नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए : शुक्राणु की संख्या कैसे बढ़ाये 8 नुस्खे | normal sperm count kitna hona chahiye

नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए Normal sperm count kitna hona chahiye : शुक्राणु स्पर्म मनुष्य में पाया जाने वाला एक ऐसा अवयव है जिसके द्वारा नई पीढ़ी को पैदा करता है जहां एक तरफ शुक्राणु से नई संतान का जन्म होता है वहीं दूसरी तरफ शुक्राणुओं स्पर्म हमारे शरीर का एक ऊर्जावान पदार्थ है।

नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hona chahiye, normal sperm kitna hota hai, normal sperm count kitna hota hai, नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hona chahiye in hindi, नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, sperm count minimum kitna hona chahiye, male sperm kitna hona chahiye, sperm motility kitna hona chahiye, sperm count kitna hona chahiye in hindi, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hona chahiye, normal sperm kitna hota hai, normal sperm count kitna hota hai, normal sperm count per cc, mens me sperm count kitna hona chahiye, sperm kitna million hona chahiye, normal sperm count kitna hota hai, how many types of sperm test, normal sperm volume for pregnancy, normal sperm kitna hota hai, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hona chahiye, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, normal sperm count kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hota hai, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm kitna hota hai, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, sperm count kitna hona chahiye normal in hindi, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, normal sperm count kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hota hai, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm kitna hota hai, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, sperm count kitna hona chahiye normal in hindi, पतंजलि में शुक्राणु बढ़ाने की दवा, सबसे अच्छी दवा शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए, Y शुक्राणु बढ़ाने की दवा, शुक्राणु की कमी के लक्षण, शुक्राणु बढ़ाने के घरेलू उपाय, शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए, Y शुक्राणु बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा, शुक्राणु की संख्या कितनी होनी चाहिए, नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए, नार्मल स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए, normal sperm kitna hona chahiye, normal sperm count kitna hona chahiye, normal sperm kitna hota hai, normal sperm count kitna hota hai, प्रेग्नेंट होने के लिए स्पर्म कितना होना चाहिए, एक्टिव मोतिले कितना होना चाहिए, स्पर्म की स्पीड कैसे बढ़ाये?, 1 दिन में कितना स्पर्म बनता है, बच्चा पैदा करने के लिए पुरुष को क्या करना चाहिए, स्पर्म मोटिलिटी रेंज चार्ट, स्पर्म काउंट बढ़ाने की दवा, स्पर्म का बाहर आना, सबसे अच्छी दवा शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए, Y शुक्राणु बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा, निल शुक्राणु बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, शुक्राणु बढ़ाने की अंग्रेजी दवा, शुक्राणु बढ़ाने की एलोपैथिक दवा, Y शुक्राणु बढ़ाने की दवा, शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ, निल शुक्राणु की दवा,

दोस्तों मनुष्य के शरीर में नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए जिससे हम संतान की उत्पत्ति करने में सफलता हासिल कर सकते हैं हालांकि लोग इस विषय पर गौर नहीं करते हैं क्योंकि सामान्य रूप से संतान उत्पन्न हो जाती है। वही जब किसी व्यक्ति को संतान उत्पन्न करने में दिक्कतें पैदा होती हैं तो वह यह जरूर जाने का प्रयास करता है कि एक व्यक्ति में नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए तो आइए हम नॉरमल स्पर्म कितना होना चाहिए से संबंधित विषय पर चर्चा करते हैं।

नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए ? | normal sperm count kitna hona chahiye

जब व्यक्ति का विवाह हो जाता है तो नव दंपति संतानोत्पत्ति करते हैं परंतु जब कई वर्षों तक माता-पिता नहीं बन पाते हैं तो वह कई प्रकार के प्रयास करते हैं और विभिन्न प्रकार की दवाइयों का भी प्रयोग करते हैं। परंतु बच्चा पैदा करने के लिए नॉरमल स्पर्म कितना होना चाहिए यह जानने के लिए आपको किसी डॉक्टर से सलाह लेकर जांच करवानी चाहिए

एक सामान्य और स्वस्थ व्यक्ति के अंदर 40 से 300 मिलियन शुक्राणु होना जरूरी है जिससे संतान उत्पन्न की जा सकती है यदि आपके अंदर 10 से 20 मिलियन प्रति मिलीलीटर स्पर्म है तो आपको संतान उत्पन्न करने में समस्या होगी

10 से 20 मिलियन के बीच स्पर्म होना नॉरमल स्पर्म से कम होता है जिससे बच्चे पैदा करना संभव नहीं है इस प्रकार की कमी को शुक्राणुओं की कमजोरी समझी जाती है अतः आपको अपने शुक्राणु को बढ़ाने की जरूरत है।

बच्चे पैदा करने के लिए अर्थात गर्भधारण के लिए 20 मिलियन से अधिक स्पर्म होना जरूरी है फिलहाल 40 मिलियन से कम स्पर्म प्रति मिलीलीटर नहीं होने चाहिए।अतः किसी भी लड़की को प्रेग्नेंट करने के लिए 40 मिलीयन प्रति मिलीलीटर स्पर्म का होना जरूरी है।


शुक्राणु की गुणवत्ता को कैसे पता करें ?

