मुठ मारने की जड़ी बूटी – हस्तमैथुन की 4 बेहतरीन जड़ी बूटी एवं प्रयोग विधि | Muth marne ki jadi buti

मुठ मारने की जड़ी बूटी | Muth marne ki jadi buti : दोस्तों अक्सर किशोरावस्था में लोगों को शारीरिक संबंधों के प्रति रुझान बढ़ जाने के कारण मुठ मारने की आदत पड़ जाती है और कभी कभी लोगों की यह आदत गंभीर रूप ले लेती है। और जब लोग मुठ मारने की आदत से परेशान होने लगते हैं तो मुठ मारने की जड़ी बूटी इलाज के रूप में ढूंढने लगते हैं.



वास्तव में मुठ मारने या हस्तमैथुन करने से शारीरिक संबंध बनाने जैसा आनंद मिलता है और व्यक्ति कुछ पल के लिए तनाव मुक्त हो जाता है यह एक प्राकृतिक और सुरक्षित तरीका है। हालांकि बहुत से लोग हस्तमैथुन या मुठ मारने के कारण मानसिक रूप से अपने को कमजोर महसूस करने लगते हैं.

Muth marne ki jadi buti, जड़ी बूटी की जानकारी इन हिंदी, jadi buti ki jankari, जड़ी बूटी की जानकारी बताइए, जड़ी बूटी नाम लिस्ट इन हिंदी पीडीएफ, jadi buti ki jankari video, jangli jadi buti ki jankari, ayurvedic jadi buti ki jankari, purani jadi buti ki jankari, sanjeevani jadi buti ki jankari, aushadhi jadi buti ki jankari, jadi buti dawa ki jankari, मुठ मारने की जड़ी बूटी, मुठ मारने के फायदे, Muth marne ke fayde, हस्तमैथुन के नुकसान , Hastmaithun ke nuksan,

परंतु वैज्ञानिक रिसर्च बताते हैं कि मुठ मारने हस्तमैथुन करने से किसी भी प्रकार से कोई समस्या नहीं होती हैं क्योंकि अक्सर लोग वैवाहिक संबंधों को लेकर काफी परेशान हो जाते हैं उन्हें लगता है कि वैवाहिक संबंध में शारीरिक संबंध बनाना मुश्किल हो सकता है.

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

लेकिन इस बात से भी नकारा नहीं जा सकता है कि जो लोग आवश्यकता से अधिक हस्तमैथुन करते हैं वह भविष्य में वैवाहिक बंधन में बंधने के बाद अपने जीवनसाथी के प्रति शारीरिक संबंध बनाने में असफल हो सकते हैं। जहां एक तरफ मुठ मारने से कई फायदे मिलते हैं वहीं दूसरी तरफ कुछ नुकसान भी देखने को मिलते हैं.

मुठ मारने की जड़ी बूटी | Muth marne ki jadi buti

दोस्तों मुठ मारना आध्यात्मिक दृष्टि से बिल्कुल गलत है परंतु वैज्ञानिक दृष्टि से गलत और सही दोनों है क्योंकि कुछ फायदे और कुछ नुकसान होते हैं अब बात आती है. मुठ मारने की जड़ी बूटी तो मुट्ठ मारने वाले लोगों के अंदर अगर शारीरिक कमजोरी उत्पन्न हो जाती है या किसी भी प्रकार की लैंगिक समस्या उत्पन्न होती है तो ऐसे में कुछ जड़ी बूटी इसका इलाज करती हैं.


मुठ मारना है या हस्तमैथुन करना एक प्रकार से कई प्रकार की समस्याओं को जन्म देना हो सकता है ऐसे में इसकी आदत को छुड़ाने के लिए या फिर लैंगिक कमजोरी को दूर करने के लिए कौन सी जड़ी बूटी का प्रयोग करेंगे ? आइए हम मुठ मारने की जड़ी बूटी के बारे में बताते हैं.

1. अश्वगंधा

अश्वगंधा

अगर किसी भी व्यक्ति को मुठ मारने की आदत पड़ गई हो जिसकी वजह से मानसिक और शारीरिक कमजोरी आ गई हो, लैंगिक संबंधों को लेकर समस्या, शुक्राणु या वीर्य की कमी हो गई हो तो ऐसी समस्याओं को दूर करने के लिए अश्वगंधा जैसी जड़ी-बूटी का प्रतिदिन सेवन करे.

2. शिलाजीत कैप्सूल

विटामिन ई के कैप्सूल चेहरे पर कैसे लगाएं

लैंगिक कमजोरी मर्दानगी की समस्या को दूर करने के लिए शिलाजीत कैप्सूल प्रयोग में लाए जाते हैं मुठ मारने की वजह से आई इन समस्याओं को दूर करना आवश्यक है क्योंकि वैवाहिक संबंधों में पति और पत्नी एक दूसरे को यौन संसर्ग करने पर संतुष्ट नहीं कर पाते हैं ऐसे हालात में शिलाजीत कैप्सूल मुठ मारने की जड़ी बूटी के रूप में रामबाण इला.

3. गोक्षुरा के बीच

बचपन की गलत आदतों की वजह से व्यक्ति को लैंगिक कमजोरी हो जाती है हस्तमैथुन करने से कुछ लोगों का मानना है कि शारीरिक संबंधों में कमी हो जाती है लिंग में ढीलापन या टेढ़ापन हो जाता है ऐसी समस्याओं को दूर करने के लिए गोक्षुरा के बीज का प्रयोग किया जाता है.

गोक्षुरादि गुग्गुल

गोक्षुरा के बीज उत्तेजना बढ़ाते हैं टेस्टोस्टेरोन और वीर्य की मात्रा को बढ़ा देते हैं वीर्य को गाढ़ा करते हैं शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि होती है इस तरह से कई समस्याएं गोक्षुरा के माध्यम से ठीक की जाती हैं.

4. कद्दू के बीज

मुठ मारने की जड़ी बूटी अगर आप ढूंढ रहे हैं तो आपके घर में इसका इलाज है कद्दू के बीज वीर्य और शुक्राणु की संख्या को बढ़ा देते हैं टेस्टोस्टरॉन लेवल को भी सही कर देते हैं क्योंकि मुठ मारने हस्तमैथुन करने से लोगों के अंदर शीघ्रपतन वीर्य की कमी और शुक्राणु की संख्या व गुणवत्ता में भी कमी आ जाती है ऐसे में इनकी पूर्ति के लिए कद्दू के बीज का प्रयोग प्रतिदिन खाली पेट सुबह करना चाहिए.

मुठ मारने के फायदे | Muth marne ke fayde

  1. दोस्तों अक्सर लोग जब मुठ मारने लगते हैं तो उन्हें भविष्य के प्रति कोई चिंता या फिक्र नहीं होती है क्योंकि हस्तमैथुन के दौरान उन्हें पूरी तरह से शारीरिक संबंधों को बनाने की अनुभूत प्राप्त होते हैं और उन्हें काफी आनंद मिलता है.
  2. हालांकि हस्तमैथुन करना किशोरावस्था की प्रारंभिक यौन संबंध बनाने के प्रति खिंचाव होता है और इस दौरान यौन संबंध बनाने में परिपक्वता नहीं होती है लेकिन उनका यौन संबंधों के प्रति खिंचाव मुठ मारने पर मजबूर कर देता है.
  3. लेकिन वैज्ञानिक शोध बताते हैं कि मुठ मारने से कई प्रकार के फायदे भी हो सकते क्योंकि मुठ मरना यह हस्तमैथुन करना एक यौन क्रिया है इसलिए हमें मानसिक और शारीरिक रूप से कई प्रकार के फायदे मिलते हैं.
  4. कई प्रकार के अध्ययन इस बात की पुष्टि करते हैं कि मुठ मारने या हस्तमैथुन करने से व्यक्ति के अंदर उत्तेजना बढ़ जाती है अर्थात जब वह शारीरिक संबंध बनाता है तो उसके अंदर शारीरिक संबंध बनाने के प्रति अत्यधिक उत्तेजना होती हैं.
  5. मुठ मारना एक प्रकार से यौन गतिविधियों को करने के बराबर होता है, जिससे व्यक्ति के अंदर यौन संबंधों को लेकर होने वाले तनाव में राहत मिलती है.
  6. जिस प्रकार से व्यक्ति स्त्री के साथ यौन संबंध बनाने के बाद सकून महसूस करता है और उसे रात में नींद अच्छी आ जाती है ठीक उसी प्रकार से हस्तमैथुन या मुठ मारने से भी व्यक्ति को नींद अच्छी मिलती है.
  7. जब व्यक्ति को नींद अच्छी मिलती है तो उसके अंदर मानसिक रूप से चयन सुकून मिलता है जिसकी वजह से उसे अपने मूड को बेहतर बनाने में आराम मिलता है.
  8. हस्तमैथुन या मुठ मारना मन को खुशी देता है क्योंकि जब व्यक्ति किसी भी प्रकार से स्त्री के साथ संसर्ग नहीं कर पाता है तो उसे मुठ मारने की इच्छा होती है। इसीलिए जैसे ही वह हस्तमैथुन के माध्यम से वीर्य को स्खलित कर देता है तो उसे कुछ पल के लिए खुशी महसूस होती हैं.
  9. किशोरावस्था हमेशा यौन संबंधों को बनाने के लिए प्रेरित करती रहती हैं परंतु यौन संबंध बनाना संभव नहीं हो पाता है तो व्यक्ति के अंदर तनाव बहुत अधिक उत्पन्न होने लगता है ऐसे में मुठ मारने से तनाव कम हो जाता है.
  10. अध्ययन इस बात को स्वीकार करते हैं कि मुठ मारना अर्थात हस्तमैथुन करना एक बेहतर योन संबंध के लिए आवश्यक है क्योंकि व्यक्ति शारीरिक संबंध बनाने के दौरान गतिविधियों में आसानी हो जाती है.
  11. मुठ मारने से व्यक्ति को शारीरिक संबंध बनाने की गतिविधियों के बारे में जानकारी हो जाती जिससे वह अपनी इच्छाओं और जरूरतों को अच्छे से समझता है और वैवाहिक जीवन में यौन संबंध अच्छे से करने में सफल होता है.
  12. अगर शादीशुदा व्यक्ति अपने जीवन में कुछ समय तक या जीते समय तक बच्चे नहीं चाहते हैं तो अनावश्यक गर्भ से बचा जा सकता है.
  13. वैवाहिक जोड़ें या कोई प्रेमी-प्रेमिका अथवा कोई भी पुरुष योन संचारी रोगों से बच सकता है क्योंकि कई बार योन संबंधी संक्रमण अनजाने में हो जाता है ऐसे में इस प्रकार के यौन संक्रमण को रोका जा सकता है.

हस्तमैथुन के नुकसान | Hastmaithun ke nuksan

बहुत सारे स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं कि हस्तमैथुन या मुठ मारने से व्यक्ति के अंदर कई प्रकार के नुकसान पाए गए हैं. हालांकि धार्मिक मान्यताओं पर हस्तमैथुन करना गलत माना जाता है . कहा जाता है कि जब व्यक्ति अपने वीर्य को नष्ट कर देता है तो उसके अंदर शारीरिक कमजोरी आना शुरू हो जाती हैं इसीलिए धार्मिक मान्यताओं में ब्रह्मचर्य का पालन करने के लिए कहा जाता है.

हस्तमैथुन या मुठ मारना कभी गलत तो कभी सही हो सकता है क्योंकि कुछ लोगों का मानना है कि मुठ मारने से कई प्रकार के फायदे होते हैं लेकिन दूसरी तरफ कुछ लोगों का यह भी मानना है कि मुठ मारने का हस्तमैथुन करने से व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से कई नुकसान भी होते हैं.

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

अगर आप हस्तमैथुन एवं मुठ मारने के आदी हो गए हैं और दिन में एक से अधिक बार इस प्रक्रिया को दोहराते हैं तो इससे कई प्रभाव शरीर पर पड़ सकते हैं जिन्हें हम एक नुकसान के रूप में देखते हैं.

1. गठिया या जोड़ों का दर्द होना

हाथ पैर में दर्द की टेबलेट

हालांकि मेरा अनुभव कहता है हस्तमैथुन करने से किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होता है लेकिन व्यक्ति को 35 से 40 साल बाद गठिया और जोड़ों के दर्द जैसी समस्या हो सकती है। जिससे व्यक्ति शारीरिक रूप से चलने और उठने बैठने में कमजोर हो जाता है.

2. किसी काम में मन ना लगना

सिर दर्द से राहत मिल जाती है

 

हस्तमैथुन करने वाले व्यक्ति यौन संबंधों की ओर प्रेरित होते रहते हैं जिसकी वजह से उनके मन में हर वक्त यौन संबंध बनाने का विचार आता रहता है और धीरे-धीरे व्यक्ति इस तरह से यौन संबंध बनाने की और डूब जाता है कि वह अन्य काम से दूर भागने लगता है.

3. दोस्त और परिवार से दूर रहना

मुठ मारने वाले लोग एकांत वासी हो जाते हैं क्योंकि उनका दिल और दिमाग हमेशा मुठ मारने में  लगा रहता है जिससे वे  परिवार और दोस्तों से दूर दूर भागते हैं और जैसे ही वे अपने को अकेला पाते हैं वैसे ही हस्तमैथुन की प्रक्रिया करते हैं.

4. लिंग का टेढ़ापन या दुबला पतला होना

हालांकि यह समस्या सभी को नहीं हो सकती है लेकिन कुछ लोगों को मुठ मारने यानी हस्तमैथुन करने से लिंग के टेढ़ापन की समस्या हो जाती है या फिर लिंग की मांसपेशियां टूट जाने की वजह से दुबला पतला और कमजोर हो जाता है जिससे लिंग के तनाव में भी कमी आ जाती है.

5. वीर्य और शुक्राणु की कमी

sperm

अध्ययन इस बात की पुष्टि करते हैं कि मुठ मारने अर्थात हस्तमैथुन करने से लोगों के अंदर वीर्य और शुक्राणु की कमी हो जाती है जिससे वे भविष्य में वैवाहिक संबंध बनाने में भी असफल हो जाते हैं और जीवनसाथी को संतुष्ट नहीं कर पाते हैं.

6. मानसिक रूप से परेशान

समर्थन करने से व्यक्ति जहां मानसिक रूप से संतुष्टि प्राप्त करता है वही धीरे-धीरे जब इसकी लत पड़ जाती है तो वह मानसिक रूप से परेशान होने लगता है किशोरावस्था में लोगों का मन पढ़ने और कोई काम में मन नहीं लगता है.

7. शीघ्रपतन की समस्या

Sick sir dard

कुछ लोगों का मानना है कि मुठ मारने से व्यक्ति को शीघ्रपतन की समस्या हो जाती है अर्थात जब भी वह यौन संबंध बनाता है तो बहुत जल्द इस स्खलित होकर दूर हो जाता है जिससे अपने पार्टनर को वह संतुष्ट नहीं कर पाता है कभी-कभी इसकी वजह से संबंधों में दरार उत्पन्न होती हैं.

FAQ: मुठ मारने जड़ी बूटी

1 दिन में कितनी बार मुठ मारना चाहिए ?

दोस्तों हर व्यक्ति की मानसिक और शारीरिक प्रवृत्ति अलग-अलग होती है ऐसे में जो लोग मूठ मारना या हस्तमैथुन करने चाहते हैं तो यह उनकी इच्छा और स्टेमिना पर निर्भर करता है 1 की 1 दिन में कितनी बार मुठ मारना चाहिए ? सामान्य तौर पर 1 दिन में एक या दो बार लोग हस्तमैथुन करते हैं।

सप्ताह में कितनी बार हस्तमैथुन करना चाहिए ?

अधिकांश सेक्सोलॉजिस्ट इस बात से सहमत हैं कि व्यक्ति को सप्ताह में कम से कम 2 दिन हस्तमैथुन करना चाहिए इससे कुछ पल के लिए शारीरिक ऊर्जा में कमी है जरूर आती है लेकिन स्वास्थ्य की दृष्टि से अच्छा रहता है। सेक्सोलॉजिस्ट डॉक्टर मानते हैं कि महीने में एक दो बार मुठ मारने से व्यक्ति का स्वास्थ्य अच्छा रहता है।

क्या मुठ मारने से लिंग छोटा हो जाता है ?

दोस्तों यह एक मन का भ्रम होता है तुम मुठ मारने या हस्तमैथुन करने से लिंग छोटा हो जाता है बल्कि छोटा या बड़ा कुछ भी नहीं होता है यह भ्रम ना पालें बल्कि लिंग की लंबाई उसके जींस पर निर्भर करती हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों लगभग 80 से 90% लोग किशोरावस्था में हस्तमैथुन मुठ मारने जैसी बुरी लत से गुजरते हैं और कुछ लोग इस लत के कारण मानसिक और शारीरिक रूप से अपने को कमजोर महसूस करने लगते हैं क्योंकि उनके मन में कई प्रकार के सवाल उत्पन्न होने लगते हैं जिसके चलते वे अपने को कई प्रकार से कमजोर मानने लगते हैं.

लेकिन अधिकांश सेक्सोलॉजिस्ट का कहना है कि मुठ मारने से कोई समस्या नहीं होती है केवल मन का भ्रम उत्पन्न कर लेने से शारीरिक और मानसिक समस्याएं उत्पन्न होती हैं साथ साथ लैंगिक संबंध बनाने में भी समस्याएं बन जाती हैं ऐसे में मुठ मारने की जड़ी बूटी के बारे में यहां पर दिया गया है जो आपकी समस्याओं का एक अच्छा इलाज है.

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन