पूजा के वक्त उबासी का असली मतलब : पूजा करते समय जमाई आना का अर्थ जाने | Puja karte samay jamai aana

पूजा करते समय जमाई आना | Puja karte samay jamai aana : हेलो दोस्तों नमस्कार आज के इस लेख में हम पूजा करते समय जमाई आना टॉपिक से संबंधित जानकारी प्रदान करेंगे जिसमें हम बताएंगे अगर आपको पूजा करते समय जमाई आ रही हैं तो इसका क्या मतलब होता है इसी के साथ में पूजा पाठ से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भी देंगे.



पूजा करते समय जमाई आना | Puja karte samay jamai aana

हिंदू धर्म में पूजा पाठ का विशेष महत्व बताया जाता है मान्यता है कि रोज सुबह पूजा पाठ करने से दिन अच्छा जाता है और मन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. जिससे हम सदैव अच्छे कार्यों के लिए प्रेरित होते रहते हैं इसीलिए पूजा करना हर व्यक्ति के लिए काफी अच्छा होता है क्योंकि पूजा करने से व्यक्ति का जीवन सरल और सुखमय होता है साथ में मृत्यु के पश्चात मोक्ष की प्राप्ति होती है.

अगर हम लोग किसी देव की पूजा पाठ सही तरीके से करते हैं तो हम लोगों को कई सारे लाभ देखने को मिलते हैं. लेकिन यह सारे लाभ आपको तभी प्राप्त होंगे जब आप अपने ईश्वर की पूजा सच्ची श्रद्धा भक्ति के साथ अपने मन को एकाग्रचित्त होकर करेंगे, यानी पूजा करते समय व्यक्ति को नींद आना या जम्हाई आना. अगर पूजा के समय आपको जम्हाई आती हैं तो इसे हिंदू धर्म में शुभ अशुभ संकेतों से जोड़ा जाता हैं.

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

हमारे हिंदू धर्म में पूजा पाठ का बहुत ही महत्व दिया गया है जिस को ध्यान में रखते हुए आज हम आप लोगों को पूजा करते समय जमाई या नींद आती है तो इसका अर्थ क्या होता है, साथ ही इससे कौन सा संकेत देखने को मिलता है.

ऐसे में आप लोग इसके बारे में जानकारी पाना चाहते हैं तो कृपया करके आप लोग इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें.


पूजा करते समय जमाई आना | Puja karte samay jamai aana

मान्यता है विधिवत तौर तरीकों और नियमों से की गई पूजा हमेशा कल्याणकारी होती है और जो भी व्यक्ति इस तरह की पूजा प्रतिदिन करता है उस व्यक्ति के जीवन में सुख शांति समृद्धि सदैव बनी रहती है. लेकिन कई बार आप लोगों ने महसूस किया होगा पूजा करते वक्त जम्हाई या नींद आने लगती है ऐसी हरकत को हम लोग नजर-अंदाज कर देते हैं.

diya puja deepak

लेकिन पूजा करते समय जम्हाई आने का मतलब होता है कि आप सच्चे मन से ईश्वर की पूजा नहीं कर रहे हैं, यानी कि पूजा के लिए आपका मन केंद्रित नहीं होता है. जिसके कारण आपका मन पूजा के अलावा अन्य विषय पर भी सोच विचार करने लगता है और जब किसी कार्य को करते समय हमारे मन में तरह-तरह के विचार आने शुरू होते हैं.

तब हमें उलझन व थकान महसूस होने लगती है जिसके कारण जमाई आना स्वभाविक हो जाता है. क्योंकि जब मन बोर होता है तो थकान महसूस होती और जब थकान महसूस होती है तो जम्हाई अपने आप आने लगती है इसीलिए पूजा के समय जम्हाई आने का सीधा तात्पर्य यही है की पूजा के समय आपके मन में कई तरह के विचार चल रहे होते हैं और ऐसी पूजा को शास्त्रों में स्वीकार नहीं किया जाता है और ना ही ऐसी पूजा आपके लिए किसी भी तरह से फलदाई साबित होगी.

पूजा के समय जम्हाई आने के कारण | Puja karte samay jamhai aane ke karan

अगर किसी भी जातक जातिका को पूजा करते समय जम्हाई आती है तो मेरे विचारों के अनुसार इसके कुछ प्रमुख कारण होते है जिनकी वजह से न चाहते हुए भी जम्हाई आने लगती हैं उन कारणों के बारे में हम आप लोगों को नीचे बताने जा रहे हैं :

sorry

1. शास्त्रों में बताया गया है अगर किसी व्यक्ति को पूजा करते समय जम्हाई आती है तो इसका तात्पर्य होता है कि पूजा करने वाले व्यक्ति के साथ किसी अन्य दुखत आत्मा की उपस्थिति होती है जो अपने दुखों के निवारण हेतु ईश्वर के समक्ष करुण भाव की उपस्थित होती है जिससे पूजा करने वाले जातक को जम्हाई आने लगती है.

2. शास्त्रों में पूजा करते समय जम्हाई आने का दूसरा कारण यह बताया गया है कि उस व्यक्ति के मन में कई तरह के विचार चल रहे होते हैं जिसके कारण वह अपना मन पूजा में एकाग्रचित्त नहीं कर पाता है जिसके कारण व्यक्ति को पूजा के समय जमाई आने लगती है.

3. पूजा के समय जम्हाई आने का एक वैज्ञानिक कारण बताया गया है कि जब हम पूजा करते समय दीया जलाते हैं या कपूर जलाते हैं, तो  इस स्थित में हमारे आस-पास ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है और जब हमारे आसपास ऑक्सीजन की कमी हो जाती हैं, तो वह हमारे ब्रेन तक नहीं पहुंच पाती है ऐसी परिस्थिति में अधिक ऑक्सीजन पाने के लिए हमें जम्हाई आ जाती हैं ताकि हम ज्यादा ऑक्सीजन ले सकें.

4. शाम को किसी कारण वश पर्याप्त मात्रा में नीद न लेने की वजह से सुबह पूजा पाठ के साथ साथ अन्य काम करने में जम्हाई आना जायज है.

5. शरीर में कमजोरी होने की वजह से भी पूजा पाठ में काफी समय होने पर जम्हाई आने लगती है.

6. घर तथा मन में नकारात्मक वातावरण होने के कारण पूजा के समय जम्हाई और उबासी आने लगती हैं.

तो मित्रों यह कुछ प्रमुख कारण हैं जिनकी वजह से पूजा करते समय जम्हाई आती हैं अगर आप लोग इन कारणों पर ध्यान दे तो शायद पूजा में जम्हाई न आए.

पूजा करते समय जम्हाई न आए इसके लिए क्या करें ?

अगर आप चाहते है की पूजा अर्चना के समय आपको जम्हाई या उबासी न आए तो इसके लिए मैं यहां पर कुछ ऐसी बातें बता रही हूं जिन्हें ध्यान में रखने पर पूजा करते समय आपको जम्हाई नहीं आएंगी.

वह सभी बातें नीचे एक क्रम से बताई जा रही हैं जैसे :

Satyanarayan

1. अगर आप चाहते हैं कि पूजा करते समय आपको जम्हाई या उबासी ना आए तो इसके लिए आप भरपूर मात्रा में नींद अवश्य ले. क्योंकि जम्हाई आने का प्रमुख कारण भरपूर मात्रा में नींद ना लेने की वजह से भी होता है .

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

2. पूजा करते समय सिर से स्नान अवश्य करें तो आपको पूजा के समय जम्हाई नहीं आएंगी, क्योंकि सिर से स्नान करने के बाद हमारा दिलों दिमाग तरोताजा रहता है और स्नान करने से हम लोगों को एक नई एनर्जी मिलती है इसीलिए पूजा के समय इस बात का विशेष ध्यान रखें.

3. अगर आप चाहते हैं कि पूजा में आपको जम्हाई ना आए तो इसके लिए आप पूजा को घंटो तक ना करें बल्कि विशेष पूजा करें क्योंकि लंबे समय तक पूजा करने से मन बोर होने लगता है जिसकी वजह से जम्हाई आने लगती हैं.

4. अगर आप चाहते हैं कि पूजा करते समय आपको जम्हाई या उबासी ना आए तो इसके लिए आप जिस भी देवी देवता की पूजा करें उसके प्रति आपके दिल में सच्ची श्रद्धा और भक्ति अवश्य होनी चाहिए, क्योंकि जिस काम को करने के लिए हमारे अंदर हौसला होता है तो फिर उस कार्य को देर तक करने पर भी हमारा मन बोर नहीं होता है .

5. पूजा में नींद या जम्हाई ना आए इसके लिए आप कभी भी जबरदस्ती पूजा ना करें जब आपका मन करे तब आप तन मन से ईश्वर की पूजा करें बल्कि किसी के कहने पर जबरदस्ती पूजा बिल्कुल ना करें, क्योंकि जो कार्य हमें करने की इच्छा ना हो और अगर कोई वह जबरदस्ती हमसे करवाया जाए तो उस कार्य को करने में आलस्य आने के साथ-साथ गुस्सा भी आता है जिसका फल शुभ नही अशुभ मिलता हैं. खास करके पूजा-पाठ में जल्दबाजी बिल्कुल भी ना करें.

तो मित्रों यह कुछ प्रमुख बातें हैं अगर आप लोग इन बातों को पूजा के समय ध्यान में रखेंगे, तो शायद आपकी पूजा विधिवत तरीके से संपन्न हो सके और उसमें आपको जम्हाई या उबासी की समस्या ना महसूस हो.

पूजा में छींक आना | Puja me chhink aana

छींक आना हमारे मस्तिष्क और स्वास्थ्य के लिए काफी ज्यादा लाभकारी होता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र में छींक को शुभ अशुभ संकेतों से जोड़ा गया है बताया जाता है अगर पूजा करते समय आपको छींक आती है तो इसका मतलब होता है आपकी मनोकामना पूर्ति में बाधा आने वाली है.

पूजा करते समय आखों से आंसू आना

बहुत लोग प्रतिदिन किसी न किसी भगवान की पूजा करते रहते हैं लेकिन कई बार ऐसा होता है की पूजा करते समय हमारी आंखों से आंसू आने लगते हैं ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उस समय हम तन मन से ईश्वर की भक्ति में लीन रहते हैं जिसके कारण हमें आंसू आने लगते हैं.

eye ankhe nazar

क्योंकि जब कोई व्यक्ति सच्चे मन से भगवान की पूजा करता है तो उसे अपने आसपास ईश्वर की उपस्थिति का आभास होता है ऐसे में वह अपनी समस्त समस्याओं को ईश्वर के समक्ष प्रस्तुत करते हुए आंखों से आंसू गिरा देता है जो व्यक्ति की श्रद्धा और सच्ची भक्ति को दर्शाता है.

पूजा के समय दीपक का बुझना

हिंदू धर्म में पूजा के समय दीपक के बुझने को शुभ अशुभ संकेतों से जोड़ा गया है ऐसे में अगर पूजा के समय दीपक किसी कारणवश बुझ जाता है तो यह हमें ईश्वर के नाराज होने का संकेत देता है साथ में यह भी दर्शाता है कि हमारे द्वारा की गई पूजा ईश्वर ने स्वीकार नहीं की है.

puja- arti deepak

ऐसे में पूजा करने वाले जातक को इस अशुभ प्रभाव को खत्म करने के लिए अपने भगवान पूर्वजों और कुल देवी-देवताओं से क्षमा मांगकर दीपक को फिर से जलाना चाहिए और ईश्वर का सच्चे मन से स्मरण और भक्ति करनी चाहिए.

FAQ : पूजा करते समय जमाई आना

रोज पूजा करने से क्या होता हैं ?

रोज पूजा करने से जीवन में सुख शांति समृद्धि आती हैं और मन में सकारात्म उर्जा आती हैं.

किस भगवान की पूजा करें ?

भगवान एक ही है केवल उनके रूप अनेको है ऐसे में आप उनके किसी भी रूप की पूजा कर सकते हैं.

पूजा के लिए सबसे शुभ समय क्या होता हैं ?

हिंदू धर्म में पूजा के लिए प्रातः काल का समय अति उत्तम और लाभदायक होता हैं.

निष्कर्ष

प्रिय मित्रों जैसा कि आज हमने इस लेख में पूजा करते समय जमाई आना टॉपिक से संबंधित जानकारी प्रदान की है जिसमें हमने पूजा करते समय जमाई आना जानकारी के साथ साथ पूजा के समय शुभ अशुभ से संबंधित जानकारी प्रदान की है,.

ऐसे में अगर आप लोगों ने इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आप लोगों को पूजा करते समय जमाई आना टॉपिक से संबंधित विशेष जानकारी प्राप्त हो गई होगी तो मित्रों हम उम्मीद करते हैं आप लोगों को हमारे द्वारा बताई गई जानकारी पसंद आई होगी साथ में उपयोगी भी साबित हुई होगी.

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन