जाने किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु : राधा जी के सपूर्ण जानकारी | Kis paap ke karan hui raadha ki mrityu

किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु | Kis paap ke karan hui raadha ki mrityu : हेलो दोस्तों नमस्कार स्वागत है आपका हमारे आज के इस लेख में आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से किस बात के कारण हुई राधा की मृत्यु के बारे में बताने वाले हैं क्या आप जानते हैं कि जब भी प्रेम की बात आती है तो भगवान श्री कृष्ण और राधा का नाम सबसे पहले आता है भगवान श्री कृष्ण और राधा के बीच में ऐसा प्यार था कि आज भी लोग प्रेम के मामले में राधा और कृष्ण को सबसे आगे रखते हैं.

किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु, राधा कृष्ण से शादी क्यों नहीं की, कौन थे राधा के पति, राधा किस जाति की थी, राधा की शादी किससे हुई, राधा के पुत्र का नाम, kis paap ke karan kee raadha kee mrtyu raadha , raadha krishn se shaadee kyon nahin kee , kaun the raadha ke pati , raadha kis jaati kee thee , raadha kee shaadee kisase huee , raadha ke putr ka naam,

श्री कृष्ण और राधा के बीच का प्यार जीवात्मा और परमात्मा का मिलन माना जाता था राधा और कृष्ण का प्रेम बचपन का प्रेम था ऐसा माना जाता है कि जब श्री कृष्णा 8 साल के थे तभी उन्होंने प्रेम की अनुभूति कर ली थी इसीलिए आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु हुई इसके बारे में बताने वाले हैं और राधा कृष्ण से शादी क्यों नहीं किए थे.

इसके अलावा इस टॉपिक से जुड़े अन्य जानकारी भी देने वाले हैं अगर आप लोग इस विषय की संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें ताकि आप लोगों को इसकी संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो सके।
तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु | Kis paap ke karan hui radha ki mrityu

क्या आप लोग या जानना चाहते हैं कि पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु इसीलिए आज हम आप लोगों को राधा की मृत्यु कैसे हुई थी इसकी संपूर्ण जानकारी नीचे देने वाले हैं।

हमारे हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार ऐसा कहा गया है कि राधा अपने अंतिम दिनों में भगवान श्री कृष्ण से मिलने द्वारका धीश गई थी इसी के लिए जब काफी सालों बाद भगवान श्री कृष्ण ने राधा को देखा तो वह काफी प्रसन्न हो गए थे उसके बाद राधा कृष्ण के महल में रहने लगी और काफी दिनों कृष्ण के महल में रहने के बाद राधा को लगा कि वह कृष्ण से पहले की तरह उनके मन से नहीं जुड़ पाएंगे.

Radha


जिसके कारण राधा ने कृष्ण को बिना बताए महल छोड़ने का निर्णय किया था क्योंकि राधा को ऐसा लगा था कि वह अगर कृष्ण से दूर हो जाएंगी तो फिर उनके साथ मन से जुड़ सकती हैं लेकिन जैसे ही राधा के जीवन में अंतिम क्षण चल रहा था तब श्री कृष्ण ने राधा से जीवन की आखिरी इच्छा पूछी तो उसी क्षण राधा ने कहा कि आप मेरी आखिरी इच्छा पूरी करना चाहते हैं तो आप एक बार बांसुरी बजा दीजिए जो मैं आपकी बांसुरी की धुन पहले सुना करती थी.

तो श्री कृष्ण ने राधा की बात मानकर बांसुरी बजाना शुरू किया लेकिन श्रीकृष्ण को क्या पता था कि वह श्री कृष्ण की बांसुरी सुनते सुनते ही अपने प्राण त्याग देंगे उसके बाद राधा कृष्ण भगवान की बांसुरी की आवाज सुनते सुनते उन्होंने अपने प्राण त्याग दिए इसी प्रकार राधा की मृत्यु हुई लेकिन ऐसा भी माना जाता है कि राधा की मृत्यु के बाद श्री कृष्ण ने बांसुरी बजाना छोड़ दिया था उसके बाद कभी भी श्रीकृष्ण ने बांसुरी नहीं बजाई थी।

