गुप्तांगो में खुजली के 8 कारण और ठीक करने के 10 घरेलू उपाय | Guptang me khujli


गुप्‍तांगो में खुजली Guptang me khujli : दोस्तों हमारे शरीर के महत्वपूर्ण हिस्से गुप्तांग मे खुजली होना एक बहुत बड़ी समस्या होती है। गुप्त अंगों की खुजली स्त्री और पुरुष लड़का या लड़की सभी को होती है हम इस संबंध में कुछ नहीं कह सकते हैं। किसी भी उम्र के व्यक्ति के गुप्तांगों में खुजली कभी भी हो सकती है.

गुप्तांगो में खुजली

जिसका प्रमुख कारण किसी न किसी प्रकार का कोई इंफेक्शन हो सकता है अथवा किसी चीज की एलर्जी हो सकती हैं। दोस्तों मनुष्य के लिंग और स्त्री की योनि के अंदर खुजली होना एक समस्या है जिसकी वजह से हर महिला पुरुष परेशान हो जाता है.

वास्तव में पुरुष की अपेक्षा महिलाओं की योनि में खुजली की समस्या ज्यादा होती है जो एक आम समस्या की तरह होती है हालांकि शरीर के किसी भाग में खुजली होना किसी न किसी चीज का एलर्जी होना इसके अलावा कई प्रकार के इंफेक्शन के कारण भी खुजली होने लगती हैं।

गुप्‍तांगो में खुजली के कारण | Guptang me khujli ke karan | khujli kyu hoti hai ?

दोस्तों गुप्तांगों में खुजली होने के पीछे कई कारण होते हैं जिनमें से प्रमुख कारण इस प्रकार हैं।


join us on telly gram osir.injoin us on youtube osir.in

1. यौन संक्रमित बीमारियां

स्त्री और पुरुष के गुप्तांगों में खुजली होने का प्रमुख कारण यौन संक्रमित बीमारियां होती हैं जिनके अंतर्गत जननांग हरपीस, क्‍लैमिडिया, जननांग मस्‍सा, गोनोरिया, ट्राइकोमोनीसिस आदि बीमारियां होती हैं। इन बीमारियों के कारण महिलाओं की योनि और पुरुषों के लिंग में खुजली होने लगती है।

महिलाओं की योनि में होने वाली विभिन्न प्रकार की बीमारियों से खुजली पुरुषों में संक्रमित होती है क्योंकि जब पुरुष यौन संबंध बनाता है तो बीमारियों के वायरस या जीवाणु और उसके अंदर पहुंच जाते हैं जिसकी वजह से उनके जननांगों में भी खुजली की समस्या बन जाती है।


2. खमीर, जीवाणु और कवक

husband wife

महिलाओं में योन की साफ सफाई ना करने की वजह से खनिज जीवाणु और कवक पनप जाते हैं जिसकी वजह से महिलाओं की योनि में खुजली का कारण बनता है और यौन संबंध बनाने से और उसमें भी संक्रमण फैल जाता है धीरे-धीरे स्त्री और पुरुष दोनों के गुप्तांगों में खुजली होने लगती है।

3. हार्मोन उतार-चढ़ाव

कई बार गुप्तांगो में खुजली होने का कारण हार्मोन का संतुलन और असंतुलन होता है क्योंकि जब कोई भी महिला कभी गर्भ धारण करती है या फिर मासिक आता है तो इस दौरान कई प्रकार से हार्मोन में उतार-चढ़ाव हो जाता है और इन हार्मोन के उतार-चढ़ाव के कारण एलर्जी होती है साथ ही खुजली उत्पन्न होने लगती है।

4. रासायनिक टॉयलेट पेपर

toilet paper

इस लेख से जुडी सम्पूर्ण जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 1,646 other subscribers


आज के समय में बहुत से लोग रासायनिक टॉयलेट पेपर का प्रयोग करते हैं जो एक प्रकार से केमिकल युक्त होते हैं इस केमिकल का दुष्प्रभाव मनुष्य के गुप्तांगों पर पड़ता है धीरे-धीरे रासायनिक प्रभाव के कारण गुप्तांगों में खुजली होने लगती है कभी-कभी यह समस्या गंभीर बन जाती है।

5. कंडोम

मनुष्य जब लैंगिक संसर्ग करता है तो गर्भधारण को रोकने के लिए कंडोम का प्रयोग करता है कई बार कंडोम महिला और पुरुष दोनों के लिए खतरनाक हो जाते हैं क्योंकि जननांग काफी सेंसिटिव अंग होते हैं जो कंडोम की वजह से एलर्जी उत्पन्न करते हैं यह लड़की खुजली के रूप में परिवर्तित हो जाती है।

