घर पर जुआ जीतने का ताबीज बनाये 9 आसान तरीके और मंत्र | Jua jitne ka taweez | jua jitne ka tabij

Jua jitne ka taweez  दोस्तों जुआ के विषय में अच्छे से जानते हैं आपने कई लोगों को जुआ खेलते हुए देखा ही होगा । आज और प्राचीन काल की जुआ में बहुत बड़ा अंतर दिखाई देता है आज के समय में जुआ खेलने के तरीके पूरी तरह से बदल चुके हैं।

‌‌‌ आपको यह भी पता है कि जुआ प्राचीन काल से खेला जा रहा है आप आदि ग्रंथों जैसे महाभारत में देखा होगा कि जुआ के माध्यम से ही युधिष्ठिर जैसे राजा ने राज राज पाठ गवा दिया था।

nazar-amulet

जुआ हमारे राजा महाराजाओं का एक प्रिय खेल हुआ करता था आपने अक्सर देखा होगा कि हमारे पुराने राजा शतरंज जैसा खेल खेलते थे जिसमें राजपाट तक हार जाते थे।

एक समय था जब जुआ खेलने के लिए गोटिया का प्रयोग किया जाता था जिसमें यदि गोटिया आती थी तो गिराने वाले की हार होती थी और यदि चित आती थी तो गिराने वाले की जीत होती थी।

प्राचीन काल में राजा लोग जुआ चौसर से खेलते थे या फिर कोई ऐसा गेम खेलते थे जिससे शर्त हारी या जीती जाती वहीं बहुत से लोग जुए के रूप में कौड़ी का प्रयोग करते हैं परंतु आज के समय में जमा का रुप बदल गया है।

परंतु आज के बदलते स्वरूप में युवा के प्रकार बदल गए हैं आज के समय में जुआ लॉटरी द्वारा ताश के पत्तों द्वारा सट्टा द्वारा खेला जा रहा है आज हर जगह पर जुआ का खेल प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से हर वक्त खेला जा रहा है।Jua jitne ka taweez

सट्टे के रूप में जुआ आज खेलों में खिलाड़ियों पर दांव लगाए जाते हैं जैसे क्रिकेट में सट्टेबाजी का बहुत बड़ा खेल हो रहा है जिसमें एक एक क्रिकेटर के ऊपर रन और बाल पर सट्टा लगाया जाता है जिसमें हार और जीत तय होती हैं यदि पता लगाने वाले की जीत हो जाती है तो उसे अच्छा पैसा मिल जाता है।

‌‌‌ आज कंप्यूटर की दुनिया में ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार के जुआ खेले जाते हैं जिसमें लॉटरी जैसा सिस्टम बहुत प्रचलित हो रहा है लोग लॉटरी लेकर नंबर पर गेम खेलते हैं जिसमें ड्रा होने के बाद कुछ लोग जीत जाते हैं तो कुछ लोग बर्बाद हो जाते हैं।

दोस्तों जो लोग दुनिया में आज जुआ के शौकीन हैं और यदि वे जुए में सब कुछ हार गए हो तो जुआ जीतने के लिए कुछ मंत्र और टोटकों का प्रयोग करके जुए को जीता जा सकता है आइए हम दुआ से संबंधित कुछ ऐसे टोटके और मंत्र बताएंगे जिनसे आप युवा जीत सकते हैं।

1. लाजवंती से बनाये जुआ जीतने का ताबीज  | jua jitne ka tabij 

दोस्तों लाजवंती या छुईमुई के पौधे को आप जरूर जानते होंगे यह पौधा आपको जुआ जिता सकता है।

इसके प्रयोग के लिए आपको सबसे पहले शनिवार के दिन सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करें और स्वच्छ साफ कपड़े पहनकर लाजवंती के पौधे के पास जाकर हाथ जोड़कर प्रार्थना करें कि यह लाजवंती के पौधे मैं तुम्हें जुआ जीतने के लिए ले जाना चाहता हूं.

लाजवंती छुईमुई के पौधे से प्रार्थना करने के बाद एक 1 टहनी को तोड़कर घर ले आए ध्यान रहे कि टहनी तोड़ते वक्त और लाते समय बीच में कोई आपको टोके नहीं अन्यथा आपका काम नहीं बनेगा।

छुई मुई या लाजवंती के पौधे की टहनी को घर लाकर गंगाजल से धोकर पवित्र करें और लाल कपड़े में बांधकर पूजा घर में रखकर लगातार 21 दिन तक पूजा करें।उसके बाद जब आप जुआ खेलने जाएं तो उसको अपनी कमर में बांध ले। इससे आपको जुआ जीतने के चांस अच्छे प्राप्त होते हैं।

2. शनिदेव की पूजा |  jua jitne ka tabij 

यह कहा जाता है कि जब शनि देव की ग्रह दशा विपरीत होती है तो बनते काम बिगड़ जाते हैं परंतु शनि देव की ग्रह दशा यदि सही होती है तो बिगड़े काम भी सही होने लगते हैं.

यदि आप जुआ खेलने के शौकीन हैं तो आप शनिदेव की पूजा शनिवार के दिन से शनि मंदिर में जाकर तेल चढ़ा कर और शनि चालीसा पढ़ कर जुआ जीत सकते हैं।

इसके लिए आपको किसी शनिवार के दिन से शनि देव के मंदिर में जाकर 7 शनिवार लगातार तेल चढ़ा कर पूजा करें उसके बाद जब आप किसी भी प्रकार का जुआ खेलेंगे तो आपको निश्चित रूप से जीत मिलेगी.

3. जुआ जीतने का ताबीज स्वर्ण गुटिका

‌‌‌ दोस्तों यदि आप जुआ जीतने में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको थोड़ी सी कठिन साधना करनी पड़ेगी जिससे आपको किसी भी प्रकार के जीवन में कभी हार नहीं मिलेंगे लेकिन यह साधना गुरु के सानिध्य में ही करें.

gold

इस साधना में एक सोने की गुटका लेकर 21 दिन तक सरसों के तेल का दीप धूप कपूर और स्फटिक माला के साथ शुक्रवार के दिन से प्रारंभ करके मंत्र जाप करना होता है इस साधना में आपको हमेशा सफेद कपड़े ही पहनना होता है.
‌‌‌
साधना हमेशा उत्तर दिशा की ओर मुंह करके करना है और प्रतिदिन 1000 बार मंत्र का जाप करके 21 दिन में 21000 बार मंत्र जाप होने पर आपके साधना पूर्ण हो जाएगी.
‌‌‌
साधना से पहले एक लकड़ी का पटरा लेकर उस पर सफेद कपड़ा बिछा दें और स्वर्ण गुटका को उस पर रखकर पूजा करें तथा दीपक जलाकर मंत्र जाप और प्रार्थना करें मंत्र जाप करने जैसे ही बैठ जाए उसके बाद जब तक 1000 मंत्र पूरा ना हो जाए तब तक उठना नहीं है.

‌‌

मंत्र इस प्रकार से है

ऊँ नमो वीर बैताल आकस्मिक धन देहि देहि नमः

मंत्र जाप और सिद्ध होने के बाद आप छोड़ गुटका को हमेशा अपनी जेब में लेकर ही जुआ खेले जिससे आपको किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होगा और जुआ में हमेशा आपकी जीत होगी.

4. jua jitne ka tabij बनाने के लिए इष्ट देवता की पूजा करें

दोस्तों दुनिया में ईश्वर में श्रद्धा रखने वाले व्यक्तियों का कभी किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होता है ऐसे में यदि आप जुआ जैसा खेल खेलते हैं तो तो अपने इष्ट देवता की पूजा सबसे पहले करनी चाहिए.

shiva kul devta lord god bhagwan shankar

अपने इष्ट देवता की पूजा करते समय आपके मन में कभी किसी भी प्रकार का कोई बुरा कार्य करने की इच्छा ना रहे अर्थात हमेशा जब आप अच्छा करने की सोचेंगे तो आप के देवता भी आपको हमेशा अच्छा परिणाम देंगे.
‌‌
जुआ जीतने के लिए अपने इष्ट की पूजा करें और उनके सामने यह भी प्रार्थना करते हुए कहे कि जो भी मैं कार्य कर रहा हूं उसमें असफल होता हूं तो आपको कुछ न कुछ हिस्सा समर्पित करूंगा फिलहाल इन भगवान को किसी चीज की जरूरत नहीं होती लेकिन श्रद्धा और विश्वास बहुत बड़ी चीज होती है।

5. जुआ जीतने का ताबीज ग्रह दशा को जाने

अक्सर लोगों के ऊपर किसी न किसी ग्रह की विपरीत दिशा चलती रहती है ऐसे में यदि आपको कोई जुआ जैसा खेल खेलते हैं तो उसके लिए आपको तो आपको अपने ऊपर ग्रह दशा का विश्लेषण करना चाहिए.

Vigyan Bhairav
‌‌‌
ग्रहों की विपरीत दिशा जानने के लिए किसी विद्वान ब्राह्मण के पास जाकर कुंडली दिखाएं और उसमें राहु केतु की ग्रह दशा के विषय में जाने की जिससे आपको जुए में हारना ना पड़े। हो सकता है कि कोई ऐसा ग्रह हो जो आपकी कुंडली में विपरीत प्रभाव डाल रहा है।

6. पंवार या चक्रवड की जड़ से बनाये jua jitne ka tabij 

दोस्तों यह भी जुआ जीतने का एक टोटका है जिसके अंतर्गत पवार या चक्रवड की जड़ का प्रयोग किया जाता है इसके लिए सबसे पहले आप इस पौधे को पता लगाएं तभी एक टोटका कर सकते हैं.

