भैरव को बुलाने का मंत्र क्या है ? बटुक भैरव मंत्र एवं संपूर्ण साधना विधि जाने !

Kaal bhairav baba ko bulane ka mantra ?  आज हम आपके साथ Bhairav Ko Bulane ka Mantra शेयर करने वाले हैं| आप इसे चाहे तो भैरव को बुलाने का मंत्र समझे या Bhairav ko Bulane ki Sadhana समझे, क्योंकि यह दोनों एक ही है| भैरव को बुलाने का मंत्र क्या है? बटुक भैरव मंत्र साधना विधि क्या है? bhairav nath mantra? bhairav nath mantra kya hota hai?

, काल भैरव का मंत्र, काल भैरव शाबर मंत्र इन हिंदी, अष्ट भैरव मंत्र, काल भैरव मंत्र मराठी, बावन भैरव मंत्र, 52 भैरव मंत्र, भैरव गायत्री मंत्र, भैरव साधना, प्राचीन भैरव मंत्र, 52 भैरव मंत्र, श्मशान भैरव मंत्र, असितांग भैरव गायत्री मंत्र, भैरव मंत्र साधना, अष्ट भैरव मंत्र, एक दिन काल भैरव प्रकट साधना, काल भैरव मंत्र, भैरव मंत्र क्या है , भैरव मंत्र क्या है, भैरव बाबा का मंत्र क्या है, काल भैरव का मंत्र क्या है, kaal bhairav mantra kya hai , काल भैरव का मंत्र क्या है, kaal bhairav mantra, kaal bhairav mantra book, kaal bhairav mantra sanskrit, kaal bhairav mantra english, kaal bhairav mantra benefits, kaal bhairav mantra jaap, kaal bhairav mantra for job, ,

भैरव बाबा को माता काली का पुत्र कहा जाता है और काल भैरव बाबा की पूजा विशेष तौर पर शनिवार के दिन की जाती है| मध्यप्रदेश के जबलपुर के बाजना मठ में भैरव बाबा की बाल रूप की मूर्ति स्थापित है| ऐसा कहा जाता है कि यह सिद्ध तांत्रिक मंदिर भी है,जहां शनिवार को अगर कोई भक्त तेल चढ़ाता है और भैरव बाबा की पूजा करता है तो उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं और उसकी सभी परेशानियां दूर हो जाती है| bhairav nath mantra? kaal bhairav ko bulane ka mantra? काल भैरव का मंत्र? काल भैरव का मंत्र क्या है? काल भैरव का मंत्र का जाप कैसे करे?

भैरव को बुलाने का मंत्र क्या है ? What is the mantra to call Bhairav

भैरव बाबा के वैसे तो अनगिनत रूप है और उन अनगिनत रूप में से हम आपको बटुक Bhairav ko Bulane ka Mantra बताएंगे| आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, बटुक भैरव बाबा बहुत जल्दी ही खुश हो जाते हैं और यह अपने भक्तों की सभी मनोकामना जल्द ही पूरी कर देते हैं|

बटुक भैरव बाबा को दुर्गा माता का पुत्र माना जाता है, साथ ही इन्हें शंकर भगवान का अवतार भी माना जाता है| अगर कोई व्यक्ति इन्हें अपना इष्ट मानकर इनकी साधना चालू करता है,तो उसकी जिंदगी के सभी दुख और दर्द दूर हो जाते हैं|

इसके अलावा अगर आपकी कुंडली में किसी भी प्रकार का ग्रह दोष चल रहा है,तो आप Batuk Bhairav ji ke Mantra ki Sadhana करके उसे समाप्त कर सकते हैं|अगर कोई साधक बटुक भैरव बाबा को अपना इश्ट मानकर रोजाना इनके मंत्रों की श्रद्धा पूर्वक जाप करता है और बटुक भैरव बाबा में आस्था रखता है तो भैरव बाबा 24 घंटे अपने उस साधक के साथ होते हैं और उसकी रक्षा करते हैं|


