गणेश जी के 12 नाम : गणेश पूजा का दिन,वशीकरण,धन लाभ आदि के 5 मंत्र

Ganesh ji ke barah naam kaun kaun se hai ? इस पोस्ट में हम आपको गणेश जी के बारह नाम के बारे में बताने वाले हैं.अगर आप गणेश जी के बारह नाम के बारे में जानना चाहते हैं या फिर आप गणेश जी के बारे में इंफॉर्मेशन प्राप्त करना चाहते हैं,तो इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें.

ganesh ji ke naam

गणेश जी को विघ्नहर्ता कहा जाता है. इसलिए किसी भी शुभ काम को चालू करने से पहले गणेश जी की पूजा करने का विधान बताया गया है.किसी भी शुभ काम को करने से पहले गणेश जी की पूजा क्यों की जाती है,इसके बारे में अधिकतर लोगों को नहीं पता होता है.

तो हम बता दें कि एक बार गणेश जी को यह आशीर्वाद मिला था कि, संसार में जब भी कभी कोई भी व्यक्ति शुभ काम करेगा, तो सबसे पहले गणेश जी की पूजा ही की जाएगी. इसीलिए किसी भी शुभ काम को करने से पहले व्यक्ति गणेश जी की पूजा करता है और उनसे अपने काम को संपन्न होने की प्रार्थना करता है.

ऐसे कई मामले देखने में आए है, जब किसी व्यक्ति ने गणेश जी की पूजा नहीं की हो और उसे उसका दंड भुगतना पड़ा हो.

गणेश जी कौन हैं ? | ganesh ji ke 12 naam

गणेश जी भगवान शंकर और माता पार्वती के पुत्र हैं और इनके भाई का नाम कार्तिकेय है. जो भक्त सच्चे मन से गणेश जी की आराधना करता है,गणेश जी उस पर अवश्य प्रसन्न होते हैं और अपने उस भक्त की सभी मनोकामना को पूर्ण करते हैं.

Ganesh Ji


गणेश जी के तो वैसे कई नाम है परंतु हम आपको इस आर्टिकल में गणेश जी के बारह नाम के बारे में जानकारी देने वाले हैं. अगर आप गणेश जी के बारह नाम के बारे में नहीं जानते हैं, तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप उनके सभी नामों के बारे में जान जाएंगे,आइए जानते हैं कि गणेश जी के बारह नाम कौन से हैं और उनकी महिमा क्या है.

गणेश जी के बारह नाम क्या हैं ? | ganesh ji ke 12 naam

  1. सुमुख
  2. एकदंत
  3. कपिल
  4. गजकर्णक
  5. लंबोदर
  6. विकट
  7. विघ्न-नाश
  8. विनायक
  9. धूम्रकेतु
  10. गणाध्यक्ष
  11. भालचंद्र
  12. गजानन

गणेश जी की पूजा का दिन कौन सा होता हैं ?

हमारे हिंदू धर्म के अनुसार बुधवार के दिन को गणेश जी की पूजा का दिन माना जाता है और ऐसा कहा जाता है कि, गणेश जी की पूजा करने से किसी भी काम में रुकावट नहीं आती है और किसी भी शुभ काम को चालू करने से पहले गणेश जी की पूजा अवश्य की जानी चाहिए,ताकि वह काम बिना किसी परेशानी के और बिना किसी समस्या के पूरा हो सके.

Ganesh Ji

श्री गणेश संहिता के अनुसार गणेश जी को सभी देवताओं में अपनी तेज बुद्धि और विवेक के कारण जाना जाता है और ऐसा माना जाता है कि, धन से संबंधित परेशानियों को दूर करने के लिए या फिर किसी भी अन्य समस्या को दूर करने के लिए आपको भगवान गणेश जी की बुधवार के दिन श्रद्धा पूर्वक पूजा करनी चाहिए.

इस लेख से जुडी सम्पूर्ण जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 1,165 other subscribers


अगर आप ऐसा करते हैं, तो आपकी सभी परेशानियां धीरे-धीरे दूर हो जाएंगी और आपकी जिंदगी में धीरे धीरे खुशहाली आना चालू हो जाएंगी. मंगल मूर्ति गणेश जी की पूजा सभी देवताओं में सबसे पहले की जाती है और कहा जाता है कि, जो व्यक्ति इनका सच्चे मन से ध्यान करता है,उसकी जिंदगी की सभी समस्या दूर हो जाती है.

Ganesh Ji

इसी के कारण किसी भी मांगलिक काम को चालू करने से पहले गणेश जी की पूजा के साथ-साथ उनका आह्वान किया जाता है. अगर आप अपनी सभी परेशानियों का खात्मा करना चाहते हैं, तो आपको बुधवार की रात को 8:00 बजे से लेकर 11:00 बजे के बीच में नीचे दिए गए 2 उपाय में से किसी भी उपाय को करना चाहिए.ऐसा करने से आपकी जिंदगी में काफी तरक्की होगी.

मनोकामना पूर्ति के लिए गणेश जी का उपाय क्या है ? Ganesha’s remedy for wish fulfillment

भगवान गणेश जी की पूजा सभी देवताओं में सबसे पहले की जाती है और इनकी पूजा करने का तरीका बहुत ही सरल होता है तथा भगवान गणेश अपने भक्तों पर जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं.शास्त्रों में मनोकामना की पूर्ति के लिए गणेश जी के कईउपाय बताए गए हैं, जिनका अगर आप पूरी श्रद्धा के साथ और पुरे विश्वास के साथ इस्तेमाल करते हैं,तो आपको जल्दी ही लाभ मिलता है.

1. मनोकामना पूर्ति के लिए पहला उपाय

kuber ganesh ganpati murti

बुधवार के दिन सुबह नहा धोकर पूरी विधि पूर्वक गणेश जी की पूजा करने के बाद आपको गणेश जी के 12 नामों का जाप कम से कम 108 बार लाल चंदन की माला से या फिर मोती की माला से करना चाहिए. अगर आप ऐसा करते हैं, तो भगवान गणेश जी अवश्य आप पर प्रसन्न होंगे और आपकी सभी मनोकामना को पूरी करेंगे तथा आपकी परेशानियों को भी दूर करेंगे.

नारद संहिता के अनुसार ऐसा माना जाता है कि, जो भक्त गणेश जी के 12 नामों का ध्यान करता है, उससे गणेश जी खुश पसंद होते हैं और गणेश भगवान की कृपा से उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

2. मनोकामना पूर्ति के लिए दूसरा उपाय 

अगर आपको आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है या फिर आप आर्थिक तौर पर परेशान हैं, तो अपनी आर्थिक समस्या तथा परेशानियों को दूर करने के लिए आपको बुधवार के दिन नहा धोकर गणेश जी की पूजा करनी चाहिए और उन्हें प्रसाद के तौर पर गाय के घी और गुड़ का भोग लगाना चाहिए.

Ganesh Ji

ऐसा करने से धीरे-धीरे आपके घर में तेजी से धन का आगमन बढ़ने लगता है और भगवान गणेश जी की कृपा से आपके सभी काम भी बिना किसी रूकावट के और बिना किसी समस्या के पूरे होने लगते हैं, जिससे आपकी तरक्की चालू हो जाती है और आपको धन से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या का सामना आगे चलकर नहीं करना पड़ता है.

मनोकामना पूर्ति हेतु गणेश जी का विशेष मंत्र क्या है ? Special mantra of Ganesh ji for fulfillment of wishes

भगवान गणेश जी की पूजा सभी देवताओं में सबसे पहले की जाती है और इनकी पूजा करने का तरीका बहुत ही सरल होता है तथा भगवान गणेश अपने भक्तों पर जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं. शास्त्रों में मनोकामना की पूर्ति के लिए गणेश जी के कई मंत्र बताए गए हैं, जिनका अगर आप पूरी श्रद्धा के साथ और पुरे विश्वास के साथ जॉप करते हैं,तो आपको जल्दी ही लाभ मिलता है.

 Ganesh bhagvan

गणेश उत्सव के दिन 10 दिनों में अपनी मनोकामनाओं को सिद्ध करने के लिए आप नीचे दिए गए किसी भी मंत्र का जाप कर सकते हैं.ऐसा करने से आपकी वह समस्या दूर हो जाएगी.

1. ऋण से मुक्ति के लिए

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

अगर आप कर्ज की समस्या से परेशान हैं, तो आपको रोजाना एक माला नीचे दिए गए मंत्र का जाप करना चाहिए.ऐसा करने से कर्ज जल्दी खत्म हो जाता है.

“ऊँ गणेश ऋणं छिन्धि वरणयं हुं नमः फट”

2. संकट नाश के लिए

संकट नाश के लिए आपको रोजाना एक माला नीचे दिए गए मंत्र का जाप करना चाहिए.

“ऊँ नमो हेरम्ब मदमोहित मम संकटान निवारय स्वाहा”

3. वशीकरण के लिए

गणेश जी के मंत्रों का इस्तेमाल वशीकरण करने के लिए भी किया जाता है. इसके लिए आपको नीचे दिए गए मंत्र का रोजाना पांच माला जाप करना चाहिए.

“ऊँ श्रीं गं सौम्याय गणपते वरवरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा”

4. आलस्य, निराशा, कलह व विपत्ति नाश के लिए

आलस्य का खात्मा करने के लिए आपको नीचे दिए गए मंत्र का दो माला जाप करना चाहिए.

“गं क्षिप्रप्रसादनाय नमः”

5. धन व आत्मबल प्राप्ति के लिए

धन तथा आत्म बल की प्राप्ति के लिए नीचे दिए गए मंत्र का रोजाना एक माला जाप करना चाहिए.

osir news

“ऊँ गं नमः”

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘
★ सम्बंधित लेख ★