राहु बीज मंत्र : राहु यंत्र के प्रकार और लाभ एवं स्थापना विधि | Rahu beej mantra : राहु बीज मंत्र

राहु बीज मंत्र  | Rahu beej mantra  : राहु यंत्र सभी ग्रहो की तुलना में अधिक प्रभावशाली होता है क्योंकि राहु अधिकतर कुंडलियों में अशुभ रुप से कार्य करते आखिर मिश्रित रुप से कार्य करते हैं। राहु के अशुभ को रोकने के लिए किसी प्रकार के रत्न का प्रयोग गोमेद के रूप में नहीं किया जा क्योंकि नो का प्रयोग उन्हीं ग्रहों से शिव प्राप्त करने के लिए किया जाता है|

राहु यंत्र के प्रकार और यंत्र के उपयोग एवं उसके लक्षण, स्थापना विधि

जो जातक की कुंडली में शुभ रुप से काम करते हैं अथवा मिश्रित रुप से जातक को रत्न ग्रह नहीं करनी चाहिए।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है ! राहु के विपरीत होने पर सभी कामों में असफलता ही होती है ऐसी स्थिति में राहु यंत्र को धारण करके हां पूजन करके राहु पर सफलता प्राप्त की जा सकती है और उचित व अनुकूल लाभ मिलता है।

राहु यंत्र कितने प्रकार के होते है ?

राहु यंत्र दो प्रकार के होते हैं

1. प्रथम राहु यंत्र 

यह यंत्र 9 ग्रह के लिए एक ही होता है जिसमें 9 ग्रहों का मिश्रित यंत्र होता है।

राहु यंत्र

2. राहु का दूसरा यंत्र 

इस यंत्र में 9 ग्रह का अलग अलग यंत्र होता है, दोनों यंत्र एक ही प्रकार से शुभ अशुभ कार्य करते हैं इसी यंत्र की पूजा और उपासना करने से सभी प्रकार के भय नष्ट हो जाते हैं.


इस यंत्र को धारण करने से शारीरिक स्वास्थ और व्यापार में सफलता मिलती है तथा समाज में उन्नति मिलती है और किसी भी कार्य में बाधा नहीं उत्पन्न होती है.

राहु बीज मंत्र | Rahu beej mantra 

ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः।

 

राहु यंत्र स्थापना विधि 

राहु यंत्र स्थापित करने के लिए सबसे पहले प्रातः काल कार्य से निवृत होकर स्नान करने के बाद यंत्र को सामने रख 11 या 21 बार राहु के बीज

मंत्र

ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः

मंत्र का जाप करें।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 582 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

पीपल पूजा के नियम : शुभ समय, सही विधि और समय एवं लाभ | Pipal Puja Ke Niyam
भाभी को कैसे पटाये – 6 आसान फार्मूला भाभी आपकी दीवानी हो जायेंगी | भाभी को कैसे इम्प्रेस करे – bhabhi ko kaise pataye
( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

इसके बाद इस पर गंगाजल छिड़क कर राहु के सामने हाथ जोड़कर प्रार्थना करें और नियमित इसकी पूजा करें।

यदि इस मंत्र को आप अपने गले में धारण करते हैं तो नान करनी के बाद मंत्र को हाथ में लेकर विधि पूर्वक पूजन करें.

यंत्र का उपयोग कैसे करे ? 

  1. यदि राहु को प्रसन्न करना है तो भैरव जी की पूजा भी साथ में होनी चाहिए।
  2. प्रतिदिन प्रातः काल नित्य कर्मों से निवृत होकर इस यंत्र की पूजा और जब करने से लाभ मिलता है।
  3. राहु को प्रसन्न करने के लिए सरसो का तेल चढ़ाया जाता है तथा कोयले का दान करके लाभ प्राप्त किया जाता है।
  4. इस यंत्र की पूजा करने से शारीरिक स्वास्थ्य और व्यापार में सफलता के साथ सभी प्रकार के भैंस को हो जाते हैं
  5. यदि कभी-कभी सभी ग्रहण अनुकूल है फिर भी लोगों को कष्ट है तो महामृत्युंजय जाप करना चाहिए।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !

राहु यंत्र के लाभ 

इस यंत्र से शिक्षा व्यवसाय और कैरियर में आने वाली परेशानियां दूर हो जाती हैं तथा छिपे हुए शत्रु तथा अन्य बाधाएं छल कपट, गुप्तरोग सामाजिक अपमान और भेदभाव से मुक्ति मिलती है।

इस यंत्र को धारण और स्थापना करने से आर्थिक नुकसान मुक्ति मिलती है तथा सुरक्षा समृद्धि प्रेम लंबी आयु वह धन की प्राप्ति होती है। राहुदेव के लिए प्रतिदिन विधिवत मंत्र जाप और सस्वर पाठ किया जाना चाहिए।

शुभ या अशुभ होने के लक्षण 

यदि किसी की कुंडली में दोष है तो जिंदगी में अनेक समस्याएं होती है कुछ लोगों की जन्मपत्री देखकर समस्याओं का निपटारा हो जाता है |

परंतु जिन लोगों जन्मपत्री नहीं बनी है और वह यह जानना चाहते हैं कि राहु का प्रभाव पड़ रहा है तो ऐसे लोग कुछ लक्षणों के आधार पर यह जान सकते हैं कि राहु शुभ कर रहा है या अशुभ ।

लोगों के लिए राहु की स्थिति अशुभ है वह लोग निम्न लक्षणों से स्थिति को जान सकते हैं।

  1. हमेशा भय महसूस होता रहता है जिससे मानसिक स्थिति अच्छी नहीं होती है.
  2. कुछ लोगों को सांप बिच्छू तथा जहरीले जानवर बार-बार काटते हैं जिससे खतरा बढ़ जाता है ऐसी स्थिति में राहु के स्थिति अशुभ का संकेत देती है।
  3. सभी कभी व्यक्ति के नाखूनों में कालापन या सड़न जैसी बीमारी उत्पन्न होती है इसे पता चलता है कि राहु की स्थिति उचित नहीं है।
  4. यदि कभी भी किसी ऊंचे स्थान पर खड़े होने पर आपको अधिक भय लगता है अथवा कई बार आप ऊंचाई से गिर चुके हैं यह स्थिति भी राहु का अशुभ संकेत है।
  5. वैवाहिक जीवन में ससुराल में किसी प्रकार की धन हानि होती है तो राहु अशुभ संकेत दे रहा है। इसके अलावा बुखार आता है या तबीयत अक्सर खराब होती है तो भी राहु का अनुकूल होना नहीं माना जाता है ! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !
  6. जन्मकुंडली में राहु को छाया ग्रह माना जाता है यह व्यक्ति के जीवन की दिशा को बदलने के लिए महत्वपूर्ण होता है कभी-कभी एक राजा रंक बन जाता है और रंक राजा बन जाता है जब किसी का राहु विपरीत है तो इसके लिए निम्न उपाय करें
  7. यदि किसी का राहु अशुभ संकेत दे रहा है तो सोमवार का व्रत रखकर भगवान शिव का जल अभिषेक करें।
  8. व्यक्ति को लोहे के बने बर्तन में खाना बनाकर खाना चाहिए।
  9. गरीबों को खाना अनाज कपड़े तथा अन्य जरूरत की सामान दान करना चाहिए।
  10. राहु को काला रंग प्रिय होता है इसलिए काले रंग को अपने से दूर रखें।
  11. शनिवार और सोमवार को उपवास करके शिव का पूजन करना चाहिए।
  12. मछलियों को आटे की छोटी-छोटी गोलियां बनाकर खिलाना चाहिए।

 राहु ग्रह क्या है ?

राहु ग्रह

osir news

राहु एक छाया ग्रह यह कुंडली में राहु अशुभ स्थिति में है तो व्यक्ति को तनाव होता है ऐसे में व्यक्ति को कहीं भी सफलता नहीं मिलती है तो राहु को मजबूत करने के लिए राहु का बीज मंत्र जब करना जरुरी है।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

नमक से नजर कैसे उतारे : नमक से तुरंत नजर उतारने का आसान और पुराना तरीका | Namak se nazar kaise utare
चौक या खड़िया खाने के फायदे और 7 नुकसान | चौक खाने कि लत कैसे लगती है? 5 उपाय जाने | side effects of eating slate pencils
पति पत्नी में कलह निवारण हेतु : 5 ज्योतिष उपाय और 5 असरदार तरीके
भगवान शिव के 12 नाम और शंकर जी के 108 नामों के अर्थ और मंत्र | Bhagvan shiv ke 12 naam
नीचे के बाल काटने के 6 ख़तरनाक नुकसान जाने : गुप्तांग के बाल काटना भूल जायेंगे | Praivet part ke baal katne ke nuksan
★ सम्बंधित लेख ★