जब व्यक्ति संतान उत्पन्न करने में अक्षम हो जाता है तो उसके अंदर निश्चित रूप से शुक्राणुओं की कमी है या फिर शुक्राणु में कमजोरी और गुणवत्ताहीन है ऐसे में शुक्राणुओं की स्वास्थ्यता और गुणवत्ता का पता लगाना जरूरी होता है शुक्राणु स्वस्थ हैं या नहीं है नॉरमल स्पर्म कितना होना चाहिए इन सभी की सही वह सटीक जानकारी के लिए आपको जांच करवानी चाहिए तथा शुक्राणुओं की गुणवत्ता को जानने के लिए निम्न तरीके अपनाए जाते हैं।

1. Personal Sperm Health
2. Sperm Count
3. Overall Sperm Amount

स्पर्म की समस्या क्यों होती है ?

विभिन्न प्रकार के शोध और अध्ययनों से इस बात का पता लगाया गया है कि लोगों की गलत लाइफस्टाइल और खानपान प्रमुख जिम्मेदारी है जिससे शुक्राणुओं की संख्या में कमी आती है और संतानोत्पत्ति समस्या बनती है बहुत से लोग अपनी युवावस्था में गलत संगत में पड़ जाने के कारण दारु शराब सिगरेट जैसे नशा करने लगते हैं.

जो हमारे स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है साथ ही शुक्राणुओं की संख्या में कमी कर देते हैं। इसके अलावा बहुत से लोग हस्तमैथुन के माध्यम से अपने वीर्य का चरण करते हैं जो धीरे-धीरे शुक्राणु बनने की क्षमता को कमजोर कर देता है और जब वैवाहिक जीवन में कदम रखते हैं तो उनके सामने संतानोत्पत्ति की समस्या उत्पन्न होती है।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 905 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

आज के दौर में लोग दिनभर अपनी व्यस्तता के कारण खानपान पर भी ध्यान नहीं देते हैं जिसकी वजह से भी शरीर कमजोर होता है और स्पर्म क्या शुक्राणु बनने में भी कमी होती है।

शुक्राणु की संख्या कैसे बढ़ाएं ? | sperm count kaise badhaye

जब व्यक्ति वैवाहिक जीवन में संतान उत्पन्न नहीं कर पाता है तो उसके सामने कई प्रकार की दिक्कतें आती हैं तब वह सोचता है की नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए, इसे किस प्रकार से बढ़ाया जा सकता है। आइए हम कुछ उपाय बताते हैं.

1. मसूर दाल से sperm बढ़ाएं

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

दोस्तों जहां एक पुरुष में नार्मल स्पर्म कितना होना चाहिए वहीं यदि नार्मल स्पर्म कम है तो उन्हें बढ़ाने के लिए मसूर की दाल को अधिक से अधिक मात्रा में सेवन करें मसूर की दाल में फोलिक एसिड पाया जाता है जो प्रजनन क्षमता को एक्टिवेट करता है और वीर्य को बढ़ा देता है अपने स्पर्म को बढ़ाने के लिए मसूर के साल का पानी बहुत ही फायदेमंद है।

2. ​​अश्वगंधा

किसी भी पुरुष ने यदि शुक्राणुओं की संख्या कम है तो उसे बढ़ाने के लिए अश्वगंधा भी एक आयुर्वेदिक उपाय है इसका सेवन करने से पुरुष ने स्पर्म की संख्या बढ़ती है तथा शारीरिक ताकत भी बढ़ती है।

3. जिंक युक्त भोजन खाएं

शरीर में जब जिनक की समस्या होती है तो स्पर्म की मात्रा में कमी आती है ऐसे में इस पर में या शुक्राणु को बढ़ाने के लिए जिंक युक्त भोजन खाएं बीन्स, ओट्स, तिल, मूंगफली लहसुन जैसे खाद्य पदार्थों में जिनका अधिक मात्रा में पाया जाता है.

4. ​केला

जिस भी पुरुष में स्पर्म की संख्या और बता में में कमी हो जाती है तो ऐसे लोगों को केला अधिक मात्रा में खाना चाहिए प्रमुख रूप से कच्चा केला स्पर्म बढ़ाने में मदद करता है यदि आपको कच्चा केला नहीं उपलब्ध हो रहा है तो आप पके हुए केलो को भी खा सकते हैं.

5. डार्क चॉकलेट पाउडर का सेवन करें

डार्क चॉकलेट पाउडर यदि आप दूध के साथ खाते हैं तो स्पर्म की संख्या बढ़ जाती है और टेस्टोस्टेरोन हार्मोन से भी बढ़ जाता है अतः जिनके अंदर नार्मल स्पर्म से कम शुक्राणु बनते हैं उन्हें प्रतिदिन डार्क चॉकलेट का सेवन अधिक करना चाहिए

6. विभिन्न प्रकार की बेरी का सेवन करें

बेरीज के अंतर्गत स्ट्रॉबेरी क्रेनबेरी ब्लूबेरी और ब्लैकबेरी आती हैं यदि इनका सेवन किया जाता है तो निश्चित रूप से स्पर्म की मात्रा बढ़ जाती है और गुणवत्ता में भी सुधार होता है।

7. शतावरी का सेवन करें

शतावरी एक बहुत ही पौष्टिक औषधि है इसकी जड़ें दूध के साथ खाने से स्पर्म की मात्रा और गुणवत्ता में वृद्धि होती है तथा महिलाएं यदि इसको सेवन करती हैं तो उनके स्तनों में अधिक मात्रा में दूध बनता है।

osir news

8. पुनर्नवा का सेवन करें

दोस्तों पुनर्नवा एक बहुत ही ताकतवर पौष्टिक जड़ होती है इस जड़ को यदि दूध के साथ सेवन किया जाता है तो व्यक्ति के अंदर शारीरिक ताकत बढ़ती है तथा स्पर्म की मात्रा और गुणवत्ता में भी अधिक सुधार होता है।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘
★ सम्बंधित लेख ★