टीचर / अध्यापक कैसे बने ? उम्र/योग्यता/परीक्षा/सैलरी How to become a teacher and salary exam ?

❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मन पसंद & नये लेख पढ़े ❤☚

Teacher kaise bane ? शिक्षक जिसे अध्यापक teacher और टीचर भी कहा जाता है, का हमारे समाज में बहुत ही सम्मान है। यह एक बहुत ही प्रतिष्ठित Prestigious और महत्वपूर्ण पद है। अगर हम यह कहे कि यह बच्चों के भविष्य को आकार देने का एक जज्बा और जुनून है तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। teacher ki salary kitni hoti hai ? teacher banne ke liye kya padhai kare ? teacher banne ke liye kya course kare ?

एक अच्छा शिक्षक बच्चों को अच्छी शिक्षा देता है जिससे वह आगे चलकर एक अच्छे नागरिक Citizen बनते हैं, साथ ही अपनी जिंदगी में एक कामयाब इंसान man भी बनते हैं, क्योंकि बिना शिक्षा के आज का व्यक्ति वैसा ही है जैसा काला अक्षर भैंस बराबर।आज हर जगह पढ़े लिखे लोगों की ही डिमांड है और उन्हें ही तवज्जो दिया जा रहा है।

प्राइमरी टीचर कैसे बने ?, स्कूल प्रिंसिपल कैसे बने ?, साइंस का टीचर कैसे बने ?, टीचर बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए , कंप्यूटर टीचर कैसे बने ?, टीचर बनने के इच्छुक युवा करें आवेदन कैसे बने ?, भूगोल का टीचर कैसे बने ?, टीचर बनने के लिए १२ वीं के बाद क्या करें ?, टीचर कैसे बने ?, स्कूल के पहले दिन पढने जाए तो क्या करे ?, बच्चो को कैसे पढाये ?, बच्चो को कैसे सिखाये ?, प्राइमरी टीचर की सैलरी कितनी होती है ?, प्राइमरी टीचर बच्चो को कैसे पढ़ते है ?, bachcho ko kaise padhaye , bachcho ko kaise padhaye, baccho ko kaise padhaye jata hai, baccho ko kaise padhaye abcd, bachcho ko online kaise padhaye, baccho ko online kaise padhaye, baccho ko tution kaise padhaye, chote baccho ko kaise padhaye jata hai, ziddi baccho ko kaise padhaye, bacho ko kaise padhaye, baccho ko kaise padhaye, teacher kaise bane , teacher kaise bane sarkari, primary teacher kaise bane, drawing teacher kaise bane, math teacher kaise bane, science teacher kaise bane, agriculture teacher kaise bane, music teacher kaise bane, primary teacher kaise bane in hindi, anganwadi teacher kaise bane, army school me teacher kaise bane, art and craft teacher kaise bane, bstc se teacher kaise bane, 12th ke baad teacher kaise bane, commerce teacher kaise bane, chemistry teacher kaise bane, coaching teacher kaise bane, iti college me teacher kaise bane, iti college ka teacher kaise bane, polytechnic college me teacher kaise bane, degree college me teacher kaise bane, central school me teacher kaise baneप्राइमरी स्कूल टीचर कैसे बने, सरकारी प्राइमरी टीचर कैसे बने, उप प्राइमरी टीचर कैसे बने, प्राइमरी स्कूल का टीचर कैसे बने, primary teacher kaise bane, primary school teacher kaise bane, primary teacher kaise bante hai, primary school me teacher kaise bane, , ,

हमारे भारत देश में शिक्षक का पद बहुत ही महत्वपूर्ण है। शिक्षक का बखान कबीर दास Kabirdas ने भी किया है। उन्होंने कहा है कि अगर गुरु Guru और गोविंद Govind दोनों खड़े हो तो सबसे पहले शिक्षक के पांव छूने चाहिए क्योंकि शिक्षक ही एक आदर्श व्यक्ति का निर्माण करता है।

भारत में शिक्षकों को सम्मान दिया जाता है इसी के कारण भारत के ज्यादातर युवा शिक्षक बनना चाहते हैं, परन्तु शिक्षक बननें के लिए काफी परिश्रम की आवश्यकता होती है, आप एक शिक्षक कैसे बन सकते है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है।

टीचर बनने के लिए क्या शैक्षिक योग्यता चाहिये ? Educational Qualification to become a teacher

अधिकतर लोग टिचर बनना चाहते हैं क्योंकि इसमें सैलरी व इज़्ज़त दोनों मिलते है। टीचिंग लाइन चुनने के बाद सरकारी नौकरी भी पा सकते हैं।अध्यापक बनने के लिए 12th पास होना जरूरी है।इसके अलावा आपका ग्रेजुएशन पूरा होना चाहिए। आप किसी भी विषय से ग्रेजुएशन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :   इंटरनेट Online Typing works job कौन से है, कंहा पर और कैसे करे ? Online Typing से रुपये कैसे कमायें ? How to earn money from online typing?

टीचर बनने हेतु आयु सीमा क्या होती है ? Age limit to become a teacher

टीचर बनने के लिए आप 18 साल से लेकर 30 साल तक कोशिश कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप टीचर की भर्ती में आवेदन कर रहे हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टीचर भर्ती के आवेदन में जनरल कैटेगरी की आयु सीमा 21 साल से लेकर 28 साल के बीच है, वही sc-st समुदाय को उम्र में 5 साल की अतिरिक्त छूट सरकार द्वारा प्रदान की जाती है।

टीचिंग में कैरियर कैसे बनाये ? Teaching Career

अगर आपने एक शिक्षक बनने का लक्ष्य निर्धारित कर लिया है तो सबसे पहले आपको इस क्षेत्र से संबंधित पाठ्यक्रम के बारे में जानकारी प्राप्त करना जरूरी है, क्योंकि सही जानकारी के आधार पर ही हम अपने निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

शिक्षक बननें के लिए इंटरमीडिएट, ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर पर अनेक पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं।

शिक्षक बनने हेतु कोर्स के नाम और उनके फुल फॉर्म क्या होते है ? Course Name & Full form to become a teacher

निम्न पाठ्यक्रमों के द्वारा आप शिक्षा के क्षेत्र में अपना पहला कदम बढ़ा सकते है।इन पाठ्यक्रमों की सहायता से आप टीचिंग की लाइन पकड़ने में आसानी होगी और आप अपना करियर टीचिंग में बना पाएंगे।

teacher

1. B.Ed. – बीएड  बैचलर ऑफ एजुकेशन  Bachelor of Education
2. B.T.C. – बीटीसी  बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट Basic Training Certificate
3. N.T.T. – एनटीटी  नर्सरी टीचर ट्रेनिंग  Nursery Teacher Training
4. B.P.Ed. – बीपीएड  बैचलर इन फिजिकल एजुकेशन Bachelor of Physical Education
5. J.B.T. – जेबीटी  जूनियर टीचर ट्रेनिंग Junior Basic Training course
6. D.Ed. – डीएड  डिप्लोमा इन एजुकेशन  Diploma in Education 

 

शिक्षक बनने हेतु कुछ प्रमुख परीक्षाएं कौन सी होती है ? Some major Exams to become a Teacher

exam

टीचर बनने के लिए आप को कुछ परीक्षा देनी पड़ती है , जिनकी जानकारी नाम और उनके फुल फॉर्म  निम्नवत है :

टीजीटी-पीजीटी क्या है ? T.G.T. – P.G.T. : Trained Graduate Teacher – Post Graduate Teacher

यह भी पढ़े :   मौका : हमारे लिए लिखे और कमाये रुपये और नाम Opportunity: Written a post for us and earned Money

इन दोनों परीक्षाओं का आयोजन राज्य स्तर पर किया जाता है। अगर आप टीजीटी करना चाहते हैं तो इसके लिए स्नातक के साथ-साथ आपका b.ed का कोर्स करना आवश्यक है और पीजीटी के लिए स्नातक और बीएड की डिग्री होना आवश्यक है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कक्षा 6 से लेकर कक्षा दसवीं तक के छात्रों को पढ़ाने के लिए टीजीटी पास शिक्षक उपयुक्त माना जाता है,जबकि सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी के छात्रों को पढ़ाने के लिए पीजीटी पास शिक्षक को सही माना जाता है।

