हवन करने करने की सम्पूर्ण विधि,मंत्र,सामग्री एवं महत्व जाने | हवन करने की विधि एवं मंत्र

Havan karne ki vidhi evam mantra नमस्कार दोस्तों जैसा कि हम जानते हैं किसी भी शुभ कार्य से पहले हवन करना अति आवश्यक माना गया है हवन करने से नकारात्मक ऊर्जा समाप्त हो जाती है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है.

हवन करने की विधि और उसके मंत्र साधारण हवन करने की विधि हवन करने की सामग्री havan karne ki sampurn vidhi hawan karne ki saral vidhi

जो हमारे जीवन के लिए लाभकारी साबित होता है हिंदू धर्म में किसी भी कार्य को सफलतापूर्वक संपन्न करने के लिए शास्त्रों के मुताबिक हवन करना उचित बताया गया है किसी भी पूजा के बाद हवन करना जरूरी माना जाता है.

क्योंकि इससे वातावरण में पवित्रता आती है यदि आप हवन की संपूर्ण प्रक्रिया जानना चाहते हैं तो आर्टिकल को पूरा पढ़ें हमने इस आर्टिकल में हवन में लगने वाला पूरा सामान और हवन करने की विधि एवं मंत्रों को विस्तार पूर्वक बताया है.

जिसके द्वारा आप आसानी से हवन करने में सक्षम हो सकते हैं तो आइए जानते हैं कि हवन करने की विधि एवं मंत्र क्या है?

हवन के लिए आवश्यक सामग्री

जब कोई शुभ कार्य किया जाता है तब उस कार्य से पहले हवन अवश्य किया जाता है कार्य को सफलतापूर्वक होने के लिए हवन करना अति आवश्यक है हवन में बहुत सारी सामग्री का इस्तेमाल होता है.

जैसे हवन कुंड, सूखी लकड़ियां, कलावा, सूखा नारियल का गोला, लाल रंग का कपड़ा, अश्वगंधा, मुलेठी की जड़, नीम, बेल, पीपल की छाल, कपूर, चावल, लोबान, गूगल ,जौ, इलायची और शक्कर आदि हवन सामग्री होती है जो हवन प्रक्रिया को सफल बनाने के लिए पर्याप्त होती है.


हवन करने की विधि

हवन करने के लिए सबसे पहले एक साफ सुथरा पूजा स्थल चुने और फिर वहां पर हवन कुंड को लाकर रख दे उसके पश्चात हवन से संबंधित सभी सामग्रियां वहां पर व्यवस्थित कर दें जिससे कि हवन करते वक्त कोई समस्या ना आए.

हवन कुंड में सूखी लकड़ियां रखकर कपूर की मदद से अग्नि प्रज्वलित कर दे इसके पश्चात मंत्रों के उच्चारण के साथ आप हवन की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं हवन करने के लिए सभी आवश्यक मंत्र नीचे दिए गए हैं.

जिनके उच्चारण के साथ हवन सामग्री की आहुति हवन कुंड में करते रहना है इस प्रकार आप सफलतापूर्वक हवन संपन्न कर सकते हैं और सुख समृद्धि की ओर पहला कदम बढ़ा सकते हैं.

हवन करने के मंत्र

  1. ओम शिवाय नम: स्वाहा।।
  2. ओम ब्रह्माय नम: स्वाहा।।
  3. ओम कुल देवताय नम: स्वाहा।।
  4. ओम आग्नेय नम: स्वाहा।।
  5. ओम विष्णुवे नम: स्वाहा।।
  6. ओम स्थान देवताय नम: स्वाहा।।
  7. ओम गणेशाय नम: स्वाहा।।
  8. ओम गौरियाय नम: स्वाहा।।
  9. ओम नवग्रहाय नम: स्वाहा।।
  10. ओम भैरवाय नम: स्वाहा।।
  11. ओम दुर्गाय नम: स्वाहा।।
  12. ओम महाकालिकाय नम: स्वाहा।।
  13. ओम हनुमते नम: स्वाहा।।
  14. ओम जयंती मंगलाकाली, भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवाधात्री स्वाहा।।
  15. स्वधा नमस्तुति स्वाहा।।
  16. ओम गुरुर्ब्रह्मा, गुरुर्विष्णु, गुरुर्देवा महेश्वर: गुरु साक्षात् परब्रह्मा तस्मै श्री गुरुवे नम: स्वाहा।।
  17. ओम ब्रह्मा मुरारी त्रिपुरांतकारी भानु: शशि भूमि सुतो बुधश्च: गुरुश्च शुक्र शनि राहु केतव सर्वे ग्रहा शांति करा भवंतु स्वाहा।।
  18. ओम शरणागत दीनार्त परित्राण परायणे, सर्व स्थार्ति हरे देवि नारायणी नमस्तुते।।
( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

अब सूखे नारियल में लाल वस्त्र या कलावा बांधकर पान, बतासा सुपारी, लौंग, खीर ,पूरी आदि उसके शीर्ष पर स्थापित करें और फिर उसको हवन कुंड में बीचो बीच रख देना चाहिए अब जो भी हवन सामग्री बची है उसे इस मंत्र के साथ एक बार में आहुति दें.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 582 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

सम्पूर्ण कष्ट निवारक मंगलवार मंत्र जाप विधि और लाभ | मंगलवार मंत्र : Mangalwar mantra pdf
टोटका क्या होता है ? टोटका किसे कहते हैं ? टोटका करने के फायदे और नुक्सान | totka kya hai : Totka kaise karte hai

ओम पूर्णमद: पूर्णमिदम् पुर्णात पूण्य मुदच्यते, पुणस्य पूर्णमादाय पूर्णमेल विसिस्यते स्वाहा।।

हवन का महत्व

शास्त्रों में हवन का विशेष महत्व बताया गया है और हम उसी महत्वता के साथ इन परंपराओं को आगे बढ़ाते हुए आज भी हर शुभ कार्य के पश्चात या प्रारंभ में हवन करवाना अति आवश्यक माना गया है हिंदू धर्म में किसी भी पूजा के दौरान हवन करना आवश्यक माना जाता है.

हवन करने से घर के वातावरण में शुद्धिकरण होता है धार्मिक प्रतिष्ठा बढ़ती है हवन सामग्री के निर्वहन से औषधि गुण उत्पन्न होते हैं जो कई रोगों के निवारण में सहायक होते हैं धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक हवन एक वैदिक कर्मकांड है.

किसी भी शुभ कार्य को सफलतापूर्वक करने के लिए हवन करवाना बहुत आवश्यक होता है ऐसा करने से वह कार्य बिना किसी रूकावट के आसानी पूर्वक पूर्ण हो जाता है ऐसा माना जाता है की हवन करना सभी समस्याओं का निवारण होता है.

FAQ : हवन करने की विधि एवं मंत्र

Q. घर में स्वयं हवन कैसे करें?

Ans. हवन करने के लिए आपको एक स्वच्छ स्थल चुनना है और वहां पर एक हवन कुंड रखकर उसमें अग्नि प्रज्वलित करके मंत्रोच्चार के साथ हवन सामग्री की आहुति देकर हवन को प्रारंभ करना है.

Q. हवन करते समय कौन सा मंत्र बोलना चाहिए?

Ans. हवन करते वक्त इस मंत्र को बोलना अति आवश्यक माना गया है.
।।ओम गुरुर्ब्रह्मा, गुरुर्विष्णु, गुरुर्देवा महेश्वर: गुरु साक्षात् परब्रह्मा तस्मै श्री गुरुवे नम: स्वाहा। ओम शरणागत दीनार्त परित्राण परायणे, सर्व स्थार्ति हरे देवि नारायणी नमस्तुते। ओम पूर्णमद: पूर्णमिदम् पुर्णात पूण्य मुदच्यते, पुणस्य पूर्णमादाय पूर्णमेल विसिस्यते स्वाहा।।

Q. हवन कितने प्रकार के होते हैं?

Ans. शास्त्रों के मुताबिक हवन पांच प्रकार की होते हैं हिंदू पौराणिक ग्रंथों में इसका उल्लेख किया गया है.

निष्कर्ष | Conclusion

हम आशा करते हैं कि आपने हवन करने की विधि एवं मंत्र अच्छे से जान लिया होगा और हम उम्मीद करते हैं कि अब आपको सफलतापूर्वक हवन करने में कोई समस्या नहीं आएगी यदि आपको हमारी जानकारी पसंद आई हो.

osir news

तो इसे अपने दोस्तों और जानने वाले लोगों के साथ अवश्य शेयर करें यदि इससे संबंधित कोई अन्य सवाल आपको पूछना है तो हमारे कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हम आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे.

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

प्रिया का फोन नंबर चाहिए ? तो इसे पढ़े प्रिया प्रकाश वेरियर का फ़ोन नंबर | Priya ka number : priya ka number kya hai
पढ़े 8 गणेश जी की कहानियां जाने गणेश भगवान की महिमा और कथा | ganesh ji ki katha
शाम को शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए या नहीं ?
सुबह दुकान खोलने का सही तरीका इस मंत्र में बढ़ाये ग्राहकी और मुनाफा | दुकान खोलने का तरीका : Dukan Kholne ka tarika
वीर्य को बढ़ाने के आसान 13 घरेलु नुस्खे | स्पर्म बढ़ाने के घरेलू उपाय | sperm count kaise badhaye
★ सम्बंधित लेख ★