रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे होगा तुरंत लाभ आसान उपाय | Reedh ki haddi mein dard ke gharelu nuskhe

रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे reed ki haddi me dard ke gharelu upay : हेलो दोस्तों नमस्कार आज हम आप लोगों को इस आर्टिकल के माध्यम से रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे के विषय में जानकारी प्रदान करेंगे क्योंकि हमारे शरीर के हर एक अंग कि अपनी अपनी विशेषता और कार्य अलग-अलग होते हैं.

रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे,,, रीढ़ की हड्डी में दर्द का घरेलू उपाय,,, रीढ़ की हड्डी के दर्द का घरेलू उपाय,,, reedh ki haddi me dard ke gharelu nuskhe,,, रीढ़ की हड्डी में दर्द के कारण परहेज उपचार,,, reedh ki haddi me dard ka gharelu upay,,, rid ki haddi ke dard ka ilaj,,, rid ki haddi me dard ke upay,,, reedh ki haddi ke dard ke liye yoga,,, rid ki haddi ka dard ka ilaj,,, rid ki haddi me dard ka ilaj,,, रीढ़ की हड्डी में गैप के लक्षण,,, reedh ki haddi ka dard ka ilaj,,, rid ki haddi ka ilaj in hindi,,, reedh ki haddi ke dard ka ilaj,,, reedh ki haddi me dard ke upay,,, reedh ki haddi me dard ka ilaj,,, rid ki haddi me dard ke karan,,, rid ki haddi me dard ke lakshan,,, rid ki haddi me dard hone ka karan,,, reedh ki haddi me dard ke karan,,, read ki haddi mein dard hone ka kya karan hai,,, read ki haddi mein dard ke karan,,, रीड की हड्डी में दर्द होने के घरेलू उपाय,,, rid ki haddi ka cancer,,, ridh ki haddi ke dard ka ilaj,,, rid ki haddi ka dard,,, rid ki haddi ka ilaj,,, rid ki haddi ke niche dard,,, rid ki haddi dard hone ke karan,,, रीढ़ की हड्डी में दर्द के उपाय,,, रीड की हड्डी में दर्द के उपाय,,, rid ki haddi me dard,,, reedh ki haddi ke liye yoga,,, reedh ki haddi ke liye exercise,,, reedh ki haddi ki exercise,,,

 

ऐसे में अगर हमारे शरीर के किसी एक अंग में भी थोड़ी सी भी समस्या आ जाती है, तो उससे हमारे शरीर के बाकी अंग भी प्रभावित हो जाते हैं जिसकी वजह से कोई भी कार्य करने में काफी ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इसी तरह से हमारे शरीर में रीढ़ की हड्डी का अंग हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है.

जिसका संबंध हमारे मस्तिष्क से होता है ऐसे में अगर हम मानसिक तनाव लेते हैं तो उसका असर हमारी रीढ़ की हड्डियों पर पड़ता है और अगर हमारी रीढ़ की हड्डियों पर कोई समस्या होती है, तो उसका असर हमारे मस्तिष्क पर पड़ता है. इसीलिए रीढ़ की हड्डी में दर्द कभी ऊपर से नीचे तो कभी नीचे से ऊपर की ओर हो सकता है.

ऐसे में अगर आपकी रीढ़ की हड्डी में लगातार दर्द बना रहेगा तो इसका असर आपके मानसिक विकास को रोक सकता है इसीलिए आज हम इस आर्टिकल में रीढ़ की हड्डी में होने वाले दर्द को ठीक करने के लिए घरेलू नुस्खे के विषय में जानकारी प्रदान करेंगे. अगर आप रीढ़ की हड्डी में दर्द से संबंधित जानकारी को अच्छे से प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़ें.

रीढ़ की हड्डी में दर्द के कारण | Reedh ki haddi me dard ke karan

यहां पर हम आप लोगों को रीढ़ की हड्डी में दर्द को ठीक करने के घरेलू नुस्खे के विषय में जानकारी बताने से पहले रीढ़ की हड्डी में दर्द होने के कारण बताएंगे ताकि आप इन कारणों में समय रहते सुधार करके अपनी स्थिति को बेहतर बना सकें

रीढ़ की हड्डी में दर्द के कई कारण होते हैं जैसे,


  • अधिक मोटापा होना रीढ़ की हड्डी के दर्द का कारण बनता है.
  • हड्डियों का कमजोर होना रीढ़ की हड्डी में दर्द, घुटनों में दर्द का कारण बनता है.
  • नियमित समय पर संतुलित आहार ना लेने जोडो वाले स्थानों में दर्द और रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बनता है.
  • मांसपेशियों में खिंचाव होना रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बनता है.
  • शरीर में पानी की कमी होना रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बनता है.
  • सोने और बैठने के लिए गलत मुद्रा का प्रयोग करना रीढ़ की हड्डी या फिर शरीर के किसी भी अंग में दर्द का कारण बनता है.
  • शरीर में कैल्शियम प्रोटीन आयरन की कमी होना हड्डियों में दर्द का कारण बनता है.
  • हाई हील्स पहनने से मोच आ सकती है जो रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बनती है.

back pain

  • बढ़ती उम्र रीढ़ की हड्डी और घुटनों में दर्द का कारण बनती है.
  • नसों का आपस में डैमेज हो जाना हड्डियों में दर्द का कारण बनता है.
  • कभी भी व्यायाम ना करना भी रीढ़ की हड्डियों में दर्द का कारण बनता है.
  • शारीरिक तनाव और मानसिक तनाव दोनों ही रीढ़ की हड्डीओ और शरीर के अन्य हड्डियों में दर्द का कारण बनते हैं.
  • भरपूर मात्रा में नींद ना लेना भी शारीरिक दर्द का कारण बनता है.
  • सोते समय बहुत ऊंची तकिया का इस्तेमाल करना गर्दन दर्द और कमर दर्द का कारण बनती है.
  • स्मोकिंग करना भी हड्डियों में दर्द होने का प्रमुख कारण है.
  • कम उम्र में अधिक वजन के सामान को उठाना रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बनता है.
  • शरीर में कभी भी अंदरूनी चोट लगना रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बन जाता है.
  • अधिक कसे कपड़े पहनना भी कई बार हड्डियों में दर्द का कारण बन जाते हैं.
  • काफी लंबे समय तक झुक कर कार्य करना कमर दर्द का कारण बनता है.
  • ठंडी तासीर और यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण बनते हैं.

तो दोस्तों यह कुछ प्रमुख कारण थे जिनकी वजह से रीढ़ की हड्डी में दर्द उत्पन्न होता है अगर आप इन कारणों पर ध्यान देकर इनमें सुधार करते हैं तो आप रीढ़ की हड्डी के दर्द को समय रहते कंट्रोल में कर सकते हैं

रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे | Reed ki haddi me dard ke gharelu nuskhe

अब हम यहां पर आप लोगों को रीढ़ की हड्डी में दर्द को ठीक करने के घरेलू नुस्खे बताएंगे क्योंकि घरेलू नुस्खे किसी भी दर्द या बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए बहुत ही ज्यादा हेल्पफुल होते हैं.

man pain dard

ऐसे में आप रीढ़ की हड्डी के दर्द को घरेलू नुस्खे से ठीक करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें तो चलिए दोस्तों जल्दी से जान लेते हैं रीढ़ की हड्डी हड्डी के दर्द को ठीक करने के कुछ घरेलू नुस्खे जैसे :

1. मेथी दाने का सेवन करें

मेथी दाने का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है क्योंकि मेथी दाना में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, वसा, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन, फाइबर, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, जिंक, विटामिन सी, थायमिन, नियासिन, राइबोफ्लेविन, विटामिन-बी 6, विटामिन-ए, विटामिन K, फोलेट, ऊर्जा, एंटीओक्सीडेंट, सेलेनियम, एंटी इंफ्लेमेटरी तथा एन्टीबैक्टीयियल गुण पाए जाते हैं.

merthi

इसलिए मेथी के दाने हमारे स्वास्थ्य को स्वस्थ रखने में काफी हेल्पफुल माने गए हैं मेथी दाना के सही इस्तेमाल से रीढ़ की हड्डी के दर्द को जड़ से ठीक किया जा सकता है. इसीलिए हम यहां पर रीढ़ की हड्डी के दर्द में मेथी दाने का सेवन किस प्रकार करना फायदेमंद साबित होता है इसके विषय में बताएंगे.

रीढ़ की हड्डी में मेथी दाना को सेवन में लेने का तरीका

  1. सबसे पहले आप 3 या 4 बड़ा चम्मच मेथी दाना को शाम को सोते वक्त पानी में भिगोकर रख दें और सुबह उठकर आप मेथी दाना को पानी से अलग कर ले
  2. फिर उनमे आप सेंधा नमक या फिर काला नमक को मिक्स करके बासी मुंह चबा चबा कर खाएं
  3. इस तरह से आप 1 महीने तक मेथी दाने का सेवन करें तो आपकी रीढ़ की हड्डी के दर्द के साथ-साथ शरीर में कमजोरी की समस्या भी ठीक हो जाएगी और आपका पाचन तंत्र भी ठीक रहेगा.

2. विटामिन सी से युक्त आहार का सेवन करें

हमारे स्वास्थ्य को पूरी तरह से स्वस्थ रहने के लिए विटामिन सी की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है क्योंकि विटामिन सी कई तरह के रसायनिक कार्यों को करने में हमारी मदद करती है जिसमें से खासतौर से तंत्रिकाओं को संदेश पहुंचाना और कोशिकाओं को ऊर्जा प्रवाहित करना होता है.

इसके अलावा विटामिन सी स्कीन की खूबसूरती, बालों की खूबसूरती, हड्डियों को जोड़े रखने में मदद और रक्त वाहिकाओं के गठन के लिए बहुत जरूरी होती है. इसीलिए जब हमारे शरीर में विटामिन सी की कमी हो जाती है, तो हड्डियां कमजोर हो जाती है. जिसकी वजह से उनमें दर्द उत्पन्न हो जाता है.

soft skin

इसीलिए आपकी रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण विटामिन सी की कमी भी है. ऐसे में आपको विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए इसके लिए आप इन फलों को सेवन में ले सकते हैं जैसे,

विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थ

विटामिन सी पानी में घुलनलशील है जिसे स्टोर करके नहीं रखा जा सकता है इसीलिए हर व्यक्ति को अपने शरीर में विटामिन सी के लिए रोज इन फलो का सेवन करना चाहिए.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 810 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

टाइफाइड के टोटके : टाइफाइड बुखार में फायदेमंद 5 टोटके और सावधानियां | Typhoid ke totke
ब्रेकअप के बाद लड़के क्या करते है : लड़को की 8 ऊट पटांग हरकते | दिल टूटने के बाद लड़के क्या करते है : ladke Breakup ke baad kya karte hai

संतरा, नींबू, टमाटर, शिमला मिर्च, पपीता, अनानास, केवी फल, केला, स्‍टॉबेरी, हरि मिर्च, लाल मिर्च, आम जैसे फलों का सेवन करें क्योंकि इन सभी में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाई जाती है

3. काजू बादाम खाएं

काजू बादाम स्वास्थ को स्वस्थ रखने के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होते हैं क्योंकि काजू में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन बी 6, सोडियम, पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फाइबर, फास्फोरस, आयरन, जिंक जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, तो वहीं बादाम फाइबर, विटामिन ई, जिंक, कैल्शि‍यम, मैग्नीशियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है.

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

इसीलिए काजू बादाम का नियमित रूप से 1 महीने तक सेवन करने से रीढ़ की हड्डी के दर्द को कंट्रोल में करने के साथ-साथ शरीर की हड्डियों को मजबूत, मानसिक विकास और हृदय रोगों को कम किया जा सकता है

रीढ़ की हड्डी में काजू बादाम को सेवन में लेने का तरीका

 

  • सबसे पहले आप दूध को हल्का गुनगुना करें और फिर दूध में आवश्यकता अनुसार काजू, बादाम, मेवा ,डालकर अच्छी तरह से दूध में पकाएं और हल्का सा गुड़ डाले.
  • जब काजू बादाम दूध में अच्छी तरह पक जाएं तो आप गैस को बंद कर दें और दूध को हल्का सा ठंडा होने के लिए रख दे
  • जब दूध हल्का ठंडा हो जाए तो आप इसे खाना खाने के पहले सेवन में ले
  • इस प्रकार से 1 महीने तक काजू बादाम का सेवन करने से रीढ़ की हड्डी का दर्द पूर्ण रूप से ठीक हो जाएगा

4. अंकुरित आहार खाएं

संतुलित आहार के साथ-साथ हमें सुबह नाश्ते के तौर पर अंकुरित आहार का सेवन करना चाहिए. क्योंकि अंकुरित आहार लेने से हमारे मस्तिष्क का विकास मांसपेशियों के विकास और शरीर विकास के लिए बहुत ही सहायक होते हैं क्योंकि अंकुरित आहार में मैग्नीशियम, कॉपर, फॉलेट, राइबोफ्लेविन, विटामिन सी, फाइबर, पोटैशियम, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी-6, नियासिन, थायमिन और प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होता है.

ऐसे मगर अगर आप अंकुरित आहार का सेवन सही समय और सही तरीके से करते हैं तो आपकी रीढ़ की हड्डी का दर्द ठीक हो सकता है इसलिए हम यहां पर आपको अंकुरित आहार को सेवन में लेने का सही समय और तरीका बताएंगे

अंकुरित आहार में इन चीजों को ले

almonds-osir.in badam

अंकुरित आहार में आप कच्चे चने, कच्ची मूंगफली, मूंग की दाल, बादाम को सेवन में ले सकते हैं

अंकुरित आहार को सेवन में लेने का सही समय और तरीका

  1. अंकुरित आहार को शाम को पानी में भिगो कर रख दें और फिर सुबह उन्हें पानी से बाहर निकाल ले
  2. फिर उनमें काला नमक, हल्का सा प्याज, और हरी मिर्च को काटकर, मिक्स करें
  3. अब इन्हें आप सुबह खाली पेट चबा चबा कर खाएं तो आपको एक हफ्ते के अंदर अपनी रीढ़ की हड्डी में होने वाले दर्द में आराम महसूस होगा साथ में आपकी भूख लगने न की समस्या ठीक हो जाएगी
  4. स्वास्थ्य में बेहतर परिणाम देखने के लिए आप अंकुरित आहार को 1 महीने तक लगातार सेवन में ले

5. कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन कर

पूर्ण रुप से स्वस्थ रहने के लिए कैल्शियम की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है क्योंकि कैल्शियम हमारी हड्डियों को पोषण प्रदान करके उंहें मजबूत बनाती है.

ऐसे में अगर हमारे शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाती है तो शरीर की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं, बाल झडने लगते हैं, स्किन में रूखापन आ जाना, इसके अलावा कई सारी समस्याएं उत्पन्न हो जाती है.

ऐसे में आपको चाहिए कि आप रीढ़ की हड्डी के दर्द में कैल्शियम से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें तो आपको रीढ़ की हड्डी के दर्द में आराम महसूस होगा

शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने वाले खाद्य पदार्थ

शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए आप दूध दही घी ,मक्खन, पालक की सब्जी, पुदीना की पत्तियों का रस, मेथी दाना के बीज और बादाम को पानी में भिगोकर सेवन में ले क्योंकि इन सभी में भरपूर मात्रा में कैल्शियम पाई जाती हैं

6. फिटकरी का इस्तेमाल करें

फिटकिरी का इस्तेमाल कई सालों से घाव भरने और चोट दर्द जैसी समस्या को ठीक करने के लिए इस्तेमाल में लिया जाता है इसीलिए फिटकिरी का सही इस्तेमाल करके आप रीढ़ की हड्डी के दर्द में आराम पा सकते हैं इसलिए हम यहां पर फिटकरी का इस्तेमाल किस प्रकार से करना चाहिए इसके विषय में बताएंगे

रीढ़ की हड्डी में दर्द को दूर करने के लिए फिटकरी को इस्तेमाल में लेने का तरीका

fitkari-ke-tukade-se-najar-kaise-utare-bade-logo-ki-najar-utarne-ka-bahut-aasan-tareeka

  • सबसे पहले आप नारियल तेल को हल्का सा गुनगुना करें जब तेल गुनगुना हो जाए तो गैस को बंद कर दे और फिर उसमें एक छोटा चम्मच सफेद पिसी हुई फिटकरी को मिलाये.
  • जब फिटकरी तेल में अच्छी तरह से घुल जाए तो आप इस तेल को घर के किसी व्यक्ति से कहकर अपनी पूरी पीठ में लगाकर मालिश में अच्छी तरह से मालिश करवाएं.
  • तेल अच्छी तरह से लगने के बाद आप इसे अपनी पीठ पर लगा कर छोड़ दें जैसे जैसे यह तेल आपके शरीर के अंदर तक जाएगा वैसे ही आपकी रीढ़ की हड्डी में होने वाले दर्द में आराम महसूस होगा.
  • रीढ़ की हड्डी में होने वाले दर्द से हमेशा के लिए छुटकारा पाने के लिए आपको फिटकरी का इस्तेमाल 15 दिन तक लगातार करना होगा

रीढ़ की हड्डी के दर्द को दूर करने के लिए रखें इन बातों का ध्यान

अगर आप चाहते हैं कि आपकी रीढ़ की हड्डी का दर्द हमेशा के लिए दूर हो जाए तो आपको घरेलू नुस्खे के साथ-साथ इन बातों पर भी ध्यान रखना होगा तभी आप रीढ़ की हड्डी के दर्द को जड़ से ठीक कर सकते हैं

  1. रोज सुबह हल्के गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाकर सेवन में ले
  2. मीठी चीजों का परहेज करें
  3. महिलाएं हाई हील्स ना पहने
  4. नियमित रूप से व्यायाम करें
  5. भारी सामान उठाने से बचें
  6. हर दिन नियमित समय पर संतुलित आहार अवश्य लें
  7. ढीले ढाले वस्त्र पहने
  8. मानसिक तनाव ना लें
  9. कंप्यूटर पर कार्य करते वक्त या फिर गाड़ी चलाते वक्त सिर के पीछे तकिए का इस्तेमाल करें
  10. ज्यादा देर तक झुककर कार्य ना करें
  11. साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें
  12. गर्भावस्था के दौरान बैठने और सोने के लिए सही मुद्रा का चयन करें
  13. भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करें
  14. एलर्जी वाली चीजों से दूर रहें
  15. भरपूर मात्रा में नींद ले

दोस्तों अगर आप इन बातों पर ध्यान रखेंगे तो आप बहुत जल्दी अपनी रीढ़ की हड्डी के दर्द को ठीक कर सकते हैं

osir news

FAQ : रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे

हड्डियों में ताकत कैसे आती है ?

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए विटामिन और मिनरल्स की जरूरत होती है खासतौर से हड्डियों को मजबूत बनाए रखने में कैल्शियम की आवश्यकता होती है इसलिए आपको दूध दही घी पनीर इन सब का सेवन करना चाहिए क्योंकि इन में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होती है

रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाने के लिए क्या खाना चाहिए ?

रीड की हड्डी को मजबूत बनाने के लिए आप विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करें जिसमें आप खट्टे फलों को सेवन में ले सकते हैं जैसे टमाटर नींबू संतरा केवी फल अनानास आम इत्यादि

हड्डियों में दर्द किसकी कमी से होता है ?

जब हमारे शरीर में विटामिन सी कैल्शियम की कमी हो जाती है तो हमारे शरीर की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं जिसकी वजह से उनमें दर्द उत्पन्न हो जाता है.

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आप लोगों को इस आर्टिकल के माध्यम से रीढ़ की हड्डी में दर्द के घरेलू नुस्खे के विषय में जानकारी प्रदान की है जिसमें हमने आप लोगों को रीढ़ की हड्डी में होने वाले दर्द के कारण और घरेलू उपचार के विषय में विस्तार से बताया है. अगर आप लोगों ने इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आपको रीढ़ की हड्डी में दर्द से संबंधित विशेष जानकारी प्राप्त हो गई होगी.

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

माँ काली के टोटके : 4 शक्तिशाली टोटके एवं वशीकरण उपाय | Maa kali ke totke
सपने में खून देखना का मतलब और सपने में खून देखना शुभ या अशुभ | sapne me khoon dekhna
पपीता का पेड़ शुभ या अशुभ : धन लाभ के लिये पपीता का पेड़ किस दिशा में लगाएं
नई दुकान या नया व्यापार के उद्घाटन की तैयारी, संपूर्ण पूजा विधि और मंत्र | दुकान उद्घाटन पूजा विधि
BFF बीएफएफ का मतलब क्या होता है : bff का फुल फॉर्म | Friendship forever meaning in hindi
★ सम्बंधित लेख ★