एक्टिव और पैसिव इनकम (कमाई) क्या है ? अमीर होना है तो यह जरुर जाने ! What is Active and Passive Income ?

आज मे आप लोगों ऐसी जानकारी देने जा रहा हूँ जो आप को निश्चित रूप से अमीरी के रस्ते पर अग्रसर (चलायमान) कर देगी यह मेरा वादा है आपसे बस इस पोस्ट को आप अंत तक पढ़िएगा, दोस्तों हम सभी अपनी जिंदगी में अमीर होना चाहते है फिर उसका कारण कोई भी हो सकता है . कोई अपने सपनो के लिए अमीर होना चाहता है तो कोई किसी की मदद के लिए या अपने परिवार के लिए लेकिन बहुत से ऐसे लोग भी होते है जो अमीर तो नहीं बनना चाहते है पर अपने परिवार और अपने बच्चो को कंगाली में मारते है , यंहा तक की खुद की भी इच्छाओ का गला घोटते है ख़ैर यह पोस्ट ऐसे लोगो के लिए नहीं है यह उनके लिए है जो सपने देखते है और उनको पूरा करने के लिए मेहनत करते है , जो अपनी जिंदगी को सभी खुशियों से भर देना चाहते है और आनन्द के साथ मरना चाहते है .

यदि यह पूर्ण सत्य है की हमे एक न एक दिन मरना ही है और इसकी भी कोई गारेंटी नहीं है की अगला जन्म हो या न हो तो क्यों न इस जिंदगी के ये सुहाने दिन पुरे जोश और मजे के साथ जिये जाये . दोस्तों ज्यादा रूपया कमा लेने को अमीरी नहीं कहते है ,रुपया तो केवल एक माध्यम है.. पैसा तो अपराधी और आतंकवादी भी कमाते है पर उनकी जिंदगी भी कोई जिंदगी है बिना इज्जत और डर से भरी, घुट-घुट के जीने वाली जिंदगी ऐसी जिंदगी भी भला किस काम की . वैसे कन्ही आप भी तो नहीं इसी तरह जी रहे है घुट-घुट कर रुपये की तंगी के कारण ? आप काफी मेहनत भी करते है फिर भी उतना नहीं कमा पाते जितने में आप की आवस्यकतायें पूरी हो सपने तो बहुत दूर की बात है, तो आज मै आप को एशा तरीका बताऊंगा जिससे आप अपने सपने पुरे कर पाओगे .

Active and Passive Income क्या है ?

हम आज इसी लिए आप को आज एक्टिव और पैसिव इन्काम के बारे में बताने जा रहे है वैसे तो इस एक लाइन में भी समझा जा सकता है .

Active Income chart in hindi what is activ ncome

” जब आप रुपये के लिए काम करते हो तो इसे एक्टिव इन्कम कहते है और जब रुपया आप के लिए काम करे तो इस कमाई को पैसिव इन्काम कहते है ” 

अब आप यह सोच रहे होंगे भला रूपया आपके लिए कैसे काम करेगा तो मैं आपको बता दूं इसका अर्थ यह है की जब आपकी अनुपस्थिति में भी आपके द्वारा निवेश किये गये रुपये से किसी भी तरह की कमाई हो ऐसी कमाई पैसिव इनकम के अंतर्गत आती है इसमें आप काम करके रुपया नहीं कमा रहे हैं बल्कि आपने जो रुपया लगाया है वही रूपया आपके लिए काम करके नया रुपया कमा कर दे रहा है. बैंक से मिलने वाला ब्याज (interest), आपकी सम्पति से आने वाला किराया और शेअर पर मिलने वाला डिविडेंट (shares market dividend) आदि इसके अच्छे उदाहरण है वैसे मै आगे चल कर इस वेबसाइट OSir.in पर कुछ पैसिव इन्काम के खास-खास आइडिया देने वाला हूँ इस लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक कर ले www.fb.com/oosir हर अपडेट सब से पहले पाने के लिए .

आप के लिए खास पोस्ट यह भी पढ़े :-  प्रोग्रामर किसे कहते है ? सोफ्टवेयर इंजीनियर / प्रोग्रामर क्यों बने ? Why to Become a Software Engineer or Programmer ?

what is Passive Income Chart in hindi

जरुरी नहीं है की यह रूपये के इन्वेस्ट से ही कमई जाये बल्की आप इसे अपनी मेहनत से भी कमा सकते है इसे एक लाइन में इस प्रकार कहेंगे.

” आप मेहनत तो एक बार करे पर उसका फायदा आप को बार-बार मिलता रहे तब भी जब आप वंहा न भी हो “

इसका अच्छा उदहारण है की आप कोई किताब लिखे या फिल्म बना सकते है इनसे आप को जीवन भर और जीवन के बाद भी रॉयल्टी (आप का हिस्सा) मिलती रहेगी या फिर आप कोई ऐसा व्यापार भी खड़ा कर सकते हैं जिसमें उस व्यापार की देखरेख के लिए मैनेजर हों और आपको उसमें कोई काम ना करना पड़े बल्कि समय-समय पर उस व्यापार से आप को फायदा मिलता रहे यह सभी अप्रत्यक्ष आय (पैसिव इन्कम) के अच्छे

उदाहरण है.

पैसिव इनकम (अप्रत्यक्ष आय) क्यों जरुरी है ?

दोस्तों जैसा कि आपने ऊपर बने चार्ट में देखा कि प्रत्यक्ष आए हमारे लगातार कार्य करने पर ही प्राप्त होती है फिर वह चाहे हमारी नौकरी हो या फिर हमारा कोई ऐसा बिजनेस जो आपके बगैर न चलता हो ! इन सभी की एक खराबी यह है की यदि किसी कारणवश मानो कि आप की तबीयत खराब हो जाती है तब आपकी इन से श्रोतो से कमाई भी रुक जाती है लेकिन पैसिव इनकम में आपको लगातार रुपया आता रहता है फिर चाहे आप उसके लिए कुछ न कर रहे हो . एक्टिव इनकम से आप अपनी आवश्यकताएं पूरी कर सकते हैं जबकि पैसिव इनकम (अप्रत्यक्ष आय) से आप अपने सपनों को नयी उड़ान से सकते है और वैसे भी एक्स्ट्रा रुपया किसे पसंद नहीं होता जब आपको काम उतना ही करना पड़ेगा जितना कि आप पहले भी करते थे पर आप की कमाई बढती चली जाये . पैसिव इनकम हमें समय से पहले रिटायर होने की आजादी देती है और साथ में हमें वह करने की भी  आजादी देती है जो आप सच में करना चाहते हैं जैसे कि यदि आप एक सिंगर(गायक),लेखक आदि बनना चाहते हैं लेकिन यदि आपके पास रुपए की कमी है और आप 9 से 4 की जॉब करते हैं तो शायद आपका सपना कभी पूरा ना हो लेकिन यदि आप के पास पैसिव इनकम के स्रोत हैं तो आप जल्द ही अपनी जॉब से आजादी पाकर अपने पसंद का कार्य कर सकते हैं क्योंकि अप्रत्यक्ष आय समय के साथ बढ़ती चली जाती है और यह शायद आपकी प्रत्यक्ष आय से कई गुना बढ़ जाए अगर आप सही ढंग से इसे समझ जाएं आप इसे अच्छे से पेसिव इनकम के चार्ट को देख कर समझ सकते हैं की यह कैसे कार्य करती है चार्ट ऊपर दिया गया है .

आप के लिए खास पोस्ट यह भी पढ़े :-  आसानी से असली सफलता कैसे पाये ? सफलता किसे कहते है ? How to Succeed in life ? What is True Success ?

पैसिव इनकम (अप्रत्यक्ष आय) कमाना कैसे शुरु करे ??

अब आप सोच रहे होंगे की यह है तो बहुत बेहतरीन आइडिया लेकिन मैं यह नहीं कर सकता क्योंकि मैं तो जॉब करता हूं या फिर मेरे पास रुपया नहीं है या फिर मेरे पास समय नहीं है ऐसे हजारों बहाने हो सकते हैं आदि-आदि हमारा मन बहाने बनाने से नहीं चुकता लेकिन जब कोई कार्य करने से आपकी जिंदगी पहले से बेहतर हो जाये तो उसके लिए आपको थोड़ा समय और रुपया तो निकालना ही पड़ेगा और साथ में मैं आपको यह बता दूं की अप्रत्यक्ष आय के लिए प्रत्यक्ष आय (एक्टिव इन्कम) का होना बहुत आवश्यक है, इसलिए यह अच्छा ही है कि आप कोई न कोई जॉब या छोटा-मोटा बिजनेस करते रहे इससे आपकी जरुरी आवश्यकताएं पूरी होती रहेंगी.

और आपको पैसिव इनकम के स्रोत बनाने के लिए एक्टिव इनकम से रुपया भी मिलता रहेगा, पैसिव कमाई की शुरुआत करने के लिए आपको अपनी एक्टिव कमाई से 20% की निश्चित बचत करनी होगी हालांकि मैं समझता हूं यह काफी कठिन होगा क्योंकि आपको अपनी कमाई का 100 % परसेंट भी आप के खर्चो के लिए कम पड़ जाता है और मैं कह रहा हूं कि आपको 80 परसेंट में ही अपने खर्चे पूरे करने होंगे पर मेरे दोस्त मैं आप की भलाई के लिए कह रहा हूं क्योंकि वह 20 परसेंट जो आज आप बजा रहे हो वही कल जाकर 80 परसेंट से बड़े हो जाएंगे और समय के साथ यह 100 परसेंट से भी ज्यादा हो जाएंगे और एक समय ऐसा भी आएगा कि वह 20 परसेंट जो आपने बचाए वह जल्द ही आपको पूर्ण आर्थिक आजादी दिलाने में मदद करेंगे और जब आप आर्थिक रुप से आजाद होंगे तब आप कितना भी खर्च करें लेकिन आपको रुपए की कमी महसूस नहीं होगी या बिल्कुल समुद्र से एक बाल्टी पानी कम करने के जैसा होगा .

20 % बचत करने के टिप :- 

  • नौकरी वाले लोग सैलरी (वेतन) के दिन ही सबसे पहले 20% सैलरी अकाउंट से अलग कर दें और यह समझे कि बचे हुए 80% ही आपकी सैलरी है ,पहले दिन ही निकाल देना बाद में निकालने से काफी ज्यादा आसान है अन्यथा यह भी महीने के अंत तक खर्च हो जायेंगे और आपको पता भी नहीं चलेगा इसलिए अच्छा यही है की आप इस भाग को पहले निकाल दें और इसे अपने खर्चों में बिल्कुल शामिल न करें .
  • जो लोग बिजनेस कर रहे हैं उनकी कोई सैलरी निश्चित नहीं होती तो वह अपने बिजनेस को ध्यान से देखे की उन्हें महीने में लगभग कितना फायदा आ रहा है  और इसके बाद वह महीने का कोई भी एक दिन निश्चित कर सकते हैं जिस दिन वह अपनी अनुमानित कमाई का 20 परसेंट अपने व्यापार से निकालकर अलग कर दे .
  • जिनकी कमाई हर महीने नहीं होती और वह सीजनल मतलब कि साल के कुछ महीनों में ही कमाते हैं तो उन्हें अपनी सालाना कमाई का 20% अलग करना चाहिए वह जब भी कमाए 20 % अलग कर दें .
  • 80% में अपने खर्चों को चलाने के लिए बजट बनाएं या काफी मददगार साबित होगा .
  • अपने खर्च की लिस्ट को ध्यान से देखें और उनमें से वह खर्च कम करने का प्रयास करें जिनसे आप का कोई विशेष लाभ नहीं होता है जैसे कि महंगे रेस्टोरेंट में खाना , 10 बार पिक्चर जाना, बेफिजूल की टाइम पास शॉपिंग और दिखावे के लिए महंगे कपड़े ,महंगा फोन फिर भले ही आपको इसकी जरुरत न हो या एशा कोई भी खर्च जो दिखावे के लिए हो इन सब को अपने खर्चे लिस्ट से कम कर सकते हैं जिससे आपके खर्च बहुत कम पड़ जाएंगे और शायद तब आप को 80 % भी ज्यदा लगने लगे तब आब अपनी सेविंग (बचत) का प्रतिशत और ज्यादा बढ़ा सकते है .
आप के लिए खास पोस्ट यह भी पढ़े :-  आसानी से घर बैठे बच्चो और बड़ो को बिल्कुल मुफ्त अंग्रेजी सिखाने वाली वेबसाइट और एप्लीकेशन , Easy to learn free English teaching Websites and Applications

20 % का निवेश कन्हा पर और कैसे करे :-

आपको इसके लिए लगातार अच्छे विकल्पों की खोज करनी होगी और ऐसे स्रोतों को खोज निकालना होगा जोकि आपको पैसिव इनकम दें यह ध्यान रखें की जो आपने 20% बचाएं हैं उसमें से 10 परसेंट ऐसी जगह पर निवेश करें जो पूर्ण रूप से सेफ(सुरछित) हो जैसे की बैंक में fix deposit (FD) आदि फिर भले ही वह आपको कम फायदा ही क्यों ना दें और बाकी के 10% को आप ऐसी जगह निवेश करें जहां से आपको ज्यादा फायदा हो फिर भले ही वह इन्वेस्टमेंट रिस्की(खतरेलू) हो शेयर मार्केट (Share Market) और रीयल स्टेट  इसका अच्छा उदाहरण है हालांकि हम इस वेबसाइट पर जल्द ही ऐसे बहुत से प्रत्यक्ष आय के विकल्प बताने वाले हैं जिन के बारे में शायद आपने सुना भी ना हो लेकिन वह बहुत ही बेहतरीन है , जो आपको अपनी पैसिव ईनकम की सेविंग में काफी मदद करेंगे . मे जल्द ही इस विषय पर पोस्ट लिखूंगा कि आप किस उम्र में कितने प्रतिशत बचाएं और उसे किन जगहों पर इन्वेस्ट करें जिससे आप को अच्छा रिटर्न ऑफ इन्वेस्टमेंट (निवेश पर फायदा) ROI प्राप्त कर सकें इसके लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक कर ले www.fb.com/oosir जिससे इस वेबसाइट की कोई भी पोस्ट आप से छुटने ना पाए क्योंकि हमारा उद्देश्य केवल आपको अमीर करना हैं अमीर केवल पैसों से ही नहीं बल्कि विचारों से भी अधिकारों से भी आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें नीचे कमेंट करके अवश्य बताएं यदि आपका कोई प्रश्न है तो वह भी आप नीचे कमेंट कर सकते हैं हम जल्द से जल्द उस प्रश्न का जवाब देने का प्रयाश करेंगे फिर मिलते हैं अपनी अगली पोस्ट में तब तक के लिए नमस्कार!

नीचे दी गई बटनों से आप इसे WhatsApp ,Facebook आदि पर अपने दोस्तों , परिचितों और परिवार वालों के साथ अवश्य शेयर करें क्योंकि यह जानकारी उनकी पूरी जिंदगी बदल सकती है यह यह काम उनके लिए आप क्यों न करें.

(Visited 616 times, 4 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published.