श्री स्वामी समर्थ मंत्र लाभ : श्री स्वामी समर्थ नाम का अर्थ और उनके विचार जाने | Sri swami samarth mantra

श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ : प्रणाम गुरुजनों आज हम आप लोगों को श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ बताएंगे अगर आप रोजाना नियमित रूप से इस मंत्र का जाप करते हैं तो आपको काफी प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे इस मंत्र का जाप करने से आपके शरीर में एक नई ऊर्जा का संचालन होगा व्यक्ति को स्वास्थ्य लाभ भी प्राप्त होगा और व्यक्ति मानसिक विकारों से दूर हो जाएगा। इस मंत्र के जाप से आपके मन और मस्तिष्क को शांति मिलती है यह मंत्र सभी प्रकार की शक्तियों को प्रदान करता है.

श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ मराठी,, श्री स्वामी समर्थ नामस्मरण,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र 108 वेळा,, श्री स्वामी समर्थ जप 108 वेळा,, श्री स्वामी समर्थ धुन,, श्री स्वामी समर्थ रिंगटोन,, स्वामी समर्थ की जीवनी,, Swami samarth kaun hai,, दत्ताचे अवतार किती,, अक्कलकोट इतिहास,, Akkalkot,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र,, श्री स्वामी समर्थ व्हिडिओ शेअर चॅट,, श्री स्वामी समर्थ स्टेटस विडिओ,, दाजीबा सरकार अक्कलकोट,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र 108 वेळा,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ,, ओम स्वामी समर्थ मंत्र,, श्री स्वामी समर्थ नामस्मरण,, swami samarth powerful mantra,, swami samarth favorite food,, swami samarth 108 naam,, swami samarth day in week,, swami samarth powerful mantra in marathi,, shri swami samarth upasana,, Shri Swami Samarth Jap,, Swami Samarth Mantra,, Swami Samarth Jap benefits,, shri swami samarth mantra jaap,, shri swami samarth jap benefits,, shri swami samarth mantra benefits,, shri swami samarth mantra jap,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ marathi,, shri swami samarth mantra shri swami samarth mantra,, shree swami samarth mantra jaap,, श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप,, swami samarth mala mantra benefits,, benefits of rahu mantra jaap,, swami mala mantra benefits,, rahu mantra jaap time,, shri swami samarth jap kasa karava,, shree swami samarth jap in marathi,, shri swami samarth jap without music,, shri swami samarth mantra video,, shri swami samarth maharaj jap,, shree swami samarth jap benefits in marathi,, benefits of shri haldi,, shri saibaba sansthan trust life membership benefits,, swami samarth jap benefits in marathi,, swami samarth jap benefits,, shree swami samarth jap benefits,, shri swami samarth jap suresh wadkar,, shri haldi benefits,, shri swami samarth jap lava,, shri swami samarth jap mantra,, om sai ram mantra benefits,, shri swami samarth mantra anuradha paudwal,, swami samarth mantra benefits,, shree swami samarth mantra benefits,, shri swami samarth mantra in marathi,, shri swami samarth maharaj bhakti geet,, shri swami samarth mala mantra pdf,, shri swami samarth upasana in marathi,, shri swami samarth videos,, benefits of chanting shri swami samarth,, shree swami samarth mantra jap,, shree swami samarth mantra jap free download,, shree swami samarth mantra jap lava,,

लेकिन आज हम आप लोगों को श्री स्वामी समर्थ के मंत्र जाप लाभ बताएंगे इसीलिए हमारे द्वारा दिए गए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें आज हम आप लोगों को इस आर्टिकल के माध्यम से श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ बताने वाले हैं और यह भी बताएंगे कि श्री स्वामी समर्थ के विचार कौन-कौन से हैं और इसके अलावा इस टॉपिक से जुड़ी अन्य जानकारी भी देने का प्रयास करेंगे.

तो आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें इस मंत्र के बहुत से लाभ हैं अगर आप उन लाभ को उठाना चाहते हैं तो इस मंत्र के बारे में अवश्य जाने। तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

श्री स्वामी समर्थ नाम का अर्थ | Shri swami samarth naam ka arth श्री स्वामी समर्थ

षडाक्षरी स्वामी नाम ‘श्री स्वामी समर्थ’ हे महाराजांचे नाव नाही,

तर ब्रह्माण्डगस्तीय अद्वैत प्रकृती पुरुषात्मक तारक बीज मंत्र आहे.
ॐ नमः शिवाय, दूं दूर्गायै नमः,

श्री गुरुदेव दत्त हे ज्याप्रकारे षडाक्षरी तारक मंत्र आहेत,


अगदी त्याचप्रमाणे समानार्थी ‘श्री स्वामी समर्थ’ हाही सद्गुरु अनुग्रहीत तारक मंत्र आहे.
श्री म्हणजे स्वयं श्रीपादविराजित सद्गुरु भगवान दत्तात्रेय स्वामी महाराज.

स्वामी शब्दाची फोड केल्यास ‘स्वाः + मी’ अशी होते.
स्वाः म्हणजे भस्म करणे अथवा आत्म समर्पित करणे असा त्याचा अर्थ आहे आणि मी म्हणजे माझे अज्ञान,

अहं भाव, रिपु गण व ईर्ष्या.

अर्थात स्वामी म्हणजे माझा मी पणा स्वाः करा.

1. श्री

स्वयं श्रीपदाविराजीत सद्गुरु भगवान दत्तात्रेय स्वामी महाराज…!

2. स्वामी – स्वाः + मी

स्वाः म्हणजे भस्म करणे अथवा आत्म समर्पित करणे असा आहे.

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 872 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

मूलाधार जाग्रत करे इंगला पिंगला नाड़ी क्या है ? सीमन रिटेंशन क्या है ? Muladhara chakra activation in hindi
अग्नि त्राटक क्या है? अग्नि त्राटक कैसे करे ? फायदे और सावधानियाँ What & how to do fire Tratka? Benefits and precautions in hindi
( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

मी म्हणजे माझे अज्ञान, अहं भाव, रिपु गण व ईच्छ्या…!

अर्थात स्वामी म्हणजे माझा मी पणा स्वाः करा.

3. समर्थ

समर्थ म्हणजे संसाररुपी भवसागर सहज तारुण येण्यासाठी माझे स्वयंभु शिवत्व जागृत करा…!

त्यायोगे ‘श्री स्वामी समर्थ’ म्हणजे श्रीपदविराजित भगवान दत्तात्रेय स्वामी महाराज माझे मीपण भस्म करुन स्वयंभु शिव तत्व सद्गुरुकृपे अंकित करा.

श्री स्वामी समर्थ कौन थे ? | Shri swami samarth koun the ?

श्री स्वामी समर्थ

श्री स्वामी समर्थ को अक्कलकोट स्वामी के रूप में माना जाता था यह दत्तात्रेय परंपरा के आध्यात्मिक गुरु माने जाते थे और यह महाराष्ट्र और कर्नाटक के विभिन्न राज्यों में एक व्यापारी के रूप में रहते थे वह 29 वी सदी के दौरान रहते थे।

श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ | Shri swami samarth mantra labh

अगर आप श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ को जानना चाहते हैं तो हमारे द्वारा बताए गए नीचे बिंदुओं को जरूर पढ़ें।

