मोटापन, अपने शरीर का वजन कैसे कम करे? किन वजहों से बढ़ता है मोटापा ? How to lose weight in hindi?

💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

यदि आपको सेहतमंद healthy रहना है तो शरीर का संतुलन बहुत जरूरी होता है, जो लोग स्वस्थ जीवन का आनंद लेना चाहते हैं उनको अपने शरीर में ना तो अधिक मोटापा obesity और ना अधिक दुबलापन होना चाहिए अर्थात सामान्य शरीर होना चाहिए | सामान्य वजन के लोग देखने में आकर्षक नजर आते हैं।

मोटापा शरीर के लिए बहुत ही घातक fetal होता है। मोटापा एक प्रकार का शरीर में विकार है जिससे शरीर में अत्यधिक मात्रा में वसा इकट्ठा हो जाती है। शरीर की त्वचा मोटी दिखाई देती है ,पेट पर भारीपन आ जाता है । मोटापा obesity मानव की लंबाई और भार का अनुपात होता है ।


जब शरीर का भार 25 किलोग्राम प्रति वर्ग मीटरऔर 30 किलोग्राम प्रति वर्ग मीटर के बीच होता है तब मोटापा की स्थिति सामान्य होती है ।जब भार 30 किलोग्राम प्रति वर्ग मीटर से अधिक हो जाए तो इससे मोटापा कह देते हैं।

मोटापा या वजन किस वजह से बढ़ता है ? What causes obesity or weight gain?

अधिकतर लोग मोटापा बढ़ाता देखकर परेशान होते है लेकिन उसके पीछे छुपे कारणों को नहीं जानते हैं कि मोटापा क्यों बढ़ रहा है ? आइये  हम आपको मोटापा बढ़ने के कारणों को बताते हैं ,जिनकी वजह से मोटापा बढ़ता है –

1. जीवन शैली  Lifestyle

 यदि आपकी दिनचर्या  routine ऐसी है कि आप अपने शरीर से जरा सी भी मेहनत नहीं करते हैं या ज्यादातर कुर्सी पर बैठे रहते हैं या फिर जानबूझकर intentionally अपनी डेली लाइफ को किसी कार्य में एक्टिंव नहीं रखते हैं बैठे-बैठे दिन बिताते हैं ,तो आपकी शरीर में मोटापा body weight होना शुरू हो जाता है।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !

आप के लिए खास यह भी पढ़े :-  फ़िल्मी हीरो जैसी बॉडी कैसे बनाये ? जाने टॉप 12 टिप्स How to Healthy and fit in Hindi ?

2. खान- पान भोजन  food and drinks

यदि हमारे भोजन food में वसा की मात्रा अधिक है हम ज्यादा से ज्यादा तला भुना या वसायुक्त तेल आदि का प्रयोग करते हैं तो हमारे शरीर का वजन weight बढ़ना शुरू हो जाता है । हम अपने शरीर की बढ़ी हुई कैलोरी ऊर्जा को शारीरिक मेहनत करके खपत नहीं करते तो इसके परिणाम शरीर में वजन के रूप में दिखाई देते हैं aur vajan badh jata hai।

3. अनुवांशिक कारण Genetic causes

यदि किसी के माता पिता में से कोई एक मोटा है तो उसकी संतान में मोटापा आने की संभावनाएं होती हैं ।इसके अलावा हमारे अनुवांशिक Genetic लक्षण भी मोटापा का कारण बनता है बनते हैं ।

जेनेटिक का असर इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपको भूख कितनी लगती है,हमारे शरीर में उपस्थित कोशिकाएं हमारे अंदर उपस्थित कैलोरी ऊर्जा को कितना खपत करती है ?अर्थात अनुवांशिक प्रभाव शरीर पर पड़ता है |

4. अनावश्यक दवाईयां Unnecessary medicines

medicine capsule dva tablets

अक्सर लोग छोटी सी छोटी बीमारी पर भी दवाइयों का सेवन करते हैं। इन अनावश्यक दवाइयों के सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता buffering capacity पर भी असर पड़ता है, जिससे एक बीमारी खत्म होने के बाद दूसरी बीमारी पनपने लगती है और हम फिर दवाइयों का सेवन करते रहते हैं। इस प्रकार से शरीर में मोटापा आना प्रारंभ हो जाता है।

5. डिप्रेशन Depression

आधे से ज्यादा बीमारियों की जड़ दिमाग से शुरू होती है जब भी आप डिप्रेशन depression का शिकार होते,तो वजन बढ़ता है या फिर तेजी के साथ घटता है। डिप्रेशन दोनों स्थितियों में काम करता है।

6. नींद पूरी न होना Lack of sleep

नींद व्यक्ति के लिए एक औषधि की तरह है जो लोग नींद काम लेते हैं उनको मानसिक और शारीरिक Mental and physical दोनों प्रकार की हानि होती है ।यदि आपको स्वस्थ रहना है तो जीवन में प्रतिदिन कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद सोना चाहिए ।

woman-sleep

अक्सर लोग किसी तनाव या अन्य कारणों से रात में बहुत कम होते हैं जिसका सीधा प्रभाव आपके शरीर और स्वास्थ्य पर पड़ता है ,जिससे आपका वजन बढ़ सकता है या कभी-कभी घट जाता है।

7. दिन भर खाने की आदत  Habit of eating all day

अधिकतर लोग दिनभर कुछ ना कुछ खाते पीते रहते हैं या फिर किसी से किसी ने कुछ खाने को कहा और तुरंत राजी हो गए ।यह नहीं सोचा कि यह समय उचित है या नहीं। जबकि खाने के लिए हैं एक निश्चित समय निर्धारित करना चाहिए ।अनिश्चित समय कुछ भी खाते रहने से मोटापा बढ़ जाता है।

fast foods-havy foods un helthy foods osir.in

8. फास्ट फूड का अधिक सेवन न करें  Do not consume fast food

आज के समय में फास्ट फूड fast food बहुत ज्यादा उपलब्ध हैं ।हम इन फास्ट फास्ट फूड का जितना अधिक प्रयोग कर रहे हैं वह हमारे लिए घातक होता जा रहा है ।अधिकतर सर्वे यह प्रमाणित करते हैं कि भारतीय व्यंजन जितना अच्छे हैं,

आप के लिए खास यह भी पढ़े :-  मोटापा, शरीर का वजन क्यों बढ़ता है ? (7 वजह,लक्षण) वजन बढ़ने के नुकसान ! Profit, Loss and Reason of weight gain in hindi

फास्ट फूड उतना ही सेहत के लिए नुकसान होते हैं। भारतीय व्यंजनों से मोटापा नहीं बढ़ता है जबकि फास्ट फूड में मोटापा बढ़ता देखा गया है।

9. व्यायामों में कमी Lack of exercises

भारत जैसे देश में पहले कुश्ती अखाड़े व अन्य प्रकार के खेल बढ़-चढ़कर खेले जाते थे, परंतु अब इस विज्ञान के युग में लोग लैपटॉप और स्मार्टफोन में लगे रहते हैं ।

exercise outdore workout physical activity

भारत के बच्चे पहले जहां साइकिल चलाना, लुकाछिपी खेलना, गुल्ली डंडा खेलना बहुत प्रिय था ।वही आज इन सब खिलौने बच्चों में बच्चों की रुचि नहीं रहती है बल्कि अब वीडियो गेम, फोन, लैपटॉप में बिजी रहते हैं ,जिससे मोटापा आता है।

10. वैज्ञानिक उपकरण Scientific instruments

भारत ने एक समय था जब हमारे घरों की महिलाएं  women  घर की चक्की चलाकर आटा पीसती थी और मूसल से धान कूटती थी जिससे उनके शरीर का व्यायाम होता था,खेतों में काम करती थी व अन्य शारीरिक श्रम करती थी, परंतु इस विज्ञान के युग में इन सब का उपयोग बंद हो गया जिससे महिलाओं में मोटापा बढ़ता है।

11. जल्दी-जल्दी भोजन Quick meal

ज्यादातर लोग अपने भोजन को जल्दी-जल्दी खाते हैं भोजन का आनंद नहीं लेते हैं। जल्दी-जल्दी भोजन खाने से आपको किसी प्रकार की संतुष्टि नहीं मिलती है ।इसलिए आवश्यक है कि भोजन पूरी तरह से संतुष्टि के साथ आराम से खाया जाए ।

बॉडी का वजन कम करने के सफल उपाय Tips to lose body weight in hindi 

मोटापा कम करने के लिए हम निम्नलिखित तरीकों का प्रयोग कर सकते हैं-

  1. शारीरिक व्यायाम करना  Doing physical exercise
  2. ज्यादा से ज्यादा चलना  Maximum walking
  3. वसायुक्त भोजन कम खाएं  Eat less fatty food
  4. पर्याप्त नींद लें  Get enough sleep 

1. शारीरिक व्यायाम करना  Doing physical exercise

  • मोटापा कम करने के लिए नियमित व्यायाम करें।नियमित व्यायाम exercise से शरीर की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है और अनावश्यक रूप से इकट्ठा हुई वसा का जमाव घट जाता है,जिससे शरीर में मोटापे की कमी होती है।

2. ज्यादा से ज्यादा चलना Maximum walking

  • शारीरिक मोटापा कम करने के लिए प्रतिदिन टहलना अति आवश्यक है। ज्यादा से ज्यादा पैदल चलें या फिर साइकिल का भी प्रयोग कर सकते हैं। पैदल या साइकिल से चलने से हमारे शरीर में इकट्ठा वसा में कमी आती है।

संभव हो तो प्रातः काल प्रतिदिन अनिवार्य रूप से टहलने की आदत डालें, क्योंकि सुबह सुबह टहलने  morning walkसे स्वास्थ्य अच्छा होता है और स्वच्छ व ताज़ी हवा भी मिलती है और शरीर भी ताजगी महसूस करता है।

3. वसायुक्त भोजन कम खाएं  Eat less fatty food

आज के दौर में भागदौड़ की जिंदगी में लोग बाहर से फास्ट फूड या अन्य प्रकार के जंक फूड का सेवन अधिक करते हैं, जिसकी वजह से शरीर में कोलेस्ट्रोल और वसा की मात्रा बढ़ जाती है ।

आप के लिए खास यह भी पढ़े :-  जाने वीर्य रक्षा एवं ब्रह्मचर्य के फायदे, वीर्य को बढ़ाने के उपाय फायदे और नुक्सान ! - Know everything about Semen in Hindi

fruits-vigitebal-khane-ke-brahmacharya-ki-shakti-in-hindi-fayde-semen-badhne-ke-liye-kya-khaye

इसलिए ध्यान देना है कि वसायुक्त Fatty फास्ट फूड का सेवन कम करें ।वसा युक्त भोजन हमारे शरीर में वसा की मात्रा को बढ़ा देते हैं , जिससे अनावश्यक रूप से चर्बी इकट्ठा हो जाती है।

4. पर्याप्त नींद लें  Get enough sleep 

जो व्यक्ति किसी ऑफिस या घर पर कंप्यूटर पर कार्य करते रहते हैं और देर रात तक जागते रहते हैं उनके लिए आवश्यक है कि कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद अवश्य लें। पर्याप्त नींद लेने से शरीर में अनावश्यक हार्मोन hormones स्रावित होते हैं जिनसे आपको भूख लगती है और अधिक भोजन करते हैं तो आपको मोटापा हो जाता है । अतः आवश्यक है कि पर्याप्त नींद अवश्य लें।

ऊपर बताये गए मोटापा बढ़ाने के कारणों को भी नियंत्रित करके  मोटापा कम किया जा सकता है |

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !

✤ यह लेख भी पढ़े ✤

(Visited 34 times, 1 visits today)