12 शनिवार मंत्र : शत्रु विनाश, सुख समृद्धि और कृपा प्राप्ति हेतु | Shaniwar mantra : shaniwar ka mantra

शनिवार मंत्र  Shani dev ki pooja kaise kare : हेलो दोस्तों नमस्कार आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से शनिवार मंत्र बताने वाले हैं अगर आप तो शनि भगवान को प्रसन्न करना चाहते हैं तो शनिवार के दिन आप इन मंत्रों का जाप अवश्य करें ऐसा माना जाता है.

कि शनिवार के दिन विधि विधान से शनिदेव की पूजा अर्चना करने से उनकी उपासना करने से व्यक्ति को शनि भगवान की कृपा प्राप्त होती है ऐसा ही नहीं बल्कि उनकी पूजा-अर्चना करने से व्यक्ति पर चल रही कुदृष्टि से उसे छुटकारा मिल जाता है.

हमारे हिंदू धर्म में ऐसा माना जाता है कि किसी भी व्यक्ति के अच्छे बुरे कर्म के अनुसार शनि देव उनको फल प्राप्त करते हैं जो भी व्यक्ति अच्छे कर्म करता है उसके ऊपर शनिदेव की कृपा हमेशा बरसती रहती है.

शनिवार मंत्र,,,, shaniwar mantra in hindi,,,, शनिवार हनुमान मंत्र,,,, शनिवार बीज मंत्र,,,, शनिवार शनि मंत्र,,,, शनिवार व्रत मंत्र,,,, शनिवार को मंत्र,,,, शनिवार के लिए मंत्र,,,, शनिवार के दिन मंत्र,,,, शनिवार का मंत्र,,,, शनिवार का मंत्र बताएं,,,, shaniwar beej mantra,,,, shanivar beej mantra,,,, शनिवार मंत्र जाप,,,, शनि मंत्र दिखाइए,,,, शनि मंत्र दिखाओ,,,, शनि मंत्र डाउनलोड,,,, शनि मंत्र इन हिंदी,,,, shani mantra in hindi,,,, shanivar hanuman mantra,,,, शनि मंत्र जाप विधि,,,, शनि मंत्र जाप,,,, shaniwar ka mantra,,,, shaniwar ke mantra,,,, शनिवार के मंत्र,,,, shanivar ka mantra,,,, शनि मंत्र नीलांजन समाभासं,,,, शनि मंत्र नीलांजन समाभासं रविपुत्रं,,,, शनि मंत्र का,,,, shaniwar puja mantra,,,, शनि मंत्र रिंगटोन डाउनलोड,,,, शनिदेव की पूजा कैसे करें ?,,,, शनिदेव की पूजा कैसे करें,,,, शनिदेव की पूजा कैसे करें बताइए,,,, शनिदेव की पूजा कैसे करें ,,,, Shani dev ki pooja kaise kare,,,, भगवान शनिदेव की पूजा कैसे करें,,,, घर पर शनिदेव की पूजा कैसे करें,,,, शनिदेव की पूजा घर में कैसे करें,,,, शनिदेव का पूजा कैसे करें,,,, शनिदेव की पूजा कैसे की जाए,,,, शनिदेव की पूजा की विधि बताइए,,,, शनि देव की आरती का,,,, shani dev aarti and chalisa,,,, ,,,,

 

दूसरी ओर परेशान और बुरे कर्म करने वाले को दंड भी मिलता है इसीलिए आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से शनिवार को करने वाले कुछ ऐसे मंत्र बताने वाले हैं.

जिनकी मदद से आप शनि भगवान को प्रसन्न कर सकते हैं क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि शनिवार के दिन सच्ची श्रद्धा और मन से पूजा करने से सभी भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं क्या आप जानते हैं कि शनि देव भगवान श्री कृष्ण के अन्नय भक्त हैं.

जो भी व्यक्ति श्री कृष्ण की पूजा करता है तो उसे शनि संबंधित दोषों से मुक्ति मिल जाती है शनिवार के दिन शनि देव की कृपा पाने के लिए आप इन मंत्रों का जाप अवश्य करें।


इसीलिए आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से शनिवार मंत्र के बारे में बताएंगे तो आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

शनिवार मंत्र | Shanivar mantra

शनिवार के दिन आप इस मंत्र का जाप कर सकते हैं आप लोग के अनेक लाभ प्राप्त होंगे.


ऊँ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः।

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌।

उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्।।


शनिदेव की पूजा कैसे करें ? | Shani dev ki pooja kaise kare ?

अगर आप शनि भगवान की पूजा करना चाहते हैं तो आपको सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से संपन्न होने के बाद शनि मंदिर में जाना है वहां जाने के बाद शनि की प्रतिमा का अभिषेक सरसों के तेल से करना है।

उस तेल में आपको काले तिल और साबुत काली उड़द की दाल भी डालना है शनि भगवान को शमी के पत्ते विशेष प्रिय हैं इसीलिए यह पत्ते जरूर डालें।

Shani Dev

शनि भगवान को अपराजि ता के फूल प्रिय हैं तो यह फूल जरूर चढ़ाएं क्या आप जानते हैं कि यह फूल नीले होते हैं और शनि भगवान भी नीले वस्त्र धारण करते हैं शनि भगवान को नीला रंग प्रिय होता है इसीलिए शनि भगवान को यह फूल जरूर अर्पित करें।

इतना करने के बाद आपको किसी एकांत जगह पर बैठकर शनि के 10 नामों वाले मंत्र का जाप करना है यह जाप आपको कम से कम 108 बार करना है।

मंत्र का जाप करने के बाद पीपल के पेड़ पर जल अर्पित करें और हनुमान जी के दर्शन करें अगर आप यह प्रक्रिया करते हैं तो आपकी सभी परेशानियां दूर हो जाते हो।

शनिवार को शनिदेव पूजा मंत्र

1. शनिदेव का महामंत्र

ओम निलान्जन समाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम।छायामार्तंड संभूतं तं नमामि शनैश्चरम॥

3. शनिदेव का बीज मंत्र

ॐ शं शनैश्चरायै नम:
ओम प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः।

अगर आप शनिदेव का बीज मंत्र जाप करना चाहते हैं तो आपको शनिवार के दिन आशना नारी से संपन्न होने के बाद काले वस्त्र धारण कर लेना है उसके बाद शनि मंदिर जाकर शनिदेव की प्रतिमा के सामने इस मंत्र का जाप करना है आप चाहे तो घर में भी इस मंत्र का जाप कर सकते हैं।

4. शनि आरोग्य मंत्र

ध्वजिनी धामिनी चैव कंकाली कलहप्रिहा।

कंकटी कलही चाउथ तुरंगी महिषी अजा।।

शनैर्नामानि पत्नीनामेतानि संजपन् पुमान्।

दुःखानि नाश्येन्नित्यं सौभाग्यमेधते सुखमं।।

5. शनि दोष निवारण मंत्र

ओम त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम।

उर्वारुक मिव बन्धनान मृत्योर्मुक्षीय मा मृतात।।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 806 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

12 तुलसी के पत्ते के टोटके : पुत्र प्राप्ति, जल्दी शादी और काम में सफलता | Tulsi ke patte ke totke
स्टेनोग्राफर कैसे बने? कितनी कमाई,नौकरी,तैयारी और सिलेबस सारी जानकारी ? How to become a Stenographer aring and carrier in hindi

ओम शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये शंयोरभिश्रवन्तु नः।

ओम शं शनैश्चराय नमः।।

6. सेहत के लिए शनि मंत्र

ध्वजिनी धामिनी चैव कंकाली कलहप्रिहा।
कंकटी कलही चाउथ तुरंगी महिषी अजा।।
शनैर्नामानि पत्नीनामेतानि संजपन् पुमान्।
दुःखानि नाश्येन्नित्यं सौभाग्यमेधते सुखमं।।

7.  तांत्रिक शनि मंत्र

शनिदेव

ऊँ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः।

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌।
उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्।।

8. शनि महामंत्र

ॐ निलान्जन समाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम।
छायामार्तंड संभूतं तं नमामि शनैश्चरम॥

9. शनि दोष निवारण मंत्र

ऊँ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम।
उर्वारुक मिव बन्धनान मृत्योर्मुक्षीय मा मृतात।।

10. शनि का पौराणिक मंत्र

ऊँ ह्रिं नीलांजनसमाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम।
छाया मार्तण्डसम्भूतं तं नमामि शनैश्चरम्।।

क्या आप जानते हैं शनी देव भगवान सूर्य के पुत्र थे और उन्हें नौ ग्रहों का जज कहा जाता है क्योंकि मनुष्य के अच्छे और बुरे कर्मों का फल शनिदेव ही रहते हैं अगर आप शनि भगवान को प्रसन्न करना चाहते हैं तो इस मंत्र का जाप शनिवार के दिन शनि देव को सरसों का तेल अर्पित करके इस मंत्र का जाप करें।

11. शनि का वैदिक मंत्र

ऊँ शन्नोदेवीर-भिष्टयऽआपो भवन्तु पीतये शंय्योरभिस्त्रवन्तुनः।

अगर आप शनि का वैदिक मंत्र जाप करना चाहते हैं तो क्या आप जानते हैं कि इस मंत्र का जाप करने से शनि की साढ़ेसाती का बुरा असर खत्म हो जाता है शनिदेव का यह वेदिक मंत्र जाप करने से शनिदेव बेहद प्रसन्न होते हैं इसका जाप करना बहुत ही आसान है इस मंत्र का जाप आपको 23000 जाप करना है इससे शनि की साढ़ेसाती का दुष्प्रभाव शांत हो जाता है।

12. शनि गायत्री मंत्र

ऊँ भगभवाय विद्महैं मृत्युरुपाय धीमहि तन्नो शनिः प्रचोद्यात्।
ॐ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये।शंयोरभिश्रवन्तु नः।

अगर आप सनी भगवान का गायत्री मंत्र जाप करना चाहते हैं तो आपको शनिवार की शाम को पीपल के पेड़ पर और शमी के पेड़ के नीचे सरसों का एक दीपक जलाना है यह प्रक्रिया करने से शनि दशा कम हो जाती है और आपको लाभ प्राप्त होता है।

13. शनि पत्नी मंत्र

ध्वजिनी धामिनी चैव कंकाली कलहप्रिया।
कंटकी कलही चाऽथ तुरंगी महिषी अजा।।
शनेर्नामानि पत्नीनामेतानि संजपन् पुमान्।
दुःखानि नाशयेन्नित्यं सौभाग्यमेधते सुखम।।

हिंदू धर्म के अनुसार और ज्योतिषी के अनुसार ऐसा बताया गया है कि जो भी व्यक्ति रोज सुबह स्नान करने के बाद शनि देव के इस मंत्र का जाप करता है उसे किसी भी कष्टों का सामना नहीं करना पड़ता है और उसके ऊपर से शनि की दशा भी खत्म हो जाती है।

कर रहे हैं शनिदेव की पूजा को तो इन बातों का रखें ख्याल

जिस समय आप इस शनि भगवान की पूजा कर रहे होते हैं आपको एक बात का ख्याल हमेशा रखना है कि शनी की मूर्ति के समक्ष ना हो अगर आप किसी भी शनि मंदिर में पूजा करने जाते हैं.

Shani Dev

तो शनि की मूर्ति शिला के रूप में स्थापित होती हैं। और शमी के पेड़ या फिर पीपल के पेड़ की आराधना करनी चाहिए। जब भी आप शनि भगवान की पूजा कर रहे होते हैं तो आपको शनि भगवान की मूर्ति के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाना है।

शनिवार मंत्र जाप के लाभ | Shanivar mantra jap ke labh

  1. अगर कोई व्यक्ति शनिवार मंत्र जाप करता है तो उसके घर में सुख समृद्धि आती है.
  2. शनिवार मंत्र का जो भी व्यक्ति जाप करता है उस व्यक्ति की शनि की साढ़ेसाती का दुष्प्रभाव शांत हो जाता है।
  3. अगर आप लोग शनिवार के दिन इस मंत्र का जाप करते हैं तो आपके सभी कष्ट दूर हो जाते हैं.
  4. शनिवार के दिन इस मंत्र का जाप करने से शनि की शुभ दृष्टि पड़ती है.

शनि देव की आरती | Shani dev ki aarti

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।

सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥  जय जय श्री शनि…
श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी।

नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥ जय जय श्री शनि…
क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी।

मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥ जय जय श्री शनि…
मोदक मिष्ठान पान चढ़त है सुपारी।

लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥ जय जय श्री शनि देव…
देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी।

विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥
जय जय श्री शनि देव भक्तन हितकारी।
शनि देव की जय…जय जय शनि देव महाराज…शनि देव की जय!!!

osir news

FAQ : शनिवार मंत्र

शनिदेव का महामंत्र कौन सा है?

शनि का पौराणिक मंत्र ऊँ ह्रिं नीलांजनसमाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम। छाया मार्तण्डसम्भूतं तं नमामि शनैश्चरम्।।  

कौन सा शनि मंत्र शक्तिशाली है?

ॐ शन्नो देवी रभिष्टय आपो भवन्तु पीपतये शनयो रविस्र वन्तुनः। शनि भगवान का यह मंत्र बहुत ही शक्तिशाली मंत्र है इसे श्री शनि वैदिक मंत्र कहा जाता है ऐसा कहा जाता है कि अगर कोई व्यक्ति इस मंत्र का जाप करता है तो उससे भगवान शनिदेव जल्द ही प्रसन्न हो जाते हैं इस मंत्र का जाप आपको 23000 बार करना है इससे आपकी साढ़ेसाती का प्रभाव कम हो जाता है।    

शनि देव को प्रसन्न करने का मंत्र क्या है?

1. वैदिक शनि मंत्र: ऊँ शन्नोदेवीर- भिष्टयऽआपो भवन्तु पीतये शंय्योरभिस्त्रवन्तुनः। 2. पौराणिक शनि मंत्र: ऊँ ह्रिं नीलांजनसमाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम। छाया मार्तण्डसम्भूतं तं नमामि शनैश्चरम्।।

निष्कर्ष

जैसा कि आज हमने आप लोगों को लेख के माध्यम से शनिवार मंत्र बताएं हैं अगर आप शनि भगवान को प्रसन्न करना चाहते हैं तो शनिवार के दिन इन मंत्रों का जाप अवश्य करें इनसे आप शनि भगवान को जल्दी प्रसन्न कर ले जाएंगे उम्मीद है हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित हुई होगी।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

गर्भवती होने के लिए स्पर्म कितना होना चाहिये | पुरुष का स्पर्म कितना होना चाहिए जिससे बच्चा ठहर सकता है ?
गुप्तांगो में खुजली के 8 कारण और ठीक करने के 10 घरेलू उपाय | Guptang me khujli
कुंजिका स्तोत्र से हवन के फायदे और विधि : सम्पूर्ण श्री सिद्ध कुंजिका स्तोत्र | Kunjika stotram hindi
बाबा खाटू श्याम जी के मंत्र : खाटू श्याम के 3 प्रभावशाली मंत्र | बाबा श्याम मंत्र : Khatu shyam ji ke mantra
एलियन की सच्चाई क्या है? क्या एलियन होते है ? सबूत Alien hote hain video
★ सम्बंधित लेख ★