6. फैब्रिक सॉफ्टनर

अगर कोई भी महिला या पुरुष शारीरिक संबंध बनाने से पहले फैब्रिक सॉफ्टनर का प्रयोग करते हैं तो फैब्रिक सॉफ्टनर भी जननांगों में खुजली पैदा कर सकते हैं जननांगों की त्वचा संवेदनशील होती है जिससे इनका बुरा प्रभाव पड़ सकता है।

7. गर्भ निरोधक फोम

tablets

आज के समय में गर्भधारण को रोकने के लिए कई प्रकार के गर्भनिरोधक फोम प्रयोग किए जा रहे हैं यह गर्भनिरोधक होम महिलाओं ने जननांग की खुजली उत्पन्न करते हैं साथ ही अगर पुरुष लैंगिक संसर्ग करता है तो सूरज में भी खुजली संक्रमित हो जाती है।

8. हेयर रिमूवर साबुन

महिलाएं गुप्त अंगो के बाल साफ करने के लिए हेयर रिमूवर साबुन का प्रयोग करते हैं. यह साबुन भी कभी-कभी एलर्जी उत्पन्न करते हैं. जिससे गुप्तांगों में खुजली होने लगती हैं। इसके अलावा पुरुष भी इस प्रकार के साबुन का प्रयोग करते हैं. ऐसी स्थिति में स्त्री और पुरुष दोनों में जननांग संक्रमित हो सकते हैं। हेयर रिमूवर साबुन कई प्रकार से गुप्तांगो में एलर्जी उत्पन्न कर सकते हैं।

गुप्‍तांगो में खुजली दूर करने के घरेलू उपाय | Guptang me khujli dur karne ke gharelu upay

किसी भी कारण अगर गुप्त अंगों में खुजली होने लगती है तो समय पर ध्यान ना दिया जाए उपचार न किया जाए तो एक बड़ी समस्या का रूप ले सकती है जिसके लिए चिकित्सीय उपचार भी किया जा सकता है साथ ही गुप्तांगों में खुजली दूर करने के घरेलू उपाय भी किए जाते हैं।

menstrual pain

ऐसे कई घरेलू उपचार हमारे घरों में उपस्थित हैं जिनके माध्यम से हम गुप्त अंगों की खुजली बड़ी आसानी से समाप्त कर सकते हैं। आइए हम कुछ खुजली दूर करने के उपाय के बारे में बताते हैं।

1. नीम की पत्तियां

दोस्तों नीम की पत्तियां कई रूपों से कारगर है अगर आपके शरीर में फोड़े फुंसी खुजली जैसी समस्याएं हैं तो आप नीम की पत्तियों को उबालने और इस पानी से अपने सभी प्रभावित अंगों को धोए इससे आपके शरीर की खुजली दूर हो जाती हैं।

neem

गुप्तांगों या जननांगों की खुजली को दूर करने के लिए नीम की पत्तियों को उबालकर उसमें कम से कम आधा चम्मच नारियल का तेल मिला लें और उसके बाद गुप्तांगों पर लगाएं इससे गुप्तांगों की खुजली में राहत मिलेगा और धीरे धीरे ठीक हो जाएगी. नीम की पत्तियों के अलावा आप नीम के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं नीम का तेल भी खुजली जैसी समस्या में तुरंत राहत देता है

2. ओरेगानो ऑयल (Oregon Oil)

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

गुप्तांगों में खुजली संक्रमण के कारण होती है. ऐसी स्थिति में ऑर्गेनो आयल भी काफी कारगर घरेलू उपाय है क्योंकि ऑर्गेनो आयल एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है जो खुजली को ठीक करने के साथ-साथ त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित करता है।

ऑर्गेनो तेल की 2-3 बूंद को नारियल के तेल में मिलाकर प्रभावित क्षेत्र में लगायें तथा 2 घंटे तक लगभग लगाए रखें और उसके बाद साफ पानी से धो लें इससे आपके प्राइवेट पार्ट की खुजली और संक्रमण समाप्त हो जाते हैं।

3. बोरिक एसिड

बोरिक एसिड

बोरिक एसिड एक रसायन है जो एंटीफंगल है इसे लगभग एक चौथाई चम्मच एक कप पानी में डालकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाने से खुजली में पूरा आराम मिलता है खुजली मिटाने के लिए कई बोरिक एसिड युक्त दवाई आज के समय में उप बाजार में उपलब्ध है। इन दवाओं का प्रयोग गुप्त अंगों की खुजली मिटाने के लिए किया जा सकता है।

4. दही (curd)

शरीर के किसी भी हिस्से में खुजली होने पर आप दही का सेवन प्रतिदिन कर सकते हैं जिससे शरीर मैं उपस्थित बैक्टीरिया निष्प्रभावी हो जाते हैं और प्राकृतिक रूप से शरीर को आराम मिलता है इसके अलावा आप दही खुजली से प्रभावित अंगों पर लगा सकते हैं

5. तुलसी (Basil)

basil- tulsi

प्राइवेट पार्ट (गुप्तांगो) में खुजली होने पर है तुलसी की पत्तियों को पानी में उबालकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं और तुलसी की पत्तियों का काढ़ा पीएं इससे आपके अंदर खुजली के बैक्टीरिया निष्प्रभावी हो जाएंगे।

6. रोजमेरी की पत्तियां

दोस्तों रोज मेरी एक औषधि पौधा है जो जड़ी-बूटी के रूप में प्राप्त किया जाता है यह एक आयुर्वेदिक औषधि है यदि आप के गुप्तांगों पर खुजली का संक्रमण हो चुका है तो उस से राहत पाने के लिए रोजमेरी की पत्तियां उबालकर पानी को गर्म ठंडा करें उसके बाद अपने गुप्तांगों को इस पानी से धोएं। इससे आपको खुजली में तुरंत राहत मिलेगी और धीरे-धीरे खुजली समाप्त भी हो जाएगी।

7. टी ट्री आयल

खुजली का संक्रमण गुप्तांगो में होने पर आप ट्री ट्री आयल का प्रयोग कर सकते हैं. इससे भी आप गुप्तांगों की खुजली से छुटकारा पाएंगे। इसके लिए आपको नहाने के पानी में 4 से 6 बूंद ट्री ट्री आयल मिलाना है और अपने गुप्तांगों के प्रभावित क्षेत्र को 20 मिनट तक डूबा कर रखें इस तरह से कई दिनों तक करने से आप के गुप्तांगों की खुजली समाप्त हो जाएगी

8. एलोवेरा जेल

Aloe vera

दोस्तों एलोवेरा जेल कई प्रकार से फायदेमंद है अगर हम इसका सेवन करते हैं तो शरीर के आंतरिक अंगों को भी सुरक्षा प्रदान होती है और बाहरी अंगों की सुरक्षा में यदि गुप्तांगों की खुजली हो गई है तो उसको दूर करने के लिए एलोवेरा जेल को ट्री ट्री आयल में मिलाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं इससे आपको खुजली में राहत मिलेगी।

9. कैमोमाइल (Chamomile)

कैमोमाइल एक ऐसी औषधि है जो संपूर्ण शरीर की कहीं पर भी खुजली हो उसको दूर करने में मददगार हैं। कैमोमाइल जड़ी बूटी ट्री ट्री ऑयल के साथ मिलाकर गुप्त अंगों की खुजली पर लगाएं जिससे आप की खुजली समाप्त हो जाएगी

एक चम्मच कैमोमाइल को दो कप पानी के साथ गर्म करें और 5 मिनट तक उबालने के बाद ठंडा करके छान लें तथा इसमें 4 से 6 बूंद ट्री ट्री आयल मिला ले और प्रतिदिन इसी तरह मिश्रण बनाकर गुप्तांगों को जोड़ें जिससे आप के गुप्तांगों में खुजली समाप्त हो जाएगी।

10. नारियल तेल

coconut oil

नारियल एक हाइड्रेटिंग गुणों युक्त फल है. जिसका तेल त्वचा को नर्म और आरामदायक बनाता है नारियल तेल एक एंटीफंगल तेल है, जो सभी प्रकार के संक्रमण को मार देता है। नारियल तेल को गुप्तांगों के प्रभावित क्षेत्र पर लगाने से खुजली समाप्त होती है, साथ ही त्वचा को मजबूती मिलती है। अगर आप चाहे तो लहसुन का तेल भी इस में मिलाकर लगाएं. जिससे आपको बहुत जल्द आराम मिलेगा।

osir news

निष्कर्ष

दोस्तों प्राइवेट पार्ट में खुजली एक आम समस्या है यह अक्सर महिला और पुरुष दोनों को होती है प्रमुख रूप से महिलाओं के गुप्तांगों में खुजली की समस्या ज्यादा बनती है ऐसी स्थिति में महिलाओं को खानपान को लेकर सतर्क रहना चाहिए और गुप्तांगों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए. क्योंकि महिलाओं में आने वाले हर महीने मासिक से कई प्रकार के बैक्टीरिया संक्रमित हो जाते हैं जिनकी वजह से खुजली की समस्या उत्पन्न होते हैं।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘
★ सम्बंधित लेख ★
X