‌‌‌ जब आप कुछ चक्रवड का पौधा मिल जाए तो शुक्रवार के दिन सुबह स्नान करके उस पौधे के पास जाएं और उससे हाथ जोड़कर विनती करें कि हे चक्रवड के पौधे मैं आप का प्रयोग जुआ जीतने के लिए करना चाहता हूं और उसके बाद बहुत है मौली बांधते हैं.

tree chandan

‌‌‌ दूसरे दिन स्नान करके पौधे के पास जाकर विधिवत पूजा कर के पौधे को उखाड़ कर घर ले आए और उसको गंगाजल से पवित्र करके पूजा घर में रखकर 7 दिन तक पूजा करें इसके बाद इस पौधे के छोटे से हिस्से को अपनी बाहों में ताबीज के रूप में बांध ले।

जब आप इस जुआ जीतने का ताबीज (jua jitne ka tabij ) को बांध कर जुआ खेलने जाते हैं तो निश्चित रूप से आपको विजय प्राप्त होगी ।

7. जुआ जीतने का ताबीज साबर मंत्र

धन संबंधित बहुत से ऐसे साबर मंत्र हैं जिनकी साधना करने से व्यक्ति के पास धन की कमी नहीं रहती है ऐसे में नीचे दिया गया जुआ जीतने का ताबीज साबर मंत्र दिया गया है जिस को सिद्ध करके आप जुए को जीत सकते हैं.

‌‌‌ साबर मंत्र इस प्रकार है

चेत माई चेत माई चेत माई कलिका चेतावे तेरा बालका सूते को जगा जागते को बैठा सट्टे का नंबर आने का बता दुहाई गुरु गोरखनाथ की नाथ जी को आदेश।

जुआ जीतने का ताबीज साबर मंत्र को सिद्ध करने के लिए किसी दिन शुभ मुहूर्त जैसे होली या दीपावली की अमावस्या के दिन काले कपड़े पहनकर मां काली को धूप दीप से पूजा करें.

दक्षिण की ओर मुंह करके 108 बार ऊपर दिए गए जुआ जीतने के ताबीज साबर मंत्र को 7 दिन तक जाप करें। इस मंत्र के सिद्ध होने के बाद जवाब जुआ खेलने गए थे उससे पहले 21 बार मंत्र का जाप करें निश्चित रूप से आपकी विजय होगी.

8. जुआ जीतने का ताबीज बरगद के पत्ते

‌‌ जुआ जीतने के लिए बरगद के पत्ते के साथ-साथ आपको मिठाई और इलायची को लेना है। ध्यान रहे कि बरगद का पत्ता साफ सुथरा हो और कटा फटा ना हो.

‌‌‌ जुआ जीतने का ताबीज बरगद के पत्ते के साथ यदि कर रहे हैं तो आपको बरगद के पत्ते के ऊपर मिठाई और दो इलायची रख कर शाम के समय सूर्य डालने से पहले किसी पीपल के पेड़ के नीचे एक लोटा जल के साथ जाएं और पीपल पर चढ़ा दें.

‌‌‌ पीपल पर सभी चीजें चढ़ाने के बाद पीपल से प्रार्थना करें कि ए पीपल देवता हम जुआ जीतने के लिए आप से प्रार्थना करते हैं ऐसे में आप मेरी सहायता करें यह प्रयोग करते समय आपको कोई टोकने ना पाए.

9. जुआ जीतने का यंत्र से बनाये jua jitne ka tabij

जो लोग जुआ जीतने के लिए भरसक प्रयत्न करते हैं और जीत नहीं पाते हैं उनको जुआ जीतने के लिए इस यंत्र को ताबीज के रूप में धारण करना चाहिए।

१११४
 १० १५
१३ १५
१६

  
  किस यंत्र को सिद्ध करने के लिए आपको नीचे दिए गए मंत्र को सिद्ध करना होगा इसके लिए किसी योग्य गुरु की आवश्यकता होती है।

vyapar-bhojpatra-yantra-

‌‌‌ओम नमो सर्वामोहनी मेल राजा ‌‌‌ पेल जो मैं देखूं ।

मार मार करंता , सोई मेरे पांव पडंता रावल

मोह देवल मोह स्त्री मोह पुरूष मोह नारसिंह ।।

‌‌‌वीर तेरी शक्ति फुरे दाहिना चाले नारसिंह ।।

बायां चाले हनुमंत मेरे पिंड प्रान का रिछपाल ।।

होई मोह जहां मेरा मन चाले ।।तहां मोह गुरू ।।

की शक्ति मेरी भक्ति फुरो मंत्र ईश्वर वाचा ।।

इस मंत्र को गुरु के सानिध्य में सिद्ध होने के बाद 36 बार जाप करना पड़ता है और यंत्र को हमेशा अपनी जेब में यह  jua jitne ka tabij रखें इसकी क्रपा से आप जुआ जीत सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *