डॉक्टर कैसे बने ? शैक्षिक योग्यता,परीक्षा,कॉलेज,सैलरी How to become a doctor in hindi ? Study and salary in india

💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

इस दुनिया का हर इंसान अपनी जिंदगी में कुछ ना कुछ बड़ा करना चाहता है और अपनी जिंदगी में सफलता की ऊंचाइयों  Success को छूना चाहता है। जो भी व्यक्ति इस धरती पर जन्म लेता है उसका कोई ना कोई मकसद होता है। हम सभी का यही मकसद होता है कि हम जीवन में पढ़कर अपना एक अच्छा केरियर Career बनाएं। (  Doctor kaise bane ? mbbs doctor kitna kmate hai ? doctor banne ke liye kaon sa exam de aur kaon si pdhai kis institute ya college se kare puri jankari in hindi )

doctor-kaise-bne-mbbs-kaise-kare-doctor-banne-ke-liye-kya-course-kare-how-to-become-doctore-in-hindi-govrnment-doctore-kaise-bne-doctore-banne-ke-liye-kya-kare-doctor-ke-liye-exam-in-hindi

भारत में जब विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास कर लेता है तब से उसे अपने कैरियर की चिंता सताने लगती है। वह यही सोचता है कि वह किस फील्ड में जाए। कई लोग अपनी अपनी रूचि के हिसाब से अपनी फील्ड चुनते है।

12वीं के बाद ऐसे कई कोर्स हैं जिन्हें कर कर आप अपना करियर बना सकते हैं।उसी में से एक फील्ड है डॉक्टर Doctor की।  जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे भारत देश में डॉक्टरों की अत्यधिक कमी है।

इसीलिए अगर आप Medical डॉक्टरी के क्षेत्र में अपना कैरियर career  बनाना चाहते हैं तो यह आपके लिए फायदे का सौदा साबित हो सकता है क्योंकि जो व्यक्ति डॉक्टर doctor बन जाता है उसे पद प्रतिष्ठा और पैसा यह तीनो चीजें हासिल होती है।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !

अगर आप डॉक्टर doctor बनने की इच्छा रखते हैं तो आज के हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें क्योंकि आज केइस आर्टिकल में हम आपको “डॉक्टर कैसे बने ?” इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं, आइए जानते हैं विस्तार से।

डॉक्टर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता | Educational qualification to become a doctor

डॉक्टर ki padhai, डॉक्टर कोर्स, डॉक्टर क्या है, डॉक्टर कैसे बने पूरी जानकारी, , डॉक्टर कोर्स नाम लिस्ट, डॉक्टर डिग्री नाम लिस्ट, डॉक्टर बनने के लिए 10वीं के बाद क्या करें, एम बी बी एस क्या है, डॉक्टर बनने में कितना पैसा लगेगा,

यदि आप डॉक्टर बनने की चाहत रखते हैं तो सबसे पहले आपको 12वीं क्लास में बायोलॉजी विषय से पास होना होगा।12वीं क्लास पास करने के बाद बैचलर ऑफ मेडिसन, बैचलर ऑफ सर्जरी यानी MBBS की पढ़ाई करनी होती है। MBBS कोर्स की समयावधि 4.5 वर्ष की होती है।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद स्टूडेंट को किसी मेडिकल कॉलेज में 1 साल की इंटर्नशिप भी करनी होती है।इस प्रकार MBBS कोर्स 5.5 वर्ष में पूरा होता है।यदि आप MBBS कोर्स में सफलता प्राप्त कर लेते हैं तो आपको मेडिकल काउंसलिंग ऑफ इंडिया (PCI) द्वारा योग्य डॉक्टर के रूप में MBbS की डिग्री प्रदान कर दी जाती है।

इसके पश्चात आप अपने इंटरेस्ट या योग्यता के अनुसार पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स  Post graduate course तथा उसके बाद रिसर्च कर सकते हैं।रिसर्च करने के पश्चात आप किसी मेडिकल कॉलेज Medical college या रिसर्च संस्थान में प्रैक्टिस के दौरान टीचिंग Teaching का काम कर सकते हैं।

डॉक्टर बनने हेतु परीक्षा | Examination to become a doctor

अगर आप डॉक्टर बनने की चाहत रखते हैं तो आपको दसवीं कक्षा से ही इसकी तैयारी शुरू करनी पड़ेगी क्योंकि जब विद्यार्थी दसवीं क्लास पास करके 11वीं क्लास में प्रवेश करता है, तो विद्यार्थी के सामने साइंस स्ट्रीम में मेडिकल और नॉन मेडिकल दो विकल्प मिलते हैं।

इनमें से उन्हें मेडिकल सेलेक्ट करना है।जब विद्यार्थी मेडिकल सिलेक्ट करेंगे तो इनमें उनके टोटल तीन विषय होंगे जिसमें ZBC Group जूलोजी ,बाटनी और केमिस्ट्री सम्मिलित है। इन तीनों में छात्रों को 60% से अधिक स्कोर बनाना होगा और साथ में एंट्रेंस एग्जाम entrance exam  की तैयारी भी करनी चाहिए।

एंट्रेंस एग्जाम | entrance exam

अभ्यर्थी का डॉक्टर बनने का सपना साकार करने के लिए 11th और 12th के साथ ही एंट्रेस एग्जाम की भी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।यदि आपको 12th पास करने के बाद मेडिकल की तैयारी करनी है तो आपको उसके लिए इंटर के बाद एंट्रेस एग्जाम में सफलता प्राप्त करनी होगी।

यह एंट्रेस एग्जाम अभ्यर्थियों को 12th के बाद ही देना रहता है, इसलिए 11th और 12th के इस परीक्षा की भी तैयारी करनी रहती है, जिसके लिए अभ्यर्थियों को दिन-रात मेहनत करनी रहती है क्योंकि, इस एंट्रेस एग्जाम लाखों अभ्यर्थी शामिल होते है।

आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज अर्थात एम्स जैसे बड़े संस्थान सीधे प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं।अखिल भारतीय स्तर पर सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन अर्थात सीबीएसई द्वारा प्रत्येक वर्ष आयोजित की जानी वाली आल इंडिया प्री-मेडिकल, प्री-डेंटल टेस्ट सबसे प्रमुख परीक्षा है।

एंट्रेंस एग्जाम कराने वाली संस्थाएं | Entrance Examination Organizations

  1. आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज
  2. उत्तर प्रदेश कम्बाइंड प्री-मेडिकल टेस्ट (सीपीएमटी)
  3. गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी-दिल्ली
  4. वर्धा मेडिकल कॉलेज-वर्धा, आम्र्ड फोर्स-पुणे

एम.बी.बी.एस. का फुलफार्म | MBBS Full form ?

M.B.B.S. – Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery

एमबीबीएस फुल फॉर्म – बेचलर ऑफ़ मेडिकल एंड बेचलर ऑफ़ सर्जरी  

एमबीबीएस कोर्स और इंटर्नशिप | M.B.B.S. Course and Internship

अगर आप मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कम से कम 1 साल की इंटरशिप करनी होगी। मतलब की डॉक्टर बनने के लिए आपको कुल 5.5 साल चाहिए। आप एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद किसी भी कॉलेज से 1 साल की इंटर्नशिप कर सकते।

 mbbs doctor kaise bane mbbs course kitne saal ka hota hai mbbs in hindi medium army me doctor kaise bane mbbs ki fees kitni hoti hai doctor banne ke liye kitne percentage chahiye mbbs fees doctor banne me kitna paisa lagega mbbs ke baad kya kare

जब आप 1 साल की इंटर्नशिप पूरी कर लेंगे तब आपको मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की तरफ से मेडिकल की डिग्री प्रदान की जाएगी।यह सर्टिफिकेट मिलते ही आप किसी भी हॉस्पिटल में डॉक्टर के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं और लोगों की सेवा करने के साथ-साथ आर्थिक आय भी अर्जित कर सकते हैं।

एक डॉक्टर बनने के बाद यदि आपका सपना स्पेशलिस्ट बनने का है तो इसके लिए आप एमबीबीएस की पढ़ाई संपन्न करने के बाद आगे की पढ़ाई शुरू करके पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते है, जिसमें सफलता प्राप्त करने के बाद आप सफल डॉक्टर बन सकते है।

यह भी पढ़े :

प्रवेश परीक्षा की तैयारी हेतु आवश्यक जानकारी | Information required for the preparation of entrance examination

