संपूर्ण चंद्र मंत्र लिरिक्स और चन्द्र स्तोत्र : सही जाप विधि एवं लाभ | chandra mantra lyrics

चंद्र मंत्र लिरिक्स | chandra mantra lyrics : हेलो दोस्तों नमस्कार स्वागत है आपका हमारे आज के इस नए लेख में आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से chandra mantra lyrics के बारे में बताने वाले हैं चंद्र एक प्रकार का ग्रह है ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्र ग्रह को कर्क राशि का स्वामी कहा जाता है चंद्र का अर्थ संस्कृत में ” उज्जवल ” होता है शास्त्रों के मुताबिक चंद्र के बारे में बहुत सी ऐसी बातें कही गई है जैसे कि चंद्र का व्यक्ति के जीवन पर अधिक प्रभाव पड़ता है.



चंद्र मंत्र लिरिक्स, chandra mantra lyrics, chandra mantra lyrics in english, moon mantra lyrics, चंद्र मंत्र जाप, चंद्र मंत्र, चंद्र बीज मंत्र, चंद्र मंत्र जाप संख्या, चंद्र ग्रह मंत्र जाप, चंद्र ग्रह मंत्र, चंद्र मंत्र लिरिक्स, चंद्र मंत्र का जाप कैसे करें, चंद्र मंत्र का जाप के लाभ, श्री चन्द्र देव की आरती, Chandra Mantra ka Jaap kaise karen, चंद्र मंत्र का जाप, चंद्रमा का जाप कैसे करें, chandra mantra jaap vidhi, Shri Chandra Dev Ki Aarti, Chandra Mantra ka Jaap karne ke Labh, Chandra Mantra ka Jaap kaise karen, Chandra mantra lyrics,

मनोविज्ञान ,भावनाओं आदि पर प्रभाव पड़ता है उसके साथ साथ हमारी इच्छाएं बुनियादी , व्यवहार एवं अवचेतन मन यह सभी चंद्र द्वारा प्रतिनिधित्व करती हैं। इन समस्त चीजों का हमारे जीवन पर अधिक प्रभाव पड़ता है चंद्र को स्त्री शक्ति से जोड़ा गया है ऐसा कहा जाता है कि चंद्र हमारे भीतर के बच्चे और मातृत्व दोनों का प्रतिनिधित्व करता है चंद्र को संवेदनशील, सहानुभूतिपूर्ण और विचारशील भी कहा गया है।

अर्थात ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्र को सूर्य के संकेतों को नियोजित करने के लिए चक्र के रूप में प्रयोग किया जाता है हमारे हिंदू धर्म के अनुसार चंद्र राशि से जाते है। चंद्र को चंद्रदेव यानी कि भगवान के रूप में माना जाता है चंद्र हर एक व्यक्ति की कुंडली का महत्व हिस्सा होता है हर एक व्यक्ति की कुंडली पर चंद्र का प्रभाव कई प्रकार से होता है अनुकूल और प्रतिकूल परिणाम व्यक्ति की कुंडली पर चंद्र देता है.

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

इसीलिए आज हम आपको इस लेख के माध्यम से chandra mantra lyrics के बारे में बताएंगे इसके अलावा चंद्र मंत्र जाप करने की विधि और चंद्र मंत्र के लाभ उन सभी विषयों के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे अगर आप इस जानकारी को संपूर्ण प्रकार से जानना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

चंद्र मंत्र लिरिक्स | Chandra mantra lyrics

new moon


1. चंद्र मंत्र

ॐ सोम सौम्य नमः

2. चंद्र बीज मंत्र

ॐ श्रम श्रीम श्रौम सह चन्द्रमसे नमः

3. चंद्र गायत्री मंत्र

ॐ अत्रिपुत्राय विद्ममहे सागरोद्भवाय धीमहि तन्नश्चन्द्रः प्रचोदयात् ।

4. चंद्र ध्यान मंत्र

श्वेताम्बरः श्वेतविभूषणश्च श्वेतद्युतिर्दण्डधरो द्विबाहुः ।
चन्द्रोऽमृतात्मा वरदः किरीटी मयि प्रसादं विदधातु देवः ।।

5. चंद्र तांत्रिक मंत्र

ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चन्द्राय नमः ।

6. नौ ग्रह चंद्र शांति मंत्र

दधिशंखतुषाराभं क्षीरोदार्णवसम्भवम् ।
नमामि शशिनं सोमं शम्भोर्मुकुटभूषणम ।।

7. चंद्र मंत्र

ॐ श्रां श्रीं श्रौं स: चन्द्रमसे नम:।
ॐ ऐं क्लीं सोमाय नम:।
ॐ श्रीं श्रीं चन्द्रमसे नम:।

8. चंद्र का वैदिक मंत्र

ॐ इमं देवा असपत्न सुवध्वं महते क्षत्राय महते
ज्यैष्ठयाय महते जानराज्यायेनद्रस्येन्द्रियाय।
इमममुष्य पुत्रममुष्यै पुत्रमस्यै विश
एष वोमी राजा सोमोस्मांक ब्राह्मणाना राजा।।

9. शिवजी के मंत्र

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्‌।
उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्।।

चंद्र मंत्र का जाप कैसे करें ? | Chandra Mantra ka Jaap kaise karen ?

Amavasya

  1. चंद्र मंत्र लिरिक्स का जाप करने के लिए सोमवार के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नानादि से निश्चिंत हो जाए ।
  2. चंद्र मंत्र जाप करने की कोई निश्चित भी नहीं है लेकिन इस मंत्र का जाप करने के लिए आपको सोमवार के दिन नित्य कर्मों से निश्चिंत होने के बाद भगवान सूर्य की पूजा करें और उन्हें और अर्ध दे।
  3. अगर आप में से किसी भी व्यक्ति को चंद्र मंत्र का अधिक लाभ उठाना है तो उसके लिए आपको 18 माला चंद्र मंत्र के जाप करना है।
  4. साथ ही अगर आप सोमवार का व्रत सकते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही लाभकारी होता है चंद्र मंत्र के व्रत से आपको अधिक लाभ प्राप्त होंगे।
  5. सोमवार का व्रत रखने में आपको नमक और अनाज से परहेज करना होगा एक वक्त का भोजन कर सकते हैं।
  6. व्रत के साथ आपको शिवलिंग पर दूध भी अवश्य चढ़ाना है।
  7. अगर आप चंद्र मंत्र के लिए ओम मंत्र का जाप करते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि यह व्यक्तियों की इंद्रियों की शक्तियों को बढ़ाता है।
  8. अगर आप मुझसे कोई भी व्यक्ति चंद्र मंत्र का प्रतिदिन जाप करता है तो उसके जीवन के सभी बुरे प्रभाव दूर हो जाते हैं।
  9. अगर आप में से कोई भी व्यक्ति चंद्र मंत्र के सभी फायदा उठाना चाहता है तो उसके लिए उस व्यक्ति को विधि-विधान पूर्वक चंद्र मंत्र का जाप करना चाहिए इस मंत्र का जाप करने के लिए हमने आपको पर्स की संपूर्ण विधि दे दी है चंद्र मंत्र का जाप करने से मानसिक शक्ति बढ़ती है और बुद्धि दृष्टि क्षमताएं प्राप्त होती हैं चंद्र मंत्र का जाप इन गुणों को बेहतर बनाता है।

चन्द्र स्तोत्र | Chandra stotra

श्वेताम्बर: श्वेतवपु: किरीटी, श्वेतद्युतिर्दण्डधरो द्विबाहु: ।
चन्द्रो मृतात्मा वरद: शशांक:, श्रेयांसि मह्यं प्रददातु देव: ।।1।।

दधिशंखतुषाराभं क्षीरोदार्णवसम्भवम ।
नमामि शशिनं सोमं शम्भोर्मुकुटभूषणम ।।2।।

क्षीरसिन्धुसमुत्पन्नो रोहिणी सहित: प्रभु: ।
हरस्य मुकुटावास: बालचन्द्र नमोsस्तु ते ।।3।।

सुधायया यत्किरणा: पोषयन्त्योषधीवनम ।
सर्वान्नरसहेतुं तं नमामि सिन्धुनन्दनम ।।4।।

राकेशं तारकेशं च रोहिणीप्रियसुन्दरम ।
ध्यायतां सर्वदोषघ्नं नमामीन्दुं मुहुर्मुहु: ।।5।।

इति मन्त्रमहार्णवे चन्द्रमस: स्तोत्रम  

चंद्र मंत्र का जाप के लाभ | Chandra Mantra ka Jaap karne ke Labh

moon

हमारे ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्र मंत्र के कई ऐसे फायदे बताए गए हैं अगर आप में से कोई भी व्यक्ति चंद्र मंत्र का विधि-विधान पूर्वक जाप करता है तो उस व्यक्ति को चंद्र मंत्र के कई प्रकार के फायदे प्राप्त होंगे जो कि निम्न प्रकार से हमने आपको बताए हैं।

1. मानसिक शक्ति

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा कहा गया है कि चंद्र मंत्र का जाप करने से सभी प्रकार की परेशानियां दूर हो जाती हैं और मानसिक शक्ति की बढ़ोतरी होती है अर्थात सभी प्रकार की चिंताएं दूर हो जाती हैं चंद्र मंत्र का जाप करने से सकारात्मक उर्जा भी प्राप्त होते हैं।

2. सुख – समृद्धि

चंद्र मंत्र का जाप करने से शरीर के मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को मजबूती मिलती है और उसी के साथ सुख समृद्धि भी प्राप्त होती है।

3. मस्तिष्क को शांत

चंद्र मंत्र का जाप करने से व्यक्ति के स्वास्थ्य के साथ-साथ मस्तिष्क को भी शांति मिलती है।

4. आत्म विश्वास

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा कहा गया है कि चंद्र मंत्र का जाप करने से व्यक्ति को आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद मिलती है और उसी के साथ आपके आध्यात्मिक पथ पर भी बढ़ने में आपको मदद मिलते हैं।

5. परिस्थितियों से निकलना

ऐसा कहा जाता है कि चंद्र मंत्र का जाप करने से आप अपने सभी प्रकार की समस्याओं से निकल सकते हैं अपनी भावनाओं को भी चंद्र मंत्र के जाप से नियंत्रित कर सकते हैं क्योंकि इस मंत्र में इतनी ज्यादा शक्ति है कि इसके कारण आप अपने संवेदना शेर मामलों को सुलझा सकते हैं और परिस्थितियों से निपटने में भी सहायता ले सकते हैं।

6. धन लाभ

अगर आप मुझसे कोई भी व्यक्ति चंद्र मंत्र का जाप विधि – विधान से जाप करें इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति के जीवन में धन संबंधित सभी परेशानियां दूर हो जाते हैं.

श्री चन्द्र देव की आरती | Shri Chandra Dev Ki Aarti

new moon

ॐ जय सोम देवा, स्वामी जय सोम देवा |
दुःख हरता सुख करता, जय आनन्दकारी |

रजत सिंहासन राजत, ज्योति तेरी न्यारी |
दीन दयाल दयानिधि, भव बन्धन हारी |

जो कोई आरती तेरी, प्रेम सहित गावे |
सकल मनोरथ दायक, निर्गुण सुखराशि |

योगीजन हृदय में, तेरा ध्यान धरें |
ब्रह्मा विष्णु सदाशिव, सन्त करें सेवा |

वेद पुराण बखानत, भय पातक हारी |
प्रेमभाव से पूजें, सब जग के नारी |

शरणागत प्रतिपालक, भक्तन हितकारी |
धन सम्पत्ति और वैभव, सहजे सो पावे |

विश्व चराचर पालक, ईश्वर अविनाशी |
सब जग के नर नारी, पूजा पाठ करें | 

FAQ : chandra mantra lyrics

चन्द्रमा का मंत्र क्या है?

ॐ ऐं क्लीं सोमाय नम:।

ॐ श्रीं श्रीं चन्द्रमसे नम:।

ॐ श्रां श्रीं श्रौं स: चन्द्रमसे नम:।।

चंद्र देव को कैसे प्रसन्न करें?

अगर आप इसे कोई भी व्यक्ति चंद्र देव को प्रसन्न करना चाहता है तो उसके लिए आपको पूर्णिमा वाले दिन भगवान सूर्य को अर्घ्य देकर ऊँ सों सोमाय नम: मंत्र का 108 बार जाप करें उसके पश्चात पूर्णिमा वाले दिन चंद्रदेव के लिए कच्चे दूध में बना मिश्रण चावल करो उनके सामने अर्पित करें ऐसे में चंद्रदेव आपसे जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं।

चंद्रमा को अर्घ्य कैसे दिया जाता है?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्रमा को अर्घ्य देने के कई तरीके बताए गए हैं इसीलिए आज हम आपको एक ऐसा खास उपाय बताएंगे कहा जाता है कि चंद्रमा को पूर्णिमा के दिन रख देना चाहिए पूर्णिमा की रात्रि को चंद्र उदय होने के बाद चांदी के लोटे में जल भरे और उसमें दूध डालकर चंद्र देव को अर्घ्य देते हुए 108 बार ऊँ सों सोमाय नम: मंत्र का जाप करें।

निष्कर्ष

दोस्तों जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम chandra mantra lyrics के बारे में बताएं उसके अलावा चंद्र मंत्र लिरिक्स जाप करने की विधि चंद्र मंत्र लिरिक्स जाप करने के लाभ के बारे में बताया इसके अलावा इन विषयों से जुड़े अन्य जानकारी भी दी है अगर आपने हमारे इस लेख को अच्छे से पढ़ा है तो आपको इन सभी विषयों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी उम्मीद करते हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित होगी।

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन