पार्वती वशीकरण मंत्र : आवश्यक सामग्री जाप और साधना विधि | Parvati Vashikaran mantra

पार्वती वशीकरण मंत्र Parvati Vashikaran mantra : हेलो मित्रों नमस्कार आज मैं आप लोगों को इस लेख के माध्यम से पार्वती वशीकरण मंत्र के विषय में संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक से बताऊंगी जिसमें मैं आप लोगों को पार्वती वशीकरण मंत्र और इस मंत्र को किस समय, किस दिन, किस विधि से उपयोग में लेना है यह सारी जानकारी बताऊंगी ताकि आप लोग पार्वती के वशीकरण मंत्र को विधिवत तरीके से उपयोग में ले कर अपनी मनोकामना की पूर्ति कर सकें.

पार्वती वशीकरण मंत्र Parvati Vashikaran mantra

क्योंकि तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार हर देवी देवता के अनुसार अलग-अलग मंत्रों का निर्माण किया जाता है और हर मंत्र को उपयोग में लेने का एक निश्चित समय ,निश्चित दिन ,और विधि होती है. इसीलिए किसी भी मंत्र को उपयोग में लेने से पहले उस मंत्र से संबंधित सारी जानकारी अच्छे से प्राप्त कर लेनी चाहिए तभी उस मंत्र को किसी कार्य के लिए उपयोग में लेना चाहिए.

नहीं तो वह मंत्र आप पर विपरीत प्रभाव डाल सकता हैं क्योंकि तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार हर मंत्र में बहुत सारी शक्तियां विद्यमान रहती हैं जो व्यक्ति को कई समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सहायक होती हैं लेकिन आपको उस मंत्र जाप का शुभ फल तभी देखने को मिलेगा जब आप उस मंत्र को पूरी विधिवत तरीके से उपयोग में लेंगे.

इसीलिए आज मैं तंत्र मंत्र शास्त्र कि इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए इस लेख में पार्वती वशीकरण मंत्र से संबंधित सारी जानकारी एक क्रम वाइज से बताने की कोशिश करूंगी. ऐसे में अगर आप लोग भी पार्वती वशीकरण मंत्र से किसी को अपने वश में करना चाहते हैं तो इस मंत्र की जानकारी को अच्छे से प्राप्त करने के लिए इस लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़ें.

वशीकरण मंत्र क्या होते हैं ? | Vashikaran mantra kya Hote Hain

तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार जो मंत्र किसी भी व्यक्ति को आपकी इच्छा अनुसार कार्य करने पर मजबूर करें उन्हें वशीकरण मंत्र कहते हैं.

पार्वती वशीकरण मंत्र | Parvati Vashikaran mantra

यहां पर मैं आप सभी लोगों को पार्वती देवी के वशीकरण मंत्र से संबंधित संपूर्ण जानकारी क्रमशः बताऊंगी लेकिन वशीकरण मंत्र की जानकारी को बताने से पहले मैं आप लोगों को यह बता देना चाहती हूं कि इन मंत्रों का उपयोग सिर्फ और सिर्फ आपको किसी अच्छे काम के लिए उपयोग में लेना है.


अगर आप वशीकरण मंत्र की सहायता से किसी की जिंदगी बर्बाद करना चाहते हैं तो यह मंत्र आप पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है. हमारे तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार किसी भी व्यक्ति को अपने वश में करने के लिए कुछ इस प्रकार के पार्वती वशीकरण मंत्रों का निर्माण किया गया है जैसे,

1. पार्वती वशीकरण का पहला मंत्र

ऊँ उमामहेश्वराभ्यां नमः।

ऊँ पार्वत्यै नमः ।।

यह माता पार्वती का बहुत ही प्रभावशाली मंत्र है जिसकी सहायता से किसी को भी अपने वश में किया जा सकता है लेकिन इस मंत्र को उपयोग में लेने से पहले इस मंत्र को सिद्ध करने की आवश्यकता होती है इसीलिए हम यहां पर इस पार्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने की विधि और उपयोग में लेने की विधि दोनों ही बताएंगे.

पार्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने का शुभ दिन

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माता पार्वती और भोलेनाथ को सोमवार का दिन समर्पित है इसीलिए इनकी पूजा सोमवार के दिन करना शुभ माना गया है लेकिन तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार पार्वती और भोलेनाथ के किसी भी मंत्र को सिद्ध करने के लिए सबसे शुभ दिन शनिवार का दिन बताया गया है और शुभ समय रात 12:00 बजे इसलिए ऊपर बताए गए मंत्र को आपको सिर्फ शनिवार की रात 12:00 बजे ही सिद्ध करना आपके लिए शुभ दायक होगा.

मंत्र को सिद्ध करने के लिए लगने वाली सामग्री

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 810 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

गुस्सा क्यों आता है जाने 11 वजह : छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा क्यों आता है ? | Gussa kyu aata hai :gussa aane ki vajh
पानी और शहद से करे भयंकर वशीकरण : उपाय और मंत्र | Pani se vashikaran

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं किसी भी कार्य को करने से पहले उसकी सामग्री की आवश्यकता होती है उस तरह से इस मंत्र को सिद्ध करने के लिए कुछ हमारे तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार कुछ इस प्रकार की सामग्री आवश्यकता होती है जैसे :

  • पान का पत्ता
  • एक सुपारी
  • गंगाजल
  • धूपबत्ती, अगरबत्ती
  • शुद्ध सरसों का तेल
  • माता पार्वती की फोटो
  • सुखा हुआ लाल सिंदूर

पार्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने की विधि

तंत्र मंत्र शास्त्र के अनुसार हर एक मंत्र को सिद्ध करना बहुत आवश्यक होता है क्योंकि किसी भी मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात उस मंत्र की सारी शक्तियां व्यक्ति के अंदर विद्यमान हो जाती हैं और फिर व्यक्ति जब चाहे तब उस मंत्र को उपयोग में ले सकता है इसीलिए हम यहां पर पार्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने की बहुत ही सरल विधि बताएंगे.

  1. पर्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने के लिए आपको ऐसी जगह का चयन करना है जहां पर कोई भी आता-जाता ना हो और शोरगुल तो बिल्कुल भी ना होती हो और फिर शनिवार की रात 12:00 बजे स्नान आदि से निवृत होकर लाल वस्त्र पहन ले और फिर ऊपर बताई गई सभी सामग्री को लेकर आप उस स्थान पर पहुंच जाएं.
  2. जहां आपको आसन लगाकर इस मंत्र को सिद्ध करना है ध्यान रहे जाते वक्त अगर कोई व्यक्ति आपको रास्ते में टोक देता है तो यह मंत्र सिद्ध नहीं होगा.
  3. स्थान पर पहुंचने के बाद आप उसी स्थान पर गंगाजल छिड़काव कर स्थान को शुद्ध कर ले जहां पर आपको आसन लगाना है.
  4. उसके बाद उसी स्थान पर माता पार्वती की फोटो दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके स्थापित करें.
  5. फोटो स्थापित करने के पश्चात आप भी माता पार्वती के फोटो के सामने आसन लगाकर बैठ जाएं और फिर पान के पत्ते पर लाल सरसों के तेल में हल्का सा सिंदूर मिलाकर उसी सिंदूर से उस व्यक्ति का नाम पान के पत्ते पर तीन बार लिखें जिसे आप अपने वश में करना चाहते हों.
  6. नाम लिखने के पश्चात आप पान के पत्ते पर सुपारी रख दें और फिर उसे माता रानी की फोटो के सामने रखकर माता रानी की प्रतिमा के सामने धूपबत्ती अगरबत्ती जलाएं.
  7. इतना सब कुछ करने के बाद आपको वशीकरण मंत्र जाप करने का संकल्प लेना है संकल्प लेने के पश्चात आप माता रानी से प्रार्थना करें कि हे देवी मेरे अंदर सकारात्मक शक्ति प्रदान करो ताकि मैं अपने मंत्र जाप संकल्प को बिना किसी रुकावट के पूरा कर सकूं और फिर आसन लगाकर रुद्राक्ष माला की सहायता से ऊपर बताए गए पार्वती वशीकरण मंत्र को 108 बार जाप करें मंत्र जाप करते समय आपको अपने मन में उस व्यक्ति का नाम भी लेना है जिसे आप अपने वश में करना चाहते हो.
  8. जब 108 बार मंत्र जाप की प्रक्रिया पूरी हो जाए, तो आप उस पान के पत्ते और सुपारी सबको ऐसे निर्जल स्थान पर रखें जहां कोई दूसरा व्यक्ति उन्हें छू सके और फिर आपको शनिवार के दिन से लेकर 7 दिन लगातार पार्वती वशीकरण मंत्र को 108 बार जाप करना होगा.
  9. 7 दिन लगातार माता पार्वती वशीकरण मंत्र का जाप करने के पश्चात आप सुपारी और पान को उस स्थान से उठाकर अपने पास रख लें और फिर यह मंत्र पूरी तरह से सिद्ध हो जाएगा मंत्र में जितनी शक्तियां होंगी वह उस पान और सुपारी में विद्यमान हो जाएंगी.

