जाने इंजेक्शन का नाम और टाइफाइड बुखार में कितने इंजेक्शन लगते हैं ? | Typhoid me kitne injection lagte hai

टाइफाइड बुखार में कितने इंजेक्शन लगते हैं Typhoid me kitne injection lagte hai : हेलो दोस्तों नमस्कार आज मैं आप लोगों को इस लेख के माध्यम से टाइफाइड बुखार में कितने इंजेक्शन लगते हैं इसके विषय में संपूर्ण जानकारी प्रदान करूंगी. क्योंकि टाइफाइड एक बहुत ही गंभीर बीमारी मानी गई है जो कि साल्मोनेला एन्टेरिका सेरोटाइप टाइफी बैक्टीरिया से होता है और यह बैक्टीरिया तभी पनपता है जब आप दूषित पानी तथा उसी पानी से बने भोजन को ग्रहण करते हैं.

टाइफाइड बुखार में कितने इंजेक्शन लगते हैं Typhoid me kitne injection lagte hai

इसलिए टाइफाइड बचाव के लिए सबसे आवश्यक स्वच्छता मानी गई है जिसके लिए खास तौर से आप अपने आसपास के वातावरण तथा शौचालय के बाद हाथ को साबुन से अच्छी तरह से धोने के बाद भोजन करना आवश्यक बताया गया है.

क्योंकि टाइफाइड बुखार में मरीज को लगातार सिरदर्द जी मिचलाना खाना ना अच्छा लगना मांसपेशियों में दर्द, चलने में परेशानी, थकान, कमजोरी, दस्त, नींद आना ऐसी कई समस्याओं से गुजरना पड़ता है. इसीलिए टाइफाइड का समय रहते इलाज करवाना बेहद आवश्यक है नहीं, तो व्यक्ति को कमजोरी की समस्या हो जाती है और जब किसी व्यक्ति को कमजोरी आ जाती है, तो कमजोरी की वजह से उस व्यक्ति को अन्य बीमारियां अपनी चपेट में ले लेते हैं.

इसीलिए आज हम टाइफाइड बुखार की हर एक परेशानी को ध्यान में रखते हुए टाइफाइड में लगने वाले सभी प्रकार के इंजेक्शन के नाम और इन इंजेक्शन से संबंधित अन्य विषय जानकारी भी बताएंगे जैसे कि टाइफाइड में दिए जाने वाले इंजेक्शन कितने दिनों तक टाइफाइड मरीज को दिए जाते हैं और इन इंजेक्शन के दौरान कौन-कौन सी चीजों का परहेज करना बताया जाता है.

क्योंकि टाइफाइड में जब इंजेक्शन लगाए जाते हैं तो टाइफाइड मरीज को कुछ ऐसे परहेज करना आवश्यक बताया जाता है नहीं तो फिर इंजेक्शन काम नहीं करते हैं इसीलिए अगर आपको भी टाइफाइड बुखार है और आपको डॉक्टर ने इंजेक्शन लगाने के विषय में बताया है या फिर आप इंजेक्शन लगवाने की विषय में सोच रहे हैं तो उससे पहले इस लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़ें.

आइए जान लेते हैं टाइफाइड में लगने वाले इंजेक्शन से संबंधित जानकारी के विषय में


टाइफाइड बुखार में कितने इंजेक्शन लगते हैं ? | Typhoid me kitne injection lagte hai ?

thermometerfever bukhar febris

हेल्थ केयर डॉक्टर के अनुसार टाइफाइड बुखार में दो प्रकार के टीके लगते हैं जिनकी जानकारी यह है  :

1. पहला टीका निष्क्रिय(मृत) टाइफाइड टीका

  • यह टीका निष्क्रिय(मृत) होता है, जो टाइफाइड मरीज को शॉर्ट( इंजेक्शन) के रूप में लगाया जाता है.
  • इस टीकाकरण से टाइफाइड मरीज को एक ही खुराक में टाइफाइड बुखार में आराम महसूस होने लगता है.
  • इस टीके को 2 साल तक कम बच्चे को नहीं लगाना चाहिए.
  • टाइफाइड के उन मरीजों को भी यह टीका नहीं देना चाहिए जिन्हें टीकाकरण से किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या हो जाती है.

2. दूसरा टीका जीवित टाइफाइड टीका

  • दूसरे टीके के रूप में टाइफाइड मरीज को जीवित अल्पीकृत टीका होता है इसे टाइफाइड मरीज को मुख के द्वारा दिया जाता है.
  • इस टीकाकरण को चार खुराक लेना होता है जिसे सप्ताह में 1 दिन छोड़कर दूसरे दिन लिया जाता है.
  • 1 दिन में एक कैप्सूल पानी के साथ खाना खाने के एक घंटा पहले लिया जाता है कैप्सूल को कुचलना नहीं है सिर्फ पानी के माध्यम से निकलना है.
  • इस टीके को अन्य टिका के साथ मिला कर दिया जाता है.
  • जीवित टीकाकरण को 6 वर्ष के कम उम्र के बच्चों को नहीं देना चाहिए.
  • जिस मरीज को पूर्व में दी गई खुराक से गंभीर प्रतिक्रिया हो उसे भी यह इंजेक्शन नहीं देना चाहिए, साथ में जिन लोगों को इस इंजेक्शन से किसी भी प्रकार के एलर्जी हुई हो उन्हें भी यह इंजेक्शन नहीं देना चाहिए.

इन दोनों के टीका के अलावा अन्य इंजेक्शन भी टाइफाइड के लिए फायदेमंद होते हैं जैसे,

टाइफाइड बुखार के इंजेक्शन का नाम | typhoid fever ka injection ka naam

1. Ceftriaxone Injection

Ceftriaxone Injection बैक्टीरिया को मारने का कार्य करता है, यह रोगी को इंजेक्शन के रूप में दिया जाता है सेफ्ट्रियक्सोने (Ceftriaxone) का उपयोग लाइम डिजीज के उपचार के लिए भी किया जाता है, क्योंकि यह इंजेक्शन एंटीबायोटिक दवाओं से संबंधित है, जो बैक्टीरिया को मारने का कार्य करता है इसीलिए यह इंजेक्शन टाइफाइड बुखार के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होता है.

Ceftriaxone Injection

लेकिन इस इंजेक्शन को आप डॉक्टर की सलाह के मुताबिक ही ले और फिर डॉक्टर आपको बताएंगे इस इंजेक्शन को आपको कितने दिन कितने बार कैसे देना है क्योंकि हर एक मरीज की अवस्था अलग-अलग होती है इसीलिए इसमें यह नहीं बताया जा सकता है कि आपको कितने दिन लग सकता है ? यह इंजेक्शन मरीज के नसों में लगाया जाता है कभी-कभी यह मांसपेशियों में भी लगा दिया जाता है.

आपको इस इंजेक्शन को लगाने के दौरान कुछ सावधानियां बरतने की आवश्यकता है जैसे कि सबसे पहले आप पता करें कि आपको इस इंजेक्शन की आवश्यकता है या नहीं या फिर आपको इस इंजेक्शन से किसी प्रकार की परेशानी तो नहीं हो रही है. क्योंकि कई लोग अन्य बीमारी से संबंधित दवा भी सेवन में लेते रहते हैं इसीलिए अगर डॉक्टर आपको यह इंजेक्शन देने के लिए बोल रहे हैं तो आप डॉक्टर से बोल दें अगर आप कोई अन्य दवा ले रहे हो तो ताकि आपको उसी हिसाब से डॉक्टर इंजेक्शन की खुराक दें.

