शुक्रवार मंत्र और लाभ : जप विधि, संख्या और शुक्र बीज मंत्र | Shukrawar mantra

शुक्रवार मंत्र Shukrawar mantra : हेलो दोस्तों नमस्कार आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से शुक्रवार मंत्र के बारे में बताने वाले हैं क्या आप लोग जानते हैं कि शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है और वैभव लक्ष्मी की पूजा भी की जाती है.

क्योंकि माता लक्ष्मी को शुक्रवार का दिन अत्यंत प्रिय है इसीलिए इस दिन वैभव लक्ष्मी के व्रत और पूजन का भी विधान माना जाता है अगर कोई व्यक्ति शुक्रवार के दिन पूरे विधि विधान पूर्वक वैभव लक्ष्मी का व्रत रखता है.

शुक्रवार मंत्र, शुक्रवार मंत्र जाप, शुक्र मंत्र जाप विधि, शुक्र मंत्र फॉर लव मैरिज, शुक्र मंत्र साधना, शुक्र मंत्र जप संख्या, शुक्र मंत्र जप विधि, शुक्र मंत्र के लाभ, शुक्रवार का मंत्र, शुक्रवार का मंत्र जाप, shukrawar ka mantra, shukrawar ke mantra, shukrawar mantra, shukrawar puja mantra, शुक्रवार मंत्र इन हिंदी, shukrawar mantra jaap, शुक्र मंत्र का जाप कब करना चाहिए, शुक्र मंत्र के फायदे, शुक्र मंत्र का जाप कैसे करें, शुक्र मंत्र का जाप कब करें, शुक्र का मंत्र, shukrawar lakshmi mantra, शुक्र मंत्र का जाप कैसे करें, shukra mantra ka jap kaise kare, shukra mantra ka jaap kab kare, shukra mantra ka jaap, shukra mantra jaap ke fayde, shukra mantra jaap vidhi, शुक्र मंत्र जाप के साम्रगी लाभ, shukra mantra jaap mala, shukra mantra jaap benefits, shukra mantra ke labh, shukrawar mantra jaap, shukra mantra jaap sankhya, शुक्रवार बीज मंत्र, शुक्र बीज मंत्र के फायदे, शुक्र बीज मंत्र, शुक्र बीज मंत्र जाप, शुक्र बीज मंत्र सुनाओ, शुक्रवार का बीज मंत्र, शुक्र का बीज मंत्र, शुक्र का बीज मंत्र क्या है, शुक्र ग्रह बीज मंत्र, shukrawar beej mantra, shukrawar ka beej mantra, shukrawar ka mantra, shukra beej mantra tamil, shukra beej mantra ke fayde,

तो उसे धन संबंधित कोई भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है क्योंकि शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी का श्रद्धा पूर्ण पूजा करने से धन संपत्ति में वृद्धि होती है और घर में सुख समृद्धि का आगमन भी होता है.

इसीलिए आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से शुक्रवार मंत्र के बारे में बताएंगे जिनका प्रयोग करके आप अपने घर में धन-संपत्ति की वृद्धि कर सकते हैं और अपने घर में सुख समृद्धि का आगमन भी करवा सकते हैं.

तो आइए जानते हैं कुछ ऐसे मंत्रों के बारे में जिनका जॉब करने से आपको माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं.

शुक्रवार मंत्र | Shukrawar mantra

ॐ श्री महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णु पत्न्यै च धीमहि तन्नो लक्ष्मी प्रचोदयात् ॐ ।।


अगर आप लोग शुक्र दोष को मिटाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए शुक्रवार के दिन इस मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए.

शुक्रवार मंत्र जाप विधि | Shukra mantra jaap vidhi

अगर आप लोग शुक्रवार मंत्र का जाप करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान आदि से निश्चिंत होने के बाद स्वच्छ कपड़े धारण कर लेने हैं.

लक्ष्मी Laxmi

 

उसके बाद अपने आराध्य देव को हाथ जोड़कर प्रणाम कर लेना है उसके बाद शुक्र ग्रह को प्रणाम कर लेना है ऐसा करने के बाद आपको कुछ समय तक ध्यान करके इस मंत्र का जाप करना है जो हमने आपको ऊपर बता दिया है.

शुक्रवार मंत्र जप संख्या

जप संख्या – 1,25,000

शुक्रवार मंत्र के लाभ | Shukrawar mantra ke labh

  1. शुक्रवार के दिन भक्ति देवी दुर्गा के मंत्र का जाप करता है उसे देवी बरगा हमेशा अपना आशीर्वाद प्रदान करती है क्योंकि वह भी भगत सदा ही अपने भक्तों को अपनी गोद में संजोये रहती है.
  2. इसीलिए जो भी शुक्रवार के दिन माताजी के इन मंत्रों का 1,25,000 जाप करता है माँ दुर्गा उस व्यक्ति को वाक शक्ति प्रदान करती है. 
  3. इसीलिए इस मंत्र का जाप करने के बावजूद हर 72 वे दिन की अवधि में एक हवन करवाया जाता है.

शुक्र मंत्र का जाप कैसे करें ? | Shukra mantra ka jap kaise kare ?

  • कोई व्यक्ति शुक्र मंत्र का जाप करना चाहता है तो उसके लिए उस व्यक्ति को अपने घर पर शुक्र यंत्र खरीद कर लाना है.
  • उसके बाद अपने घर पर पूजा वाले स्थान पर चंदन की मदद से वहां पर रंगोली बनानी है उसके बाद उस रंगोली को सफेद पढ़ लिए से ढक देना है और उसके ऊपर यंत्र की स्थापना कर देनी है.
  • फिर उसके बाद में यंत्र पर चंदन का लेप लगाना है और हल्दी सिंदूर भी लगाना है फिर उसके बाद उस पर कुछ फूल अर्पित करने मोमबत्ती और अगरबत्ती भी जला दें.
  • उसके बाद चटाई पर बैठकर एक माला की मदद से मंत्र को दोहराना शुरू कर दें.
  • अगर आप लोग शुक्रवार के दिन इस मंत्र का जाप शुरू करते हैं तो यह बहुत ही अच्छा दिन माना जाता है क्योंकि शुक्रवार के दिन भगवान शुक्र का दिन माना जाता है.

शुक्रवार के दिन क्या खरीदना चाहिये ?

क्या आप जानते हैं कि शुक्रवार के दिन कौन सी वस्तु खरीदनी चाहिए और कौन सी वस्तु नहीं खरीदनी चाहिए वैसे क्या आप लोग जानते हैं कि शुक्र देव को खुशबूदार कीजिए अत्यंत प्रिय थी अगर आप अपने वैवाहिक जीवन में काफी ज्यादा उतार-चढ़ाव देखते हैं.

महालक्ष्मी

तो आपको शुक्रवार के दिन इत्र खरीद कर लाना चाहिए पति और पत्नी दोनों को लगा देना चाहिए अगर कोई व्यक्ति या उपाय करता है तो उसके और उसके पति के बीच की दूरियां अधिकतर कम हो जाती हैं और उनका जीवन सुखमय हो जाता है.

शुक्र बीज मंत्र | Shukrawar beej mantra

शुक्रवार के दिन आपको इन मंत्रों का जाप अवश्य करना चाहिए क्योंकि इन मंत्रों का जाप करने से आपको धन की कमी कभी भी नहीं होती है वैसे तो माता लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है उसी प्रकार शुक्रवार का दिन धन, वैभव , समृद्धि की देवी माता लक्ष्मी का होता है.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 872 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

काली माता के व्रत में क्या खाना चाहिए ? What to eat in Kali Mata vrat?
पत्नी को दूसरे से प्यार क्यों होता है : पत्नी अपने पति को धोखा क्यों देती है ? | इन 8 वजह से पत्नियां देती है अपने पति को धोखा

इस दिन अगर कोई व्यक्ति पूरे विधि विधान पूर्वक माता लक्ष्मी की पूजा करता है तो उसे धन-धान्य और वैभव की प्राप्ति होती है इस दिन माता लक्ष्मी अपने भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण कर देती हैं.

उसी प्रकार आज हमने आप लोगों को कुछ ऐसे मंत्र बताए हैं जिनका जाप करने से आपको धन की कमी कभी भी नहीं होगी उसी प्रकार हमने आपको इसमें कुछ संतोषी माता की पूजन के समय जो मंत्र का प्रयोग किया जाता है.

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

उनके बारे में बताया है और वह बहुत ही शुभ माने जाते हैं तो आइए जानते हैं कि क्या है वह मंत्र

1. मां लक्ष्मी का बीज मंत्र

ऊँ श्रींह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ऊँ महालक्ष्मी नम:।

2. धन समस्या दूर करने का मंत्र

ऊँ ह्रीं श्री क्रीं क्लीं श्री लक्ष्मी मम गृहे धन पूरये, धन पूरये, चिंताएं दूरये-दूरये स्वाहा:।

3. श्री लक्ष्मी महामंत्र

ऊँ श्रीं ल्कीं महालक्ष्मी महालक्ष्मी एह्येहि सर्व सौभाग्यं देहि मे स्वाहा।।

4. सर्व मनोकामना पूर्ति लक्ष्मी मंत्र

श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं कमलवासिन्यै स्वाहा।

5. सफलता के लिए लक्ष्मी मंत्र

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्री सिद्ध लक्ष्म्यै नम:

6. सुखी दांपत्य के लिए लक्ष्मी मंत्र

लक्ष्मी नारायण नम:

