लक्ष्मी प्राप्ति के सरल टोटके करें और अमीर बने | Dhan prapti ke aasan upay

Laxmi prapti ke saral totke kya hai ? इंसान अपने भाग्य का निर्माता खुद होता है| वह अपनी जिंदगी में जो कुछ भी हासिल करता है,उसमें उसकी किस्मत, उसकी मेहनत और भगवान का साथ होता है| बिना भगवान के साथ के इंसान कुछ भी नहीं कर सकता| हालांकि फिर भी कुछ मुर्ख इंसान ऐसे होते हैं, जो यह कहते हैं कि, भगवान नाम की कोई चीज नहीं होती है, परंतु हम आपको बता दें कि, यह सब श्रद्धा के ऊपर आधारित होता है|

laxmi prapti ke saral upay kya hain ?

अगर आपके मन में यह श्रद्धा है कि, भगवान होते हैं, तो भगवान भी आपका साथ देते हैं और अगर आपके मन में यह श्रद्धा नहीं होती है कि, भगवान नाम की कोई चीज नहीं होती है, तो भगवान आपका साथ नहीं देते हैं, क्योंकि किसी भी रिश्ते में विश्वास होना जरूरी है फिर चाहे वह माता-पिता का रिश्ता हो या फिर भक्त और भगवान का रिश्ता हो|

जैसा कि, आप जानते हैं कि, हमारे हिंदू धर्म में 33 कोटि देवी देवताओं का वर्णन किया है और हर देवी देवता का अपना अलग-अलग काम होता है|

जैसे यमराज जी का काम होता है पापी आत्माओं को दंड देना, ब्रह्मा विष्णु और महेश का काम होता है सृष्टि का संचालन करना, दुर्गा जी का काम होता है असुरों का संहार करना|उसी प्रकार लक्ष्मी जी और कुबेर भगवान का काम होता है अपने भक्तों के ऊपर प्रसन्न होकर उन्हें धन संपत्ति प्रदान करना|

कलयुग के इस जमाने में धन बहुत ही महत्वपूर्ण है| कोई भी आदमी धन कमाने के लिए काफी मेहनत करता है| हालांकि कुछ लोग ईमानदारी से धन कमाते हैं, तो कुछ लोग बेईमानी से धन कमाते हैं, परंतु अगर देखा जाए,तो जिसके पास धन है, ऐसे समय में उसी का बोलबाला है|

अगर आप ऐसे व्यक्ति हैं जो काफी मेहनत करते हैं परंतु धन प्राप्ति नहीं हो रही है, तो इस आर्टिकल में हम आपको लक्ष्मी प्राप्ति के सरल टोटके बताने वाले हैं| इस आर्टिकल में बताए गए लक्ष्मी प्राप्ति के सरल टोटके करके आप धन प्राप्ति कर सकते हैं |

धन प्राप्ति करने के लिए लक्ष्मी जी के सरल टोटके कौन से हैं ? Simple tricks of Lakshmi ji to get money

1. लक्ष्मी माता का व्रत : Laxmi mata Vrat

अगर आप लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय या फिर टोटके ढूंढ रहे हैं,तो यह उपाय आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है| लक्ष्मी माता का व्रत करके आप लक्ष्मी माता को प्रसन्न कर सकते हैं और उनसे अपनी आर्थिक समस्याओं को दूर करने के लिए प्रार्थना कर सकते हैं| इसके लिए आपको शुक्रवार के दिन लक्ष्मी माता का व्रत करना होगा, क्योंकि शुक्रवार के दिन को माता लक्ष्मी जी का दिन माना जाता है|

शुक्रवार के दिन आपको सुबह नहा धोकर साफ कपड़े पहनने हैं और उसके बाद आपको एक लाल रंग के आसन पर बैठ जाना है और आपको अपने सामने माता लक्ष्मी जी की फोटो या फिर मूर्ति स्थापित करनी है| उसके बाद आपको अपने हाथों में जल लेना है और आपको मन ही मन यह संकल्प लेना है कि, आप माता लक्ष्मी की पूजा लक्ष्मी प्राप्ति के लिए कर रहे हैं|

laxmi devi money goddess

इसके बाद आपको अपने हाथ में लिए हुए जल को जमीन पर छोड़ देना है| इसके बाद आपको माता लक्ष्मी जी की मूर्ति या फिर फोटो पर पानी का छिड़काव करना है और उसके बाद आपको उनके ऊपर गंगाजल का छिड़काव करना है|इतना करने के बाद आपको रोली, कुमकुम या फिर चंदन की सहायता से माता लक्ष्मी जी के चेहरे पर, माथे पर और हाथ पैर में तिलक लगाना है|

उसके बाद आपको धूपबत्ती/अगरबत्ती जलानी है| इसके बाद आपको माता लक्ष्मी जी की आरती करनी है और सबसे आखरी में आपको हाथ जोड़कर माता लक्ष्मी जी से अपनी मनोकामना को पूरी होने की अरदास लगानी है| चालू कर देना है|ऐसा करने पर माता लक्ष्मी जी अवश्य आपसे प्रसन्न होंगी और वह आपकी धन से संबंधित समस्याओं को दूर करेंगी|

2. श्री यंत्र की पूजा : Worshipping of Shree Yantra

धन प्राप्ति के लिए या फिर लक्ष्मी प्राप्ति के लिए आप माता लक्ष्मी जी के सबसे प्रिय यंत्र यानी कि श्री यंत्र की भी पूजा कर सकते हैं|इसके लिए आपको हर शुक्रवार या फिर आप जिस भी दिन चाहे उस दिन सुबह नहा धोकर श्री यंत्र की विधिवत पूजा करनी है|

laxmi yantra devi

पूजा करने से पहले आपको यह संकल्प ले लेना है कि, आप कितने दिन तक या फिर कितन वार तक श्री यंत्र की पूजा करना चाहते हैं| ऐसा करने से माता लक्ष्मी जी अवश्य आपसे प्रसन्न होंगी और वह आपकी मनोकामना को पूरी करेंगी|अगर आपके पास श्रीयंत्र नहीं है तो आप बाजार से तांबे का बना हुआ श्री यंत्र ला करके उसकी पूजा कर सकते हैं|

3. विष्णु सहस्त्रनाम और श्री सूक्त का पाठ : Vishnu Sahasranamam and Sri Suktam Paath

NARAYAN VISHNU BHAGWAN

अगर आप लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय ढूंढ रहे हैं, तो आप लक्ष्मी प्राप्ति के लिए विष्णु सहस्त्रनाम और श्री सूक्त का पाठ भी कर सकते हैं|हालांकि इसका पाठ चालू करने से पहले आपको हाथ में जल लेकर यह संकल्प ले लेना चाहिए कि, आप इसका पाठ कितने दिनों तक करेंगे और आपकी क्या मनोकामना है| ऐसा करने से भी माता लक्ष्मी जी प्रसन्न होती हैं और आपकी सभी मनोकामना को पूरी करती हैं,साथ ही आपको धन संपदा प्रदान करती हैं|

4. भगवान कुबेर और लक्ष्मी जी की पूजा : kuber and Laxmi worship

ganesh ganpati kuber bappa

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, लक्ष्मी माता के अलावा भगवान कुबेर भी धन के देवता कह जाते हैं| जिस प्रकार लक्ष्मी माता धन की देवी कहलाती हैं, उसी प्रकार भगवान कुबेर धन के देवता कहलाते हैं|इसीलिए अगर आप इन दोनों की पूजा विधि से करते हैं, तो निश्चित ही आपको धन प्राप्ति होती है और आपकी पैसे से संबंधित सभी समस्याएं भी दूर हो जाती हैं|

5. पीपल के पेड़ की पूजा : Pipal puja

bodhi-leaves pipal

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए आप पीपल के पेड़ की पूजा भी कर सकते हैं|इसके लिए आपको मंगलवार और शनिवार के दिन नहा धोकर सुबह और शाम पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाना है और आपको वहीं पर बैठकर लक्ष्मी माता की आरती गानी हैं| आरती गाने के बाद आपको हाथ जोड़कर पीपल देवता और लक्ष्मी माता से लक्ष्मी प्राप्ति की अरदास लगानी है|

ऐसा करने से निश्चित ही कुछ ही महीनों के अंदर आपकी धन से संबंधित समस्याएं धीरे-धीरे दूर होने लगती हैं|

6. सामान दान दे : Things Daan

लक्ष्मी माता को प्रसन्न करने के लिए और उनसे धन की प्राप्ति करने के लिए आपको किसी भी विवाहित स्त्री को सुहाग से संबंधित सामानों का दान करना चाहिए| आप विवाहित स्त्री को सिंदूर, टिकुली, बिंदिया, कंगन, साड़ी दान कर सकती हैं|

7. गाय को हरी घास खिलाएं : Give green grass to cow

बुधवार के दिन अगर आप सफेद गाय को हरी घास खिलाते हैं, तो आपको लक्ष्मी माता प्रसन्न होकर धन की प्राप्ति करवाती है|

-: चेतावनी disclaimer :-

यह सारी जानकारी इंटरनेट से ली गयी है , इसलिए इसमें त्रुटि होने या किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे | हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *