अपने नाम से राशि जाने : नाम की राशी निकलना सीखे नाम राशी चार्ट | Naam se rashi kaise nikale

Naam se rashi kaise nikale ? दोस्तों ज्योतिष शास्त्र के अंतर्गत राशि का बहुत ही महत्व है और कोई भी कार्य जब किया जाता है तो राशि की प्राथमिकता दी जाती है खास तौर पर शादी विवाह में लड़का और लड़की के नाम की राशि पर ही विवाह मुहूर्त निकाले जाते हैं और उसी आधार पर सारे संस्कार संपन्न किए जाते हैं।

NAAM SE RASHI KAISE NIKALE

जितने भी लोग दुनिया में निवास करते हैं उनकी अलग-अलग राशि होती है और राशि का निर्धारण जन्म के समय ग्रह नक्षत्र माह तिथि को ध्यान में रखकर निकाला जाता है किसी भी शुभ मुहूर्त के लिए राशियां अलग-अलग होती हैं .

ऐसे में हर व्यक्ति को अपनी राशि को जानना बहुत आवश्यक होता है। विवाह जैसे शुभ मुहूर्त में राशि का बहुत बड़ा महत्व है लड़का और लड़की के राशि के अनुसार कुंडली का मिलान किया जाता है और उसके लग्न के लिए शुभ मुहूर्त निकलता है.

इसके अलावा राशि के अनुसार गुणों को भी देखा जाता है। जब किसी भी वर और कन्या दोनों का राशि और कुंडली का मिलान हो जाता है तभी विवाह जैसा संस्कार संपन्न कराने के लिए शुभ मुहूर्त तय किया जाता है .

ज्योतिष के अनुसार यदि राशि और कुंडली का मिलान नहीं किया जाता है तो उनका जीवन कष्ट में हो सकता है तथा कई सारी परेशानियां जीवन में आ सकती हैं।

अब प्रश्न यह उठता है कि लोग अपनी राशि कैसे जाने किस प्रकार से उनकी राशि को निकाला जाए क्योंकि बहुत से लोगों का जन्म तारीख माह तो पता होता है परंतु जन्म के समय ग्रह नक्षत्र किस दशा दशा में होते हैं.


इस विषय में लोग ध्यान नहीं देते हैं तो राशि का सही से पता नहीं चल पाता है। आज के दौर में हर व्यक्ति जन्म के समय तारीख और माह को ध्यान रखता है जिसके आधार पर वह बच्चे का नामकरण संस्कार यदि करता है तो उसकी राशि को निकाला जा सकता है.

परंतु लोग राशि को ध्यान में नहीं देते हैं और अपने बच्चे का नामकरण कर देते हैं ऐसे में नाम से अपनी राशि कैसे निकाले आइए इस विषय पर अपने लेख के माध्यम से आपको बताएंगे।

राशि कितनी होती है ? | What is the zodiac

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 12 प्रकार की राशियां निर्धारित की गई हैं। यह इस प्रकार है-

राशि के नाम         राशि के नाम इंग्लिश में 
 मेष राशि  Aries
 वृषभ राशि  Taurus
 मिथुन राशि Gemini
कर्क राशि  Cancer
सिंह राशि  Leo
 कन्या राशि  Virgo
 तुला राशि  Libra
वृश्चिक राशि  Scorpio
 धनु राशि Sagittarius
 मकर राशि Capricorn
कुम्भ राशि Aquarius
मीन राशि Pisces

      

नाम से राशि जाने | Naam se rashi | Zodiac sign according to the name

राशि नाम अक्षर
मेष चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ
वृष ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो
मिथुन का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह
कर्क ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो
सिंह मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे
कन्या ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो
तुला रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते
वृश्चिक तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू
धनु ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे
मकर भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी
कुंभ गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा
मीन दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची

राशियों को जानने के लिए ऊपर राशियों का वर्णन किया गया है व्यक्ति का नाम इन्हीं राशियों में किसी एक राशि पर आधारित होता है ऐसे में यदि आपको अपनी राशि नहीं पता है तो आप अपने नाम से राशि को जान सकते हैं .

rashi

आइए देखते हैं कि कौन सा नाम का अक्षर किस राशि में आता है और कौन सी राशि हमारे लिए कितना मायने रखती हैं प्रत्येक राशि में हिंदी वर्णमाला की 9 अक्षरों को चयनित किया गया है.

1. मेष राशि के नाम अक्षर

मेष राशि में उन जातकों की राशि होती है जिन जातकों के नाम क्रमशः चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ से आरंभ होता है।

aries mesh rashi

अब जिस भी व्यक्ति का नाम इन अक्षरों से शुरू होता है उस व्यक्ति के लिए राशि मेष होती है और मेष राशि के लोगों के लिए चिन्ह के रूप में भेड़ का प्रयोग किया गया है.

2. वृष राशि के नाम अक्षर 

वृष राशि के नाम वाले लोगों में पहला अक्षर को इस प्रकार से लिया गया है। अक्षर क्रमशः ई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो होते हैं इस राशि में भी हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षरों को लिया गया है।

TAURUS VRISHABHA RASHI

जिन लोगों का नाम ऊपर दिए गए अक्षरों से प्रारंभ होता है उन्हें लोगों की राशि वृष होती है और इस राशि के चिन्ह के रूप में बैल को लिया गया है।

3. मिथुन राशि के नाम अक्षर

ऐसे जातक जिनके नाम का पहला अक्षर का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह से शुरू होता है उन जातकों को मिथुन राशि के अंतर्गत रखा गया है इस राशि में हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षरों को लिया गया है जिनका चिन्ह नारी और पुरुष जुड़े के रूप में है ।

gemini mithun rashi

जिन लोगों का नाम उपरोक्त अक्षरों से प्रारंभ होता है उन लोगों को मिथुन राशि के अंतर्गत रखा जाता है ऐसे जातक अपनी रात को मिथुन समझे।

4. कर्क राशि के नाम के अक्षर

कर्क राशि में हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षर क्रमशः ही, हू, हे, हो, डा, डी, डु, डे, डो को रखा गया है जिन जातकों का नाम इन अक्षरों से शुरू होता है उन जातकों के लिए कर्क राशि मानी जाती है |

cancer kekda kark

जिन जातकों को अपना राशि नहीं पता है वे लोग अपने नाम का पहला अक्षर देखकर राशि का नाम पता कर सकते हैं ऐसे में जिन लोगों का नाम उपरोक्त अक्षरों से है वे लोग मिथुन राशि के अंतर्गत आते हैं। किस राशि का चिन्ह केकड़ा है।

5. सिंह राशि के अक्षर 

हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षर किस राशि के अंतर्गत क्रमशः मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे को रखा गया है इस राशि का चिन्ह सिंह होता है ।

singh leo rashi

जिन जातकों का नाम उपरोक्त अक्षरों से शुरू होता है ऐसे लोगों को सिंह राशि के अंतर्गत रखा जाता है जब कोई व्यक्ति अपना भविष्य देखना चाहता हो तो इस राशि के अंतर्गत देखें।

6. कन्या राशि के अक्षर

कन्या राशि के अंतर्गत ढो, प, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो अक्षरों को सम्मिलित किया गया है इस राशि का चिन्ह नाव में बैठी लड़की है.

KANYA VIRGO RASHI

जिन लोगों का नाम उपरोक्त 9 अक्षरों से शुरू होता है उन लोगों को कन्या राशि के अंतर्गत माना जाता है अर्थात ऐसे लोगों को कन्या राशि में रखा गया है

7. तुला राशि के अक्षर

तुला राशि के अंतर्गत हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षर र, री, रू, रे, रो, ता, ति, तू, ते दर्शाए गए हैं जिनके आधार पर जातक की राशि तुला बनती है इस राशि का चिन्ह हाथ में तराजू लिए हुए पुरुष को रखा गया है।

libra tula rashi

जातकों का नाम उपरोक्त अक्षरों से शुरू होता है उन्हें तुला राशि के अंतर्गत रखा गया है और इसी राशि के अंतर्गत उनका भविष्य देखा जाता है।