  1. जो व्यक्ति श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करता है उसे मनुष्य का स्वास्थ्य हमेशा अच्छा रहता है उस व्यक्ति को किसी भी प्रकार की बीमारियां नहीं होती है।
  2. श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करने से मानसिक शांति मिलती है और उस व्यक्ति का दिमाग ठंडा और शांत रहता है इसीलिए श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप अवश्य करना चाहिए।
  3. श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करने से लोगों का गुस्सा शांत हो जाता है जिस भी व्यक्ति को अधिक गुस्सा आता है उसे श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करना चाहिए और इस मंत्र का जाप आपको नियमित रूप से करना है।
  4. अगर कोई व्यक्ति अपने जीवन में सफलता को प्राप्त करना चाहता है तो उसे श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करना चाहिए।
  5. अगर किसी भी बच्चे की पढ़ाई अच्छी नहीं है और वह अपनी पढ़ाई को सुधारना चाहता है तो श्री स्वामी समर्थन मंत्र का जाप करना उसके लिए उचित होता है।
  6. श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करने से मनुष्य के जीवन में परिवर्तन आता है और उसका जीवन सुखमय बन जाता है।
  7. इस मंत्र का जाप करने से हम अन्य लोगों से मिलने वाली निराशा तथा उसके धोखे से बच सकते हैं।
  8. अगर आप अधिक परेशान है और कष्टों से मुक्ति पाना चाहते हैं तो श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करने से आप सभी कष्टों से मुक्त हो जाएंगे और आपके जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाएंगे।
  9. अगर कोई व्यक्ति अपने जीवन को सुखी बनाना चाहता है और अपने जीवन में हमेशा खुश रहना चाहता है तो उसके लिए उसे श्री स्वामी समर्थ मंत्र का जाप करना चाहिए क्योंकि यह एक बहुत ही प्रभावशाली मंत्र है इसे नियमित रूप से करने से मनुष्य हमेशा सारे दुखों से दूर रहता है।

श्री स्वामी समर्थ विचार | श्री स्वामी समर्थ सुविचार

श्री स्वामी समर्थ

श्री स्वामी समर्थ महाराष्ट्र के अक्कलकोट संप्रदाय के महान संत थे. श्री स्वामी समर्थ 19वीं शताब्दी के महान संत माने जाते हैं. आज हम आप लोगों को इनके कुछ विचार नीचे बताएंगे जो आप को ध्यान से पढ़ना है।

  1. तू कर्म करत जा, फळाची अपेक्षा न करता अरे कर्म करणे हे तुझे कर्तव्य आहे आणि तुझ्या कर्माला योग्य ते फळ देणे ही माझी जबाबदारी आहे,
  2. अगर आपका भाग्य आपका साथ नहीं देता है. तो आपको मरना नहीं चाहिए. बल्कि अपने दम पर जीवन जीना चाहिए.
  3. जगण्याला धार आहे जीवनाला आधार आहे जेव्हा स्वामी समर्थ आपल्या सोबत आहे तेव्हा कशाचा भार आहे
  4. हमे हमारे जीवन के जो कर्तव्य है. वह पूर्ण करने चाहिए. उनको महत्व देना चाहिए. हमे जीवन में किसी भी संकट से डरना नहीं चाहिए. बल्कि संकट का सामना करना चाहिए.
  5. संकटं तुमच्यातली शक्ती आणि जिद्ध पाहण्यासाठीच येत असतात
  6. इंसान को जीवन की बीती हुई यादों को सोचकर रोना नहीं चाहिए. बल्कि भविष्य के बारे में सोचकर जीवन जीना चाहिए.
  7. “गरिबाला केलेले दान आणि सदगुरु स्वामीचे मुखात घेतलेले नाव कधी वाया जात नाही” – स्वामी समर्थ
  8. अगर आपको जीवन में ठोकर लगे तो हिम्मत नहीं हारनी चाहिए. हिम्मत से उसी रास्ते पर आगे च लना चाहिए.
  9. “उगाची भितोसी, भय हे पळू दे जवळी उभी स्वामी शक्ती कळू दे, जगी जन्म मृत्यू असे खेळ ज्यांचा नको घाबरु वू असे बाळ त्यांचा”
  10. जिस प्रकार हीरे से आभूषण का मूल्य बढ़ता हैं. उसी प्रकार अच्छे कर्म से व्यक्ति का मूल्य बढ़ता हैं.
  11. पहचान से मिला काम कम समय के लिए ही चलता है लेकिन काम से मिली पहचान जिन्दगी भर रहती है ।
  12. इंसान को अपने परेशानी भरे जीवन में भी खुशियां ढूंढनी चाहिए. भाग्य का चक्र हर जगह घूमता है. और आपके पापकर्म की गणना होती हैं.
  13. सफल होना चाहते हो तो फल की नहीं अपने कर्म की चिंता करनी होगी।
  14. उन लोगो पर ध्यान नहीं देना चाहिए. जिन्होंने आपके बुरे समय में आपका साथ नहीं दिया. बल्कि उन लोगो पर ध्यान देना चाहिए. जिन्होंने आपके बुरे समय में आपका साथ दिया. और आपको अच्छे समय में लेकर आए.
  15. मंजिल चाहे कितनी भी ऊंची क्यों न हो, रास्ता हमेशा पैरों के नीचे ही होता है।
  16. उस व्यक्ति की हमेशा सराहना करनी चाहिए. जो कभी भी वापस नहीं आता है. या फिर जो व्यक्ति आपके जीवन में आता है.
  17. “इंतजार करने वालों को केवल उतना ही मिलता है, जितना कोशिश करने वाले छोड़ देते है”
  18. इंसान को अपना लक्ष्य खुद तय करना चाहिए. फिर भले ही उस रास्ते पर कितनी भी मुश्किलें आए स्वामी ध्यान हमेशा आप पर हैं.
  19. “हार और जीत” हमारी सोच पर निर्भर है, मान लिया तो हार और ठान लिया तो जीत
  20. जीवन की राह एक दुर्गम, कठिन पर्वत घाट हैं.
  21. किरण चाहे सूर्य की हो या फिर आशा की जीवन के सभी अंधकार मिटा देती है
  22. कोई भी लक्ष्य पाना कितना भी मुश्किल क्यों न हो. लेकिन मन में जज्बा है. तो कुछ भी संभव हैं.
  23. कल के लिए सबसे अच्छी तैयारी यही है कि आज अच्छा करो

