अस्चर्य चकित करने वाले 5 ब्रह्मचर्य के फायदे : 9 स्टेप में बने ब्रह्मचारी | Brahmacharya ke fayde

ब्रह्मचर्य के फायदे | Brahmacharya ke fayde : जो यंगस्टर है, वह काफी सालों से एक नया नाम सुनते आए हैं जिसे ब्रह्मचर्य कहा जाता है.ब्रह्मचर्य जोकि संस्कृत का शब्द है, इसलिए बहुत से लोगों को इसका मतलब ही नहीं पता होता है कि आखिर ब्रह्मचर्य का मतलब क्या होता है. जैसा कि आप जानते हैं कि, हमारे हिंदू धर्म में कई बातों को बड़े ही विस्तार से बताया गया है.

ब्रह्मचर्य के फायदे | Brahmacharya ke fayde

उन्हीं में से एक बात है ब्रह्मचर्य. हमारे हिंदू धर्म में ब्रह्मचर्य का बहुत ही महत्वपूर्ण गया है. प्राचीन काल में हमारे भारत में ऐसे कई ऋषि मुनि थे, जिन्होंने ब्रह्मचर्य का पालन किया और ब्रह्मचर्य का पालन करते हुए ही मोक्ष की प्राप्ति की. जो व्यक्ति ब्रह्मचर्य का पालन करता है, वह शारीरिक और मानसिक रूप से भी ताकतवर बन जाता है, परंतु सवाल यह आता है कि आखिर ब्रह्मचर्य से क्या फायदा होता है और ब्रह्मचर्य किसे कहा जाता है.

महावीर स्वामी ने भी ब्रह्मचर्य की महिमा बताई है. उनके अनुसार ब्रह्मचर्य एक अच्छी तपस्या होती हैं. कई लोग यह सोचते हैं कि, ब्रह्मचर्य का पालन करने से वह तपस्वी बन जाते हैं, परंतु यह बात गलत है क्योंकि इसका पालन हर कोई कर सकता है.

आप चाहे तो अपनी गृहस्थ जिंदगी में रहकर भी ब्रह्मचर्य का पालन कर सकते हैं और इसका फायदा उठा सकते हैं.ब्रह्मचर्य का मतलब सिर्फ यही नहीं होता है कि, स्त्री पुरुष आपस में शारीरिक संबंध करने से बचें बल्कि इसके अन्य भी कई नियम होते हैं. अगर आप ब्रह्मचर्य के नियमों का पालन करते हैं तो आपको अपनी जिंदगी में पॉजिटिव बदलाव महसूस होता है.

वर्तमान के समय में इंटरनेट के कारण लोगों की मानसिकता खराब होती जा रही है. ऐसे में अगर वह अपनी मानसिक क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं, साथ ही अन्य फायदे प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए. आइए जानते हैं कि ब्रह्मचर्य क्या होता है और ब्रह्मचर्य का पालन करने से कौन से फायदे होते हैं.

ब्रह्मचर्य के फायदे क्या होता है ? | Brahmacharya kya hota hai ?

ब्रह्मचर्य का शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है जो है ब्रह्म और चर्य. ब्रह्म का मतलब होता है परमात्मा यानी कि भगवान और चर्य का मतलब होता है विरचना यानी कि परमात्मा को ध्यान करना.


ब्रह्मचर्य के फायदे | Brahmacharya ke fayde

जो व्यक्ति ब्रह्मचर्य का पालन करता है, उसे ब्रह्मचारी कहा जाता है, चलिए आगे हम आपको बताते हैं कि, ब्रह्मचर्य का पालन करने से कौन से फायदे होते हैं.

1. शारीरिक सुंदरता बढ़ती है

जो लोग अपनी शारीरिक सुंदरता बढ़ाना चाहते हैं, उन्हें ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए, क्योंकि इसका पालन सही प्रकार से करने से व्यक्ति की शारीरिक सुंदरता में बढ़ोतरी होती है.चाहे स्त्री हो या पुरुष, दोनों ब्रह्मचर्य का पालन करते हैं,तो उनकी शारीरिक सुंदरता बढ़ती है.

girl ladki beautiful

आपने यह सुना ही होगा कि, पुराने समय के लोग वर्तमान के समय के लोगों की तुलना में काफी लंबे चौड़े और बलशाली होते थे, क्योंकि उस समय वह लोग ब्रह्मचारी के नियमों का नियमित तौर पर पालन करते थे, जिसके कारण वह इतने ज्यादा बलवान और सुंदर दिखाई देते थे. अगर आप भी ब्रह्मचर्य के नियमों का पालन करते हैं, तो ऐसा करने से आपकी शक्ति बढ़ेगी,साथ ही आपकी शारीरिक सुंदरता भी बढ़ेगी.

2. उम्र लंबी होती है

baby

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 741 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

सपने में छोटे बच्चे को देखना का मतलब और शुभ या अशुभ एवं अर्थ | Sapne me chote bache ko dekhna
आसान अमावस्या के दिन धन लाभ के उपाय कोई भी कर सकता है | Amavasya ke din dhan labh ke upay
( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

जो व्यक्ति ब्रह्मचर्य का पालन करता है फिर चाहे वह महिला हो या पुरुष, उसे शारीरिक बल के साथ साथ लंबी उम्र की प्राप्ति भी होती है. ब्रह्मचारी व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत ही अच्छी होती है, जिसके कारण उनका शरीर जल्दी बीमारियों की कैद में नहीं आता है.इसीलिए ऐसे लोग काफी लंबे समय तक जीवित रहते हैं.

3. प्रोफेशन में फायदा होता है

किसी भी सामान्य व्यक्ति के मुकाबले में ऐसे व्यक्ति के अंदर ज्यादा ऊर्जा होती है, जो ब्रह्मचारी होता है. यह ऊर्जा उसे अपनी प्रोफेशन जिंदगी में आगे बढ़ने में काफी सहायता प्रदान करती है.इससे व्यक्ति की परफॉर्मेंस में निखार आता है और ज्यादा ऊर्जा होने के कारण वह अपना काम काफी अच्छे तरीके से कर पाता है.

अगर आप भी अपने अंदर अच्छी उर्जा को बनाकर रखना चाहते हैं,तो आपको आज से ही ब्रह्मचर्य का पालन करना चालू कर देना चाहिए,ताकि आपके प्रोफेशन के अंदर निखार आए.

4. मानसिक क्षमता मजबूत बनती है

जो महिला या पुरुष ब्रह्मचर्य का नियमित तौर पर पालन करते हैं. उनकी मानसिक ताकत भी काफी मजबूत हो जाती है और उनके अंदर किसी भी चीजों को समझने की क्षमता डेवलप होती है,साथ ही उनका दिमाग पहले की अपेक्षा तेजी से काम करने लगता है.

unblemished mind

ब्रह्मचारी व्यक्ति हर प्रकार के सुख दुख की परिस्थितियों को आसानी से हैंडल कर लेते हैं. जो महिला या पुरुष ब्रह्मचारी होता है,वह एक बहादुर व्यक्ति होता है, जिससे कायरता दूर रहती है.

5. सामाजिक जिंदगी में फायदा मिलता है

सामाजिक जिंदगी में ब्रह्मचर्य आपकी काफी सहायता कर सकता है, जो भी व्यक्ति ब्रह्मचर्य के नियमों का पालन करता है. उसके अंदर जलन गुस्सा और ईर्ष्या की भावना कम हो जाती है और उसकी पर्सनैलिटी के साथ ही उसके व्यक्तित्व में काफी सुधार आता है.

ब्रह्मचारी लोगों के चेहरे पर हमेशा एक तेज और ब्राइटनेस बनी रहती है,जिसके कारण वह हजारों लोगों की भीड़ में बिल्कुल ही अलग दिखाई पड़ते हैं, जो उनकी पर्सनालिटी में चार चांद लगा देता है.

osir news

ब्रह्मचारी कैसे बने ? | Brahmachari kaise bane ?

celibacy

  1. भगवान महावीर स्वामी के अनुसार देखा जाए तो महावीर स्वामी ने ऐसा कहा है कि ब्रह्मचारी व्यक्ति को ब्रह्मचारी बनने के लिए ऐसी जगह पर रहना चाहिए जहां पर लोगों का आना जाना कम हो या फिर जहां पर लड़कियां ना रहती हो, साथ ही वहां का माहौल शांत होना चाहिए.
  2. ब्रह्मचारी बनने के लिए व्यक्ति को औरतों से संबंधित किसी भी प्रकार की कल्पना नहीं करनी चाहिए ना ही उनके बारे में बात करनी चाहिए. ऐसा करने से उनकी वासना की भावना कंट्रोल में रहेगी.
  3. ब्रह्मचारी बनने के लिए आपको लड़कियों के अंगों को, उनके एक्सप्रेशन को और उनकी चाल ढाल को देखने से बचना चाहिए, ताकि आपका ध्यान ना भटके.
  4. ब्रह्मचर्य का पालन करने के लिए या फिर ब्रह्मचारी बनने के लिए आपको घी, दूध, दही, तेल, गुड, मिठाई जैसी चीजों का सेवन करना छोड़ देना चाहिए.
  5. क्योंकि इसका सेवन करने से आदमी के अंदर काम भावना की वासना जागृत होती है, जो ब्रह्मचारी के लिए ठीक नहीं मानी जाती है.
  6. एक ब्रह्मचारी व्यक्ति को टाइम पर खाना खाना चाहिए और खाना भी ऐसा खाना चाहिए जो उसे मिल जाए.
  7. ब्रह्मचारी व्यक्ति को मांस मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए, ना ही ज्यादा तेल मसाले वाला खाना खाना चाहिए, उसे सात्विक भोजन करना चाहिए.
  8. ब्रह्मचारी व्यक्ति को अपने शारीरिक सुंदरता पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देना चाहिए, ना तो उसे गहने पहनने चाहिए ना ही उसे सजावट के लिए किसी अन्य चीज का इस्तेमाल करना चाहिए.
  9. ब्रह्मचारी व्यक्ति को शब्द रूप गंध रस और स्पर्श इन पांच प्रकार के कामगुणों को बिल्कुल छोड़ देना चाहिए.
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

आसानी से 1 मिनट में नींद आने का तरीका और मंत्र जाने | 1 minut me neend lane ka tareeka
रविवार मंत्र और रविवार टोटके : रविवार व्रत विधि और लाभ | Raviwar mantra
फिल्म हीरो कैसे बन सकते हैं : ये 8 टिप्स बना देंगे आप को फ़िल्मी एक्टर | Bollywood actor kaise bane
शराब छुड़ने के तांत्रिक उपाय क्या है? | दारू छुड़ाने के अचूक उपाय
करेले की तासीर : जाने करेला गरम होता है या ठंडा और इसके 5 फायदे | Karela gram hota hai ya thanda
★ सम्बंधित लेख ★