टेट क्या है ? T.E.T. : Teacher Eligibility Test

यदि आप टीचर बनना चाहते है तो आपको बीएड परीक्षा के बाद टीईटी मतलब टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट परीक्षा में भी भाग लेना होगा।अगर एप्लिकेंट का अभी बीएड की परीक्षा का रिजल्ट नहीं आया हो तब भी वह परीक्षा में शामिल हो सकता है।

एप्लिकेंट द्वारा टीईटी की परीक्षा में पास होने पर उसे राज्य सरकार से कुछ समय के भीतर एक सर्टिफिकेट दिया जाता है।इस सर्टिफिकेट की अवधि 5 से 7 वर्ष तक मान्य होती है और इन्ही 5-7 वर्ष तक एप्लिकेंट इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

राजधानी क्षेत्र दिल्ली के अधीन विद्यालयों के अंतर्गत केंद्रीय विद्यालय, तिब्बती स्कूल और नवोदय विद्यालयों में शिक्षक बनने हेतु इस परीक्षा को उत्तीर्ण करना आवश्यक है, सीबीएसई द्वारा इस परीक्षा का आयोजन किया जाता है, जिसमें अभ्यर्थी को 60 फीसदी अंक लाना अनिवार्य होता है।

यूजीसी नेट क्या है ?  UGC NET : University Grants Commission National Eligibility Test

अगर एप्लिकेंट को कॉलेज में लेक्चरर बनना है तो उनको यह परीक्षा को क्लियर करना आवश्यक है।यूजीसी नेट की यह परीक्षा वर्ष में 2 बार होती है जो की दिसंबर और जून के महीने में होती है।इसके परीक्षा में 3 एग्जाम होते हैं।exam

एप्लिकेंट अपनी भाषा को इंग्लिश या हिंदी में से किसी भी भाषा में यूजीसी नेट का पेपर दे सकता है।पहले एग्जाम पेपर में सामान्य ज्ञान, टीचिंग एप्टीट्यूट, व् रीजनिंग के प्रश्न आते हैं, दूसरे व तीसरे एग्जाम पेपर में एप्लिकेंट के चुने हुए सब्जेक्ट के प्रश्न आते हैं।

अध्यापक के तौर पर रोजगार के क्षेत्र क्या है ? jobs in teaching field

इन कोर्स को करने के बाद अभ्यर्थी को नौकरी की कमी नहीं रहती। जो भी व्यक्ति इस कोर्स को कर लेता है वह किसी भी सरकारी अथवा प्राइवेट स्कूल में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकता है।

यह भी पढ़े :   आई पी एस ऑफिसर कैसे बने ? जाने कितनी सैलरी How to become an IPS officer?

इसके अलावा व्यक्ति चाहे तो खुद का कोचिंग इंस्टीट्यूट भी खोल सकता है या फिर किसी कोचिंग इंस्टिट्यूट में पढ़ा भी सकता है। इसके अलावा सरकारी कोचिंग संस्थान और इंस्टिट्यूट में जॉब के लिए अप्लाई कर सकता है और चाहे तो वह घर बैठे बैठे ऑनलाइन भी अनअकैडमी एप्लीकेशन के माध्यम से लोगों को पढ़ा सकता है और पैसे भी कमा सकता है।

टीचर की सैलरी तनख्वाह कितनी होती है ? Salary of teacher

अगर हम सरकारी टीचरों की बात करें तो उनकी महीने की तनख्वाह 30000 से लेकर 40000 के बीच होती है। इसके अलावा अगर हम प्राइवेट शिक्षकों की बात करें तो उनकी महीने की पगार 15000 के आसपास होती है। पहले सरकारी टीचरों की पगार कम थी परंतु सातवें वेतन आयोग की सिफारिश के बाद सरकारी टीचरों की पगार में वृद्धि हुई।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मुख्यपेज पर जाये या अपना मनपसन्द टॉपिक चुने ❤☚

✤ यह लेख भी पढ़े ✤