राधा कृष्ण से शादी क्यों नहीं की | Radha krishna se shadi kyun nahi ki

क्या आप लोग जानते हैं कि राधा और श्रीकृष्ण भगवान की शादी क्यों नहीं हुई थी अगर नहीं तो आज हम आप लोगों को बताएंगे कि राधा और श्री कृष्ण की शादी क्यों नहीं हुई थी इसके पीछे एक ही वजह मानी जाती है कि श्री कृष्ण और राधा दोनों दुनिया को यह बताना चाहते थे कि ” प्रेम और शादी दोनों अलग-अलग चीजें हैं क्योंकि प्रेम निस्वार्थ भाव से होता है और शादी एक समझौता तथा एक प्रकार का संबंध माना जाता है

” पैसे राधा और कृष्ण ने शादी नहीं की थी इसके पीछे की एक वजह और मानी जाती है ऐसा कहा गया है कि भगवान मनुष्य को आंतरिक प्रेम के बारे में कुछ सिखाना चाहते थे कि निस्वार्थ प्रेम में भी कुछ होता है इसकी वजह से भगवान श्री कृष्ण ने और राधा ने भगवान श्रीकृष्ण से शादी नहीं की थी।

कौन थे राधा के पति ? | Kaun the raadha ke pati

वैसे तो यह कोई भी नहीं जानता कि राधा के पति कौन थे लेकिन ब्रह्मावैवर्त पुराण में का वर्णन किया गया है कि राधा के पति कौन थे इस पुराण की रचना वेदव्यास द्वारा 18 पुराणों में एक है।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 806 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

घरेलू नुस्खे : अनचाहे बालों को जड़ से ख़त्म करने के घरेलू उपाय | Unwanted hair removal home remedies in hindi
गरुड़ पुराण के टोटके और उपाय : लक्ष्मी प्राप्ति, सुख-समृद्धि | Garud Puran ke totke
( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

वैसे तो राधा रानी की शादी के बारे में अलग-अलग कहानियों में प्रचलित है कुछ कहानियों के अनुसार तो ऐसा भी कहा जाता है कि राधा की शादी अनय से हुई थी अनय कौन था अनन्य वृंदावन निवासी था और राधा और अनय की शादी ब्रह्मा की एक परीक्षा के बाद हुई थी ब्रह्मा ने इन दोनों की शादी इसलिए करवाई थी वह पता करना चाहते थे कि वाकई में भगवान श्री कृष्ण विष्णु का अवतार है.

उसी कारण ब्रह्मा ने उनके सारे दोस्तों को अगवा कर लिया था और उन्हें किसी एक जंगल में छुपा दिया था और उन्हीं दोस्तों में से एक अनय भी जंगल में था और उसी में वह भी अगवा हो गया था अगवा होने के बाद भगवान श्री कृष्ण ने अपने सभी दोस्तों का रूप लिया था अनय के साथ और फिर सभी बच्चों के घरों में रहने लगे ” उसके बाद से ही अनय रूपी भगवान श्री कृष्ण की शादी राधा रानी से हो गई थी।”

Radha

कई कहानियां ऐसी भी हैं जिनमें यह बताया गया है कि राधा रानी की शादी हुई ही नहीं थी यह एक ऐसा ही पुराण है जिसके अनुसार बताया गया है कि राधा अपने घर को छोड़ते समय अपनी परछाई छाया राधा माया राधा घर पर मां कांति के साथ छोड़ गई थी और राधा की शादी यशोदा के भाई से हुई थी.

अनय से नहीं इसीलिए ऐसा भी कहा जाता है कि राधा रिश्ते में भगवान श्री कृष्ण की मामी लगती है और राधा की शादी संकेत गांव में हुई थी जो बरसाने और नंद गांव के बीच में पड़ता है भले ही राधा अपने मन से श्रीकृष्ण से जुड़ी थी लेकिन ऐसा कहा जाता है कि राधा ने अपना शादीशुदा जीवन अच्छे से व्यतीत किया है।

राधा किस जाति की थी ? | Radha kis jaati ki thi

राधा किस जाति से जुड़ी थी तो हमारे ब्रह्म पुराण के अनुसार ऐसा कहा गया है कि भगवान श्री कृष्ण के कहने के अनुसार राधा रानी का जन्म गोकुल में हुआ था वृषभानु तथा देवी कीर्ति के यहाँ हुआ था और वृषभानु यादव जाति की थी और वह राजा थे इसीलिए ऐसा कहा जाता है कि राधा रानी यादव जाति की थी।

राधा की शादी किससे हुई ? | Radha ki shadi kisase hui

Radha

वैसे तो हमने आप लोगों को ऊपर इसकी असली सच्चाई बताइए दी है कि राधा की शादी किस व्यक्ति से हुई थी लेकिन फिर भी बता दें कि राधा की शादी रायाण नामक एक व्यक्ति के साथ हुई थी और उस व्यक्ति को भगवान श्री कृष्ण का ही अंत माना जाता है तो उस प्रकार राधा की शादी भगवान श्रीकृष्ण से ही हुई थी क्योंकि भगवान श्री कृष्ण के लाखों रूप बताए गए हैं।

राधा के पुत्र का नाम ? | Radha ke putra ka naam

ऐसा पूछा जाता है कि राधा के पुत्र का क्या नाम था तो अभी तक तो हमें इसकी कोई भी गाड़ी सही से प्राप्त नहीं हुई है कि राधा का पुत्र कौन था वैसे तो अनेकों पुराणों और शास्त्रों के अनुसार सा कहा गया है कि राधा के पुत्र का नाम कर्ण था

osir news

FAQ : किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु

राधा जी किसकी पुत्री थी?

हमारे हिंदू धर्म के पुराणों के अनुसार ऐसा कहा गया है कि बरसाना के प्रतिष्ठा यादव राजा वृषभानु गोप की पुत्री थी एवं लक्ष्मी की अवतार थी राधा रानी।

राधा कृष्ण के कितने पुत्र हैं?

ऐसा पूछा जाता है कि राधा और कृष्ण के कितने पुत्र थे तो आज हम आप लोगों को बता दें कृष्ण भगवान के 80 पुत्र थे लेकिन किस रानी अंकित पुत्र को जन्म दिया प्रद्युम्न, चारुदेष्ण, सुदेष्ण, चारुदेह, सुचारू, चरुगुप्त, भद्रचारू, चारुचंद्र, विचारू और चारू रुक्मिणी के पुत्र थे. साम्ब, सुमित्र, पुरुजित, शतजित, सहस्त्रजित, विजय, चित्रकेतु, वसुमान, द्रविड़ और क्रतु जाम्बवती के पुत्र थे.

राधा रानी का असली पति कौन है?

ऐसा पूछा जाता है कि राधा रानी का असली पति कौन था ऐसे बताया जाता है कि राधा के पिता वृषभानु ने राधा रानी का विवाह करवाया था राधा रानी का विवाह अभिमन्यु से हुआ था लेकिन योग माया के कारण व राधा की परछाई तक का स्पर्श नहीं कर सकता था।

निष्कर्ष

जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से किस पाप के कारण हुई राधा की मृत्यु तथा राधा कृष्ण ने शादी क्यों नहीं की राधा के पुत्र का नाम क्या था राधा किस जाति की थी इसके अलावा इस टॉपिक से जुड़ी अन्य और भी जानकारी प्रदान की है उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित हुई होगी।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

मृत्यु के बाद आत्मा कितने दिन धरती पर रहती है ?
बोलने वाले भूत की जबरदस्त जानकारी | प्रेत बाधा हनुमान मंत्र | Bolne wala bhoot
लड़कों के प्यार के 9 इशारे : उसके कहने से पहले ही जान जाएंगी प्यार है या नहीं | लड़कों के प्यार के इशारे समझना
शिवलिंग पर पानी टपकाने वाला घड़ा का नाम जाने : पानी चढ़ाने वाले घड़े का नाम क्या है ?
नसों की कमजोरी के लिए टेबलेट का नाम और सेवन विधि | Naso ki kamjori ke liye tablet
★ सम्बंधित लेख ★