भैरव बाबा के मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति के ऊपर किसी भी प्रकार के भूत प्रेत का असर नहीं होता है ना ही कोई नेगेटिव एनर्जी उसके ऊपर अटैक कर पाती है|

kaal bhairav

जो कोई भी व्यक्ति बटुक भैरव बाबा के मंत्र का जाप करता है तो उसके घर में किसी भी प्रकार का जादू टोना या कोई भी बुरी शक्ति अपना प्रभाव नहीं दिखा पाती है| बटुक भैरव बाबा का तीनों लोकों में ऐसा प्रभाव है कि काल भी इनके नाम से कापता है|

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 581 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

शुभ समय और मंत्र : शनिवार को पीपल में जल कब चढ़ाना चाहिए ? | Shaniwar ko pipal me jal kab chadana chahiye
काली माता के व्रत में क्या खाना चाहिए ? What to eat in Kali Mata vrat?
( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

जब साधक बटुक भैरव साधना चालू करता है,तो साधना चालू होने के कुछ दिन बाद ही उसे कुछ ना कुछ बटुक भैरव बाबा की साधना से संबंधित अनुभूतियां होने लगती है| इसके साथ ही साधना के दौरान उसके साथ कई चमत्कार भी होने लगते हैं, आइए आगे जानते हैं कि, भैरव को बुलाने का मंत्र क्या है और भैरव को बुलाने के लिए बटुक भैरव साधना कैसे करें|

बटुक भैरव मंत्र क्या है ? What is Batuk Bhairav Mantra?

ॐ बं बटुक-भैरवाय नमः

ॐ ह्रीं बटुकाय वां क्षौं क्षौं आपदुद्धारणाय कुरु कुरु बटुकाय ह्रीं बटुकाय स्वाहा

बटुक भैरव मंत्र साधना विधि क्या है और कैसे करे ? What is Batuk Bhairav Mantra Sadhana Method?

  1. Bhairav ko Bulane ka Mantra हम आपको ऊपर दे चुके हैं| आप Bhairav ko Bulane ka Mantra का जाप करके बटुक भैरव बाबा की सिद्धि कर सकते हैं| ऊपर हमने आपको दो मंत्र दिए हैं| आप उसमें से किसी भी मंत्र का इस्तेमाल साधना करने के लिए कर सकते हैं|
  2. हम आपको बता दें कि, बटुक भैरव जी की साधना दो प्रकार की होती है| पहली होती है सात्विक साधना और दूसरी होती है तामसिक साधना| अगर आप घर गृहस्ती वाले हैं, तो आपको बटुक भैरव बाबा की सात्विक साधना करनी चाहिए, क्योंकि इसमें शुद्ध सामग्री का इस्तेमाल होता है और तामसिक साधना में तामसिक सामग्री जैसे कि दारू, मास इत्यादि का इस्तेमाल होता है| नीचे हम आपको बटुक भैरव बाबा की सात्विक साधना के बारे में बता रहे हैं|
  3. बटुक भैरव बाबा की सिद्धि करने के लिए आप स्फटिक की माला का इस्तेमाल कर सकते हैं और अगर आपको यह माला नहीं मिलती है, तो आप चाहे तो रुद्राक्ष की माला का भी इस्तेमाल कर सकते हैं| इसके अलावा आपको साधना करने के लिए लाल रंग के आसन पर बैठना होगा| इसीलिए लाल रंग के आसन की व्यवस्था पहले ही कर ले|
  4. Batuk Bhairav Baba ki Sadhana आप किसी भी शनिवार या फिर रविवार को चालू कर सकते हैं और आपको लगातार यह साधना 21 दिन तक रोजाना एक ही जगह पर और एक ही समय करनी होती है| यह साधना रात में की जाती है|इसलिए आपको रात को 9:00 बजे के बाद नहा धोकर ही बटुक भैरव साधना चालू करनी चाहिए| बटुक भैरव साधना करने में आपका मुंह दक्षिण दिशा की तरफ या फिर पूरब दिशा की ओर होना चाहिए|
  5. बटुक भैरव मंत्र जाप की साधना में आपको बटुक भैरव जी की एक छोटी सी फोटो अथवा मूर्ति स्थापित करनी होती है, साथ ही आपको बटुक भैरव मंत्र को भी मूर्ति के बगल अथवा फोटो के बगल स्थापित करना होता है|
  6. हालांकि आपको Batuk Bhairav Yantra को एक थाली में थोड़ा सा चावल और हल्दी डालकर उसके ऊपर रखना होता है| उसके बाद उस यंत्र के बीच में आपको एक सुपारी भी रखनी होती है और 21 दिन मंत्र साधना के बाद आपको उस सामग्री को और बटुक भैरव यंत्र को बहते हुए पानी में प्रवाहित कर देना होता है|

  1. बटुक भैरव जी की साधना में आपको धूप और देसी घी का दीपक इस्तेमाल करना होता है और आपको रोजाना इन्हें लगातार 21 दिन तक छुहारे का प्रसाद चढ़ाना होता है और प्रसाद चढ़ाने के बाद आपको उसे छत पर डाल देना होता है, ताकि पक्षी उसे खा ले|
  2. जब आप पहले दिन बटुक भैरव जी की साधना चालू करें तो आपको सबसे पहले Mantra जाप करने से पहले गणेश भगवान, अपने गुरु जी की और अपने कुल देवता की वंदना करनी है और उनसे अपनी साधना को सफल बनाने की आज्ञा लेनी है| इसके बाद आपको लगातार 21 दिन तक रोजाना 1-3 या फिर पांच माला का जाप करने का संकल्प लेना है| आपको लगातार 21 दिन तक एक निश्चित संख्या में ही जाप करना है|
  1. – आप जितने भी Mantra का जाप करते हैं, आपको उसका दशांश यानी कि दसवां हिस्सा मंत्र से आहुति देकर हवन करना होता है| आप हफ्ते में एक दिन या रोजाना भी हवन कर सकते हैं और साधना के आखिरी दिन को हवन करने के बाद आपको एक माला जाप की आहुति दूध से बनी हुई खीर से देनी होती है| ऐसा करने से बटुक भैरव बाबा प्रसन्न होते हैं|
  2. आपको हर रविवार को या फिर शनिवार को मीठी रोटी का बटुक भैरव जी को भोग लगाना होता है और उसके बाद उसको किसी कुत्ते को दे देना होता है|
  3. – जब आप बटुक भैरव जी की साधना चालू करेंगे और जब 10-11 दिन साधना करते हुए बीत जाएंगे, तो आपको थोड़ी थोड़ी अनुभूतियां होना चालू हो जाएगी, परंतु आपको घबराना नहीं है| आपका जॉप जितनी श्रद्धा पूर्वक होगा और आप जितने लगन से मंत्रों का जाप करेंगे,आपको सफलता भी उतनी जल्दी मिलेगी| 21 दिन के बाद मंत्र साधना समाप्त होने के बाद भी आप चाहे तो रोजाना बटुक भैरव जी के मंत्रों का एक माला का जाप कर सकते हैं|ऐसा करने से बटुक भैरव जी आपके ऊपर कृपा बनाए रखेंगे|
  4. नोट: आपको Batuk Bhairav Ji ki Sadhana में पूर्ण रूप से ब्रह्मचर्य का पालन करना होगा, क्योंकि बटुक भैरव बाबा भी बिल्कुल Hanumanji की तरह ही होते हैं| इसलिए आपको इनकी साधना में मन के साथ-साथ अपने तन को भी पवित्र रखना पड़ेगा |

-: चेतावनी disclaimer :-

सभी तांत्रिक साधनाएं एवं क्रियाएँ सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई हैं, किसी के ऊपर दुरुपयोग न करें एवं साधना किसी गुरु के सानिध्य (संपर्क) में ही करे अन्यथा इसमें त्रुटि से होने वाले किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे |

osir news

हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, जो Magic (जादू)  या Paranormal (परालौकिक) से सम्बन्ध रखती है , इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

आंख में खुजली की दवा : एलर्जी,सूजन,चुभन,लालिमा का इलाज | Ankho me khujli ki dawa
तीव्र बुद्धि मंत्र और ज्ञान प्राप्ति मंत्र एवं शक्ति बढ़ाने के उपाय | Teevra Buddhi Mantra
पानी में आग कैसे लगाएं ? जादू सीखे ! Learn fire in water Magic in hindi
शिवलिंग पर जल चढ़ाने से कौन से फायदे होते हैं : धन और सम्मान प्राप्ति का रहस्य जाने
लाल तारा मंत्र के 5 फायदे और प्रयोग विधि : अचूक प्रेम वशीकरण | red tara mantra benefits in hindi
★ सम्बंधित लेख ★