अश्वगंधारिष्ट के फायदे-नुकसान और सेवन की सही विधी और मात्रा जाने | अश्वगंधारिष्ट : दर्द,सफ़ेद दाग,नामर्दी,कमजोरी और ह्रदय रोग 15+ फायदे

Ashwagandharishta ke fayde aur nuksan ! दोस्तों नमस्कार आज हम आप लोगों को अश्वगंधारिष्ट बताएंगे अश्वगंधारिष्ट कई सारी बीमारियों का रामबाण इलाज माना जाता है इसका सेवन पाउडर तेल या कैप्सूल के रूप में किया जाता है अश्वगंधा बहुत पहले से ही आयुर्वेद औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है इसका प्रयोग करने से आपके शरीर के शारीरिक व मानसिक दोनों शक्ति बढ़ती है.

अश्वगंधारिष्ट,, अश्वगंधारिष्ट की सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट के नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के घटक,, अश्वगंधारिष्ट सारस्वतारिष्ट,, अश्वगंधारिष्ट में परहेज,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे इन हिंदी,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के लाभ,, ashwagandharishta dose,, अश्वगंधारिष्ट in hindi,, अश्वगंधारिष्ट price,, अश्वगंधारिष्ट सिरप price,, अश्वगंधारिष्ट पतंजलि price,, बैधनाथ अश्वगंधारिष्ट price,, अश्वगंधारिष्ट सेवन विधिअश्वगंधारिष्ट,, अश्वगंधारिष्ट की सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट के नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के घटक,, अश्वगंधारिष्ट सारस्वतारिष्ट,, अश्वगंधारिष्ट में परहेज,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे इन हिंदी,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के लाभ,, ashwagandharishta dose,, अश्वगंधारिष्ट in hindi,, अश्वगंधारिष्ट price,, अश्वगंधारिष्ट सिरप price,, अश्वगंधारिष्ट पतंजलि price,, बैधनाथ अश्वगंधारिष्ट price,, अश्वगंधारिष्ट सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे व नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान बताइए,, अश्वगंधा के नुकसान,, ashwagandharishta ke nuksan,, ashwagandha ke nuksan kya hai,, ashwagandha ke nuksan hindi me,, ashwagandha ke nuksan in hindi,, श्वगंधारिष्ट की सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट की सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट,, अश्वगंधारिष्ट क्या है ?,, अश्वगंधारिष्ट क्या है,, अश्वगंधारिष्ट क्या होता है,, अश्वगंधारिष्ट सिरप क्या है,, अश्वगंधारिष्ट की तासीर क्या है,, अश्वगंधारिष्ट से क्या होता है,, अश्वगंधारिष्ट से क्या लाभ है,, ashwagandharishta kya hai,, ashwagandha kya hai hindi me,, ashwagandha kya h,, ashwagandha kya hota h,, ashwagandha kya hai in hindi,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे हिंदी में,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे इन हिंदी,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे बताइए,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे बैद्यनाथ,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान बताइए,, पतंजलि अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, ashwagandharishta ke fayde aur nuksan,, ashwagandharishta ke fayde bataiye,, ashwagandharishta ke fayde hindi mein,, अश्वगंधा के फायदे हिंदी,, ashwagandharishta ke fayde hindi,, ashwagandha ke fayde hindi mein,, ashwagandha ke fayde hindi me,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे क्या है,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे व नुकसान,, ashwagandharishta ke fayde in hindi,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, पतंजलि अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, ashwagandharishta ke fayde aur nuksan,, ashwagandharishta ke fayde bataiye,, ashwagandharishta ke fayde hindi mein,, अश्वगंधा के फायदे हिंदी,, ashwagandharishta ke fayde hindi,, ashwagandha ke fayde hindi mein,, ashwagandha ke fayde hindi me,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे क्या है,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे व नुकसान,, ashwagandharishta ke fayde in hindi,, बैद्यनाथ अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट सिरप के फायदे और नुकसान,, पतंजलि अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान,, ashwagandha ke fayde aur nuksan hindi mein,, ashwagandha ke fayde aur nuksan hindi me,, अश्वगंधा के फायदे और नुकसान हिंदी में,, coffee ke fayde aur nuksan in hindi,, ashwagandha plant ke fayde in hindi,, ashwagandha ke nuksan aur fayde,, ashwagandha ke fayde aur nuksan,, ashwagandha ke nuksan hindi me,, ashwagandha ke fayde aur nuksan hindi mein,, ashwagandha ke fayde aur nuksan in hindi,, डाबर अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे और नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे बैद्यनाथ,, अश्वगंधारिष्ट के नुकसान,, अश्वगंधारिष्ट के बारे में बताइए,, धूतपापेश्वर अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, दिव्य अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, अश्वगंधारिष्ट का सेवन कैसे करे,, अश्वगंधारिष्ट के बारे में बताइए,, अश्वगंधारिष्ट के फायदे,, अश्वगंधारिष्ट में परहेज,, अश्वगंधारिष्ट की सेवन विधि,, अश्वगंधारिष्ट प्राइस,, अश्वगंधारिष्ट की तासीर,, अश्वगंधारिष्ट के घटक,, अश्वगंधारिष्ट सिरप बैद्यनाथ,,

