हर बंधन खोलने का मंत्र एवं प्रयोग विधि और मंत्र जाप करने के 7 फायदे | Har Bandhan kholne ka Mantra

हर बंधन खोलने का मंत्र | Har Bandhan kholne ka Mantra : हेलो दोस्तों नमस्कार स्वागत है आपका हमारे आज के इस नए लेख में आज हम आप लोगों इस लेख के माध्यम से हर बंधन खोलने का मंत्र के बारे में बताने वाले हैं वैसे तो आप लोग जानते होंगे कि जब कोई व्यक्ति किसी अच्छे मुकाम पर रहता है तो लोग उससे जलने लगते हैं कई ऐसे लोग हैं जो लोगों की सफलता से जलते हैं ऐसे लोग स्वयं तो मेहनत नहीं करते लेकिन मेहनत करके सफलता हासिल करने वालों पर जलते रहते हैं.

क्योंकि उन व्यक्तियों को दूसरे व्यक्ति की सफलता खटकती है और वह उन व्यक्तियों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करते हैं फिर वह व्यक्ति उल्टे सीधे तांत्रिक उपाय करते हैं जैसे कि उस व्यक्ति को अपने वश में करने की कोशिश करते हैं जैसे ही उस व्यक्ति का शरीर बंध जाता है तो वह व्यक्ति किसी काम का नहीं रह जाता है मान लीजिए कि उसके शरीर में एक नकारात्मक शक्ति चली जाती है और वह खुद को काम करने के योग्य नहीं समझता है.

हर बंधन खोलने का मंत्र, बंधन खोलने का मंत्र, घर बंधन खोलने का मंत्र, हनुमान जी का बंधन खोलने का मंत्र, har bandhan kholne ka mantra, बंधन खोलने का शाबर मंत्र, बंधन खोलने का उपाय, बंधन खोलने का मंत्र बताएं, व्यापार बंधन खोलने का मंत्र, बंधन खोलने का बंगाली मंत्र, बंधन खोलने के मंत्र, बंधन दोष क्या है, Bandhan dost kya hai, बंधन कितने प्रकार के होते हैं, हर बंधन खोलने का मंत्र और प्रयोग विधि, हर बंधन खोलने का मंत्र जाप करने के फायदे, बंधन तोड़ने का घरेलू उपाय, Bandhan todne ka gharelu upay, Har Bandhan kholne Ka Mantra Jaap karne ke fayde, Har Bandhan kholne ka Mantra aur prayog Vidhi, Bandhan kitne Prakar ke Hote Hain, सारे तांत्रिक बंधन खोलने का शाबर मंत्र, bandhan kholne ka mantra,

अगर आप में से कोई भी व्यक्ति ऐसी समस्या से पीड़ित है तो आज हम उसके लिए एक ऐसा चमत्कारी मंत्र लेकर आए हैं जिससे हर बंधन खोलने का मंत्र कहते हैं इस मंत्र के द्वारा आप किसी भी प्रकार के बंधन को चुटकियों में खोल सकते हैं। चाहे जमीन का काम हो दुकान का काम हो, या व्यक्ति का हो , फिर चाहे वह देवी देवता का ही क्यों ना हो , वह साधक आसानी से इस मंत्र के द्वारा बंधन को तोड़ सकता है।

इसीलिए आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें इस लेख को पढ़ने के बाद आपको हर बंधन खोलने का मंत्र प्राप्त हो जाएगा और उसकी प्रयोग विधि क्या है इसके बारे में भी हम आपको विस्तार से बताएंगे। जब किसी व्यक्ति का शरीर बांध लिया जाता हैं तब उसका शरीर कुछ काम का नहीं रहता हैं.

उसका शरीर मानो नश्वर हो जाता हैंऔर वह खुद काम करने योग्य भी नहीं रहता हैं अगर आप भी इस समस्या से पीड़ित है और आपका शरीर किसी ने बांध लिया हैं तो हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े क्योंकि हम इस आर्टिकल में आपको शरीर खोलने का मंत्र बताने वाले हैं.

बंधन दोष क्या है ? | Bandhan dost kya hai ?

अगर आप में से कोई भी व्यक्ति क्या जानना चाहता है कि आखिर बंधन दोष होता क्या है बंधन दोस्त एक प्रकार का तांत्रिक प्रयोग है जो कि व्यक्ति एक दूसरे के प्रति ईर्ष्या के भाव में करता है यानी कि व्यक्ति एक दूसरे को कार्य करने से रोकने के लिए तांत्रिक क्रियाओं का प्रयोग करके बंधन दोस्त लगवा देता है या फिर किसी भी वस्तु को प्राप्त करने के लिए उसे रोक देता है ताकि उस व्यक्ति का परिवार और उसका कार्य नष्ट हो जाए। तांत्रिक क्रिया का प्रयोग शत्रुओं द्वारा किया जाता है।

इस तांत्रिक क्रिया का असर व्यक्ति के ऊपर इस प्रकार पड़ता है कि इसका परिणाम बहुत ही भयानक हो सकता है यह जरूरी नहीं है कि ज्योतिष द्वारा किए गए उपाय को अपनाने से कोई व्यक्ति गंभीर समस्याओं का सामना कर रहा है या फिर लंबे समय से वह स्वस्थ नहीं है अगर उस व्यक्ति की दवाई काम नहीं कर रही है.

परिवार में अचानक से किसी व्यक्ति की मृत्यु होने लगी है अचानक से नौकरी छूट गई है व्यवसाय भी बंद हो गया है आधी जैसी समस्याएं आने पर बंधन लगता है किसी अच्छे ज्योतिष की सलाह लेने से बंधन दोष को दूर किया जा सकता है तो आइए आप जानते हैं कि बंधन कितने प्रकार के होते हैं।

बंधन कितने प्रकार के होते हैं ? | Bandhan kitne Prakar ke Hote Hain ?

bound rope

1. धन बंधन

कई बार कुछ व्यक्तियों के साथ ऐसा होता है कि वह अच्छी खासी इनकम कर रहे होते हैं जिसके कारण वह अपना घर बनवा लेते हैं और कार भी खरीद लेते हैं लेकिन जो उनके दुश्मन होते हैं वह उनसे ईर्ष्या के कारण जलते रहते हैं ऐसे में वह उस व्यक्ति के ऊपर तांत्रिक क्रिया का प्रयोग करते हैं तांत्रिक क्रिया का प्रयोग करने से जातक के पास धन आने के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं। उस व्यक्ति को धन की हानि होने लगती है।

2. कोख बंधन

कोख महिलाओं की बांधी जाती है ऐसा कहा जाता है कि जब भी किसी महिला को बच्चा होने वाला होता है तो कोई अन्य स्त्री या फिर पुरुष इरोसा के भाव से उस महिला की कोख को तांत्रिक क्रिया द्वारा बंधवा देता है जिसकी वजह से उस महिला को बच्चा पैदा नहीं होता है डॉक्टरी रिपोर्ट में तो बच्चा स्वस्थ रहता है लेकिन तांत्रिक क्रिया के कारण उस बच्चे की मौत हो जाती है।

3. व्यवसाय बंधन

वैसे तो बंधन कई प्रकार के होते हैं लेकिन व्यापार में बंधन लगना एक बहुत ही दुखत घटना है जब भी कोई व्यक्ति एक दूसरे से जलता है या फिर उसका खाया हुआ वह नहीं देख सकता है जिसके कारण दूसरा व्यक्ति उस व्यक्ति के प्रति ईर्ष्या की भावना रखता है तो उसी में वह जातक के व्यवसाय को तांत्रिक क्रिया द्वारा बंधवा देता है जिसके कारण उस व्यक्ति का व्यवसाय धीरे-धीरे नष्ट होने लगता है सभी ग्राहक उससे संतुष्ट नहीं होते हैं तो उस जातक के लिए या एक परेशानी खड़ी हो जाती है।

4. शरीर बंधन

जब भी किसी व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति से अपने मुताबिक काम कराना होता है तो वह तांत्रिक क्रिया का प्रयोग करके उस व्यक्ति के शरीर को बंधवा लेता है और अपने मन मुताबिक उस व्यक्ति से कार्य कर आता है शरीर बंधन इसके अंतर्गत वह जातक पूरी तरह से शक्तिशाली होता है लेकिन उसके बावजूद भी वह हर कार्य में असफल हो जाता है उस व्यक्ति को कुछ भी समझ नहीं आता है कि उसे क्या करना चाहिए।

हर बंधन खोलने का मंत्र | Har Bandhan kholne ka Mantra

आज के समय में अधिकतर लोग तांत्रिक क्रिया का प्रयोग बहुत ही ज्यादा करते हैं तांत्रिक क्रिया वह होती है जो ऐसे ही किसी को बंधन में बांध लेती है भले ही उस व्यक्ति के पास काला जादू हो या ना हो यह एक प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा होती है इसीलिए वह किसी को भी अपने बंधन में कर लेती है बड़े बड़े तांत्रिक और अघोरी इस विद्या और इस मंत्र का प्रयोग भी करते हैं।

इसीलिए आज हम आप लोगों को एक ऐसे मंत्र के बारे में बताएंगे जिसके द्वारा आप हर बंधन को खोल सकते हैं हर बंधन खोलने का मंत्र इस मंत्र का प्रयोग करने की संपूर्ण विधि क्या है इसके बारे में भी हम आपको जानकारी देंगे अगर आप में से कोई भी व्यक्ति शरीर के बंधन को खोलना चाहता है तो इस मंत्र का प्रयोग अवश्य करें।

bound rope

इस मंत्र का प्रयोग शरीर को बंधन से मुक्त करने दुकान को बंधन से मुक्त करने धन को बंधन से मुक्त करने ऑफिस को बंधन से मुक्त करने आदि बंधनों को मुक्त करने में काम आता है। इन सभी बंधनों को तोड़ने के लिए इस मंत्र का प्रयोग अवश्य करें।

अल खोलू बल खोलू
जल खोलू थल खोलू
धरती आकाश खोलू चलता हुया योगी खोलू
घर व्यापार खोलू
गद्दी बैठा बनिया खोलू
जो इतना ना खुलें तो
गुरू गोरख नाथ लाजे
मेरा खोला ना खुले तो
गुरू मछेन्द्रनाथ लाजे
काज व्यापार चले
ना चले तो शिव की
लटा टूटभूमि पे परें
शब्द साचॉ पिंड कॉचा फुरै मंत्र ईश्वरो वाचा
सत नाम आदेश गुरू का

हर बंधन खोलने का मंत्र और प्रयोग विधि | Har Bandhan kholne ka Mantra aur prayog Vidhi

हर प्रकार के बंधन को खोलने के लिए ऊपर दिए गए मंत्र का प्रयोग करने के पश्चात अब आपको इस बात की जानकारी अवश्य होनी चाहिए कि इस बंधन को खोलने के लिए किस विधि द्वारा इसका प्रयोग किया जाए तो चलिए हम आपको हर बंधन खोलने का मंत्र उसकी प्रयोग विधि बताते हैं।

  1. हर प्रकार के बंधन को खोलने के लिए आपको 1 दिन का चुनाव करना होगा शनिवार या फिर मंगलवार के दिन रात्रि के 10:00 बजे से शुरू करना है।
  2. शनिवार या फिर मंगलवार के दिन रात के 10:00 बजे आसन लगाकर उत्तर दिशा की ओर मुख करके बैठ जाएं।
  3. ध्यान रहे आप जिस भी जगह आसन लगा कर बैठते हैं वह जगह एकांत होनी चाहिए एकाग्र मन से मंत्र का जाप करने पर उस मंत्र का असर ज्यादा होता है।
  4. आसन पर बैठने के बाद आपको एक रुद्राक्ष की माला लेना है और उस माला से 11 माला जाप करना है अगर आप चाहे तो अधिक बार भी कर सकते हैं।
  5. उसके पश्चात साधक को गणेश भगवान की पूजा करनी है और गुरु मंत्र की एक माला जाप अवश्य करना है अगर आपके पास कोई भी गुरु नहीं है तो आप भगवान शिव के मंत्र का जाप कर सकते हैं और उनका ध्यान कर सकते हैं।
  6. व्यक्ति जब भी इस मंत्र का जाप कर रहा होता है तो उस समय उस व्यक्ति को चौमुखी दीपक अपने सामने प्रज्वलित करके रखना है और उसके साथ गूगल लोबान का धुप भी जला लेना है।
  7. इस मंत्र का प्रयोग आपको लगातार 11 दिन तक करना है उसके पश्चात आपका यह मंत्र सिद्ध हो जाएगा।
  8. जब आपकी साधना सफल हो जाए तो आखरी दिन आपको मिठाई का भोग लगाना है और उस प्रसाद में गुलाब के चार फूल चढ़ाने हैं।
  9. उसके पश्चात आप इस मंत्र का प्रयोग जिस भी व्यक्ति को बंधन में लिया गया है उस पर प्रयोग करके इसका लाभ उठा सकते हैं।

हर बंधन खोलने का मंत्र जाप करने के फायदे  | Har Bandhan kholne Ka Mantra Jaap karne ke fayde

bound rope

  1. हर बंधन खोलने का मंत्र अगर आप प्रयोग करते हैं तो इस मंत्र के प्रयोग से आपको अपनी दुकान के बंधन से छुटकारा मिल जाएगा ।
  2. इस मंत्र का प्रयोग करने से शरीर के बंधन से छुटकारा मिल जाता है।
  3. यह मंत्र बहुत ही शक्तिशाली है इसका प्रयोग करने से कोख बंधन से छुटकारा मिल जाता है।
  4. अगर आपने से कोई भी व्यक्ति ऑफिस के बनने से छुटकारा पाना चाहता है तो वह इस मंत्र का प्रयोग अवश्य करें।
  5. धन बंधन से छुटकारा पाने के लिए इस मंत्र का प्रयोग अवश्य करें।
  6. अगर किसी व्यक्ति का व्यवसाय बंधा हुआ है तो उससे छुटकारा पाने के लिए हर बंधन खोलने का मंत्र प्रयोग अवश्य करें।
  7. अगर किसी व्यक्ति ने आपके ऊपर शरीर बंधन का तांत्रिक क्रिया का प्रयोग किया है तो इस क्रिया को तोड़ने के लिए इस मंत्र का प्रयोग अवश्य करें।

बंधन तोड़ने का घरेलू उपाय |  Bandhan todne ka gharelu upay

अगर किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार का बंधन तोड़ना है तो उसके लिए उस व्यक्ति को कुछ उड़द के दाने को 21 बार उसी मंत्र से अभिमंत्रित करके व्यक्ति के ऊपर फेंक दें अगर दुकान का बंधन है तो उड़द के दानों को दुकान पर फेंक दें उस जगह पर फेंकने से हर प्रकार के बंधन टूट जाते हैं।

FAQ : हर बंधन खोलने का मंत्र

कौन सा मंत्र मानसिक शक्ति देता है ?

'ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्- यह मंत्र बहुत ही शक्तिशाली है इस मंत्र का प्रयोग करने से आप किसी भी मानसिक शक्ति को खींच शब्द मंत्र की रचना ऋषि विश्वामित्र ने की थी या मंत्र बहुत ही शक्तिशाली मंत्र है इस मंत्र का नित्य तीन बार जाप करने से आसपास की नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाता है।

सबसे पवित्र मंत्र कौन सा है ?

गायत्री महामंत्रसबसे ज्यादा पवित्र गायत्री मंत्र मारा जाता है या मंत्र हिंदू धर्म के वेद यजुर्वेद में है 'ॐ भूर्भुवः स्वः' ऋग्वेद के छंद में भी या मंत्र शामिल है इस मंत्र में सवितृ देव की उपासना की जाती है इस मंत्र का प्रयोग ईश्वर की प्राप्ति के लिए किया जाता है। 

संकट में कौन सा मंत्र बोलना चाहिए ?

हनुमान भगवान को सभी संकटों से दूर करने का देवता माना जाता है इसीलिए अगर आप में से कोई भी व्यक्ति हनुमान जी के संकट करने का मंत्र जाप करता है तो इसके द्वारा आप हर प्रकार के संकट से मुक्ति पा सकते हैं।

ॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा।

निष्कर्ष

दोस्तों जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से हर बंधन खोलने का मंत्र के बारे में जानकारी दी है इसके अलावा बंधन क्या है बंधन कितने प्रकार के होते हैं हर बंधन खोलने की मंत्र विधि क्या है इन सभी विषयों के बारे में विस्तार से जानकारी दी है अगर आपने हमारे इस लेख को अच्छे से पढ़ा है तो आपको इन सभी विषयों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी उम्मीद करते हैं हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित हुई होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *