प्रधानी का चुनाव कैसे जीते ? ग्राम प्रधान कैसे बने ? | Gram pradhan kaise bane in hindi

Gram pradhan kaise bane in hindi : वर्तमान के समय में लगभग भारत के सभी राज्य में प्रधानी का चुनाव होने वाला है, अगर हम उत्तर प्रदेश की बात करें तो उत्तर प्रदेश में कुछ ही दिनों में ग्राम प्रधान का चुनाव चालू होने वाला है| आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ग्राम प्रधान का चुनाव सरकार हर 5 सालों में करवाती है और 5 सालों में कभी-कभी पूर्व प्रधान ही ग्राम प्रधान बन जाते हैं तो कभी कभी कोई नया व्यक्ति प्रधान के पद पर काबिज होता है| Gram pradhan kya hai? ग्राम प्रधान कैसे बने ?

ग्राम प्रधान करवाने का मुख्य उद्देश्य यही होता है कि ग्राम प्रधान गांव का सरपंच बन के गांव का विकास करें और सरकार की सभी योजनाओं को गांव में लागू करवाए, साथ ही गांव में जो भी समस्या होती है उसकी देखरेख करें और उसे दूर करने का प्रयास करे इसीलिए हर 5 सालों में पंचायत के चुनाव करवाए जाते हैं और उसमें जो व्यक्ति जीतता है उसे गांव का सरपंच कहा जाता है जिसे सरकार के द्वारा कुछ अधिकार प्राप्त होते हैं|

, ग्राम प्रधान के कार्य लिस्ट, ग्राम प्रधान का नाम UP, प्रधान पद के लिए योग्यता 2020, ग्राम पंचायत चुनाव लड़ने की योग्यता, ग्राम पंचायत के प्रधान का चुनाव किस प्रकार करते हैं, ग्राम प्रधान की सैलरी, "ग्राम प्रधान के लिए योग्यता" 2021, ग्राम प्रधान की योग्यता 2020 UP, ग्राम प्रधान के कार्य लिस्ट 2021, ग्राम प्रधान के कार्य लिस्ट उप २०२१, ग्राम प्रधान के कार्य लिस्ट UTTARAKHAND, ग्राम पंचायत में कितना पैसा आया, ग्राम प्रधान नाम लिस्ट इन उप, ग्राम पंचायत के कार्य, ग्राम सभा के कार्य, ग्राम पंचायत के खर्चे का विवरण UP, pradhan kaise bane , pradhan kaise bane, pradhan mantri kaise bane, प्रधान कैसे बने, ग्राम प्रधान कैसे बने, pradhan kaise banega, gram pradhan kaise bane, gram pradhan kaise bane in hindi, pradhan kaise banaen, ,

तो अगर आप भी गांव प्रधान के बारे में जानकारी चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको ग्राम प्रधान कैसे बना जाता है इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं तो चलिए चलते हैं मुख्य मुद्दे पर और जानते हैं कि गांव का प्रधान कैसे बनते हैं|

ग्राम प्रधान क्या है ? What is Gram Pradhan

हमारे भारत में हर 5 सालों के बाद ग्राम पंचायत का चुनाव होता है जिसका उद्देश्य नए ग्राम प्रधान को चुनना होता है, इसलिए हमारे भारत की हर राज्य सरकार हर 5 साल के बाद ग्राम सरपंच का चुनाव करवाती है इसके साथ ही साथ बीडीसी के पद का भी चुनाव करवाया जाता है, साथ ही कभी-कभी जिला पंचायत सदस्य के पद का भी चुनाव करवाया जाता है|

प्रत्येक 1000 की जनसंख्या वाले गांव में 1 ग्राम पंचायत होती है जो कि एक निर्वाचित अध्यक्ष जिसे हम ग्राम प्रधान कहते हैं, उसके द्वारा संचालित होती है और ग्राम प्रधान का कार्यकाल 5 सालों का होता है, 5 सालों के बाद फिर से चुनाव करवाए जाते हैं और उसमें जो प्रत्याशी जीतता है,उसे फिर ग्राम प्रधान का पद दिया जाता है|


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ग्राम पंचायत का काम उस गांव में रहने वाले लोगों की समस्याओं के ऊपर निर्भर करता है, कम से कम एक हजार की आबादी पर 1 ग्राम पंचायत का गठन होता है और जिन गांवों की आबादी 1000 की जनसंख्या से कम होती है वहां आसपास के छोटे-छोटे गांव को मिलाकर एक ग्राम पंचायत बनाई जाती है|

मतलब कि अगर किसी गांव में 1000 से कम आबादी है तो उसके आसपास के गांवों को मिलाकर एक हजार की आबादी पूरी की जाती है और उन्हें ग्राम पंचायत का दर्जा दिया जाता है और वही 1 ग्राम पंचायत उन सभी गांव के लिए काम करते हैं जिनको मिलाकर 1 ग्राम पंचायत बनाई गई होती है|

ग्राम पंचायत का चुनाव कैसे जीते ? How to win Gram Panchayat election?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ग्राम पंचायत, ग्राम प्रधान, उप प्रधान इन तीनों सदस्यों को गांव की जनता के द्वारा ही पसंद किया जाता है और जो जनता जिसे सबसे अधिक वोट देती है वही चुनाव जीतता है|

चुनाव जीतने के बाद इनका मुख्य काम होता है कि यह गांव के विकास पर ध्यान दें और गांव की जनता को जो भी समस्या हो रही हो उसका समाधान करने का प्रयास करें| तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत गरीब लोगों

को मुफ्त में सरकारी कॉलोनी दें,जिसकी कीमत 1,20000 के आसपास होती है|

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 810 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

प्राइवेट जॉब कैसे ढूंढे ? Private company me job kaise paye
Inter कक्षा 12th में टॉप कैसे करे? 90% से ज्यादा नंबर कैसे लाये ? | Intermediate exam me top karne ke tips

इसके अलावा 12000 लैट्रिंग बनाने के लिए भी मिलते हैं, साथ ही ₹15000 लेबर चार्ज भी मिलता है| ग्राम सरपंच को जनता का प्रतिनिधि भी कहा जाता है, वर्तमान की बात करें तो अब ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ने वाले हर व्यक्ति चुनाव के समय अपना अपना प्रचार करते हैं और लोगों से अपने लिए वोट देने की अपील करते हैं और जब चुनाव हो जाता है तो फिर सबसे आखरी में किसी निश्चित दिन वोट की गिनती होती है|

और जिस प्रत्याशी को सबसे ज्यादा वोट मिले हुए होते हैं उसे ही ग्राम प्रधान के पद पर चुन लिया जाता है, इसके बाद चुनाव अधिकारी के द्वारा उस व्यक्ति को निर्वाचन प्रमाण पत्र जारी किया जाता है और अगर बाद में कोई व्यक्ति अपना काम सही ढंग से नहीं करता है|तो उसे ग्राम प्रधान के पद से हटाया भी जा सकता है, इसके लिए भी चुनाव आयोग ने कई प्रावधान बनाए हैं,ग्राम पंचायत अर्थात ग्राम प्रधान का चुनाव मतदान द्वारा गांव के नागरिकों द्वारा किया जाता है|

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

वर्तमान के समय में जो भी व्यक्ति ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ना चाहता है उसे एक निश्चित समय के अंदर अपना पर्चा दाखिला करना होता है, यह पर्चा दाखिला उसे उसकी ब्लॉक में जाकर दाखिल करना होता है|

इसके बाद निर्वाचन कार्यालय के द्वारा सभी आवेदन कर्ता को एक चुनाव चिन्ह प्रदान किया जाता है और लोग उसी चुनाव चिन्ह पर अपनी मर्जी के हिसाब से वोट देते हैं, अगर कभी ग्राम प्रधान अनुपस्थित हो जाता है तो उसकी अनुपस्थिति में गांव का उप प्रधान वहां का कामकाज देखता है|

ग्राम प्रधान के काम क्या है? What is the job of village head

जो व्यक्ति गांव का सरपंच बन जाता है तो उसका मुख्य काम यही होता है कि वह गांव का सही ढंग से विकास करवाएं, इसके अलावा ग्राम प्रधान गांव के प्राथमिक विद्यालय, उच्च प्राथमिक विद्यालय से भी संबंधित काम करता है और उनकी देखरेख करता है|

इसके साथ ही प्राथमिक विद्यालय में मध्याह्न भोजन सही ढंग से और अच्छी क्वालिटी का मिल रहा है या नहीं इसकी भी देखरेख ग्राम प्रधान की जिम्मेदारी होती है|

इसके अलावा हमारे भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत ग्राम प्रधानों का यह कर्तव्य होता है कि वह उसके गांव में रहने वाले गरीब तबके के लोगों को सरकारी कॉलोनी दे|

सरकारी कॉलोनी 120000 की आती है जिसके द्वारा गरीब लोगों को पक्का घर बनाने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता दी जाती है, जो पैसे किस्तों में आते हैं जिसमें से कुछ पैसा नीव खोदने के बाद कुछ पैसा दीवार खड़ी होने के बाद और कुछ पैसा घर का लेंटर पड़ने के बाद मिलता है, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत हमारे भारत देश में तकरीबन 15 करोड़ से अधिक घर बन चुके हैं|

ग्राम प्रधान बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? What are the qualifications required to become a village headman?

ग्राम प्रधान बनने के लिए व्यक्ति का कम से कम आठवीं पास होना आवश्यक है, इसके अलावा अगर हम व्यक्तिगत योग्यता के बारे में बात करें तो उसका स्वभाव ईमानदार होना चाहिए, ताकि वह इमानदारी से अपना काम कर सके साथ ही वह मिलनसार होना चाहिए|

osir news

क्योंकि तभी लोग उसे पसंद करेंगे और उसे वोट देंगे, इसके साथ ही उसकी अपने गांव में अच्छी पकड़ होनी चाहिए, साथ ही उसे गांव का विकास किस तरह किया जाता है, इसके बारे में थोड़ी जानकारी होनी चाहिए| इसके अलावा ग्राम सरपंच का चुनाव लड़ने के लिए उसकी कम से कम उम्र 18 साल होनी चाहिए, साथ ही वह भारतीय नागरिक भी होना चाहिए और उसका नाम मतदाता सूची में होना चाहिए |

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

पशुपति व्रत के फायदे सम्पूर्ण विधि मंत्र और आवश्यक नियम जाने | Pashupati vrat
खाटू श्याम जी की जीवन कथा और सम्पूर्ण जानकारी : खाटू श्याम जी कौन हैं ? | Khatu shyam ji ki jivan katha
अगर Gf गर्लफ्रेंड या कोई लड़की इंग्नोर करे तो : 9 टिप्स लड़की आप के पीछे घूमेगी | Ladki ignore kare to kya kare
भगवान को पाने का आसान तरीका जाने ! योग और भक्ति के प्रकार Bhagwan ko kaise prapt kare
अग्नि प्रज्वलित करने का मंत्र क्या है जाने | Agni prajwalan mantra in hindi
★ सम्बंधित लेख ★