अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द होने का कारण और निवारण : नुस्खे | andkosh ka dard

❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द Andkosh aur pet ke nichle hisse mein Dard : कोई सामान्य दर्द नहीं है यदि आपको अंडकोष में दर्द की समस्या हो चुकी है तो यह एक प्रकार की Inguinal hernia हो सकती हैं।

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द

दोस्तों क्या आपको भी अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द रहता है यदि हां तो आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़ें यहां पर हम आपको अंडकोष से संबंधित समस्या को दूर करने के लिए चर्चा करने जा रहे हैं।

वैसे तो दोस्तों अंडकोष में दर्द होने का कारण इंगुइनल हर्निया हो सकता है लेकिन इसके और भी कई कारण हैं जिनकी वजह से हमारे अंडकोष में सूजन दर्द की समस्या होती है। अंडकोष में दर्द होने का कारण हर्निया है.


जब हर्निया में नसे और आंतों का हिस्सा जांघ की पिछली नली से नाभि तक अंडकोष से खिसक जाता है तो हमारे अंडकोष बड़े हो जाते हैं जिसकी वजह से अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द बन जाता है।

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द | Andkosh aur pet ke nichle hisse mein Dard |andkosh ka dard

दोस्तों जब अंडकोष की खिसक जाने से अंडकोष का आकार बढ़ता है जिसकी वजह से सूजन होती है और धीरे-धीरे हाइड्रोसील की शिकायत बन जाती हैं।अंडकोष का बढ़ना हर्निया के कारण होता है कभी-कभी चोट लगने के कारण भी अंडकोष बढ़ जाते हैं जिसकी वजह से हाइड्रोसील की समस्या होती है। ऐसे समय में व्यक्ति को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए बल्कि तुरंत इसका इलाज कराना जरूरी है।

आइए हम अंडकोष और पेट के निचले हिस्से मैं दर्द के कारणों पर प्रकाश डालते हैं अंडकोष में दर्द क्यों होता है आइए जानते हैं।

1. चोट लगना

कई बार साइकिल चलाते या मोटरसाइकिल चलाते समय हमारे अंडकोष में चोट लग जाती हैं इसके अलावा अंडर गारमेंट टाइट होने की वजह से भी कहीं उठते बैठते समय चोट लग जाती है जिसकी वजह से संवेदनशील अंग अंडकोष में दर्द होता है।

hand

जो लोग क्रिकेट खेलते हैं उन लोगों को कभी-कभी बॉलिंग के दौरान बाल अंडकोष पर लग जाती है जिसकी वजह से भी अंडकोष में सूजन दर्द होता है जिसकी वजह से हाइड्रोसील जैसी समस्या भी हो जाती हैं। इसके अलावा भी कई तरह की चोटे भी अंडकोष और पेट दर्द कारण बनती हैं.

2. इंगुइनल हर्निया

हर्निया की शिकायत तब पैदा होती है जब छोटी आंत का कुछ हिस्सा अंडकोष में आकर अन्दर की और घुस जाता है ज्यादातर लोगों को हर्निया की शिकायत तब होती है जब आवश्यकता से अधिक वजन उठाते हैं जिसकी वजह से उनकी हर्निया खिसक जाती है।

हर्निया के उतरने या खिसक जाने से व्यक्ति के अंडकोष में सूजन दर्द के साथ साथ चलने फिरने में दिक्कत होती है कमर दर्द के कारण झुकने में भी दिक्कत होने लगती है।

3. यौन संचारित रोग

Uterus size ling yoni

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द होने का कारण यौन संचारित रोग भी होता है यह समस्या क्लैमिडिया संक्रमण के कारण होती है।

4. रक्त प्रवाह बाधित होना

कभी-कभी व्यक्ति के अंडकोष को रक्त ले जाने वाली वाहिकाओं में स्पर्मेटिक मोड़ आ जाता है किसकी वजह से रक्त वाहिनिया बाधित हो जाती हैं और अंडकोष में सूजन और दर्द बन जाता है कभी-कभी इलाज के अभाव में अंडकोष नष्ट भी हो जाते हैं.

5. अधिवृषण की समस्या

अधिवृषण की समस्या

अंडकोष में पाई जाने वाली अधिवृषण ग्रंथि में चोट लगने या बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण जलन होती है जिसकी वजह से अंडकोष मे जलन और दर्द होता है यह समस्या ज्यादातर 18 से 30 साल के लोगों को ज्यादा होते हैं।

6. Orchitis

Orchitis में  अगर किसी प्रकार से कोई इंफेक्शन हो जाता है तो जलन के साथ दर्द होता है इस दौरान अंडकोष में सूजन आ जाती है जिसकी वजह से अंडकोष के साथ-साथ पेट में भी दर्द होता है।

7. Hydrocele के कारण

Hydrocele के कारण

कई बार लोगों के अंडकोष में पानी भर जाता है जिसकी वजह से अंडकोष में सूजन आ जाती है और चलने फिरने में दिक्कत होने लगते हैं। अधिक पानी हो जाने की वजह से कभी-कभी अंडकोष फट जाते हैं जिससे व्यक्ति की मौत भी हो सकती हैं।

8. वैरिकोसील

वेरीकोसील भी अंडकोष में सूजन का कारण बनता है कई बार एथलीट खिलाड़ियों को वेरीकोसील के कारण अंडकोष में दर्द होने से सपोर्टर का सहारा लेना पड़ता है। वेरीकोसील की समस्या के कारण अंडकोष में सूजन होती है और बढ़ जाते हैं जो आगे चलकर हाइड्रोसील की समस्या बन सकते हैं।

9. डायबिटिक न्यूरोपैथी

डायबीटिक न्यूरोपैथी

मनुष्य के अंडकोष में दर्द होने का कारण डायबिटिक न्यूरोपैथी होते हैं क्योंकि इस दौरान अंडकोष की नसे क्षतिग्रस्त हो जाती हैं जिसकी वजह से दर्द होता है। अगर व्यक्ति को डायबिटीज जैसी समस्या है तो उस व्यक्ति के अंदर डायबीटिक न्यूरोपैथी की समस्या से अंडकोष में दर्द होता है।

10. टेस्टिकल कैंसर

हमारे अंडकोष शरीर से बाहर होते हैं जिन पर किसी भी प्रकार से कोई समस्या हो सकती हैं ऐसे में कभी-कभी टेस्टिकुलर कैंसर की समस्या होती है जिसकी वजह से अंडकोष में गांठ बन जाती है और धीरे-धीरे यह कैंसर बन जाता है। यह सभी समस्याएं अंडकोष और पेट के नीचे दर्द का कारण बनती हैं।

11. प्रोस्टेटाइटिस

प्रोस्टेटाइटिस

अगर मनुष्य के वृषण कोष की किसी भी ग्रंथ में किसी प्रकार का संक्रमण होता है तो इसे प्रोस्टेटाइटिस की समस्या कहा जाता है जिसकी वजह से अंडकोष में सूजन होती है और दर्द होता है।

12. पुरुष नसबंदी

ऐसे लोग जो नसबंदी करवाते हैं जिसकी वजह से अंडवाहिनियों में गांठ बन जाती है जिससे उन लोगों को भी कई प्रकार के समस्याएं दिखाई होती  है पुरुष नसबंदी के कारण अंडकोष में दर्द सूजन होता है।

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द को ठीक करने के घरेलू उपाय

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द होने के प्रमुख कारणों पर प्रकाश डालने के बाद उसे ठीक करना भी जरूरी है ऐसे में आइए हम आपको अंडकोष के दर्द को ठीक करने के घरेलू उपाय के बारे में बताते हैं।

1. केले का फूल

BANANA KELA

दोस्तों अगर आपको अंडकोष में सूजन दर्द जैसी समस्या है तो आप केले के फूल को तोड़ लायें और उसके पत्तों को गरम करके उन पर हल्का सरसों का तेल भी लगाएं और गुनगुना पत्ता को अंडकोष में चिपका कर बांध लें। रात भर बांधकर रखने से अंडकोष का दर्द धीरे-धीरे ठीक हो जाता और सूजन भी खत्म हो जाती है।

2. हरड़

10 ग्राम छोटी हरड़ को लेकर रसौत के साथ महीन पीस लें और सरसों के तेल में मिलाकर मालिश करें दिन में तीन चार बार ऐसा करने से अंडकोष का दर्द समाप्त हो जाता है।

4. तंबाकू के पत्ते

तंबाकू के पत्ते

अंडकोष में सूजन दर्द जैसी समस्या है तो आप तंबाकू के पत्तों को गरम करके अपने अंडकोष पर चिपका लीजिए रात भर इनको चिपके रहने दीजिए चाहे तो आप लंगोट अथवा टाइट अंडरवियर पहने। इस प्रकार से अंडकोष का दर्द सूजन समाप्त हो जाता है।

5. बकायन के पत्ते

बकायन के पत्ते

 

बकायन के पत्तों को पानी में उबालकर अपने अंडकोष को कई बार धोएं गुनगुने पानी से ही धोना जरूरी है। बकायन के पत्तों को भी गर्म करके बांधने से सूजन और दर्द चला जाता है।

6. कद्दू के बीज

अंडकोष की सूजन और दर्द को ठीक करने के लिए कद्दू के बीज रामबाण इलाज है इसके लिए आपको कद्दू के बीजों को पीसकर पानी के साथ पीना होता है |

7. अदरक का रस

adrak chai

अदरक के रस को 10 से 20 मिलीग्राम शहद के साथ प्रतिदिन सेवन करने से अंडकोष की सभी समस्याएं समाप्त हो जाती है।

8. जीरा और अजवाइन

10 ग्राम जीरा अजवाइन को एक साथ पीसकर गर्म पानी में उबाल दें और गुनगुने पानी को अंडकोष पर लगाएं इससे दर्द और सूजन दोनों चला जाता है।

9. बर्फ से सिकाई करें

ice

अंडकोष में सूजन को कम करने के लिए बर्फ से सिकाई किया जाता है इससे दर्द और सूजन दोनों में राहत मिलते हैं।

FAQ : अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द

अंडकोष निकालने से क्या होता है ?

पुरुष के अंडकोष निकाल देने से व्यक्ति के इरेक्शन की समस्या होती है। एक अंडकोष निकालने पर ऐसा नहीं होता है परंतु दोनों निकाल देने पर इरेक्शन की समस्या होती है।

पुरुष के अंडकोष में गांठ क्यों होती है ?

पुरुष के अंडकोष में गांठ हार्मोन असंतुलन परिवार नियोजन अर्थात नसबंदी के कारण अथवा चोट लगने से होती है इसके अलावा थायराइड ग्रंथि में भी समस्या के कारण गांठ हो सकती हैं।

अंडकोष में गांठ है तो कौन सी दवा लें ?

अंडकोष में गांठ होने पर सबसे पहले आप किसी यूरोलॉजिस्ट से संपर्क करें उसके बाद ही दवा लें।

निष्कर्ष

मनुष्य के वृषण या अंडकोष एक अति संवेदनशील अंग होते हैं जहां पर किसी भी प्रकार की थोड़ी भी समस्या एक भारी दर्द देती हैं अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द होने का प्रमुख कारण कई प्रकार की चोट और इन्फेक्शन होते हैं।

अंडकोष और पेट के निचले हिस्से में दर्द होना कोई बड़ी समस्या नहीं है लेकिन समय पर इलाज नहीं किया जाता है तो निश्चित रूप से एक गंभीर समस्या बन जाती है अंडकोष में सूजन दर्द और जलन के कारण व्यक्ति को इनफर्टिलिटी या बांझपन आता है जिससे संतान उत्पन्न करने में समस्या आ सकती हैं।

point down यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.
♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन