रोज बीज गिराने से क्या होता है : सरका या हस्तमैथुन के 10 भयंकर नुकसान | बीज निकालने से क्या नुकसान होता है

Roj beej girane se kya hota hai ?मनुष्य एक ऐसा प्राणी है जिसके अंदर उपस्थित वीर्य पुरुषत्व की निशानी है जिसका हनन करने से मनुष्य के अंदर पुरुषत्व की कमी हो जाती है दरअसल वीर्य एक ऐसा अवयव है जो व्यक्ति ने पुरुषोत्तम के साथ-साथ पुरुष को बलिष्ठ सुंदर और हष्ट पुष्ट बनाता है। वीर्य ही एक पूर्ण मनुष्य का परिचायक है।

वीर्य जैसे सामान्य भाषा में बीज कहा जाता है यह संतानोत्पत्ति के काम आता है जिसे मनुष्य स्त्री के साथ है यौन संबंध करके नई संतान उत्पन्न करता है फिर भी यदि कोई मनुष्य अपने इस वीर्य को नष्ट करता है तो निश्चित रूप से उसके लिए कई तरह से विकृतियां उत्पन्न होती हैं।

सरका मारने से क्या प्रभाव पड़ता है, सरका मारने से क्या होता है बताओ, sarka marna chahiye ya nahi, ज्यादा मुख्य मारने से क्या होता है, hastmaithun kab karna chahiye in marathi, hastmaithun right or wrong, hastmaithun kitna karna chahie, hastmaithun kitni baar karna chahie, hastmaithun kitni baar karna chahie mahine mein, hastmaithun kitni baar karna chahiye din mein, hastmaithun kitni baar kar sakte hai, hastmaithun kitne bar karna chahiye, hastmaithun kitne din me, किससे करती है, hastmaithun kaise roke gharelu upay, kya hastmaithun karna paap hai, kya hastamaithun karna chahie, kya hastmaithun paap hai, kya hastamaithun karna chahiye, kya hastamaithun karna jaruri hai, kya hastmaithun karna thik hai, hastmaithun kyon nahin karna chahie, hastm,

यदि व्यक्ति अपने वीर्य या बीज को रोज गिरा देता है तो व्यक्ति के अंदर कई प्रकार के विकार पैदा हो जाते हैं जिससे व्यक्ति समय से पहले जिंदगी के असली मजे लेने से वंचित हो जाता है वीर्य का क्षरण होने के कारण मनुष्य में बुढ़ापा जल्दी आ जाता है साथ ही मनुष्य में कार्य करने की क्षमता भी कम हो जाती है।

आज का युवा विभिन्न प्रकार की गलत विसंगतियों में पड़कर अश्लील फिल्मों को देखकर अपने वीर्य को गिरा देता है अधिकांश व्यक्ति हस्तमैथुन करके अपनी बीज को नष्ट कर देते हैं जिससे उनके जीवन में कई प्रकार से गलत परिणाम दिखाई देते हैं।

आज की युवा पीढ़ी गलत संगत और अश्लीलता भरी किताबें या फिल्में देखकर अपने जीवन का अमूल्य रत्न वीर्य गिरा कर नष्ट कर देते हैं अधिकांश युवक हस्तमैथुन के द्वारा या अत्यधिक संभोग के माध्यम से अपने देश का नुकसान करते हैं जिससे जीवन में अनेक विकृतियां उत्पन्न होते हैं।

रोज बीज गिराने से क्या होता है ? | hastmaithun ke nuksan

रोज बीज गिरा देने से क्या होता है तो दोस्तों मैं आपको बताना चाहूंगा कि हमारे शरीर के अंदर ब्लड से निर्मित वीर्य मनुष्य के लिए बहुत आवश्यक है जो संतान उत्पत्ति का कार्य करने के साथ-साथ व्यक्ति को बल प्रदान करता है यदि किसी रोज गिरा दिया जाए तो इससे क्या होता है आईये जानते हैं।


1. रोज बीज गिराने से शरीर कमजोर हो जाता है

यदि कोई व्यक्ति अपना beeej प्रतिदिन गिरा देता है तो धीरे-धीरे व्यक्ति के अंदर कमजोरी आने लगती हैं।

कोई भी अपना वीर्य चाहे हस्तमैथुन से या अधिक योन संबंधों से गिरा देता है तो उसके शरीर में कमजोरी का एहसास होता है और एक बेहतर लाइफ जीने की अपेक्षा अपने जीवन को नर्क बना देता है|

kamjor weak

रोज बिजली गिरा देने से सेहत बिगड़ जाती है शरीर के अंदर शक्ति कमजोर हो जाते हैं और व्यक्ति को हर दम महसूस होता रहता है कि जैसे उसकी ताकत खत्म हो गई है जिसे प्राप्त करने के लिए व्यक्ति दिन प्रतिदिन कुछ बेहतर खाने के लिए ढूंढने लगता है।

यदि आप रोज बीज गिरा देते हैं एक समय ऐसा आता है कि आपका स्वास्थ्य बहुत अधिक बेकार हो जाता है कमजोरी के कारण शरीर में थकान दर्द महसूस होती है और रिश्तो पर असर पड़ता है

2. रोज बीज गिराने से  स्वयं के प्रति हीन भावना होती है

यदि कोई व्यक्ति हस्तमैथुन करके अपने बीज को रोज गिरा देता है तो धीरे-धीरे व्यक्ति स्वयं में हीन भावना का शिकार हो जाता है अपने प्रति ग्लानि पैदा होती है।

व्यक्ति जीवन में जब कोई काम करता है तो उसे खुशी मिलती है लेकिन आप अपने बीज को नष्ट करने से उसे आत्म ग्लानि होती है। अब आप ही सोचिए जिस कार्य से हमें खुशी ना हो वह काम हम क्यों करें।

udas hopeless

यदि अपना बीज रोज गिरा देते हैं तो आप खुश नहीं रह सकते हैं और अपने अंदर आत्मग्लानि पैदा होती है जिसकी वजह से आप परेशानी से गिर जाते हैं ऐसे यह फायदा यही है कि अपने दीदी को सुरक्षित रखें और एक अच्छे इंसान बन कर जिए।

यदि हम खुश रहेंगे तो हम नाम के साथ जीवन जिएंगे और अपने अंदर सेल्फ रिस्पेक्ट होगा साथ ही किसी के सामने अपने अंदर हीन भावना नहीं आएगी। यह एक ऐसी बुरी आदत है जिससे हम दुनिया के सामने अपनी ही नजर में गिर जाते हैं।

3. रोज बीज गिराने से लिंग में सूजन बनी रहती है

हस्तमैथुन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसको करने के बाद व्यक्ति को संतुष्टि मिलती है परंतु उन्हें यह नहीं पता है कि हस्तमैथुन करने से शरीर से महत्वपूर्ण तत्व नष्ट कर देते हैं जिसे हम बीज या वीर्य कहते हैं।

penis ling

बात यहां तक समाप्त नहीं होती है बल्कि जल्दी-जल्दी हस्तमैथुन करने से वीर्य के साथ निकलने वाला द्रव्य पदार्थ मांस पेशियों में चला जाता है जिसकी वजह से लिंग में सूजन होने लगती है और दर्द महसूस होता है।

रोज-रोज बीज गिराने के लिए हस्तमैथुन करने से लिंग में सूजन होने की वजह बनती है और निरंतर सुजल बनने से गंभीर समस्या बन जाती है जिसका एकमात्र उपाय यह है कि हस्तमैथुन ना किया जाए।

4. रोज बीज गिराने से लिंग की मांसपेशियां टूट जाती हैं

हस्तमैथुन के माध्यम से व्यक्ति अपने बीज को रोज गिरा देता है ऐसे में व्यक्ति अपने लिंग को हस्तमैथुन करते समय बहुत जिससे लिंग पर दबाव पड़ता है और लिंग को मोड़ देते जिसकी वजह से लिंग की मांसपेशियां टूट जाती है।

ling banana

लिंग की पेशियां बहुत कमजोर होती हैं रोज-रोज बीज गिराने के लिए हस्तमैथुन करने से नामक बीमारी हो जाती हैं जिससे व्यक्ति का लिंग टेढ़ा हो जाता है जिससे भविष्य में मुश्किलों से सामना करना पड़ता है।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 867 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

क्या खायें : टाइफाइड में चावल खाना चाहिए या नहीं ? | Typhoid me chawal khana chahiye ya nhi
सम्पूर्ण सत्यनारायण अष्टकम पूजा विधि और पाठ के लाभ | Satyanarayan Ashtakam

5. रोज बीज गिराने से मानसिक तनाव पैदा होता है

जो व्यक्ति अपने अंदर मौजूद वीर्य को बेवजह बर्बाद करते हैं उनके अंदर मानसिक तनाव पैदा हो जाता है जिसकी वजह से अपने को दोषी मानते हैं लगातार बीज गिराने से अपने अंदर चिड़चिड़ापन आने लगता है और अपने आप में बुरा सोचते हैं।

man aatma night green

 

 

रोज बीज गिराने से उत्पन्न तनाव के कारण व्यक्ति अवसाद का शिकार हो जाता है कभी-कभी उसके अंदर घबराहट होने लगती हैं और कोई काम सही से नहीं कर पाता है।

6. रोज बीज गिराने से अवैध संबंध की जिज्ञासा उत्पन्न होती है

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

हस्तमैथुन करके व्यक्ति अपने बीच को प्रतिदिन गिरा देता है जिसकी वजह से उसके अंदर यौन संबंध की जिज्ञासा उत्पन्न होती है और अपनी यौन इच्छाओं को पूरा करने के लिए अवैध है यौन संबंध बनाता है।

रोमांटिक इशारे

व्यक्ति के अंदर सेक्स की चाहत पड़ जाती है जिस्म की भूख को शांत करने के लिए वह अवैध संपर्कों में चला जाता है और ऐसी गलती करता है जिसे जिंदगी भर पछतावा के सिवा कुछ नहीं मिलता है।

यदि व्यक्ति के अंदर अपना बीज गिराने की आदत लग जाती है तो वह हस्तमैथुन के साथ साथ ही यौन अपराध करने में हिचकिचाता नहीं है और अपना जीवन बर्बाद करता है इसलिए हस्तमैथुन की आदत छोड़ दें।

7. रोज बीज गिराने से शुक्राणुओं में कमी जाती है

हस्तमैथुन करने से रोज बीज नष्ट होता है जिसकी वजह से व्यक्ति में कमजोरी के कारण शुक्राणु बनने की कमी महसूस होने लगती है जिसकी वजह से शादी होने के बाद संतान उत्पत्ति करना कठिन हो जाता है।

sperium veery sperm

रोज बीच गिरा देने के कारण शुक्राणुओं में कमी होती है और व्यक्ति के अंदर टेंशन के कारण सेहत भी खराब होती है जिसकी वजह से एक अच्छा जीवन सदा के लिए बर्बाद हो जाता है।

8. यौन संबंधों में कमी होती है

जो व्यक्ति हस्तमैथुन करके अपना बीज रोज गिरा देते हैं ऐसे लोग विवाह के बाद पत्नी से योन संबंधों को बनाने में असफल हो जाते हैं जिसकी वजह से पति और पत्नी के बीच में झगड़ा होता है।

sleep lover

अधिक हस्तमैथुन करने से व्यक्ति के अंदर में उत्तेजना की कमी होती है जिससे यौन संबंध बनाते समय स्खलन जल्दी हो जाता है और यौन संबंधों से वंचित रह जाते हैं पत्नी को संभोग का सुख नहीं दे पाते हैं।

बहुत से लोग पत्नी के नाराज होने के कारण भी हस्तमैथुन की ओर रुख कर लेते हैं उनको हस्तमैथुन में संभोग का सुख मिलता है परंतु शादी के बाद ऐसे लोगों को चाहिए कि वह हस्तमैथुन के बजाय शादीशुदा जिंदगी पर ध्यान दें।

9.  पाचन तंत्र प्रभावित होता है

हस्तमैथुन करके रोज बीज गिरा देने से व्यक्ति के पाचन तंत्र पर भी बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है हमारे शरीर में पाचन तंत्र ही एक ऐसा अंग है जो संपूर्ण शरीर को भोजन को निचोड़ छोड़कर रस प्रदान करता है।

हस्तमैथुन के कारण पाचन तंत्र प्रभावित हो जाता है जिससे पाचन प्रक्रिया धीमी हो जाती है और स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है भोजन पचने में समय लगता है जिससे आवश्यक खनिज पदार्थ हमारे शरीर को सही से प्राप्त नहीं होते।

रोज बीज गिरा देने से व्यक्ति के अंदर प्रोटीन की कमी हो जाती है जिसकी वजह से शरीर दुबला हो जाता है और पाचन तंत्र निष्क्रिय हो जाता है।

10. रोज बीज गिराने से  लिंग में उर्ध्वता की कमी

एक व्यक्ति जो अपने वीर्य को रोज हस्थमैथुन के माध्यम से नष्ट कर देता है उसके अंदर लिंग की उर्ध्वता में कमी आ जाती है। ऐसी स्थिति में लिंग में उत्तेजना ना होने से आदमी मेंटली डिप्रेशन का शिकार हो जाता है।

ling penis

बहुत से लोगों ने दवा कराने पर ठीक हो जाता है परंतु कुछ लोगों में हमेशा के लिए उत्तेजना समाप्त हो जाती है थे जिसकी वजह से उनकी शादी नहीं होती यदि हो जाती है तो शादीशुदा जीवन बर्बाद हो जाता है।

osir news

इस लेख को पढने के बाद अब तो आप जान गये होंगे की hastmaithun ke nuksan कितने ज्यादा होते है और इससे कितना दूर रहने की आवस्यकता है .

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

Jadu ki dua : 7 दिनों में जादू टोना खत्म करने की दुआ और असरदार वजीफा
लाल पेन से नाम लिखकर वशीकरण : 6 तरीकों से करे वश में | Lal pen se naam likhkar vashikaran
तीव्र बुद्धि मंत्र और ज्ञान प्राप्ति मंत्र एवं शक्ति बढ़ाने के उपाय | Teevra Buddhi Mantra
CRPF क्या है ? सीआरपीएफ का क्या काम होता है, CRPF की सैलरी कितनी होती है? | crpf ka full form kya hota hai
सूर्य का सबसे प्रभावशाली मंत्र : सूर्य देव की पूजा विधी और आरती – Surya Mantra
★ सम्बंधित लेख ★