सम्पूर्ण सत्यनारायण अष्टकम पूजा विधि और पाठ के लाभ | Satyanarayan Ashtakam

सत्यनारायण अष्टकम satyanarayan ashtakam : प्रणाम गुरुजनों आज हम आप लोगों को सत्यनारायण अष्टकम Satyanarayan Ashtakam के बारे में बताएं और यह भी बताएंगे कि यह अष्टक किस भगवान का है दोस्तों क्या आप जानते हैं नारायण किसे कहा जाता है नारायण भगवान विष्णु को कहा जाता है क्योंकि नारायण भगवान विष्णु का अपने भक्तों के बीच का एक सरल नाम होता है नारायण और इसी नाम से जुड़कर ही विष्णु जी के अन्य कई नाम बने हुए हैं जैसे कि लक्ष्मी नारायण , शेष नारायण और अनंतनारायण यह सब भगवान विष्णु के नाम है.

Satyanarayan Ashtakam, satyanarayan ashtakam lyrics in kannada, satyanarayana ashtakam, satyanarayana ashtakam in telugu, satyanarayana ashtakam lyrics, satyanarayana ashtakam in tamil, shri satyanarayan ashtakam, सत्यनारायण अष्टकम, सत्यनारायण अष्टकम मंत्र , सत्यनारायण अष्टकम pdf, Satyanarayana slokam, Satyanarayan ashtakam pdf, सत्यनारायण अष्टकम लिरिक्स इन हिंदी, सत्यनारायण भगवान की स्तुति, Satyanarayana stotram in tamil, सत्यनारायण, सत्यनारायण भगवान की स्तुति, सत्यनारायण अष्टकम पूजा विधि, सत्यनारायण अष्टकम क्या है , सत्यनारायण अष्टकम पूजा विधि, सत्यनारायण पूजा विधि, सत्यनारायण पूजा विधि मंत्र सहित, सत्यनारायण पूजा विधि मंत्र सहित PDF, सत्यनारायण अष्टकम लिरिक्स इन हिंदी, सत्यनारायण पूजा विधि मंत्र सहित मराठी, सत्यनारायण अष्टकम pdf, सत्यनारायण पूजा विधि मंत्र सहित PDF Hindi, सत्यनारायण पूजन सामग्री लिस्ट PDF, सत्यनारायण कथा आरती, सत्यनारायण कथा लिरिक्स, सत्यनारायण आरती, सत्यनारायण भगवान की कथा PDF, सत्यनारायण की कथा कब करनी चाहिए, सत्यनारायण कथा का महत्व, सत्यनारायण व्रत कथा आरती PDF, पूर्णिमा व्रत कथा सत्यनारायण भगवान की, jain ashtak vidhi, satyanarayan ashtakam pdf, janmashtami puja paddhati, satyanarayan ashtakam stotra, satyanarayan ashtakam in hindi, satyanarayan ashtakam pdf, satyanarayan ashtakam, satyanarayan ashtakam stotra, satyanarayan ashtakam lyrics, satyanarayan ashtakam in hindi, satyanarayan ashtakam lyrics in hindi, satyanarayan ashtakam pdf free download, satyanarayan sinni recipe, satyanarayan ashtakam stotra, satyanarayan ashtakam pdf, satyanarayan ashtakam lyrics, satyanarayan ashtakam in hindi, satyanarayan ashtakam, satyanarayan ashtakam benefits, satyanarayan pooja timings, satyanarayan ashtakam lyrics in hindi, satyanarayan ashtakam pdf free download, satyanarayan puja when to perform, satyanarayan katha requirements, satyanarayan katha timing,

जो कि नारायण नाम से बने हुए हैं क्या आप जानते हैं कि हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार ही नारायण स्तोत्रम् भगवान श्री हरि विष्णु को समर्पित पाठ है। अगर आप नियंता पूर्ण रुप से श्री नारायण स्त्रोत का पाठ करने से मनुष्य की हर मनोकामना पूर्ण हो जाती है क्योंकि यह पाठ भगवान विष्णु जी को अत्यंत प्रिय है और यह बात कहने में भी बहुत ही ज्यादा सरल है.

इसीलिए इस पाठ का हर एक व्यक्ति लाभ उठा सकता है तो आइए जानते हैं कि सत्यनारायण अष्टकम ( Satyanarayan Ashtakam) क्या है? उसके बाद सत्यनारायण अष्टकम बताएंगे।

सत्यनारायण अष्टकम मंत्र | Satyanarayan ashtakam mantra

ॐ श्री सत्यनारायणाय नमः, ऋतुफलं निवेदयामि। मध्ये आचमनीयं जलं उत्तरापोऽशनं च समर्पयामि । 

सत्यनारायण अष्टकम क्या है ? | Satyanarayan ashtakam kya hai ?

सत्यनारायण अष्टकम भगवान विष्णु का अष्टक है यह अष्टक भगवान विष्णु को अत्यंत प्रिय है और यह कहने में भी बहुत ही ज्यादा सरल है और इस अस्त्र का लाभ हर एक व्यक्ति उठा सकता है अगर कोई व्यक्ति इस अष्टक को मन लगाकर इसका पाठ करता है तो उस व्यक्ति की हर एक मनोकामना पूर्ण हो जाएगी।

सत्यनारायण अष्टकम पूजा विधि | Satyanarayan ashtakam puja vidhi

सत्यनारायण भगवान की पूजा पूर्णिमा या संक्रांति के दिन की जाती है पूर्णिमा या फिर संक्रांति के दिन आप स्नान आदि से संपन्न होकर और साफ-सुथरी वस्त्र पहन कर माथे पर तिलक लगाकर और शुभ मुहूर्त में सत्यनारायण भगवान की पूजा शुरू करें और इस बात का ध्यान जरूर रखें कि शुभ आसन पर उत्तर या फिर पूर्व दिशा की ओर मुख करके सत्यनारायण भगवान की पूजा करनी चाहिए.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 735 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

जाने मन को शांत कैसे करें ? मन को एकाग्र और शांत करने के 8 आसान उपाय | apne man ko kaise sant kare
ऑनलाइन लड़की का नंबर कैसे निकाले ? 50 लड़की के फ़ोन नंबर | Online ladki ka number : online ladki ke phone number ki list

सत्यनारायण

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

उसके बाद सत्यनारायण व्रत कथा को शुरू करें कथा संपन्न होने के बाद सत्यनारायण भगवान को भोग लगाएं भोग लगाने के बाद उनकी पूजा आरती करें उसके बाद उपभोग को प्रसाद में मिलाकर सत्यनारायण भगवान के नाम से प्रसाद बांट दें।

सत्यनारायण अष्टकम | Satyanarayan Ashtakam

॥श्रीसत्यनारायणाष्टकम्॥

आदिदेवं जगत्कारणं श्रीधरं लोकनाथं विभुं व्यापकं शंकरम् ।
सर्वभक्तेष्टदं मुक्तिदं माधवं सत्यनारायणं विष्णुमीशम्भजे ॥१॥
सर्वदा लोककल्याणपारायणं देवगोविप्ररक्षार्थसद्विग्रहम् ।
दीनहीनात्मभक्ताश्रयं सुन्दरम् श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥२॥
दक्षिणे यस्य गंगा शुभा शोभते राजते सा रमा यस्य वामे सदा ।
यः प्रसन्नाननो भाति भव्यश्च तं श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥३॥
संकटे संगरे यं जनः सर्वदा स्वात्मभीनाशनाय स्मरेत् पीडितः ।
पूर्णकृत्यो भवेद् यत्प्रसादाच्च तं श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥४॥
वाञ्छितं दुर्लभं यो ददाति प्रभुः साधवे स्वात्मभक्ताय भक्तिप्रियः ।
सर्वभूताश्रयं तं हि विश्वम्भरं श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥५॥
ब्राह्मणः साधुवैश्यश्च तुंगध्वजो येऽभवन् विश्रुता यस्य भक्त्यामराः ।
लीलया यस्य विश्वं ततं तं विभुं श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥६॥
येन चाब्रम्हाबालतृणं धार्यते सृज्यते पाल्यते सर्वमेतज्जगत् ।
भक्तभावप्रियं श्रीदयासागरं श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥७॥
सर्वकामप्रदं सर्वदा सत्प्रियं वन्दितं देववृन्दैर्मुनीन्द्रार्चितम् ।
पुत्रपौत्रादिसर्वेष्टदं शाश्वतं श्रीसत्यनारायणाष्टकम् ॥८॥
अष्टकं सत्यदेवस्य भक्त्या नरः भावयुक्तो मुदा यस्त्रिसन्ध्यं पठेत् ।
तस्य नश्यन्ति पापानि तेनाग्निना इन्धनानीव शुष्काणि सर्वाणि वै ॥९॥
॥श्रीसत्यनारायणाष्टकम् सम्पूर्णम्॥

osir news

 

सत्यनारायण व्रत का पालन करने के लाभ | Satyanarayan vrat ka palan karne ke labh

  1. क्या आप जानते हैं कि सत्यनारायण पूजा करने के कुछ ऐसे आध्यात्मिक लाभ प्राप्त होते हैं अगर नहीं तो आज हम आप लोगों को सत्यनारायण व्रत का पालन करने के कुछ ऐसे नाम बताएंगे जो बहुत ही फायदेमंद होते हैं।
  2. अगर कोई व्यक्ति अपना राम भक्तों का पालन करना शुरू करता है तो उस व्यक्ति की अंतर्दृष्टि साफ हो जाती है और उसने जो भी पिछले और वर्तमान समय में पाप किए हैं उनसे छुटकारा मिल जाता है।
  3. सत्यनारायण का व्रत रखने से आपको मानसिक स्वास्थ्य को मजबूती मिलती है क्योंकि आपका पूरा ध्यान अपने कार्य पर अमृत होता है और इसी की वजह से आपका स्वास्थ्य सुधर जाता है आप को नियमित रूप से संतुलित आहार मिलने लगते हैं अगर आपका ध्यान केंद्रित करने की शक्ति आपके जीवन में आ जाती है तो यह बहुत बड़ा बदलाव लेकर आती है।
  4. अगर आप सत्यनारायण व्रत को करते हैं और उसका पालन अपने जीवन में करते हैं तो आप सभी परेशानियों से दूर हो जाएंगे।
  5. यदि आप सत्यनारायण व्रत को रखते हैं तो आपकी इच्छा आपकी जरूरतें और लालशाह अवश्य पूरी होगी।
  6. अगर आप सत्यनारायण की पूजा करते हैं तो आपको निश्चित ही एक आरामदायक जीवन का सुख प्रदान होता है एक संपन्न जीवन की प्राप्ति होती है।

सत्यनारायण पूजा के आध्यात्मिक लाभ | Satyanarayan pooja ke adhyatmik labh

  1. अगर आप सत्यनारायण की पूजा करते हैं तो आप जीवन में सच्चाई के रास्ते पर जीने की कोशिश करेंगे।
  2. सत्यनारायण पूजा करने से ऐसा ज्ञान जो अच्छे और बुरे के बीच में आपको अंतर समझाता है वह प्राप्त होता है।
  3. जो भी व्यक्ति सत्यनारायण की पूजा करता है उसे आध्यात्मिकता को एक अच्छे सुरक्षित मार्ग पर ले जाने का मार्ग मिलता है।
  4. आप एक ऐसा निर्णय लेंगे जो आपको अच्छे और सही गलत चीजों के बीच में अंतर बताता है।

FAQ : Satyanarayan Ashtakam

सत्यनारायण का जन्म कैसे हुआ?

क्या आप जानते हैं कि सत्यनारायण का जन्म कब हुआ या कहानी सत्यनारायण की सत्यनारायण कथा में बताई गई है यह एक सच्ची कहानी है यह स्वयं भगवान ने महर्षि नारद को सुनाई थी और महा ऋषि नारद बार-बार उनसे एक ही सवाल कर रहे थे कि सत्यनारायण की असली कथा कौन सी है तो भगवान बार-बार उनसे यही बात कह रहे थे कि कहानी ही यही है कि भगवान नारायण ने कहा कि सत्यनारायण अगर आप सत्यनारायण की कथा करवाते हैं तो वे आपके दुखों को हमेशा के लिए दूर कर देते हैं।

सत्यनारायण भगवान का व्रत मई में कब है?

सत्यनारायण भगवान का व्रत मई में सूर्य उदय के समय 15 मई को सुबह 5 बज के 30 मिनट पर किया जाता है यह पूजा कूर्म जयंती के दिन की जाती है 15 मई को सूर्य अस्त के समय शाम 7 बज के 5 मिनट पर भी की जाती है।

सत्य भगवान कौन है?

सत्यनारायण भगवान को विष्णु का रूप माना जाता है सत्यनारायण भगवान यानी कि भगवान विष्णु की कई प्रकार की छवि प्रचलित है इसमें से सबसे ज्यादा प्रसिद्ध छवि छीर सागर में शेषनाग की साया पर आराम की मुद्रा में बैठे हुए माता लक्ष्मी उनके पैर दबाती हुई यह छवि भगवान विष्णु की सबसे ज्यादा प्रसिद्ध खड़ी है।

निष्कर्ष

दोस्तों जैसा कि आज मैंने आप लोगों को बताया कि सत्यनारायण अष्टकम Satyanarayan Ashtakam क्या है और यह भी बताया कि वह अष्टक कौन सा है जिससे आपकी हर मनोकामना पूर्ण हो जाती है भगवान विष्णु का यह अष्टक आपकी हर मनोकामना पूर्ण कर देता है अगर आप इस अष्टक का मन लगाकर पाठ करते हैं तो आपकी हर मनोकामना जल्द से जल्द पूर्ण हो जाती है उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख अत्यंत प्रिय लगा होगा और आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

100+ बेहतरीन मिथुन राशि के नाम की लिस्ट हिंदी अर्थ सहित | Mithun rashi ke naam ki list
ढीलापन की दवा पतंजलि : लिंग के ढीलेपन का इलाज और दवाइयां | Dhilapan ki patanjali dawa
खेल में कैरियर कैसे बनाएं ? स्पोर्ट में नौकरी कैसे पाये ? How to make a career and job in sports?
दुबलापन / पतलापन क्यों होता है ? शरीर का वजन कैसे बढाये ? मोटे होने के नुस्खे How to increase body weight? Tips for getting fat
शिवलिंग पर जल चढ़ाने से कौन से फायदे होते हैं : धन और सम्मान प्राप्ति का रहस्य जाने
★ सम्बंधित लेख ★