अश्वगंधा का इस्तेमाल गठिया , चिंता , नींद आना , ट्यूमर , दम अस्थमा , त्वचा पर सफेद दाग , आदि जैसी बीमारियों से आपको छुटकारा दिलाता है और अगर आपकी पीठ दर्द हो रही है मांसपेशियों में दर्द है मानसिक धर्म की समस्या है तो वह इसे भी ठीक कर देता है अश्वगंधा का इस्तेमाल सोचने की शक्ति को बढ़ाता है और आपके शरीर में कहीं पर भी सूजन है तो उसे भी कम करता है इसीलिए दोस्तों आज हम आप लोगों को अश्वगंधारिष्ट बताएंगे.

अगर आप सबको भी इन बीमारियों में से कोई एक बीमारी है तो आप अश्वगंधा का इस्तेमाल कर सकते हैं तो चलिए आज हम आप लोगों को ऐसे डिटेल से बताते हैं कि इसके क्या क्या फायदे हैं क्या क्या नुकसान है और इसे कब और कितनी मात्रा में लेना चाहिए।

अश्वगंधारिष्ट | Ashwagandharishta

अश्वगंधा

अश्वगंधारिष्ट एक जड़ी बूटी है जो एक आयुर्वेदिक श्रेणी में आती है यह अनेकों प्रकार की बीमारियों से छुटकारा दिलाने में आपकी सहायता करती है यह प्रमुख रूप से शरीर शारीरिक कमजोरी को दूर करता है और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में और दिमाग से संबंधित रोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है अश्वगंधारिष्ट का निर्माण भारत की हर बड़ी आयुर्वेदिक कंपनियां करती हैं जो कि आपको बहुत ही आसानी के साथ बाजार में उपलब्ध हो जाएंगी।

अश्वगंधारिष्ट का सेवन कैसे करें ?

अश्वगंधारिष्ट सेवन की मात्रा 15 से 30 एमएम रोज सुबह और शाम को भोजन के बाद की होनी चाहिए सामान्य मात्रा में जल्दी कर ले सकते हैं इस दवा का सेवन करने से पहले चिकित्सक से सलाह जरूर लें 6 साल के ऊपर वाले बच्चों को एक चम्मच संभाग पानी मिला कर देना चाहिए और 12 साल के ऊपर वाले बच्चों को दो चम्मच सामान्य भाग पानी मिलाकर देना चाहिए और 18 साल वाले बच्चों को 5 चम्मच सामान्य भाग पानी में मिलाकर देना चाहिए.


अश्वगंधारिष्ट का सेवन 6 महीने तक रोजाना कर सकते हैं इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं है इसे स्त्री-पुरुष दोनों ही ले सकते हैं दो से तीन महीना इस अश्वगंधारिष्ट को लिया जा सकता है इसका सेवन आपके शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 728 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

नील परी की साधना कैसे करें ? परी को कैसे बुलाया जाता है ? Neel Pari Sadhana
अंको का जादू सीखे : मोबाइल नंबर से किसी की भी उम्र का पता लगाये ! Know anyone real age by Mobile Number Magic Tricks of Mathematics

अश्वगंधारिष्ट के फायदे

  1. अश्वगंधारिष्ट शरीर में दीपन और पाचन का कार्य करता है जिन को भूख नहीं लगती है उन्हें भूख लगने लगती है और जिनको खाना खाने के बाद डाइजेशन की प्रॉब्लम हो जाती है तो यह उनको भी ठीक कर देती है।
  2. जिनको बात से जुड़े रोग होते हैं जैसे जोड़ों का दर्द, कमर दर्द , सर दर्द तो ऐसी समस्याओं में भी यह अश्वगंधारिष्ट बहुत अच्छा होता है एक तरफ से कर सकते हैं कि यह परम वात नाशक है।
  3. अगर आपका वीर्य बहुत पतला हो गया है या जिनके वीर्य में कम शुक्राणु बनते हैं और जिनको नामर्दी की प्रॉब्लम है तो ऐसी समस्याओं में भी अश्वगंधारिष्ट लेने से शुक्राणु बनते हैं वीर्य बढ़ जाता है और नामर्दी की प्रॉब्लम दूर हो जाती है।
  4. जिस भी व्यक्ति को ह्रदय रोग होता है तो उन स्थितियों में या अश्वगंधारिष्ट कोलेस्टर को कम करने हृदय को अच्छे से काम करने में सहायता करता है और आपके हृदय को स्वस्थ बनाए रखने में आपकी मदद करता है।
  5. आपके शरीर की कमजोरी को दूर करने में अश्वगंधारिष्ट बहुत ही फायदेमंद होता है और साथ ही मानसिक रोगों से लड़ने की क्षमता भी देता है अश्वगंधारिष्ट खून की कमी को पूरा करने में आपकी मदद करता है और साथ ही अगर आपको मिर्गी आती है तो आप उसे भी अश्वगंधारिष्ट से ठीक कर सकते हैं।
  6. अगर आप अश्वगंधारिष्ट नहीं लेते हैं और आपको यह सब लोग हैं तो आप भी अश्वगंधारिष्ट लेना आरंभ कर दें. अश्वगंधारिष्ट आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होने वाला है क्योंकि यह एक ऐसी जड़ी बूटी है जो आपके शरीर को हर तरीके से मजबूत और इम्यूनिटी देने में आपकी मदद करती हैं।

अश्वगंधारिष्ट के नुकसान

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

अगर आप अश्वगंधारिष्ट का अधिक सेवन करते हैं तो आपको इसके नुकसान भी उठाने पड़ सकते हैं इसीलिए यह सुरक्षित है लेकिन कुछ अवस्थाएं ऐसी होती हैं जैसे गर्भवती महिला स्तनपान करवाने वाली महिला इस दवा का सेवन डॉक्टर को बता कर ही करें यदि आप पहले से किसी बीमारी से पीड़ित है.

तो इस दवा का इस्तेमाल ना करें पहले की दवा की जानकारी डॉक्टर को जरूर बताएं जिससे इन इसके कोई भी साइड इफेक्ट होते हो तो डॉक्टर आपको बता सकें और आप उस साइड इफेक्ट से बच सकें इसीलिए आप इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर से पूछ और इसके फायदे और नुकसान को ध्यान में रखकर ही इस दवा का सेवन करें।

अश्वगंधारिष्ट की सावधानी

  1. जिन लोगों को शुगर होता है वह दवा को ना लें वरना आपको इसके दुष्परिणाम देखने को मिल सकते हैं।
  2. डॉक्टर द्वारा बताई गई अश्वगंधारिष्ट सेवन विधि के द्वारा ही इसका सेवन करें।
  3. इसे निर्धारित मात्रा से अधिक इसका सेवन ना करें या फिर इसको गलत तरीके से खाने का प्रयास ना करें।
  4. अगर शराब पीने के बाद अश्वगंधारिष्ट का कोई भी व्यक्ति सेवन करता है तो उसको उसके दुष्ट परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

अश्वगंधारिष्ट की सावधानी

आपको एक अच्छी डाइट को फॉलो करना है तो कोई भी तेल की सनी चीज ना खाएं और जंक फ्रूट होते हैं उनको आपको इस्तेमाल करने के दौरान नहीं खाना है और शाय डाइट को जितना हो सके उतना हेल्दी रखने का काम करें साइड इफेक्ट की बात करें तो कोई मेजर साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिलता है एसिडिटी और हार्ड पन जी मचलना आदि जैसी कुछ समस्याएं हो सकती हैं.

अगर आप किसी दवा का इस्तेमाल करते हैं तो आप किसी तेल वाली चीज को ना खाएं और जंक फ्रूट खा रहे हैं तो आप इस दवा के कोई भी फायदे आपके शरीर में नहीं दिखाई देंगे इसीलिए इस दवा को लेते समय बिल्कुल भी तेल की चीजें ना खाएं।

osir news

FAQ : अश्वगंधारिष्ट

अश्वगंधारिष्ट पीने से क्या होता है ?

अश्वगंधारिष्ट शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है शरीर में नसों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है और यह सामान्य समस्याओं के लिए भी फायदेमंद होता है ।

अश्वगंधारिष्ट का सेवन कितने महीने तक किया जा सकता है ?

अगर आप अश्वगंधारिष्ट का सेवन करते हैं तो इसका सेवन लगभग 3 महीने तक किया जा सकता है ?

अश्वगंधारिष्ट क्या काम करती है ?

अश्वगंधारिष्ट आपके मानसिक तनाव और शरीर की कमजोरी को दूर करने में आपकी मदद करती है और अन्य समस्याओं का समाधान भी देती है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं आपको हमारा यह अश्वगंधारिष्ट लेख आप को बहुत ही पसंद आया होगा उम्मीद करते हैं कि अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो आप इसे ज्यादा से ज्यादा पढ़े और इसका इस्तेमाल करने की कोशिश करें जैसे हमने आपको बताया है अगर आप वैसे ही अश्वगंधारिष्ट इस्तेमाल करते हैं तो आपको कभी भी कोई दिक्कत नहीं होगी।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

दुकान के बंधन को कैसे काटे ? व्यापार बंधन खोलने के उपाय dukan bandhan mukti mantra
जिन्न या जिन्नात को बुलाने की दुआ इन हिंदी : वस में करे | jinnat ko bulane ki dua
तुलसी की पूजा कैसे करें : सुख समृद्धि हेतु तुलसी जी कि पूजा विधी और आरती
Bhojan Mantra : भोजन मन्त्र खाना खाने से पहले और बाद के 3 भोजन मंत्र और उनके फायदे
सपने में छोटे बच्चे को देखना का मतलब और शुभ या अशुभ एवं अर्थ | Sapne me chote bache ko dekhna
★ सम्बंधित लेख ★