो जाते हैं.
  6. अक्सर गुटका का सेवन करने वाले लोगों को ब्लड प्रेशर की बीमारी बढ़ जाती है क्योंकि इसमें पाया जाने वाला निकोटीन ब्लड सरकुलेशन को बढ़ा देता है.
  7. अधिक मात्रा में गुटखा खाने से हमारे दांतों में कैविटी एवं दांत खराब हो जाते हैं धीरे-धीरे दांत पीले पढ़ना शुरू हो जाते हैं और बहुत सरे लोगो के दांतों में सड़न प्रारंभ हो जाती है जिससे समय से पहले हमारे दांतों में अत्यधिक दर्द होने लगता है तथा उन्हें उखाड़ना पड़ता है.
  8. गुटखा खाने से मुंह में बनने वाली लार की मात्रा कम होने लगती है तथा हम लार को अंदर नहीं ले जा पाते हैं जिससे पाचन संबंधी समस्याएं हो जाती है.
  9. मुंह में बनने वाली लार एक महत्वपूर्ण अवैध है जिसमें से पाचक एंजाइम निकलते हैं जो शरीर के भोजन को पचाते हैं लेकिन जब हम गुटका का सेवन अधिक करते हैं तो भोजन का पाचन नहीं कर पाते हैं जिससे कब्ज एसिडिटी की समस्या बनती है.
  10. पान मसाला गुटखा खाने से मुंह के जीभ पर मोटे सफेद धब्बे ल्यूकोप्लेकिया हो जाती है जिससे कैंसर की कोशिकाएं विकसित होती हैं.

FAQ : गुटखा छोड़ने का मंत्र

कितने दिनों तक गुटखा खाने से कैंसर नहीं होता है ?

गुटका एक भी दिन अगर आप खा लेते हैं तो कैंसर की संभावनाएं बन जाती है ज्यादातर लोग इस भ्रम में रहते हैं कि एक-दो दिन में गुटका खाने से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है जबकि जैसे ही हम एक भी गुटखा खाते हैं वैसे ही हमारी आदत बन जाती है।

एकदम से गुटखा छोड़ने से क्या होता है ?

अगर आप पूरी तरह से गुटखा खाना बंद कर देते हैं तो आपको अगले 3 से 4 महीने के अंदर शरीर के सभी हिस्से अपनी स्थिति में आ जाते हैं जिससे 50 से 60% है कैंसर व अन्य समस्याएं होने की संभावना कम हो जाती है।

गुटखा पेट के लिए कितना नुकसान दायक है ?

गुटखा खाने से व्यक्ति को खाना खाने की इच्छा कम हो जाती है क्योंकि गुटका में पाए जाने वाले रासायनिक तत्व सीधे पाचन तंत्र पर असर डालते हैं रिसर्च के अनुसार गुटखा खाने से ऐसोफागस मूत्र मार्ग तथा पेट के अन्य अंगों में कैंसर के खतरे बढ़ जाते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों अगर आप पान मसाला, बीड़ी सिगरे,ट जैसे उत्पादों का सेवन करते हैं तो आपको इनसे कई प्रकार की समस्याएं जन्म लेती हैं जो भविष्य के लिए मृत्यु का कारण बनती है हम अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको गुटखा छोड़ने का मंत्र और होने वाले भयंकर नुकसान बताया है. अगर आप गुटखा खाते हैं तो इसे तत्काल छोड़ने की जरूरत है.

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन