गणेश मंत्र जाप विधि और लाभ किस्मत चमक जाएगी | Mantra of ganesh

गणेश ऑफ मंत्र Mantra of ganesh : प्रणाम गुरुजनों आज हम आप लोगों को Mantra of ganesh बताएंगे आप लोग जानते हैं कि शिव पुराण के अनुसार भगवान गणेश के 2 पुत्र थे.

ganesh of mantra

जिनमें से एक का नाम शुभ और दूसरे का नाम लाभ था शुभ और लाभ को क्रमशः का प्रतीक माना जाता था शुभ देवी रिद्धि के पुत्र थे और लाभ देवी सिद्धि के पुत्र थे भगवान गणेश के भक्तों का कहना है कि अगर भगवान गणेश को प्रसन्न किया जाए तो वाह सफलता समृद्धि और विपरीत परिस्थितियों से सुरक्षा प्रदान करते हैं.

इसीलिए हर धार्मिक और धर्मनिरपेक्ष अवसर पर इनकी पूजा की जाती है और विशेष रूप से इनकी प्रार्थना की जाती है किसी भी पूजा को शुरू करने से पहले गणेश भगवान का आवाहन किया जाता है और इनकी पूजा की जाती है.

तभी वह पूजा संपूर्ण मानी जाती है तो चलिए आज हम आप लोगों को उन्हीं के कुछ ऐसे Mantra of ganesh बताएंगे अगर आप भगवान गणेश की पूजा करते हैं तो हमारे द्वारा बताए गए इन मंत्रों का प्रयोग कर सकते हैं :

गणेश ऑफ मंत्र | Mantra of ganesh

ganesh ganpati kuber bappa

ऊँ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटि समप्रभ । निर्विघ्नं कुरू मे देव, सर्व कार्येषु सर्वदा ॥


ऊँ एकदन्ताय विहे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात् ॥

श्री गणेश बीज मंत्र Ganesh Beej Mantra

“ऊँ गं गणपतये नमो नमः ।”
“ॐ गं गणपतये नमः ।”षडाक्षर गणेश मंत्र ||

Shodashakshari Ganesh Mantra

Ganesh Ji

“ॐ वक्रतुंडाय हुम्‌”

इस षडाक्षर Ganesh Mantra का जप आर्थिक प्रगति व समृद्धि प्रदायक है. गायत्री गणेश मंत्र Gayatri Ganesh Mantra

ॐ एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् ॥

ॐ महाकर्णाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् ॥
ॐ गजाननाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् ॥

शुभ लाभ गणेश मंत्र | Shubh Labh Ganesh Mantra

ॐ श्रीं गं सौभाग्य गणपतये वर्वर्द सर्वजन्म में वषमान्य नम:।।सिद्धि की प्राप्ति के श्री गणेश मंत्र ||

Siddhi Prapti Ke liye Shri Ganesh Mantra

श्री वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटी समप्रभा निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्व-कार्येशु सर्वदा ॥

मंगल विधान व विघ्नों के नाश हेतु गणेश मंत्र || ?

Ganesh Ji

गणपतिर्विघ्नराजो लम्बतुण्डो गजाननः ।
द्वैमातुरश्च हेरम्ब एकदन्तो गणाधिपः ॥
विनायकश्चारुकर्णः पशुपालो भवात्मजः ।
द्वादशैतानि नामानि प्रातरुत्थाय यः पठेत्‌ ॥

विश्वं तस्य भवेद्वश्यं न च विघ्नं भवेत्‌ क्वचित्‌ ।

“ॐ गं नमः”
“गं क्षिप्रप्रसादनाय नम:” ( आलस्य, निराशा

कलह, विघ्न दूर करने के लिए विघ्नराज रूप की आराधना का यह मंत्र जपें उच्छिष्ट गणपति का मंत्र ?

“ॐ हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा !”

रोजगार की प्राप्ति व आर्थिक वृद्धि के लिए श्री गणेश मंत्र ?

ॐ श्रीं गं सौभ्याय गणपतये वर वरद सर्वजनं में वशमानय स्वाहा।

मोहन गणेश मंत्र | Mohan Shri Ganesh Mantra ?

ganapati ganesh bappa

ॐ वक्रतुण्डैक दंष्ट्राय क्लीं ह्रीं श्रीं गं गणपते वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा।तांत्रिक गणेश मंत्र ||

Tantrik Ganesh Mantra

ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
ग्लौम गणपति, ऋद्धि पति, सिद्धि पति। करों दूर क्लेश।।कुबेर गणेश मंत्र ||

Kuber Ganesh Mantra

ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।वक्रतुण्ड गणेश मंत्र ||

Vakratunda Ganesh Mantra

वक्रतुण्ड महाकाय कोटिसूर्य समप्रभ।
निर्विघ्नं कुरू मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा।।

2. Ganesha Shubh Labh Mantra

ganesh gadapti

ॐ श्रीम गम सौभाग्य गणपतये।
वर्वर्द सर्वजन्म में वषमान्य नमः॥

3. Ganesha Gayatri Mantra

ॐ एकदन्ताय विद्धमहे, वक्रतुण्डाय धीमहि,
तन्नो दन्ति प्रचोदयात्॥

  • ॐ लम्बोदराय नमः
  • ऊँ गं गणपतये नम:
  • ऊँ श्री गणेशाय नम:
  • ऊँ नमो भगवते गजाननाय .
  • ऊँ वक्रतुण्डाय हुम् .
  • ॐ नमो सिद्धि विनायकाय सर्व कार्य कर्त्रे सर्व विघ्न प्रशमनाय सर्व राज्य वश्यकरणाय सर्वजन सर्वस्त्री पुरुष आकर्षणाय श्रीं ॐ स्वाहा ॥
  • ऊँ हीं श्रीं क्लीं गौं ग: श्रीन्महागणधिपतये नम:। ऊँ ।

Ganesh

  • हीं श्रीं क्लीं गौं वरमूर्र्तये नम: ।
  • ऊँ गं गणपतये नम:।
  • हीं श्रीं क्लीं नमो भगवते गजाननाय ।
  • ऊँ वक्रतुण्डाय हुम् ।
  • ॐ विघ्ननाशाय नमः .
  • ॐ सुमुखाय नमः
  • ॐ गजकर्णकाय नमः
  • ॐ विनायकाय नमः
  • ॐ गणेश ऋणं छिन्धि वरेण्यं हुं नमः फट्॥
  • ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं गं गणपतये वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा॥ एकदन्ताय विद्महे । वक्रतुण्डाय धीमहि । तन्नो दन्ती प्रचोदयात् ॥ ॐ शान्तिः शान्तिः शान्तिः ॥

गणेश मंत्र जाप करने की विधि  | Ganesh mantra jaap karne ki vidhi

अगर आप गणेश भगवान के मंत्र की जाप विधि जानना चाहते हैं तो इसे जरूर पढ़ें गणेश मंत्र के जाप का उच्चारण विधि करने के लिए आपको विधि पूर्वक इसका जाप करना चाहिए अगर आप इसका जाप विधि पूर्वक नहीं करते हैं तो आपको इसका फायदा नहीं होता है तो आइए जानते हैं इस मंत्र के जाप करने की विधि कौन सी है।

1. आसन

मंत्र जाप करने के लिए आपको किसी एक कुश के आसन पर बैठना होगा क्योंकि कुश के आसन पर बैठना श्रेष्ठ माना जाता है अगर आपके पास उसका ऑप्शन नहीं है तो आप लाल कपड़े से बने किसी आसन पर बैठ सकते हैं लेकिन वह साफ और शुद्ध होना चाहिए।

2. माला

जाप करने के लिए आपको लाल चंदन की माला का उपयोग करना चाहिए वह श्रेष्ठ रहती है विघ्न पंडित और जानकार लोगों की सलाह लेनी चाहिए अगर आपको गणेश मंत्र का जाप करना है तो लाल चंदन की माला का उपयोग करें.

अगर आपके पास लाल चंदन की माला नहीं है तो रुद्राक्ष की माला का उपयोग भी कर सकते हैं वह भी श्रेष्ठ रहती है।

3. दिशा

गणेश मंत्र का जाप आपको पूर्व दिशा की ओर मुंह करके बैठ कर करना चाहिए वैसे तो उत्तर दिशा की ओर मुख करके भी मंत्र जाप कर सकते हैं।

4. चित्र या मूर्ति

ganesha

मंत्र जाप करने के लिए आपको गणेश जी की मूर्ति या फिर चित्र को अपने सामने रखना है और अपने मन में भगवान गणेश का ध्यान करते हुए मंत्र का जाप करना है।

5. समय

गणेश मंत्र का जाप आप किसी भी समय कर सकते हैं लेकिन लोग अपनी सुविधा के अनुसार इस मंत्र का जाप प्रातः काल करते हैं इस मंत्र के जाप के लिए प्रातकाल अच्छा माना जाता है।

गणेश मंत्र के फायदे | Ganesh mantra ke fayde

॥ ॐ गं गणपतये नमः ॥

अगर आप इस मंत्र का जाप भक्ति पूर्वक करते हैं तो आपकी समस्त बाधाएं दूर हो जाती है क्योंकि यह गणेश मंत्र बहुत ही चमत्कारी माना जाता है इससे आप शीघ्र फल की प्राप्ति कर सकते हैं।

॥ ॐ वक्रतुंडाय हुम्‌ ॥

अगर आपके ऊपर किसी ने तांत्रिक क्रिया का प्रयोग किया है और आप उसे नष्ट करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको इस मंत्र का जाप करना होगा आपकी यह मनोकामना जल्दी पूर्ण हो जाएगी।

statue Ganesha

॥ ॐ हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा ॥

अगर आपको कलह, निराशा , आलस्य , जैसे विघ्न दूर करने है तो विघ्नराज रूप की आराधना का यह मंत्र जाप करना होगा।

॥ ॐ गं क्षिप्रप्रसादनाय नम: ॥

गणेश जी के इस मंत्र का जाप करने से कर्म बंधन, रोग निवारण, कुबुद्धि, कुसंगत्ति, दूर्भाग्य से आपको मुक्ति मिल जाती है और आपके समस्त दुख दूर हो जाते हैं आपको धन की प्राप्ति और आत्मबल की प्राप्ति होती है हेरम्बं गणपति का मंत्र जपे।

॥ ॐ गूं नम: ॥

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 738 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

ACP फुल फॉर्म और एसीपी कैसे बने पूरी जानकारी ? ACP की सैलरी / योग्यता /उम्र ! What is the full form of ACP? Salary / Qualification / Age!
कपूर से बवासीर का इलाज कैसे करे ? 4 असरदार नुस्खे | Kapoor se bawaseer ka ilaaj

अगर आपको आर्थिक समृद्धि और रोजगार की प्राप्ति करना है तो आपको इस मंत्र का जाप करना होगा इससे आपको सुख सौभाग्य भी प्राप्त होगा।

॥ ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं गं गण्पतये वर वरदे नमः ॐ तत्पुरुषाय विद्महे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात ॥

अगर आपको व्यापार से संबंधित कोई भी बाधाएं हैं तो इस मंत्र का जाप करने से वह सारी बाधाएं दूर हो जाती है आपको इस लक्ष्मी प्राप्ति मंत्र का जाप करना चाहिए।

॥ ॐ गीः गूं गणपतये नमः स्वाहा ॥

इस गणेश मंत्र का जाप करने से आपके सभी प्रकार के विघ्नों एवं कष्टों का निवारण हो जाता है।

॥ ॐ श्रीं गं सौभाग्य गणपतये वर वरद सर्वजनं में वशमानय स्वाहा ॥

अगर आप पर शीघ्र विवाह की प्राप्ति करना चाहते हैं और प्रेम विवाह की बाधाओं को दूर करना चाहते हैं तो इस मंत्र का जाप अवश्य करें आपको इसका लाभ अवश्य मिलेगा।

Ganesha

॥ ॐ वक्रतुण्डेक द्रष्टाय क्लीं हीं श्रीं गं गणपतये वर वरद सर्वजनं मं दशमानय स्वाहा ॥

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

अगर आपको शीघ्र विवाह एवं सही जीवनसाथी की प्राप्ति करना है और अपने विवाह में आने वाले दोषों को दूर करना है तो आपको इस त्रैलोक्य मोहन गणेश मंत्र का जाप करना होगा।

॥ ॐ वर वरदाय विजय गणपतये नमः ॥

अगर आप को अपने मुकदमे के सिलसिले में सफलता हासिल करनी है तो आपको इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

॥ ॐ गं गणपतये सर्वविघ्न हराय सर्वाय सर्वगुरवे लम्बोदराय ह्रीं गं नमः ॥

अगर आप इस गणेश मंत्र का जाप करते हैं तो लड़ाई झगड़े कोर्ट कचहरी वाद-विवाद में विजय प्राप्त कर लेते हैं और शत्रु भय से छुटकारा भी मिल जाता है।

॥ ॐ नमः सिद्धिविनायकाय सर्वकार्यकर्त्रे सर्वविघ्न प्रशमनाय सर्व राज्य वश्य कारनाय सर्वजन सर्व स्त्री पुरुषाकर्षणाय श्री ॐ स्वाहा ॥

अगर आप किसी यात्रा में सफलता को प्राप्त करना चाहते हैं तो इस गणेश मंत्र का जाप अवश्य करें।

॥ ॐ हुं गं ग्लौं हरिद्रा गणपत्ये वरद वरद सर्वजन हृदये स्तम्भय स्वाहा ॥

इस हरिद्वार गणेश मंत्र का जाप अवश्य करें चमत्कारी मंत्र है।

॥ ॐ ग्लौं गं गणपतये नमः ॥

घर के किसी भी ग्रह कलेश एवं घर में सुख शांति की प्राप्ति करना चाहते हैं तो मंत्र का जाप अवश्य करें।

॥ ॐ गं लक्ष्म्यौ आगच्छ आगच्छ फट् ॥

धन की प्राप्ति और दरिद्रता का नाश करना चाहते हैं तो इस मंत्र का जाप अवश्य करें।

॥ ॐ गणेश महालक्ष्म्यै नमः ॥

इस गणेश मंत्र का जाप करने से आपकी व्यापार संबंधित बाधाएं और परेशानियों का निवारण जल्द ही हो जाता है।

Ganesh Ji

॥ ॐ गं रोग मुक्तये फट् ॥

अगर आप किसी रोग से परेशान हैं आपको उसका उचित लाभ नहीं मिल रहा है इलाज कराने पर भी आपको इसका कोई भी लाभ प्राप्त नहीं हो रहा है तो पूर्ण विश्वास इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति का रोग धीरे-धीरे दूर हो जाता है।

॥ ॐ अन्तरिक्षाय स्वाहा ॥

इस गणेश मंत्र का जाप करने से आपकी समस्त मनोकामनाएं की पूर्ति हो जाती है।

॥ गं गणपत्ये पुत्र वरदाय नमः ॥

मंत्र का जाप करने से संतान की प्राप्ति हो जाती है।

॥ ॐ वर वरदाय विजय गणपतये नमः ॥

किसी मुकदमे की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आपको एक गणेश मंत्र का जाप करना होगा।

॥ ॐ श्री गणेश ऋण छिन्धि वरेण्य हुं नमः फट ॥

यह ऋण हर्ता मंत्र (Ganesh Mantra) हैं, इस मंत्र का नियमित जाप से गणेश जी प्रसन्न होते है, जिससे साधक का ऋण(कर्ज) चुकता होता है, कहा जाता है, कि जिसके घर में एक बार भी इस मंत्र का उच्चारण हो जाता है, उसके घर में कभी भी ऋण या दरिद्रता नहीं आ सकती।

FAQ :

गणेश भगवान का मंत्र कौन सा है ?

' ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं गं गणपतये वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा। ' 'ॐ नमो हेरम्ब मद मोहित मम् संकटान निवारय-निवारय स्वाहा। '

गणपति को घर में कैसे रखें ?

अगर आप भगवान श्री गणेश को अपने घर में लाकर उन्हें रखना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको गणेश भगवान की मूर्ति लाकर उन्हें स्थापित करना होगा और उन्हें स्थापित करने के लिए पश्चिम दिशा या फिर उत्तर पूर्व दिशा एकदम सही मानी जाती है. वैसे तो मूर्ति का मुख उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए क्योंकि उत्तर दिशा में भगवान शिव का वास होता है और यह बहुत ही शुभ माना जाता है।

गणेश जी की पूजा कैसे की जाती है ?

अगर आप भगवान श्री गणेश की पूजा करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले चौकी पर एक लाल का रेशम वस्त्र बिछा देना है बिछाने के बाद उस पर मिट्टी , धातू , सोना अथवा चांदी की मूर्ति रख देना है और इस "ऊं गं गणपतये नम:" मंत्र का जाप करते हुए उसका आवाहन करना है के बाद आपने जो भी सामग्री भगवान श्री गणेश की पूजा के लिए इकट्ठा किया है उसे चढ़ा देना है उसके बाद एक पान के पत्ते पर सिंदूर में हल्का सा घी मिलाकर स्वास्तिक बनाना है उसके बाद उस पान के पत्ते को अलावे के माध्यम से लपेट लेना है और उस पर सुपारी रख देना है।

निष्कर्ष

जैसा कि आज हमने आप लोगों को Mantra of ganesh बताया अगर आपने हमारे इसलिए को अच्छी तरह से पढ़ाओ है तो आपको गणेश मंत्र के बारे में पता चल गया होगा हमने आपको इस पर गणेश जी के जितने भी मंत्र होते हैं.

osir news

उनके बारे में बताया है और इन्हीं का जाप कैसे किया जाता है यह भी बताया है और इनके फायदे क्या है इनके बारे में बताया है उम्मीद करते है हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित हुई होगी।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

11 खतरनाक जहर दूर रहे इनसे : खाते ही तुरंत मौत हो जायेगी | ऐसी कौन सी दवा है जो इंसान मर सकता है ? | Aisi kaun si dava hai jo Insan mar sakta hai
दलिया खाने के 5 जबरदस्त फायदे | पौष्टिक तत्व, फायदे और नुकसान जाने | Daliya khane ke fayde
महाकाली जंजीरा मंत्र क्या है? महाकाली बीज मन्त्र और सिद्धि कैसे करे ? Mahakali janjira mantra
पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान , धारण विधि और शुभ मुहूर्त | benefits of panna stone in hindi
गर्भ ठहरने की देशी दवा : बच्चा होने के घरेलू नुस्खे | Garbh therne ki desi dawa
★ सम्बंधित लेख ★