8. वृश्चिक राशि के अक्षर

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 731 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

गर्लफ्रेंड धोखा दे, आपको छोड़ दे या किसी और को चाहे तो क्या करे ? | girlfriend chhod de to kya karna chahiye ?
हस्तमैथुन की लत कैसे छोड़े : लड़कियां हस्तमैथुन कैसे करती हैं

वृश्चिक राशि के अंतर्गत हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षर क्रमशःतो, न, नी, नू, ने, नो, या, यि, यू को रखा गया है इन अक्षरों से शुरू होने वाले नामों को वृश्चिक राशि माना जाता है | इस राशि का चिन्ह बिच्छू है.

scorpio bichhu vrischik

अब जिन जातकों का नाम उपरोक्त अक्षरों से शुरू है वह जातक वृश्चिक राशि के अंतर्गत आएंगे अपना भविष्य देखने के लिए भी वृश्चिक राशि देखें।

9. धनु राशि में के अक्षर

धनु राशि में हिंदी वर्णमाला के अक्षर य, यो, भा, भि, भू, ध, फा, ढ, भे को चयनित किया गया है तथा इस राशि का चिन्ह एक पुरुष और साथ में घोड़ा है।

sagittarius dhanu rashi

उपरोक्त अक्षरों से जिन जातकों का नाम शुरू होता है उन जातकों को धनु राशि के अंतर्गत रखा जाता है और उनका भविष्य भाग्य धनु राशि के आधार पर निर्धारित होता है।

10. मकर राशि के अक्षर

मकर मकर राशि के अंतर्गत हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षर भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी अक्षरों को लिया गया है तथा इस राशि का चिन्ह के रूप में हिरण लिया गया है.

Capricorn makar

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

उपरोक्त अक्षरों से शुरू होने वाले नामों को मकर राशि के अंतर्गत रखा जाता है और ऐसे जातकों को भाग्य और भविष्य के लिए मकर राशि देखनी चाहिए।

11. कुंभ राशि के अक्षर

ज्योतिष शास्त्र में कुंभ राशि के अंतर्गत हिंदी वर्णमाला के 9 अक्षर गू, गे, गो, स, सी, सू, से, सो, द को लिया है तथा इस राशि का चिन्ह कलश लिए हुए एक पुरुष को रखा गया है ।

kumbh aquarius rashi

जिन जातकों का नाम उपरोक्त अक्षरों से प्रारंभ होता है ऐसे जातकों को कुंभ राशि के अंतर्गत रखा गया है और कुंभ राशि से ही उनके भाग्य और भविष्य को निर्धारित किया जाता है.

12. मीन राशि के अक्षर 

मकर राशि के अंतर्गत दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, च, ची अक्षरों को रखा गया है अर्थात जिन जातकों का नाम उपरोक्त अक्षरों से शुरू होता है उनके लिए मकर राशि निर्धारित होती है मकर राशि का चिन्ह दो मछलियां हैं |

Pisces: meen

 

ऊपर दिए गए अक्षरों से यदि किसी जातक का नाम शुरू होता है तो उस जातक की राशि मकर राशि आती है.

जन्मतिथि से राशि कैसे निकाले ? | Withdraw amount by date of birth

ज्योतिष शास्त्र ने जन्म लेने वाले हर व्यक्ति के लिए जन्मतिथि के आधार पर राशि का निर्धारण किया है ऐसे में जब कोई भी व्यक्ति जन्म लेता है तो उस समय जन्मतिथि क्या थी इस आधार पर उसकी राशि होती है.

calendar dob

इसीलिए जब भी कोई व्यक्ति जन्म लेता है तो उसका जन्म तिथि और समय को जान लेना जरूरी है जिसके आधार पर ही जन्म के समय की राशि निकाली जा सकती है आइए जानते हैं कि जन्मतिथि के आधार पर राशि कौन सी होगी.

 21 मार्च से 20 अप्रैल – मेष राशि

जन्मतिथि के आधार पर राशि निकालने के लिए यह देखा जाता है की जन्म तिथि क्या थी तो ऐसे में जिन जातकों का जन्म 21 मार्च से 20 अप्रैल के बीच हुआ है उन लोगों को मेष राशि के अंतर्गत रखा जाता है.

 21 अप्रैल से 21 मई  – वृषभ राशि

ऐसे जातक जिनका जन्म 21 अप्रैल से 21 मई के बीच में होता है उन जातकों को वृषभ राशि के अंतर्गत रखा जाता है.

 22 मई से 21 जून – मिथुन राशि

जिन जातकों का जन्म 22 मई से 21 जून के बीच में होता है ऐसे जातकों को राशि जानने के लिए मिथुन राशि रखी गई है.

22 जून 22 जुलाई – कर्क राशि

22 जून से 22 जुलाई तक के बीच में जन्मे हुए लोगों के लिए कर्क राशि मानी जाती है.

23 जुलाई से 21 अगस्त – सिंह राशि

जो जातक 23 जुलाई से 21 अगस्त के बीच में जन्म लिए हो उन जातकों के लिए सिंह राशि मानी जाती है।

22 अगस्त से 23 सितंबर – कन्या राशि

जो जातक 22 अगस्त से 23 सितंबर के बीच में जन्म लेते हैं उनके लिए राशि के नाम पर कन्या राशि निर्धारित है।

24 सितंबर से 23 अक्टूबर – तुला राशि

24 सितंबर से 23 अक्टूबर के मध्य जन्म लेने वाले जातकों को तुला राशि के अंतर्गत रखा जाता है.

24 अक्टूबर से 22 नवंबर – वृश्चिक राशि

24 अक्टूबर से 22 नवंबर के मध्य में जन्मे लोगों के लिए वृश्चिक राशि का निर्धारण किया गया है.

23 नवंबर से 22 दिसंबर – धनु राशि

23 नवंबर से 22 दिसंबर तक के मध्य में जन्म लेने वाले व्यक्तियों के लिए धनु राशि होती है.

23 दिसंबर से 20 जनवरी – मकर राशि

23 दिसंबर से 20 जनवरी के मध्य जन्म लेने वाले व्यक्तियों के लिए मकर राशि निर्धारित होती है.

21 जनवरी से 19 फरवरी – कुंभ राशि

21 जनवरी से लेकर 19 फरवरी तक के बीच में जन्मे व्यक्तियों के लिए कुंभ राशि रखी गई है ऐसे में जो व्यक्ति इस दिनों में जन्म लेते हैं उनके लिए कुंभ राशि मानी जाती है ।

20 फरवरी से 20 मार्च – मीन राशि

20 जनवरी से 20 मार्च के बीच में जन्मे व्यक्तियों के लिए मीन राशि ही निर्धारित होती है।

osir news

इस प्रकार से पूरे वर्ष में जन्म लेने वाले व्यक्तियों का जन्म तिथि जिस माह में पड़ता है उस माह में उसकी राशि वर्णित की गई है अतः जिन लोगों को अपने नाम से राशि का पता ना चले तो वे लोग जन्मतिथि से भी अपनी राशि को जान सकते हैं।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

वीर बेताल साधना क्या है ? वीर वेताल कैसे करे ? veer betal sadhana
माँ का दूध बढ़ाने के 13 घरेलू नुस्खे और 9 आयुर्वेदिक दवाएं | दूध बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा : Doodh badhane ki ayurvedic dawa
घर बैठे जादू सीखाने की टॉप वेबसाइट Top and Best website to learn Magic Tricks at Home
Sar dard ke totka : कैसे भी सिर दर्द को दूर करने का मंत्र और अचूक टोटका, शाबर मंत्र जाने
तांत्रिक से सीखे 35 सेकंड में वशीकरण करना : पल भर में होगा वशीकरण | 35 second me vashikaran
★ सम्बंधित लेख ★