टाइम मैनेजमेंट कैसे करे? Time management tips in hindi | समय प्रबंधन के नियम और उपाय

Time management k aath sutra kya  hai ? दोस्तों,आपने ये लाइन जरूर सुनी होगी कि हर पुरुष की सफलता के पीछे किसी ना किसी महिला का हाथ होता है बात तो बिल्कुल सही है । लेकिन हर पुरुष और महिला की सफलता के पीछे सबसे बड़ा हाथ Time management (समय प्रबंधन) का होता है । सीधा-सीधा कहूं तो जो इंसान अपने टाइम को बहुत ही अच्छी तरीके से मैनेज करना जानता है |

वह अपने जीवन में जरूर सफल होता है, लेकिन वही पर जो इंसान अपने टाइम को अच्छे से मैंनेज करना नहीं जानता वह अपने जीवन में असफल रह जाता है। आज का यह लेख सभी छात्रों , ऑफिस वर्किंग (काम करने वाले) , होमवर्किंग और बिज़नेस मैन इन सभी तरह के लोगों के लिए है जो टाइम मैनेजमेंट के सूत्र को सीखना चाहते है ।TIME MANAGEMENT

आज के इस लेख को आप लोग पूरा पढ़िएगा क्योंकि यह लेख बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है । इससे पहले मैं आप लोगो की एक गलतफैमि को दूर कर देता हूं । ईश्वर ने किसी को छोटा बनाया तो किसी को बड़ा किसी को नाटा तो किसी को गोरा तो किसी को काला बनाया लेकिन एक चीज है जो हम सभी लोगों को बराबर दी वह है “समय” हर इंसान को 24 घंटे का समय दिया।

इसमें से लगभग 7 घंटे का समय हम सोने में और 3 घंटे का समय बाकी चीजों को करने में निकाल देते हैं। इसका मतलब हमारे पास सीधा-सीधा 14 घंटे बचते हैं ।  इन्ही 14 घंटे मे हमारी सफलता और असफलता निर्भर करती है । कोई इंसान इन 14 घंटों का अच्छी तरीके से इस्तेमाल करके आगे बढ़ जाता है तो कोई इन 14 अंको को फिजूल के कामों में खर्च कर देता है ।

आज के इस लेख में हम इन 14 घंटो का सही इस्तेमाल किस प्रकार से कर सकते हैं इसके लिए आज मैं आपको 8 ऐसे सूत्र बताऊंगा जिनके प्रयोग से आप सफलता की ऊंचाइयों को छुएंगे ।

टाइम मैनेजमेंट के आठ सूत्र क्या है ? Eight principles of time management

आज हम आप को टाइम को कंट्रोल करने वाले सूत्रों को बताएँगे जिससे आप २४ घंटे में 48 घंटे का मजा ले पाएंगे चलिए फिर इन नियमो को जन लेते है :

1. अपना समय स्कैन ( बारीकी से जांचे) करे : Scan your time

समय प्रबन्धन का सबसे पहला सूत्र स्कैन योर टाइम है| इसमें सबसे पहले आप इस बात पर विचार करें कि आप अपना समय किस चीज में ज्यादा देते हैं और किस चीज में कम देते तभी आप अपने समय का सही आकलन कर पाएंगे । इसके लिए आपको 4 से 5 दिन के लिए एक टाइम टेबल बनाना होगा जिसमे आपको अपनी हर एक उन क्रियाओं का समय लिखना होगा जिनमें आप अपना समय बिताते हैं ।


watch ghadi

जैसे कि आप कितने बजे उठते हैं , कितने बजे सोते हैं , कितना समय खाने में देते हैं , कितनी देर मोबाइल चलाते हैं , कितनी देर TV देखते हैं , कितना समय ऑफिस में देते हैं या बिजनेस करते हैं । जब आप 4 से 5 दिन इन काम के लिए कितना समय देते हैं टाइम टेबल में लिखेंगे तब आपको अंदाजा लग जाएगा आप किन चीजों पर ज्यादा वक्त दे रहे हैं और और किन चीजों को कम वक़्त दे रहे हैं|

ऐसा करने के बाद आपको आईडिया वो जाएगा कि आपको किन चीजों को वाक़ई में ज्यादा समय देना है और किनको कम।

2. अपने समय को विशिष्ट लक्ष्य से बदले : Replace your time with specific goal

बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो अपना समय यूं ही बर्बाद कर रहे है सिर्फ नॉर्मल गोल (सामान्य लक्ष्य) बनाकर। लक्ष्य दो प्रकार के होते हैं — एक नॉर्मल और दूसरा विशिष्ट । नॉर्मल गोल का मतलब हम कुछ इस प्रकार से समझ सकते हैं|

goal target

जैसे मान लीजिए की एक कोई छात्र है और वह ये कहता है कि मुझे टॉप करना है टॉप करना है यह गोल तब तक विशिष्ट नहीं होगा जब तक वह ऐसा टाइम टाइम टेबल ना बनाले जिसमें उसे हर एक दिन कब पढ़ना है , कितना पढ़ना है और क्या पढ़ना है , कैसे पढ़ना है इन सभी बातों को ना लिख ले तब तक वह विशिष्ट गोल नहीं कहलायेगा ।

विशिष्ट गोल को पाने के लिए आपको हर एक दिन का टाइम टेबल बनाना होगा और उसमें हर वो जरूरी काम करने होंगे जो आपको आपके लक्ष्य तक पहुंचने में मदद करे ।

3. वारेन बफ़ेट नियम : Warren buffet rule

यह नियम आपके टाइम मैनेजमेंट के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण इसलिए इसे आप बहुत ही अच्छी तरह से समझिएगा इस नियम को समझने के लिए सबसे पहले आप अपने कामों को तीन तरह से बांट दीजिए-

  1. अनिवार्य काम ( Compulsory work)
  2. महत्वपूर्ण काम लेकिन अनिवार्य नही ( Important but not compulsory)
  3. न तो महत्वपूर्ण काम न ही अनिवार्य काम ( Neither important nor compulsory)

rule niyam

अब ऊपर बताएं गए कामों को एक उदाहरण के माध्यम से समझने की कोशिश करेंगे जैसे कि मान लीजिए एक छात्र है तो उसके लिए पढ़ाई करना अनिवार्य और यदि एक दुकानदार है तो उसके लिए सामान बेचना अनिवार्य है कहने मतलब यह है कि एक छात्र के लिए पढ़ाई अनिवार्य काम हुआ उसी प्रकार से दुकानदार के लिए सामान बेचना अनिवार्य काम है ।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 868 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

तीन पत्ती जीतने का मंत्र सिद्ध विधि, सामग्री समय और प्रयोग विधि | Teen patti jitne ka mantra
30 की उम्र के बाद महिलाओं में होता है इन 9 बीमारियों का खतरा

इसी प्रकार जैसे ब्रश करना महत्वपूर्ण है लेकिन अनिवार्य नही ऐसे ही नहाना महत्वपूर्ण है लेकिन अनिवार्य नही । ऐसे ही TV देखना ना तो अनिवार्य है ना ही महत्वपूर्ण है ।  ऊपर बताए गए उदाहरण के जरिए आपको अपने दिन के सभी कामों को इसी तरह से बाट लेना है और फिर उसके बाद सबसे पहले आपको अनिवार्य काम करने हैं उसके बाद समय बचे तो जरुरी काम करने हैं और फिर जब समय बचे तब जाके आपको जो जरूरी काम नहीं है उनको समय देना है ।

4. 20/80 सूत्र : 20/80 Formula

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

यह बहुत ही महत्वपूर्ण बिंदु है इसे आप को समझने की जरूरत है हम सभी के पास पूरे दिन में करने के लिए बहुत सारे काम होते हैं । इन कामों में 20 प्रतिशत ऐसे काम होते हैं जो 80 प्रतिशत परिणाम देते हैं । साथ ही 80 प्रतिशत ऐसे काम होते है जिनका 20 प्रतिशत ही परिणाम मिलता है । तो हम उन काम को पहले करे जिनका परिणाम ज्यादा मिले यानी 80% ,परिणाम देने वाले काम ।

sutra formula

अक्सर हम लोग ऐसा सोचते हैं कि मैंने बहुत काम किया लेकिन परिणाम नहीं मिला क्योंकि वह ऐसे काम होते हैं जिनका परिणाम 20 प्रतिशत ही मिलता है । साथ ही हम ऐसा भी सोचते है कि पहले सरल काम को कर ले उसके बाद कठिन काम को करेंगे लेकिन होता क्या है कि सरल काम को करने में ही हमारा पूरा समय चला जाता है और हम कठिन काम को छू ही नहीं पाते तो हमें ऐसा बिल्कुल नहीं करना है ।

5. समय को खरीदना सीखे : Purchase your time

आप अपने समय को खरीदना सीखे , जी हां आप अपने समय को खरीद भी सकते है । इसे आप एक उदाहरण के माध्यम से समझने का प्रयास करिए –