7. सुख-समृद्धि के लिए मां लक्ष्मी का मंत्र

या रक्ताम्बुजवासिनी विलासिनी चण्डांशु तेजस्विनी।
या रक्ता रुधिराम्बरा हरिसखी या श्री मनोल्हादिनी॥
या रत्नाकरमन्थनात्प्रगटिता विष्णोस्वया गेहिनी।
सा मां पातु मनोरमा भगवती लक्ष्मीश्च पद्मावती ॥

शुक्र बीज मंत्र के जाप के लाभ | Shukrawar beej mantra ke jaap ke labh

लक्ष्मी Laxmi

  • वैसे अगर कोई व्यक्ति शुक्रवार के दिन इन मंत्र का जाप करता है तो उस व्यक्ति के जीवन में विवाह और संतान प्राप्ति में आने वाली बाधाएं दूर हो जाती हैं.
  • किसी जातक के जीवन में धन का सौभाग्य नहीं प्राप्त होता है तो उस व्यक्ति को शुक्रवार के मंत्र जाप से धन का सौभाग्य प्राप्त हो जाएगा.
  • अगर कोई महिला इस मंत्र का जाप निरंतर करती है और रोज करती है तो उस महिला को सौन्दर्यात्मक आकर्षण की प्राप्ति होती है
  • शुक्रवार के दिन इन मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति को शांति तथा समृद्धि प्राप्त होती है.
  • अगर आपके दुश्मनों के साथ विरोधियों के साथ मुकदमे चल रहे हैं या फिर उनके साथ वाद-विवाद की समस्या है तो उस समस्या से आप जल्द ही मुक्त हो जाएंगे.
  • अगर किसी भी व्यक्ति की कुंडली में शुक्र के नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं तो वह भी दूर हो जाएंगे और व्यक्ति को व्यवसाय में वृद्धि भी होगी.
  • शुक्रवार के इस मंत्र का जाप करने से महिला की दूसरी व्यक्ति की ओर आकर्षण बढ़ता है.
  • इस मंत्र का जाप करने से विपत्ति बाधाएं दूर हो जाती हैं व्यक्ति का जीवन आनंदमय हो जाता है.

FAQ : शुक्रवार मंत्र

शुक्र का जाप कब करना चाहिए?

शुक्र मंत्र का जाप करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए शुक्रवार के दिन सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान आदि के संपन्न होने के बाद स्वच्छ वस्त्र धारण कर लेना है के बाद आपको अपने इष्ट देव को प्रणाम करना है इसके बाद शुक्र को प्रणाम करना है उसके बाद शुक्र मंत्र का जाप ध्यान पूर्वक करना है.

शुक्र के लिए कौन सा मंत्र है?

आपको कैसे पता चलेगा कि शुक्र अशुभ है या शुभ?

अगर आप जानना चाहते हैं कि शुभ है या अशुभ है तो आज हम आप ही ने तो बता दीजिए किसी से प्राकृतिक लाभ के रूप में देखा जाता है. सभी ग्रहों पर चंद्रमा और बुध की शुभता निर्भर करती है यदि कोई व्यक्ति तू भी योग कर रहा है तो उसके लाभ में भी बदलाव आएगा अपने पापों को जोड़ रहे है तो पाप के रूप में व्यवहार करेंगे इसलिए उन्हें ना तो शुभ माना जाता है और ना ही अशुभ माना जाता है.

निष्कर्ष

आज हमने आप लोगों को तकलीफ के माध्यम से बताया कि शुक्रवार मंत्र कौन से हैं अगर आप लोगों से माता लक्ष्मी की कृपा को प्राप्त करना है और धन की समस्या से दूर होना है तो आपको इसके लिए शुक्र मंत्र का जाप करना चाहिए.

तो उसी प्रकार आप हमने आप लोगों को इस मंत्र के द्वारा धन प्राप्ति के उपाय भी बताए हैं उनके अलग-अलग मंत्र दिए हैं इनके द्वारा आप उस धन को प्राप्त कर सकते हैं अगर आपने हमारे इस लेख को अच्छे से पढ़ा है.

osir news

तो आपको इन मंत्रों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी उम्मीद करते हैं हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित हुई होगी.

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

तुलसी की पूजा कैसे करें : सुख समृद्धि हेतु तुलसी जी कि पूजा विधी और आरती
पति-पत्नी के रिश्ते को मजबूत कैसे बनाएं ? How to strengthen husband-wife relationship?
अध्यात्म का अर्थ और 10 नियम : आनंदपूर्ण अध्यात्मिक जीवन की शुरुआत कैसे करे? | What is spirituality : adhyatm ki suruaat kaise kare
5 टिप्स- लड़की या गर्लफ्रेंड को शादी के लिए कैसे राजी करें / मनाएं ? how to persuade girl or girlfriend to marry in hindi
रात को पपीता खाने के 5 फायदे : बेहतर फायदे के लिये पपीता खाने का सही टाइम | पपीता कब खाना चाहिये ?
★ सम्बंधित लेख ★