बुरी नजर कैसे उतारे ? नजर उतारने के उपाय 33 तरीके ! बुरी नज़र से कैसे बचें ! Tips to safe from to cast an evil eye

नजर लगने के कारण क्या है?

हम सभी में बहुत सी सोई हुई शक्तियां हैं जो किसी विशेष परिस्थति में जागती हैं। अक्सर किसी विशेष समय में नज़र या बद्दुआ लग जाती है, ये एक नकारात्मक उर्जा है जो आँखों के ज़रिये बाहर आती है। यदि आप भी किसी ऐसी ही परेशानी का सामना कर रहे है, तो आप घर बैठे ही उपचार कर सकते है, इन बहुत ही कामयाब और आसान उपायों से….

नजर उतारने के 33 उपाय :-

  1. एक लोटे में पानी लेकर उसमें नमक, खड़ी लाल मिर्च डालकर आठ बार उतारे। फिर थाली में दो आकृतियाँ- एक काजल से, दूसरी कुमकुम से बनाए। लोटे का पानी थाली में डाल दें। एक लम्बी काली या लाल रङ्ग की बिन्दी लेकर उसे तेल में भिगोकर ‘नजर’ वाले पर उतार कर उसका एक कोना चिमटे या सँडसी से पकड़ कर नीचे से जला दें। उसे थाली के बीचो-बीच ऊपर रखें। (आप यह पोस्ट OSir.in पर पढ़ रहे है) गरम-गरम काला तेल पानी वाली थाली में गिरेगा। यदि नजर लगी होगी तो, छन-छन आवाज आएगी, अन्यथा नहीं।
  2. बच्चे ने दूध पीना या खाना छोड़ दिया हो, तो रोटी या दूध को बच्चे पर से ‘आठ’ बार उतार के कुत्ते या गाय को खिला दें।
  3.  नमक, राई के दाने, पीली सरसों, मिर्च, पुरानी झाडू का एक टुकड़ा लेकर ‘नजर’ लगे व्यक्ति पर से ‘आठ’ बार उतार कर अग्नि में जला दें। ‘नजर’ लगी होगी, तो मिर्चों की धांस नहीँ आयेगी।
  4.  फिटकरी की डली को, 7 बार बच्चे/बड़े/पशु पर से 7 बार उबार कर आग में डालने से नजर तो दूर होती ही है, नजर लगाने वाले की धुंधली-सी शक्ल भी फिटकरी की डली पर आ जाती है।
  5. पश्चिमी देशों में नजर लगने की आशंका के चलते ‘टच वुड’ कहकर लकड़ी के फर्नीचर को छू लेता है। ऐसी मान्यता है कि उसे नजर नहीं लगेगी।
  6.  गिरजाघर से पवित्र-जल लाकर पिलाने का भी चलन है।
  7.  इस्लाम धर्म के अनुसार ‘नजर’ वाले पर से ‘अण्डा’ या ‘जानवर की कलेजी’ उतार के ‘बीच चौराहे’ पर रख दें। दरगाह या कब्र से फूल और अगर-बत्ती की राख लाकर ‘नजर’ वाले के सिरहाने रख दें या खिला दें।
  8.  बच्चे ने दूध पीना या खाना छोड़ दिया हो, तो रोटी या दूध को बच्चे पर से ‘आठ’ बार उतार के कुत्ते या गाय को खिला दें।
  9. थोड़ी सी राई, नमक, आटा या चोकर और ३, ५ या ७ लाल सूखी मिर्च लेकर, जिसे ‘नजर’ लगी हो, उसके सिर पर सात बार घुमाकर आग में डाल दें। ‘नजर’-दोष होने पर मिर्च जलने की गन्ध नहीं आती।
  10. चाकू से जमीन पे एक आकृति बनाए। फिर चाकू से ‘नजर’ वाले व्यक्ति पर से एक-एक कर आठ बार उतारता जाए और आठों बार जमीन पर बनी आकृति को काटता जाए।
आप के लिए खास पोस्ट यह भी पढ़े :-  ♦♠♣♥ ताश के पत्ते हुये गायब या नजरबंद ? तीन पत्ती का जादू देखे और सीखे 3 Card disappeared or sheltered Magic Trick

11. गो-मूत्र पानी में मिलाकर थोड़ा-थोड़ा पिलाए और उसके आस-पास पानी में मिलाकर छिड़क दें। यदि स्नान करना हो तो थोड़ा स्नान के पानी में भी डाल दें।

12. एक नींबू लेकर आठ बार उतार कर काट कर फेंक दें।

13. पुराने कपड़े की सात चिन्दियाँ लेकर, सिर पर सात बार घुमाकर आग में जलाने से ‘नजर’ उतर जाती है।

14. जिस व्यक्ति पर शंका हो, उसे बुलाकर ‘नजर’ लगे व्यक्ति पर उससे हाथ फिरवाने से लाभ होता है।

15. नमक की डली, काला कोयला, डंडी वाली 7 लाल मिर्च, राई के दाने तथा फिटकरी की डली को बच्चे या बड़े पर से 7 बार उबार कर, आग में डालने से सबकी नजर दूर हो जाती है।

16. झाडू को चूल्हे / गैस की आग में जला कर, चूल्हे / गैस की तरफ पीठ कर के, बच्चे की माता इस जलती झाडू को 7 बार इस तरह स्पर्श कराए कि आग की तपन बच्चे को न लगे। तत्पश्चात् झाडू को अपनी टागों के बीच से निकाल कर बगैर देखे ही, चूल्हे की तरफ फेंक दें। कुछ समय तक झाडू को वहीं पड़ी रहने दें। बच्चे को लगी नजर दूर हो जायेगी।

17. तेल की बत्ती जला कर, बच्चे/बड़े/पशु पर से 7 बार उबार कर दोहाई बोलते हुए दीवार पर चिपका दें। यदि नजर लगी होगी तो तेल की बत्ती भभक-भभक कर जलेगी।(आप यह पोस्ट OSir.in पर पढ़ रहे है) नजर न लगी होने पर शांत हो कर जलेगी।

18. जिस स्त्री या पुरुष पर आपको संदेह हो कि उसकी नजर लगी हैं, तो उसका हाथ जिसे नज़र लगी हे उसके सिर पर फिरवा दें | नजर उतर जाएगी |

19. रविवार के दिन नजर लगे व्यक्ति के सिर से तीन बार दूध उतारकर मिट्टी के पात्र में भर दे और कुत्ते को पिला दें |

20. शनिवार के दिन हनुमानजी के मदिर से हनुमानजी के कन्धों का सिन्दूर लाना चाहिए और नजर लगे व्यक्ति के मस्तिक पर लगाना चाहिए |

21. बुरी नजर उतारने के लिए राई के सात दाने , नमक की सात छोटी – छोटी डली , सात साबुन लाल मिर्च नजर से पीड़ित के सिर के उपर से सात बार उतारकर जलती आग में दाल दें | इस क्रिया को करते समय किसी की टोक नहीं होनी चाहिए | ये समस्त कार्य बाएं हाथ से करने चाहिए | आग के लिए लकड़ी देसी आम की होनी चाहिए |

22. नजर लगे व्यक्ति के उपर से फिटकिरी उतारकर उसे बाएं हाथ से कूट लें और फिर उस चूर्ण को कुएं में दाल देना चाहिए | नजर उतर जाएगी |

आप के लिए खास पोस्ट यह भी पढ़े :-  क्या असली जादू या काला जादू सच में होता है ? क्या है सच? और क्या है झूठ? Does Real magic or black magic really happen or real? Truth and lies about magic!

23. लहसुन, बाक, राई, नमक, प्याज़ के छिलके एवं सूखी लाल मिर्च | ये सब नजर लगे बच्चे पर सात बार उतारकर अंगारों पर दाल दें | जलने पर बदबू नं आये तो समझें नजर लगी हैं | इससे नजर उतर जाएगी |

24. दुकान को नजर लगी हो तो रविवार अथवा मंगलवार के दिन लाल मिर्चे धागे में पिरोएं और बीच में नींबू पिरो दें | फिर इन्हें दुकान के प्रवेश द्वार पर माला की तरह बांध दें | नजर उतर जाएगी |

25. पश्चिमी देशों में नजर लगने की आशंका के चलते ‘टच वुड’ कहकर लकड़ी के फर्नीचर को छू लेता है। ऐसी मान्यता है कि उसे नजर नहीं लगेगी।

>>क्यों और कैसे एक गरीब करोड़ों का बिजनेस खड़ा कर लेता है , लेकिन अमीर आदमी नहीं ? Why and how poor make billion dollar business but rich man not ?

>>>(शेयर मार्केट गाइड -1) कम्पनी शेयर और शेयर बाज़ार क्या है और कैसे कार्य करता है, क्या शेयर मार्केट जुआ या सट्टा-बाज़ार है ? Is the stock market gambling or the speculative market?

26. एक लोटे में पानी लेकर उसमें नमक, खड़ी लाल मिर्च डालकर आठ बार उतारे। फिर थाली में दो आकृतियाँ- एक काजल से, दूसरी कुमकुम से बनाए। लोटे का पानी थाली में डाल दें। एक लम्बी काली या लाल रङ्ग की बिन्दी लेकर उसे तेल में भिगोकर ‘नजर’ वाले पर उतार कर उसका एक कोना चिमटे से पकड़ कर नीचे से जला दें। उसे थाली के बीचो-बीच ऊपर रखें। गरम-गरम काला तेल पानी वाली थाली में गिरेगा। यदि नजर लगी होगी तो, छन-छन आवाज आएगी, अन्यथा नहीं।

27. चाकू से जमीन पे एक आकृति बनाए। फिर चाकू से ‘नजर’ वाले व्यक्ति पर से एक-एक कर आठ बार उतारते जाए और आठों बार जमीन पर बनी आकृति को काटते जाए।

28. एक साबूत नींबू के उपर काली स्याही से 307 लिख दें और उस व्यक्ति के उपर उल्टी तरफ से 7 बार उतारें। इसके पश्चात उसी नींबू को चार भागों में इस प्रकार से काटें कि वह नीचें से जुड़े रहें। और फिर उसी नींबू को घर से बाहर किसी निर्जन स्थान पा फेंक दें। यह उपाय करने से पीडि़त व्यक्ति शीघ्र ही स्वस्थ्य हो जायेगा।

29. खाने के समय भी किसी व्यक्ति को नजर लग जाती है। ऐसे समय इमली की तीन छोटी डालियों को लेकर आग में जलाकर नजर लगे व्यक्ति के माथे पर से सात बार घुमाकर पानी में बुझा देते हैं और उस पानी को रोगी को पिलाने से नजर दोष दूर होता है।

30. लाल मिर्च, अजवाइन और पीली सरसों को मिट्‍टी के एक छोटे बर्तन में आग लेकर जलाएँ। ‍िफर उसकी धूप नजर लगे बच्चे को दें। किसी प्रकार की नजर हो ठीक हो जाएगी।

आप के लिए खास पोस्ट यह भी पढ़े :-  काला जादू क्या है A to Z ? काले जादू से बचने के उपाय ! जादू-टोना तंत्र के लक्षण कैसे पहेचाने ? what is black magic and how to do black magic

31. यदि आपने कोई नया वाहन खरीदा है और आप इस बात से परेशान हैं कि कुछ न कुछ रोज वाहन में गड़बड़ी हो जाती है। (आप यह पोस्ट OSir.in पर पढ़ रहे है) यदि गड़बड़ी नहीं होती तो दुर्घटना में चोट-चपेट लग जाती है और बेकार के खर्च से सारी अर्थ-व्यवस्था चौपट हो जाती है। अपने वाहन पर काले धागे से पीली कौड़ी बांधने से आप इस बुरी नजर से बच सकेंगे, करके परेशानी से मुक्त हो जाएं।

32. यदि आपके घर पर रोज कोई न कोई आपदा आ रही है। आप इस बात को लेकर परेशान हैं कि कहीं किसी ने कुछ कर तो नहीं दिया। ऐसे में आपको चाहिए कि एक नारियल को काले कपड़े में सिलकर घर के बाहर लटका दें।

33. घर के पास पेड़ की जड़ में शाम को थोड़ा सा कच्चा दूध डाल दें। फिर गुलाब की अगरबत्ती जलाएं। नजरदोष दूर हो जाएगा।

कैसे बचाता है हमें काला धागा ?

नजर से बचने के लिए काला धागा पहनाने या काला टीका या काजल लगाने की परंपरा रही है। स्पष्ट है कि काला रंग नजर लगाने वाले की एकाग्रता को भंग कर देता है। तिलक लगाने और मंगल-सूत्र पहनने के पीछे यही भावना है। इसका भी वैज्ञानिक कारण है। विज्ञान भी यह मानता है कि काला रंग एनर्जी का रोकता है। अत जब बच्चे को काला टीका या काला धागा बांधा जाता है तो वह किसी भी प्रकार की ऊष्मा बुरी नजर को बच्चों में प्रवेश नहीं करने देता। इसी वजह से बच्चों को नजर नहीं लगती।

दोस्तों आप को हमारी यह जानकारी कैसी लगी हमे नीचे कमेन्ट करके अवश्य बताये और यह अवश्यक जानकारी आप अपने दोस्तों और परिचितों के साथ शेअर करना बिल्कुल न भूले और हाँ यदि आप का कोई प्रसन है तो वह भी नीचे कमेन्ट करे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देने का प्रयाश करेंगे .

नोट :-

हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है किन्तु आप तक वह जानकारी पहुचाना है जो मैजिक या पेरानोर्मल (परालोकिक) से सम्बन्ध रखती है , इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

(Visited 27 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.