2. Paracetamol injection

Paracetamol injection टाइफाइड बुखार के लिए काफी अच्छा इंजेक्शन माना गया है यह इंजेक्शन टाइफाइड बुखार की वजह से शरीर में होने वाले दर्द से छुटकारा दिलाता है जिसका उपयोग गठिया दर्द, आत दर्द, सिर दर्द,पीठ दर्द, आदि मामलों में यह इंजेक्शन रोगी को उसके अवस्था को देखकर दिया जाता है. टाइफाइड में यह इंजेक्शन 100ML 8 years के ऊपर वाले व्यक्ति को दिया जाता है.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 872 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

व्यापार में सफलता हेतु लाल किताब व्यापार में उन्नति के उपाय | Business badhane ke upay lal kitab
घर में धूपबत्ती जलाने के क्या फायदे है ? Ghar me dhoop jalane ke fayde ?

paracetamol injection

Paracetamol injection के कोई नुकसान नहीं पाए गए हैं. इस इंजेक्शन को गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी टाइफाइड बुखार में लगवा सकती हैं. लेकिन हर मरीज की अवस्था अलग-अलग होती है. इसीलिए यह इंजेक्शन अगर किसी को रिएक्शन करेगा तो उस व्यक्ति को जी मिचलाना उल्टी होना शरीर पर लाल चकत्ते पडने जैसे साइड इफेक्ट नजर आएंगे.

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

ऐसे में आप अपने डॉक्टर से तुरंत सलाह करें और इस इंजेक्शन के साइड इफेक्ट अपने डॉक्टर को बताएं. बाकी यह इंजेक्शन टाइफाइड बुखार के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल में लिया जाने वाला इंजेक्शन है जिसके एक हफ्ते तक के इस्तेमाल से टाइफाइड बुखार पूरी तरह से ठीक हो जाता है.

3. Tramadol injection

Tramadol injection का उपयोग खास करके शरीर में दर्द को कम करने के लिए मरीज को दिया जाता है, ऐसे में यह इंजेक्शन टाइफाइड मरीज को उस अवस्था में दिया जाता है जब टाइफाइड मरीज के शरीर में बेहद ज्यादा जकड़न और दर्द का अनुभव होता है क्योंकि टाइफाइड बुखार में मांसपेशियों में काफी ज्यादा दर्द होता है जिससे Tramadol injection इंजेक्शन से कंट्रोल में किया जाता है.

Tramadol injection

हालांकि ट्रामाडोल इंजेक्शन के कोई साइड इफेक्ट नहीं पाए गए हैं लेकिन अगर आपको इस इंजेक्शन से किसी भी प्रकार के साइड इफेक्ट नजर आ रहे हैं तो उसके विषय में अपने डॉक्टर से बताएं और अगर आप टाइफाइड के अलावा अन्य किसी बीमारी की दवा ले रहे हैं तो उसके विषय में भी अपने डॉक्टर से अवश्य बताएं. ट्रामाडोल इंजेक्शन आपको कितने दिन तक लग सकता है इसकी जानकारी आपको डॉक्टर से ही प्राप्त होगी.

4. बायोवाक टाइपोड 25 mcg इन्जेक्शन

बायोवाक टाइपोड 25 mcg इन्जेक्शन टाइफी नामक बैक्टीरिया से उत्पन्न टाइफाइड बुखार को रोकने के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद इंजेक्शन है. लेकिन इस इंजेक्शन को टाइफाइड मरीज को खुद अपने हाथों से घर पर नहीं लगाना चाहिए इसे नर्स या फिर डॉक्टर के सलाह से लगवाना चाहिए. बायोवाक टाइपोड 25mcg इन्जेक्शन टाइफाइड मरीज को एक हफ्ते तक एक दिन छोड़कर एक दिन लगाया जाता है.

1 हफ्ते के बाद टाइफाइड बुखार इस इंजेक्शन के माध्यम से पूरी तरह से ठीक हो जाता है लेकिन आपको अगर इस इंजेक्शन को लगाने के पश्चात किसी भी प्रकार की एलर्जी या फिर रिएक्शन नजर आ रहा है तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें और इस इंजेक्शन से होने वाले नुकसान के विषय में डॉक्टर से बताएं.

लेकिन अगर आप टाइफाइड इंजेक्शन लगवाने के अलावा अन्य दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो यह इंजेक्शन लगवाने से पहले डॉक्टर से आप उन दवाओं के विषय में बता दे ताकि उसी अनुसार से डॉक्टर समझ सके कि आपको यह इंजेक्शन देना फायदेमंद होगा या नहीं.

टाइफाइड में इंजेक्शन खुराक लेने के दौरान ध्यान देने योग्य बातें

fever

अगर आप टाइफाइड बुखार में किसी भी प्रकार के इंजेक्शन की खुराक ले रहे हैं तो आपको इन बातों पर विशेष ध्यान रखना चाहिए जैसे :

  1. टाइफाइड इंजेक्शन लगवाने के बाद टाइफाइड मरीज को अधिक धूप में ज्यादा देर तक नहीं रहना चाहिए.
  2. टाइफाइड में इंजेक्शन लगवाने के दौरान डॉ आपको जो चीज परहेज करने की सलाह दे उस चीज का परहेज अवश्य करें.
  3. टाइफाइड में इंजेक्शन लगवाने के साथ-साथ स्वच्छता का विशेष ध्यान दें.
  4. टाइफाइड में इंजेक्शन लगवाने के दौरान जितना हो सके तरल पदार्थों का सेवन करें जो आपके शरीर में पानी की कमी को पूरा करते हो.
  5. टाइफाइड इंजेक्शन के दौरान डॉक्टर के द्वारा दिए गए सभी निर्देशों का पालन करें.

FAQ : टाइफाइड बुखार में कितने इंजेक्शन लगते हैं

टाइफाइड में कितने डिग्री तक बुखार चढ़ता है ?

टाइफाइड बुखार में अधिकतर मामलों में 102 104 डिग्री तक बुखार का तापमान पाया गया है.

टाइफाइड में चाय पीना चाहिए या नहीं

टाइफाइड बुखार में हर्बल चाय काली चाय पीना के लिए फायदेमंद बताया गया है.

टाइफाइड कैसे होता है ?

टाइफाइड दूषित पानी को पीने तथा उसी से बने भोजन को करने से होता है.

निष्कर्ष

तो दोस्तों जैसा कि आज हमने इस लेख में आप सभी लोगों को टाइफाइड में कितने इंजेक्शन लगते हैं इसके विषय में बताया है अगर आप लोगों ने इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आप लोग टाइफाइड में लगने वाले इंजेक्शन से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त हो गई होगी .

osir news

तो दोस्तों हम उम्मीद करते हैं आप लोगों को हमारे द्वारा बताइ जानकारी पसंद आई होगी और उपयोगी भी साबित हुई होगी अगर आप लोगों को यह जानकारी पसंद आई है तो इस जानकारी को अन्य लोगों के साथ शेयर कीजिए ताकि वह लोग भी टाइफाइड में लगने वाले इंजेक्शन से संबंधित जानकारी को प्राप्त कर सकें .

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

शादी ना करने के फायदे नुकसान क्या होते हैं? What are the advantages and disadvantages of not getting married in hindi?
ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए योग : स्तन साइज़ बढ़ाने के लिए 5 खाश योगासन और छोटे स्तन के कारण
विदेश में नौकरी पाने के उपाय और नियम : जॉब वीजा कैसे बनवाये | Videsh Mein Naukari pane ke upay
क्या तुलसी का पौधा किसी को देना चाहिए या नहीं ? फायदा या नुकसान | Tulsi ka paudha kisi ko dena chahiye ya nahi ?
जाने वशीकरण के 21 आसान टोटके : वशीकरण के टोटके | vashikaran ke totke
★ सम्बंधित लेख ★