पार्वती वशीकरण मंत्र को उपयोग में लेने की विधि

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

पार्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात इसे उपयोग में लेने की विधि जानना आवश्यक है इसीलिए हम यहां पर इस मंत्र को उपयोग में कैसे लेना है इसकी विधि बता रहे हैं.

  • सबसे पहले आप पान और सुपारी को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर विभाजित कर ले और फिर उन टुकड़ों को अपने हाथ में लेकर पार्वती वशीकरण मंत्र का उच्चारण मन में तीन बार करना है और फिर उस पान और सुपारी पर फूंक मारना है.
  • अब इस पान और सुपारी को आप उस व्यक्ति को किसी भी वस्तु में खिलाए जिसे आप अपने वश में करना चाहते हैं.
  • जैसे ही वह व्यक्ति इस बान और सुपारी को ग्रहण करेगा तो कुछ घंटे पश्चात ही आपको इस मंत्र का असर नजर आने लगेगा.
  • लेकिन यह मंत्र उपयोग में लेने से पहले आपको इस बात का ध्यान रखना है कि यह मंत्र आपको उस व्यक्ति के ऊपर उपयोग करना है जो बेकाबू अपने वश में ना हो, या फिर जिस से आप सच्चा प्यार करते हैं उसे पाना चाहते हो, किसी की भलाई के लिए पार्वती वशीकरण अच्छे से काम करेगा.
  • अगर आप इस मंत्र की सहायता से किसी व्यक्ति की जिंदगी बर्बाद कर रहे हैं तो इस मंत्र का विपरीत प्रभाव पड़ सकता है इस बात का विशेष ध्यान रखें.

2. पार्वती वशीकरण का दूसरा मंत्र

मंत्र- स़्त्री नमी विशि का्रांति हामी कुरु कुरु संभोगरी मणि मणि स्वः मंत्र

यह माता पार्वती का बहुत ही प्रभावशाली वशीकरण मंत्र है जिसकी सहायता से किसी भी व्यक्ति को अपने वश में किया जा सकता है

पार्वती वशीकरण दूसरे मंत्र को सिद्ध करने की सामग्री

जैसा कि हमने ऊपर भूमिका में बताया है कि हर मंत्र अलग-अलग देवी-देवताओं के अनुसार बनाए जाते हैं इसीलिए हर मंत्र को सिद्ध करने के लिए अलग-अलग सामग्री की आवश्यकता होती है इसीलिए आइए जानते हैं पार्वती वशीकरण दूसरे मंत्र को सिद्ध करने में कौन-कौन सी सामग्री चाहिए होती है.

mata parvati

  1. आम के पत्ते
  2. काला धागा
  3. लाल सिंदूर
  4. एक शांत वातावरण आसन लगाने के लिए
  5. माता पार्वती की फोटो

पार्वती वशीकरण दूसरे मंत्र को सिद्ध करने की विधि

पार्वती वशीकरण दूसरे मंत्र को सिद्ध करने की विधि बहुत ही सरल और प्रभावशाली है लेकिन फिर भी जो व्यक्ति नहीं जानता है उसके लिए कठिन साबित हो सकती है इसीलिए हम यहां पर पार्वती वशीकरण दूसरे मंत्र को सिद्ध करने की पूरी विधि बता रहे हैं.

  1. सबसे पहले आप सोमवार के दिन किसी भी समय में स्नान आदि से निवृत होकर कपड़े धारण करें और फिर आम के वृक्ष के पास पहुंचकर हाथ जोड़कर आम के वृक्ष से पत्ते तोड़ने की प्रार्थना करें और फिर कुछ आम के पत्ते तोड़ ले.
  2. आम के पत्ते तोड़ने के बाद ऊपर बताए गए सभी सामग्री को लेकर उस स्थान पर पहुंच जाएं जहां आपको आसन लगाना हो.
  3. स्थान पर पहुंचने के बाद अच्छे से साफ सफाई कर दें और फिर उसी जगह पर माता पार्वती की फोटो स्थापित करें.
  4. माता पार्वती की फोटो स्थापित करने के बाद उनके फोटो के सामने आसन लगाकर बैठ जाएं और फिर आम के 5 या 9 पत्तों पर आप सिंदूर से उस व्यक्ति का नाम तीन बार लिखें जिसे आप अपने वश में करना चाहते हो.
  5. फिर माता पार्वती की फोटो के सामने धूपबत्ती अगरबत्ती जलाएं.
  6. फिर माता पार्वती की फोटो के सामने हाथ जोड़कर मंत्र जाप प्रक्रिया पूरी करने का संकल्प लें और फिर ऊपर बताए गए मंत्र का उच्चारण रुद्राक्ष की माला को फेरते हुए 108 करना है.
  7. जब मंत्र जाप की प्रक्रिया पूरी हो जाए तो आप आम के पत्तों को काले धागे में गुधकर माला बना लें.
  8. उसके बाद माता पार्वती से हाथ जोड़कर अपनी मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना करें और फिर उस फोटो को आप अपने घर में या फिर गंगा जल में प्रवाहित कर सकते हैं इस तरह से इस मंत्र का उच्चारण करने से यह मंत्र उपयोग में लेने के लिए सिद्ध हो जाता है.

पार्वती दूसरे वशीकरण मंत्र को उपयोग में लेने की विधि

जैसा कि हमने ऊपर बताया है किसी भी मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात उस मंत्र को किसी भी समय उपयोग में लिया जा सकता है इसीलिए अब आइए पार्वती वशीकरण दूसरे मंत्र को उपयोग में लेने की विधि जान लेते हैं.

  1. मंत्र सिद्धि के दौरान आम के पत्तों पर अपने वश में करने वाले व्यक्ति का नाम लिखे और आम के पत्तों को आप काले धागे में गुधकर माला बना ले.
  2. अब उस माला को आप अपने गले में धारण करें और फिर अपने गले में उस माला को धारण करने के पश्चात आप उस व्यक्ति के सामने चले जाएं.
  3. जिसे आप अपने वश में करना चाहते हों जैसे ही वह व्यक्ति आपके गले में पड़े आम के पत्तों की माला देखेगा तो फिर वह आपके वश में हो जाएगा.
  4. हमारे प्रिय मित्रों इस मंत्र को उपयोग में लेने से पहले आपको यह जानना आवश्यक है कि इस मंत्र को सिर्फ और सिर्फ किसी व्यक्ति की अच्छाई के लिए ही उपयोग में लेना है.
  5. अगर आप किसी भी महिला या पुरुष को अपने वश में करके उसकी जिंदगी बर्बाद करना चाहते हैं तो यह मंत्र काम नहीं करेगा.

3. पार्वती वशीकरण का तीसरा मंत्र

mata parvati

 

ॐ ह्रीं उमाये नमः ||

यहां माता पार्वती और उनके स्वामी ईश्वर शिव दोनों की उपासना के द्वारा बनाया गया बहुत ही प्रभावशाली वशीकरण मंत्र है जिसकी सहायता से किसी को भी अपने वश में किया जा सकता है लेकिन इसे उपयोग में लेने से पहले इस मंत्र को सिद्ध करना आवश्यक बताया गया है इसलिए यहां पर हम पार्वती के तीसरे वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने की विधि बताएंगे

पार्वती वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने की सामग्री

  • माता पार्वती की फोटो
  • रुद्राक्ष की माला
  • शांत वातावरण
  • गंगाजल

मंत्र को सिद्ध करने की विधि

  1. सोमवार के दिन आप प्रातकाल उठकर स्नान आदि से निवृत हो जाएं उसके पश्चात जहां पर भी आपको आसन लगाना है उस स्थान को अच्छे से साफ करके उसी स्थान पर गंगाजल का छिड़काव करके उस स्थान को स्वच्छ बनाएं
  2. फिर माता पार्वती की फोटो उस स्थान पर दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके स्थापित कर दे.
  3. फिर माता रानी की फोटो के सामने बैठकर उनकी फोटो के सामने अगरबत्ती धूप बत्ती चलाएं माता रानी को खीर का भोग लगाएं.
  4. फिर मंत्र जाप प्रक्रिया पूरी करने का संकल्प लें और माता रानी से प्रार्थना करें हे माता रानी हमारे अंदर इतनी उर्जा प्रदान करो कि मैं इस मंत्र जाप प्रक्रिया को बिना किसी रूकावट के पूरा कर सकूं और फिर रुद्राक्ष की माला लेकर आप 180 बार ऊपर बताए गए मंत्र का उच्चारण करें.
  5. लगभग 30 दिन तक इस मंत्र का एक हर दिन 180 बार नियमित समय नियमित स्थान पर उच्चारण करें.
  6. 30 दिन के बाद हर रोज 180 बार इस मंत्र का जाप करने से यह मंत्र पूरी तरह से सिद्ध हो जाएगा.

पार्वती वशीकरण तीसरे मंत्र को उपयोग में लेने की विधि

  • जैसा कि हमने बताया है कि किसी भी मंत्र को सिद्ध करने के पश्चात उसे किसी भी समय उपयोग में लिया जा सकता है.
  • इसलिए इस मंत्र को आप किसी भी समय तीन बार अपने मन में स्मरण करके उस व्यक्ति के ऊपर फूंक मारे जिसे आप अपने वश में करना चाहते हैं फिर वह व्यक्ति आपके वश में हो जाएगा.
  • इस मंत्र का उपयोग किसी को भी अपने वश में करने के साथ-साथ धन प्राप्ति और व्यापार में लाभ पाने के लिए भी उपयोग में लिया जा सकता है.

FAQ : पार्वती वशीकरण मंत्र

कालरात्रि वशीकरण मंत्र बताइए

ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डाय विच्चे .।।

यह काली मां का बहुत ही प्रभावशाली मंत्र है इस मंत्र को संध्याकाल में काली माता की प्रतिमा के सामने अगरबत्ती धूप बत्ती जला कर उन्हें गुड़ का भोग लगाने के पश्चात ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंत्र जाप बताई गई विधि के अनुसार इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति की समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं.

कामदेव वशीकरण मंत्र बताइए

ॐ कामदेवाय: विदमहे पुष्पबाणाय धीमहि तन्नो अनंग: प्रचोदयात।।

इस मंत्र को शुक्रवार के दिन सुबह स्नान आदि से निवृत होकर कामदेव की प्रतिमा के सामने धूपबत्ती अगरबत्ती जलाकर उच्चारण करना है

माता पार्वती को अन्य किस नाम से जाना जाता है ?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माता पार्वती को पार्वती नाम के अलावा स्वर्ण, गौरी, काली या श्यामा के नाम से भी जाना जाता है

निष्कर्ष

तो मित्रों जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से पार्वती वशीकरण मंत्र से संबंधित सरल और प्रभावशाली जानकारी प्रदान की है जिसमें हमने पार्वती वशीकरण मंत्र और उस मंत्र को सिद्ध करने का शुभ समय, शुभ दिन, विधि, यह सब कुछ विस्तार पूर्वक से बताया है अगर आप लोगों ने इस मंत्र को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आप लोगों को पार्वती वशीकरण मंत्र से संबंधित सारी जानकारी अच्छे से प्राप्त हो गई होगी.

osir news

जिसकी सहायता से आप लोग इस मंत्र को पूरे विधिवत तरीके से उपयोग में लेकर अपनी मनोकामना की पूर्ति कर सकते हैं तो मित्रों हम उम्मीद करते हैं आप लोगों को हमारे द्वारा बताई गई जानकारी पसंद आई होगी और यह लेख आप लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

पति-पत्नी में कलेश को दूर करने के आसान उपाय : तुरंत झगड़ा रोकने के 4 ज्योतिष उपाय
Brussels sprouts : ब्रुसेल स्प्राउट्स क्या है और इसकी खेती कैसे करे? | Brussels sprouts in hindi
विज्ञापन क्या है : विज्ञापन की परिभाषा, महत्व और प्रकार | अच्छे लाभ के लिए विज्ञापन कैसे करे : Advertisement kya hai
अरेंज मैरिज के क्या नुकसान है ? ये 4 बाते अवश्य जाने ! What are the disadvantages of arranged marriage in hindi
तुलसी माता को सिंदूर लगाना चाहिए या नहीं : तुलसी पूजा विधी, नियम और फायदे
★ सम्बंधित लेख ★