भारत के प्रसिद्ध 7 लक्ष्मी जी के मंदिर कौन से है और उनके बारे में जानकारी !

❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मन पसंद & नये लेख पढ़े ❤☚

आज के इस आर्टिकल में हम आपको हमारे भारत देश में स्थित माता लक्ष्मी के कुछ ऐसे मंदिरों mandir के बारे में बताने वाले हैं जो काफी चमत्कारिक मंदिर माने जाते हैं और यहां पर जाकर मन्नत मांगने से आदमी की धन money से संबंधित सभी समस्याएं दूर होती हैं|

माता लक्ष्मी से लगभग हर कोई परिचित है| laxmi mata  माता लक्ष्मी ही आदमी को धन प्रदान करने का काम करती है| इसके अलावा धन देने वाले देवता के तौर पर कुबेर भगवान को भी जाना जाता है|यह दोनों ही अगर किसी पर प्रसन्न हो जाते हैं तो उसके घर को धन संपत्ति से भर देते हैं, परंतु इसके लिए आपको माता लक्ष्मी अथवा कुबेर भगवान को प्रसन्न करने की आवश्यकता होती है|

लक्ष्मी माता ही आदमी को धन प्रदान करने का काम करती हैं, इसीलिए अगर आप भी पैसों की तंगी से जूझ रहे हैं तो आपको लक्ष्मी माता की पूजा अवश्य करनी चाहिए|

हमारे हिंदू धर्म के ग्रंथों के अनुसार माता लक्ष्मी के दिन के तौर पर शुक्रवार को जाना जाता है|इसीलिए अगर आप माता लक्ष्मी की पूजा शुक्रवार को करते हैं, तो आपको इसका विशेष फल प्राप्त होता है|

लक्ष्मी माता का मंदिर, लक्ष्मी जी की आरती,mata laxmi mandir , mata laxmi mandir, laxmi mata mandir near me, laxmi mata mandir kolhapur, laxmi mata mandir balewadi, laxmi mata mandir in delhi, laxmi mata mandir mumbai, laxmi mata mandir ratlam, laxmi mata mandir jaipur, mata laxmi mantra, mata laxmi mantra in hindi, mata laxmi mantra mp3 download, information about laxmi mata mandir, माता लक्ष्मी का मंदिर, laxmi mata beej mantra, laxmi mata mantra for wealth, laxmi mata mantra in english, laxmi mata mandir balewadi distance,, लक्ष्मी जी का मंत्र, लक्ष्मी माता का मंत्र, लक्ष्मी प्राप्ति के उपाय, लक्ष्मी जी की आरती, महालक्ष्मी मंदिर, लक्ष्मी माता की आरती, महालक्ष्मी मंत्र, शीघ्र धन प्राप्ति के उपाय, महालक्ष्मी विकिपीडिया, लक्ष्मी माता का मंदिर, महालक्ष्मी मंत्र, महालक्ष्मी मंदिर तमिलनाडु, महाराष्ट्र मंदिर, कोल्हापुर महालक्ष्मी मंदिर इतिहास मराठी,

इसके अलावा आप चाहे तो दीपावली के दिन भी माता लक्ष्मी की पूजा कर सकते हैं, क्योंकि हमारे भारत में हर साल दीपावली और धनतेरस के दिन माता लक्ष्मी की पूजा और आरती की जाती है|

इसके अलावा भी आप चाहे तो किसी भी शुभ दिन अथवा शुक्रवार को लक्ष्मी जी की पूजा कर सकते हैं| ज्योतिष लोगों के अनुसार अगर लक्ष्मी पूजा सही विधि से की जाए तो, इसका फल तुरंत आदमी को प्राप्त होता है और उसकी धन से संबंधित समस्याएं खत्म होने लगती हैं|

1. पद्मावती का मंदिर कंहा पर है ? : Padmavati Temple,Taminladu

माता पद्मावती का यह मंदिर तमिलनाडु के तिरुपति के पास तिरुचौरा नाम के गांव में स्थित है और इस मंदिर में देवी पद्मावती का बहुत ही सुंदर मंदिर है और यह मंदिर अलमेलमंगापुरम के नाम से भी जाना जाता है|

यह भी पढ़े :   योग करने के फायदे क्या होते हैं? योग क्यों करे ? नियमित योग करने के 12 फायदे जाने ! What are Benefits of doing yoga in hindi

ऐसी लोक मान्यता है कि तिरुपति बालाजी के मंदिर में मांगी मुराद तभी पूरी होती है जब भक्त लोग बालाजी के साथ-साथ देवी पद्मावती का आशीर्वाद भी लेते हैं|इसीलिए बालाजी के दर्शन करने के बाद बहुत से भक्त इस मंदिर भी जाते हैं|

2. दक्षिण भारत का स्वर्ण मंदिर कंहा पर है ?: Lakshmi Temple,Vallo

इसे दक्षिण भारत का स्वर्ण मंदिर भी कहा जाता है और यह मंदिर तमिलनाडु राज्य के वेल्लू जिले में स्थित है और इस मंदिर को दक्षिण भारत का स्वर्ण मंदिर कहा जाता है| यह मंदिर टोटल 100 एकड़ में फैला हुआ है और यह मंदिर चेन्नई से 145 किलोमीटर दूर पलार नदी के किनारे पर बना हुआ है| यहां पर भी भक्तों की भारी भीड़ लगती है|

3. पद्मनाभस्वामी मंदिर कंहा पर है ?: padhmaswami Mandir,Kerela

भगवान विष्णु का यह प्रसिद्ध मंदिर तिरुअनंतपुरम में स्थित है जो कि केरल राज्य में आता है परंतु यहां से अपार मात्रा में लक्ष्मी जी की प्राप्ति हुई थी|यह मंदिर पिछले 3 साल के पहले काफी चर्चा में आया था क्योंकि इस मंदिर में से हजारों टन सोना निकला था और तब से ही यह मंदिर पूरी दुनिया में काफी प्रसिद्ध हो गया है|

यह भी पढ़े :   लक्ष्मी माता की पूजा कैसे करें ? माँ लक्ष्मी से जुडी ऐसी बाते जाने जो कोई नही बतायेगा ! How to worship Lakshmi Mata in hindi?

इस मंदिर के अभी दो दरवाजे नहीं खोले गए हैं और ऐसा अंदाजा लगाया जाता है कि उन दोनों दरवाजों के अंदर अभी भी बहुत सा सोना पड़ा हुआ है| इस मंदिर का निर्माण त्रावणकोर के राजाओं ने करवाया था, जिसका जिक्र नवी शताब्दी के ग्रंथों में भी मिलता है, परंतु मंदिर के मौजूदा स्वरूप को 18वीं शताब्दी में बनवाया गया था| यहां पर भक्तों की भारी भीड़ लगती है|

4. मुंबई का महालक्ष्मी मंदिर : mahalaxmi temple of Mumbai

माता लक्ष्मी का यह प्रसिद्ध मंदिर महाराष्ट्र राज्य के मुंबई शहर में स्थित है|यह मंदिर मुंबई के किनारे बी देसाई मार्ग पर स्थित है और यह मंदिर देखने में काफी सुंदर और आकर्षक लगता है तथा यह मंदिर लाखों लोगों की आस्था का केंद्र है|

इतिहास के अनुसार माता लक्ष्मी के इस मंदिर की स्थापना अंग्रेजों के दरमियान हुई थी| उस समय देवी लक्ष्मी एक ठेकेदार रामजी शिवाजी के सपने में आई थी और उन्हें समुद्र से देवी की तीन मूर्तियां निकालकर मंदिर में स्थापित करने का आदेश दिया था|

जिसके बाद रामजी शिवाजी ने समुद्र के अंदर से महालक्ष्मी जी, महाकाली और महासरस्वती की तीन मूर्तियां निकाली और उसे मंदिर के गर्भ गृह में स्थापित किया, तब से ही इस मंदिर की काफी महिमा चली आ रही है|

5. कोल्हापुर का महालक्ष्मी मंदिर : Laxmi Temple of Kolhapur

माता लक्ष्मी का यह मंदिर महाराष्ट्र राज्य के कोल्हापुर जिले में स्थित है और कहा जाता है कि कोल्हापुर जिले में स्थित इस मंदिर का निर्माण चालुक्य शासक कर्णदेव ने सातवीं शताब्दी में करवाया था और इसके बाद शिलहार यादव ने नवी शताब्दी में इसका फिर से निर्माण करवाया था|

माता लक्ष्मी के इस मंदिर के गर्भगृह में देवी लक्ष्मी की लगभग 40 किलो की प्रतिमा है और इसकी टोटल लंबाई 4 फिट है और कहा यह जाता है कि माता लक्ष्मी की यह प्रतिमा लगभग 7000 साल पुरानी है|इस मंदिर का भी काफी महत्व है आसपास के क्षेत्रों में|

6. लक्ष्मीनारायण मंदिर कंहा पर है ?  Laxminarayan Mandir

लक्ष्मी नारायण का यह प्रसिद्ध मंदिर भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है और इस मंदिर का निर्माण साल 1622 में वीर सिंह देव ने करवाया था,उसके बाद साल 1793 में पृथ्वी सिंह ने इस मंदिर का फिर से उद्धार करवाया था और साल 1938 में हमारे भारत देश के औद्योगिक परिवार बिरला समूह ने इसका विस्तार किया और इसका फिर से पुनरुद्धार करवाया|

यह भी पढ़े :   धन प्राप्ति के 5 अचूक सफल उपाय / साधना जाने ! रुद्राक्ष और लक्ष्मी की पूजा कैसे करे ? Top 5 ways to get money Easily in hindi

जिसके बाद इसे बिरला मंदिर भी कहा जाता है|यहां पर देवी लक्ष्मी की बहुत ही भव्य प्रतिमा स्थापित है और यह मंदिर एक टूरिस्ट प्लेस के तौर पर भी काफी जाना जाता है|

7. इंदौर का महालक्ष्मी मंदिर : Indore Mahalaxmi Temple

महालक्ष्मी जी का यह मंदिर मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में स्थित है और इस मंदिर के बारे में ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर का निर्माण साल 1832 में मल्हारराव द्वितीय ने करवाया था|

साल 1933 में यह मंदिर 3 तलों वाला था जिसमें आग लग गई थी और उसके कारण यह तहस-नहस हो गया था, परंतु साल 1942 में फिर से इस मंदिर का पुनरुद्धार करवाया गया और वर्तमान के समय में मुंबई के महालक्ष्मी मंदिर की तर्ज पर ही इस मंदिर का भव्य रुप दिया गया है|

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मुख्यपेज पर जाये या अपना मनपसन्द टॉपिक चुने ❤☚

✤ यह लेख भी पढ़े ✤