मान लीजिए एक व्यक्ति है जिसे ट्रेन का रिजर्वेशन चाहिए और वह स्टेशन पर जाकर घंटो लाइन लगाकर रिजर्वेशन कराता है लेकिन वही पर एक ऐसा व्यक्ति है जो स्टेशन जाने के बजाय घर पर मोबाइल से या ऑनलाइन ही अपना टिकट बुक करा लेता है ऐसे में वह अपना काफी समय बचा लेता है । इसी बचे हुए समय में वह अपना और भी बहुत जरुरी काम कर सकता है ।

time watch money

अब यहां पर पहले वाले व्यक्ति ने कुछ पैसे बचाने की चक्कर में स्टेशन पर जाकर रिजर्वेशन कराता है जबकि दूसरे वाले व्यक्ति ने ऑनलाइन रिजर्वेशन करा कर समय बचाया और उस समय में वह अपना जरुरी काम करके और भी ज्यादा रुपए कमा सकता है । तो इसे कहते हैं अपने समय को खरीदना |

6. समय बर्बादी का गुरुत्वाकर्षण नियम : Gravitational Law of Wasting Time

globe dharti gravitational

आप लोगों ने एक चीज जरूर नोटिस की होगी कि जब आप कोई जरुरी काम करने जाते हैं तो आपको अपने भाई की कॉल आ जाती है या फिर कोई आवाज लगा देता है या किसी दोस्त या रिश्तेदार का कॉल आ जाता है ऐसे में क्या होता है कि आप उस जरुरी काम को करने से भटक जाते हैं इन्हें ही हम समय बर्बादी के गुरुत्वाकर्षण का नियम कहते हैं । तो ऐसे में आप जब भी कोई जरूरी काम करने जाएं तो इन सभी लोगों और चीजों से दूर रहने का पूरा प्रयास करें ।

7. अपने काम को दूसरों को सौंपना : Delegating one’s work to others

hand haath joining

कोई भी व्यक्ति तभी महान बन पाता है जब वह अपने काम को दूसरे को सौंपना सीख जाता है क्योंकि हर काम को हर व्यक्ति खुद नहीं कर सकता । एक नॉर्मल इंसान यही सोचता है कि मैं अपना काम खुद से करूंगा क्योंकि मुझ से बेहतर यह काम कोई नहीं कर सकता लेकिन जो महान लोग होते हैं वह अपने काम को दूसरों को भी सौंप देते हैं जिससे कि उनका एक ही समय में काफी ज्यादा काम हो जाता है ।

8. परिणाम निकालना : Draw conclusions

टाइम मैनेजमेंट का सबसे आखिरी और जरूरी सूत्र यह है कि अपने समय का परिणाम निकालना । यदि आप कोई काम करते हैं और उसका कोई परिणाम नहीं निकलता है तो वह समय बर्बाद माना जाएगा । इसलिए आपका वही समय उपयोगी माना जायेगा जिसमे आपने किसी काम को किया और उसका परिणाम भी आपको मिले ।

penp paper girl

दोस्तों , ऊपर बताये गए टाइम मैनेजमेंट के 8 ऐसे सूत्र जो आपको सफलता की ऊंचाइयों तक ले जाएंगे । यदि आप इन सभी मंत्रों का पूरी ईमानदारी और लगन से पालन करेंगे तो आप अपना बहुत सारा समय बचा पाएंगे और अपने जरुरी काम को भी कर पाएंगे और तभी आगे जा के आप अपने जीवन में सफल हो सकते है ।

osir news

आज तक आप लोग अपना समय किन किन चीजों पर ज्यादा देते थे उनको नोटिस करे और उस समय को सही काम में लगाये क्योंकि किसी ने क्या खूब कहा है “टाइम इज मनी “ लेकिन इसका सही मतलब तभी निकलेगा जब आप इन आठो सूत्रों को फॉलो ( पालन) करेंगे । ऐसी ही और जानकारी के लिए हमारे साथ  जुड़े रहिये |

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

जाने अथाह धन कैसे प्राप्त करे? 20 उपाय जाने | अपार धन प्राप्ति के उपाय | Dhan prapti ke achuk upay
मोहिनी मंत्र फोटो से सम्मोहन : फोटो से वशीकरण कैसे करे?
गणेश कुंजी मंत्र : जप विधि और गणेश मंत्र के लाभ | Ganesh kunji Mantra
काली मिसाइल सिस्टम क्या है ? सुखोई विमान का क्या कार्य है ? Kali missile system
अगर पत्नी परेशान करे तो क्या करे ? वजह और उपाय जाने ! What to do if wife tortures in hindi ?
★ सम्बंधित लेख ★