  1. अगर आप डॉक्टर बनने के लिए पूरी तरह उत्साहित हैं तो आपको अपने पढ़ाई पर पूरा फोकस करना होगा।
  2. मेडिकल की प्रवेश परीक्षा दसवीं और बारहवीं के पाठ्यक्रम पर आधरित होती हैं, इसलिए छात्रों को अपने पाठ्यक्रम को अच्छी तरह से कवर करना आवश्यक है।
  3. बारहवीं के तीनों विषयों के फंडामेंटल्स को पूर्ण रूप से तैयार करें और उनके एप्लीकेशंस पर फोकस करें।
  4. परीक्षा के लिए आपको ऑनलाइन के साथ ऑफलाइन भी बहुत मेहनत करनी होगी , आजकल इन्टरनेट पर आपको डॉक्टर से रिलेटेड बहुत से ब्लॉग मिल जायेंगे जहां आप काफी कुछ टिप्स पढ़ सकते हैं, और हो सके तो किसी वरिष्ट डॉक्टर की सलाह जरुर लेते रहें।
  5. हर विषय पर पूरा फोकस करने और जिस सब्जेक्ट में आप कमजोर हैं उसे बार बार पढने तथा उसे अधिक से अधिक समय देने की कोशिस करे।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !
  6. समय का पूरा ध्यान रखे क्योकि यह डॉक्टर की पढ़ाई होती हैं।इसमें किसी प्रकार की गलती की कोई गुंजाइश नहीं होती है , वैसे भी इसमें बहुत अधिक खर्च होता है।
  7. तैयारी के लिए किसी अच्छी कोचिंग संस्थान में एडमिशन ले।

भारत के मुख्य मेडिकल कॉलेज | Main Medical Colleges of India

  1. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स)
  2. क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज वेल्लूर
  3. जेआईपीएमईआर, पांडुचेरी
  4. मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, दिल्ली
  5. ग्रांट मेडिकल कॉलेज, मुंबई
  6. मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई
  7. यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेस एंड जीटीबी हॉस्पिटल, दिल्ली
  8. सेंट जॉन्स मेडिकल, कॉलेज बेंगलुरू

कुछ प्रमुख मेडिकल कोर्स | Some Major Medical Courses

  1. एमबीबीएस
  2. बैचलर ऑफ सर्जरी
  3. बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी
  4. बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक एंड सर्जरी
  5. डॉक्टर ऑफ़ मेडिसिन
  6. मास्टर ऑफ सर्जरी
  7. बीएससी नर्सिंग
  8. फिजियोथेरेपी
  9. यूनानी डॉक्टर
  10. डी फार्मा

डॉक्टर बनने के बाद नौकरी के क्षेत्र | Job fields after becoming a doctor

india में आसानी से job कैसे पाए

  1. बायोमेडिकल कंपनी
  2. हॉस्पिटल
  3. लैबोरेट्री
  4. रिसर्च इंस्टीट्यूट
  5. मेडिकल कॉलेज
  6. प्राइवेट हॉस्पिटल

डॉक्टर की सैलरी और कमाई | salary and income of doctor

salary kitni milti hai Salary kitni hai Salary kitni milegi Salary kaise mile job me Salary kitni milti hai

अगर हम सरकारी डॉक्टर की बात करें तो उनकी महीने की सैलरी 90,000 रुपये  के आसपास होती है वहीं प्राइवेट डॉक्टर की सैलरी 60,000  रुपये के आसपास होती है।

इसके आलावा आप खुद का क्लीनिक खोल कर भी अच्छा रूपया कमा सकते है इसकी कोई सीमा नही है , यह डिपेंड करता है की आप कितना अच्छा काम  करते है और अपने मरीजो की देख-भाल सही से करते है की नही | यदि आप अच्छे से काम करेंगे और मरीजो से ज्यादा फीस चार्ज नही करेंगे तो आप बहुत जल्दी अपना क्लीनिक चला ले जायेंगे |

आप अपने क्लीनिक पर दवाये भी रख सकते है , उन्हें भी अपने मरीजो को बेच कर अच्छा मुनाफा कमा सकता है , किन्तु अपने फायदे के लिए आप को अपने किसी भी मरीज को कोई भी दवा खरीदने के लिए बाध्य न करे , इससे आप की अच्छी इमेज बनेगी और लम्बे समय में आप अच्छा रुपया कमाएंगे |

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, और इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !

✤ यह लेख भी पढ़े ✤

(Visited 57 times, 1 visits today)