चौक या खड़िया खाने के फायदे और 7 नुकसान | चौक खाने कि लत कैसे लगती है? 5 उपाय जाने | side effects of eating slate pencils

Side effects of eating slate pencils : दोस्तों आप छोटे बच्चों को अक्सर पेंसिल खाते हुए देखते होंगे जब यह पढ़ने जाते हैं तो भी स्लेट पेंसिल को खा लेते हैं यहां तक कि बहुत सी गर्भवती महिलाओं ने भी स्लेट पेंसिल खाती रहती हैं माना जाता है कि जिन लोगों में ब्लड की कमी होती है वे लोग स्लेट पेंसिल खाते रहते हैं।

side effects of eating slate pencils slate pencil khane ke fayde nuksan

बहुत से बच्चे और गर्भवती महिलाएं स्लेट पेंसिल को दिन में कई बार खा लेते हैं हालांकि इस पेंसिल को खाने से आपको कई सारी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं कई सारे दुष्प्रभाव शरीर पर देखने को मिलते हैं।

पढ़ने वाले छोटे-छोटे बच्चे पेंसिल को अक्सर खा जाते हैं परंतु कोई युवा व्यक्ति या महिला इस पेंसिल को खाती है तो उसके लिए कई सारे साइड इफेक्ट दिखाई देते है। आइए हम जानते हैं कि स्लेट पेंसिल खाने से क्या फायदा और क्या नुकसान होता है इसके कौन-कौन से साइड इफेक्ट हमारे शरीर पर पड़ते हैं इस विषय पर चर्चा करते हैं।

छोटे बच्चों को अक्सर माता-पिता की मारपीट पढ़ने के बावजूद भी पेंसिल को खाना नहीं बंद करते हैं   क्योंकि यह काफी स्वादिष्ट लगती है समय-समय पर पेंसिल खाते रहने से बच्चों की एक आदत बन जाती है जिससे होने वाले कई नुकसान हमारे सामने दिखाई देते है।

स्लेट पेंसिल खाने के क्या फायदे हैं ? Benefits of eating slate pencil

दोस्तों यदि स्लेट पेंसिल के खाने के फायदे पर नजर डाला जाए तो इसके फायदे आपको कहीं पर नजर नहीं आएंगे आप चाहे जिस प्रकार की किताबों में सर्च करके देख सकते हैं या आज के समय में गूगल पर सर्च करके भी देख सकते हैं स्लेट पेंसिल खाने के फायदे कहीं नहीं बताए गए हैं।

दोस्तों यदि स्लेट पेंसिल के खाने के फायदे पर नजर डाला जाए तो इसके फायदे आपको कहीं पर नजर नहीं आएंगे आप चाहे जिस प्रकार की किताबों में सर्च करके देख सकते हैं या आज के समय में गूगल पर सर्च करके भी देख सकते हैं स्लेट पेंसिल खाने के फायदे कहीं नहीं बताए गए हैं।chalk board


क्योंकि यह एक प्रकार का कार्बन होता है जो शरीर के लिए सदैव नुकसान ही देता है ऐसे में स्लेट पेंसिल किसी भी प्रकार का फायदा नहीं देती है बल्कि हमेशा इसका अधिक सेवन करने से नुकसान ही होता है। बच्चे तो स्लेट पेंसिल अनजान होने की वजह से खाते हैं लेकिन यदि कोई महिला खाती है खासतौर पर गर्भवती महिला तो उसके लिए काफी नुकसान हो सकता है।

अक्सर गांव में कहा जाता है कि स्लेट पेंसिल खाने से बच्चे में कैल्शियम की पूर्ति होगी परंतु ऐसा कुछ नहीं है बल्कि बच्चे के लिए हमेशा उल्टा प्रभाव पड़ता है। जहां पर यह सोचकर महिला स्लेट पेंसिल खाती है कि बच्चे में ब्लड की बढ़ोतरी होगी कैल्शियम की कमी पूर्ति होगी उल्टे महिलाओं में ब्लड की कमी हो जाती है जिसकी वजह से महिला के शरीर पर साइड इफेक्ट दिखाई देते है।

स्लेट पेंसिल खाने के क्या नुकसान है ? | side effects of eating slate pencils

यह किसी भी घर में कोई बच्चा स्लेट पेंसिल खाना प्रारंभ कर देता है अगर समय पर ध्यान नहीं दिया गया तो कई सारे नुकसान बच्चे के अंदर दिखाई देंगे शारीरिक विकृतियां बच्चे में आने लगेंगे जिससे बीमार हो जाएगा। आइए हम जानते हैं कि स्लेट पेंसिल खाने से कौन-कौन से नुकसान हैं.

1. दांतों की समस्या | Dental problems

teeth

स्लेट पेंसिल खाने से बच्चों के दांतों में कई प्रकार की समस्या उत्पन्न हो जाती है जैसे बच्चों के दांतों के नीचे मसूड़ों के पास सड़न पैदा हो जाती है दांत जल्दी कमजोर हो जाते हैं और टूट जाते हैं . दांतों के साथ-साथ जगहों पर भी प्रभाव पड़ता है जिससे जड़ों से खून आने लगता है मवाद बन जाता है तथा हल्का हल्का दर्द महसूस होता है

‌‌‌ 2. भोजन में कमी होती हैं |Lack of food

‌‌‌ अक्सर जब बच्चा स्लेट पेंसिल खाने लगता है तो बच्चे को भोजन की भूख कम हो जाती है जिससे शरीर के अंदर पोषक तत्वों की कमी होने से बच्चा बीमार हो सकता है बच्चे के वजन में कमी दिखाई देती है.

3. संक्रमण का खतरा | Risk of infection 

bacteria virus

पेंसिल खाने से बच्चे के अंदर कई प्रकार के संक्रमण होने की संभावनाएं अधिक हो जाती हैं क्योंकि बच्चों की पेंसिल कई बार जमीन पर गिरती है जिसके कारण धूल के कण के साथ-साथ कई प्रकार के जीवाणु भी शरीर के अंदर चले जाते हैं जिससे बच्चे बीमार होते हैं

4. दिमाग पर प्रभाव पड़ता है | Has an effect on the mind

स्लेट पेंसिल अधिक खाने से बच्चे के दिमाग की हालत पर बुरा असर पड़ता है जिससे बच्चे के अंदर सोचने समझने की क्षमता कम हो जाती है स्लेट पेंसिल की विषाक्तता के कारण बच्चे के दिमाग पर गहरा प्रभाव पड़ता है

5. कब्ज एसिडिटी की समस्या | Constipation acidity problem

man with pet

सामान्य रूप से जब बच्चा स्लेट पेंसिल खाता है तो उसके अंदर कभी-कभी एसिडिटी और कब्ज की समस्या बन जाती है जिसकी वजह से बच्चे के पेट में ऐठन के साथ दर्द होता है बच्चा असमय लेट्रिन बाथरूम करता है.

6. किडनी पर बुरा असर पड़ता है | Have a bad effect on the kidneys

‌‌‌ बच्चा हो या कोई वयस्क पुरुष स्त्री सभी पर स्लेट पेंसिल खाने से असर पड़ता है खास तौर पर किडनी जैसा अंग भी संक्रमित हो जाने की वजह से नष्ट हो सकता है.

‌‌‌ 7. पिका रोग होता है | Have pica disease

बहुत से बच्चों में या वयस्कों में पिका रोग हो जाता है तो वे लोग मिट्टी कंकड़ रेत के साथ-साथ स्लेट पेंसिल का भी सेवन करते हैं जिन लोगों के अंदर पिका रोग होता है वे लोग ऐसी चीजों को खाने में अधिक इंटरेस्ट लेते हैं। वास्तव में यह एक प्रकार का रासायनिक असंतुलन होने के कारण होता है जिससे शरीर के अंदर आयरन की कमी हो जाती है साथ ही अल्सर जैसी समस्या उत्पन्न होती है।

कोई भी बच्चा यदि आयरन जिनका आज की कमी से स्लेट पेंसिल रेत बालू आज खाना शुरू कर देता है तो उसके अंदर पिका रोग हो सकता है यह रोग एक प्रकार का मेडिकल रोग होने के साथ-साथ मानसिक रोग भी है।

स्लेट पेंसिल खाने की लत कैसे लगती है ? Addicted to eating slate pencil

बच्चों में स्लेट पेंसिल खाने के कई कारण मिल जाते हैं जिसको यदि समय पर ध्यान दिया जाए तो इसे रोका जा सकता है आइए हम जानते हैं किस बच्चों में स्लेट पेंसिल खाने के कारण क्या है कैसे उनके अंदर पेंसिल खाने की लत लग जाती है।

1. बच्चों पर ध्यान न देने से | Not paying attention to the children

हवा की बहुत सारी बच्ची पेंसिल खाने की आदत जब डालते हैं तो उसके माता-पिता भी उन पर ध्यान नहीं देते हैं उनकी लापरवाही की वजह से बच्चे दिन प्रतिदिन स्लेट पेंसिल खाने लगते हैं बहुत सारे बच्चे तो पेंसिल ना मिलने पर रेत खा लेते हैं।cute kids

‌‌‌बहुत से माता-पिता अपने बच्चों को ध्यान देते हैं तो उनको डांटते फटकारते हैं परंतु बच्चा दिन भर कहीं ना कहीं घूमता रहता है तो ऐसे में वह रेत खाना सीख जाता है इसी तरह जो उनके हाथ में स्लेट पेंसिल आती है तो उसको भी खाने की आदत पड़ जाती है।

जब बच्चे प्रारंभ में मिट्टी रेत या पेंसिल खाना प्रारंभ कर देते हैं तो उन पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है क्योंकि धीरे-धीरे उनकी आदत गंभीर हो जाती है और फिर स्लेट पेंसिल या मिट्टी रेत खाने की आदत छूटने में देर लगती हैं।

2. गर्भवती महिलाओं पर ध्यान देना | Attention to pregnant women

बहुत-सी महिलाओं में गर्भ धारण करने के बाद घर के चूल्हे की मिट्टी कुल्हड़ की मिट्टी आदि खाने की आदत पड़ जाती है क्योंकि उन्हें उस दौरान बहुत ही स्वादिष्ट लगता है ऐसे में बहुत सी महिलाएं गर्भ के बाद स्लेट पेंसिल खाने में भी रुचि पैदा कर देते हैं .

pregnant

ऐसे में किसी भी गर्भवती महिला को मिट्टी खाने की आदत या स्लेट पेंसिल खाने की आदत लग गई है तो उस पर ध्यान देने की जरूरत है बल्कि स्वयं महिला को भी इस विषय में सोचना जरूरत है क्योंकि निकट भविष्य में बच्चे पर इसका साइड इफेक्ट दिखाई पड़ता है इस प्रकार से पेंसिल आदि खाने से बचें.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 808 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

बुधवार के मंत्र जप और प्रयोग विधि : मनोकामना पूर्ति, संकट निवारण | Budhwar Mantra : इस मंत्र के जाप से मिलेगी सारी परेशानियाँ
किया-कराया, काला जादू, टोना-टोटका को कैसे खत्म करें ? जाने 8 बेहतरीन टोटका और मंत्र ! How to Remove black magic in hindi

‌‌‌3. गर्भवती महिलाओं मे खून की कमी होने से | Anemia in pregnant women

immunity

कई बार डॉक्टर की सलाह जब गर्भवती महिला लेती है तो डॉक्टर अक्सर बता देते हैं कि महिलाओं को कैल्शियम आदि के टेबलेट लेना चाहिए क्योंकि गर्भधारण करने के बाद महिलाओं में कैल्शियम और खून की कमी हो सकती हैं। ऐसे में बहुत सारी महिलाएं स्लेट पेंसिल खाना प्रारंभ कर देते हैं जबकि यह कैल्शियम की पूर्ति नहीं करता बल्कि महिला में ब्लड की कमी को भी बढ़ा देता है ऐसी स्थिति में महिलाओं को सावधान रहने की जरूरत है।

4. स्वाद लगने के कारण से | Because of taste

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

बहुत सारी बच्चे अनजान में चाक और पेंसिल खाना सीख जाते हैं क्योंकि इसका स्वाद बहुत अधिक अच्छा लगने लगता है जिससे वे इसका सेवन करने लगते हैं। अच्छा स्वाद लगने के कारण बच्चे अधिक पसंद करते हैं और धीरे-धीरे आदत बन जाती है।

5. दिमाग के रसायन का अनियंत्रित होना | Uncontrolled brain chemicals

MIND DIMAG

हमारे शरीर के अंदर अनेकों प्रकार की केमिकल स्रावित होते रहते हैं जो एक संतुलित मात्रा में निकलते हैं परंतु कभी-कभी इनका सराव असंतुलित हो जाता है जिसकी वजह से हमारे शरीर में अलग-अलग चीजों के प्रति लगा उत्पन्न होता है ऐसे में इन्हीं असंतुलित केमिकल के कारण स्लेट पेंसिल खाने की आदत पड़ जाती है।

‌‌‌6. जिंक और आयरन की कमी से चॉक खाना | Eating chalk due to zinc and iron deficiency

हमारे शरीर में जिंक और आयरन की कमी के कारण थी लोगों में चाक जैसी चीजों के खाने की आदत पड़ जाती है जिंक और आयरन की कमी के कारण लोग स्लेट पेंसिल और क्या खाना पसंद करने लगते हैं.

7. ओसिडी विकार के कारण स्लेट पेंसिल खाना | Eating slate pencils due to ossidy disorder

stressed-woman stress mind pain

जब कभी बच्चे के अंदर ओसीडी विकार उत्पन्न हो जाता है तो उसके अंदर अजीब अजीब विचार उत्पन्न होते हैं जिसकी वजह से वह पेंसिल खाने में रुचि पैदा करता है.

बच्चा स्लेट पेंसिल खाता है तो कैसे पता करें ? How to know if child eats slate pencil

दोस्तों यदि बच्चा स्लेट पेंसिल खाता है तो माता-पिता को बहुत कम पता चलता है क्योंकि बच्चा अपने माता-पिता आदि से छुपकर पेंसिल को खाता है यदि आपका बच्चा कैंसिल खा रहा है तो आप कैसे पता करेंगे आइए हम कुछ तथ्य अपने इस आर्टिकल के माध्यम से देते हैं.

1.  बच्चे के साथ पढ़ने वाले छात्रों से पूछें | Ask the students studying with the child

kids teacher

‌‌‌ अगर कोई बच्चा स्लेट पेंसिल खा रहा है और माता-पिता को इस बात की जानकारी नहीं है तो वह इसका पता कैसे करें इसके लिए सबसे पहले बच्चे के साथ पढ़ने वाले अन्य छात्र-छात्राओं से जानकारी प्राप्त कर सकता है।

यदि आपको लगता है कि बच्चा स्लेट पेंसिल खा रहा है और आपको जानकारी नहीं हो पा रही है तो सबसे पहले उसके साथ जो भी सहपाठी छात्र हैं उनसे जानकारी करना जरूरी है

2. रोज पेंसिल की मांग करता है | Asks for pencil everyday

यदि आपका बच्चा रोज पेंसिल मांगता है तो उसके पीछे यह जरूरी नहीं है कि उसकी पेंसिल खो जाती है यह क्योंकि बच्चा बहाना बना लेता है कि मेरी पेंसिल खो जाती है परंतु सच्चाई यही होती है कि बच्चे की पेंसिल ना खोकर बल्कि वह खा लेता है।

kid bachcha pencil

यह बच्चा कैंसिल खा लेता है तो वह है आपसे रोज पेंसिल की डिमांड करता है इसके पीछे पेंसिल खा लेने का कारण जानने का प्रयास करें हो सकता है बच्चा पेंसिल खा लेता है तो आप उस पर ध्यान दें।

बच्चे को स्लेट पेंसिल खाने से कैसे रोके ? Stop child from eating slate pencil

‌‌‌ सभी माता-पिता कुछ चाहिए कि बच्चे को स्लेट पेंसिल खाने से कैसे रोके तो इसके लिए आपको कुछ उपाय करने जरूरी है जो इस प्रकार से हैं।

1. उचित देखभाल करें | Take proper care

अधिकांश माता-पिता अपने बच्चों के पालन पोषण और उनकी देखरेख संबंधित बातों पर ध्यान नहीं देते हैं जिससे बच्चा जैसा चाहे वैसा करता रहता है ऐसे में बच्चे की शारीरिक और मानसिक प्रभाव के साथ साथ दिमागी हालत भी खराब होती हैं।

caring family

‌‌‌ यह बच्चा स्लेट पेंसिल खा रहा है तो उसके पीछे सही से देखभाल ना करना भी कारण बनता है ऐसे में बच्चे की देखभाल हमेशा अच्छे से करें और सही से करें।

‌‌‌2. बच्चे के पोषण पर ध्यान दें | Focus on child nutrition

ऐसे बच्चे जो शारीरिक रूप से काफी कमजोर होते हैं और पोषक तत्वों की कमी होती है वह बच्चे स्लेट पेंसिल खाने पर ज्यादा ध्यान देते हैं अपने बच्चे को स्लेट पेंसिल खाने से बचाने के लिए उसके शरीर के पोषण के लिए उचित भोजन और शारीरिक खनिज तत्व को देने की आवश्यकता है।

take care of food

बच्चों के अंदर आयरन जिंक जैसे तत्वों की कमी होने पर उनको जिनका आयरन से भरपूर भोजन दें जैसे मूंगफली तिल और लहसुन आदि.

3. बच्चे पर उत्पीड़न ना करें | Do not harass the child

मनोवैज्ञानिक तथ्य इस बात को प्रमाणित करते हैं कि यदि बच्चे पर किसी भी प्रकार का उत्पीड़न किया जाता है तो बच्चे के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है बच्चा चिंता का शिकार हो जाता है जिसकी वजह से बच्चे की दिमागी हालत गड़बड़ हो जाती है और बच्चा रेत बालू कंकड़ या फिर स्लेट पेंसिल खाने लगता है ।

4. बच्चे को समझाएं और हल्का फुल्का डांटे | Explain to the child and scold lightly

teacher student

‌‌‌ यदि बच्चा स्लेट पेंसिल खाता है तो इस बारे में बच्चे को प्यार से समझाने का प्रयास करें ना कि उसे पीटना शुरू करें यदि फिर भी नहीं मानता है तो बच्चे को थोड़ा सा डांट फटकार देना जरूरी है। हालांकि डांट फटकार केवल ऐसे बच्चों को दिया जाता है जो पेंसिल अपने मुंह में रख लेते हैं खाते नहीं लेकिन हो सकता है भविष्य में उनकी आदत पड़ जाए इसलिए थोड़ा सा समझाते हुए डांट फटकार जरूरी है।

5. डॉक्टर से चेकअप करवाएं | Get checked up by a doctor

doctor

osir news

‌‌‌यदि कोई बच्चा स्लेट पेंसिल खाता है तो उसके शरीर का चेकअप करवा कर डॉक्टर से सलाह लें क्योंकि अक्सर बच्चों के शरीर में पोषण की कमी होती है जिसकी वजह से स्लेट पेंसिल और मिट्टी खाने की आदत पड़ती है ऐसे में बच्चे को डॉक्टर से सलाह लेकर उचित इलाज कराएं।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

लड़कियों के 7 इशारे : लड़की का दिल और दिमाग़ सब पढ़ लेंगे आप | लड़कियों के प्यार के इशारे समझना : girl ke pyar ke ishare
आसानी से होम लोन कैसे लें ? जरूरी डॉक्यूमेंट,योग्यता और शर्तें जाने ! | home loan kaise milega ?
नवरात्रि में लौंग के टोटके : ये 5 अचूक टोटके बदल सकते है आपकी किस्मत
चौक या खड़िया खाने के फायदे और 7 नुकसान | चौक खाने कि लत कैसे लगती है? 5 उपाय जाने | side effects of eating slate pencils
I.F.S.C. का Full Form : किसी भी Bank का IFSC कोड कैसे जाने? | What is IFSC code : full form of I.F.S.C. code?
★ सम्बंधित लेख ★