FAQ : श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ

स्वामी समर्थ किसका अवतार है?

ऐसा कहा जाता है कि श्री स्वामी समर्थ श्रीपद वल्लभ और श्री नृसिंह सरस्वती के बाद भगवान श्रीदत्तात्रेय के तीसरे अवतार माने जाते थे गाणगापुर गांव के श्री नृसिंह सरस्वती बाद में श्री स्वामी समर्थ के रूप में प्रकट हुए थे उन्होंने कहा था कि मैं नरसिंह हूं और श्री शैलम के पास मैला जंगल में आया हूं और नरसिंह सरस्वती के अवतार हैं।

स्वामी समर्थ का जन्म कब हुआ था?

श्री स्वामी समर्थ का जन्म 1275 में हुआ था।

स्वामी समर्थ क्यों प्रसिद्ध है?

श्री स्वामी समर्थ को अक्कलकोट स्वामी के रूप में माना जाता था यह दत्तात्रेय परंपरा के आध्यात्मिक गुरु माने जाते थे और यह महाराष्ट्र और कर्नाटक के विभिन्न राज्यों में एक व्यापारी के रूप में रहते थे वह 29 वी सदी के दौरान रहते थे।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आप लोगों को इस आर्टिकल के माध्यम से श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ बताया है और श्री स्वामी समर्थ के विचार भी बताए हैं इसके अलावा इस टॉपिक से जुड़ी अन्य जानकारी भी देने का प्रयास किया है तो हम उम्मीद करते हैं कि आज का हमारा यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा।

osir news

आशा करते हैं कि आपको हमारा यह श्री स्वामी समर्थ मंत्र जप लाभ और श्री स्वामी समर्थ विचार लेख अच्छा लगा होगा धन्यवाद

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

पत्नी अगर पति की बात ना माने तो क्या करें : 4 आसान उपाय | पत्नी कोई बात क्यों नही मानती है ?
गर्भ ठहरने का मंत्र एवं जल्दी प्रेग्नेंट होने के 7 आसान घरेलू नुस्खे | Garbh thaharne ka Mantra
वीर्य रोकने के फायदे : फौलादी शरीर और तेज दिमाग और 7 फायदे जाने | Virya rokne ke fayde : Sarka marna chahiye ya nahi?
50+ चालू लड़कियों के नंबर और व्हाट्सएप नंबर की लिस्ट और पटाने का तरीका | chalu ladkiyon ke number : चालू लड़कियों के नंबर
हवन शुरू करने का मंत्र ,सम्पूर्ण विधि और हवन सामग्री | Havan kaise ruru kare : havan shuru karne ka mantra
★ सम्बंधित लेख ★