सूर्य यन्त्र क्या है? सूर्य नमस्कार का मंत्र क्या होता है ? Surya dev ka mantra kya hai

Surya mantra kya hota hai ?  सूर्य नमस्कार का मंत्र क्या होता है ? सूर्य किस्त प्रधान ग्रह है जिसके कारण देखती बहुत जल्दी उग्र हो जाते हैं जिससे गंभीरता और आत्म अभिमान प्रभावित हो जाता है।

यदि किसी की कुंडली में सूर्य की स्थिति कमजोर होती है तो वह व्यक्ति अभिमानी क्रोधित होता है अशुभ सूर्य दया भावना को कम करके कठोर बना देते हैं | नवग्रहों में सूर्य भी एक ग्रह है जो सबसे शक्तिशाली ग्रह माना जाता है इसी की परिक्रमा करते हुए राशि नक्षत्र और ग्रह प्रभावित होते हैं। नौ ग्रहों में सूर्य का विशेष महत्व है। Surya namaskar ka mantra kya hota hai ? Surya yantra ki pooja kaise ki jati hai ?

सूर्य आंखों हृदय और हड्डियों आत्मबल धैर्य स्वास्थ्य के लिए होता है कमजोर होने पर दुर्बलता अशांति हृदय रोग और नेत्र रोगों की संभावनाएं हो जाती है ऐसी स्थिति में सूर्य मंत्र का विधि विधान से पूजा और स्थापना करने से समृद्धि होती है। सूर्य यंत्र क्या है ?

surya yantra ke labh aur mantra, surya yantra benefits, surya yantra locket benefits, surya budh yantra benefits, surya yantra image, surya mantra, surya yantra kis disha mein lagana chahie, surya yantra price, where to place surya yantra in home, surya yantra kaisa hota hai, surya yantra locket, surya yantra image, where to place surya yantra in home, surya yantra price, surya yantra pendant, how to make surya yantra at home, surya yantra number,

पूरी की स्थिति मजबूत होने पर व्यक्ति को राज्य अधिकार और विशिष्ट पद प्राप्त होते हैं जिन लोगों की कुंडली में सूर्य मजबूत होता है वे लोग आत्मविश्वास से भरपूर भाग्य को चमकता हुआ पाते हैं। सूर्य का शुभ प्रभाव होने पर व्यक्ति यशस्वी मान सम्मान और उच्च पद प्राप्त करता है |

जिन व्यक्तियों के कुंडली में सूर्य कमजोर होता है यह लोग अपयश का सामना करते हैं ऐसे में सूर्य यंत्र की स्थापना और पूजा करने से ही जीवन में नए आयाम स्थापित किए जा सकते हैं।

सूर्य यंत्र की पूजा और स्थापना कैसे करे? How to worship and install Surya Yantra?


सूर्य यंत्र की स्थापना रविवार के दिन अथवा किसी शुभ मुहूर्त ने की जाती है इस यंत्र की स्थापना करने से पहले सूर्योदय के पूर्व उठकर नित्य कर्मों से निवृत्त होकर स्नान आदि करके स्वच्छ और सफेद कपड़े धारण करके यंत्र की स्थापना करें |

यह भी पढ़े :

यंत्र की स्थापना से पहले सूर्य यंत्र को गंगाजल या गाय के दूध से पवित्र करके पूर्व दिशा की ओर मुंह करके आसन पर बैठकर पीला रेशमी वस्त्र बिछाकर सूर्य यंत्र स्थापित करें यंत्र पर चंदन केसर सुपारी वाला लाल पुष्प अर्पित करें |

 सूर्य यंत्र का विधि विधान से पूजन कैसे करनी चाहिये ? How to worship this yantra by law?

“ॐ घृणि सूर्याय नम:।”

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 865 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

जल्दी वजन कम करने के उपाय और 16 आसन टिप्स निश्चित होगा वजन कम | jaldi se vajan kam karne ke upay
नजर उतारने का मंत्र : अचूक और आसान नज़र दोष का मंत्र और 12 घरेलू उपाय | Nazar utarne ka mantra

मंत्र जाप करने के बाद सूर्य यंत्र को प्रतिदिन पूजा स्थान पर स्थापित करके पूजन पाठ करें। जिससे सभी प्रकार की समस्याएं समाप्त हो जाती हैं। जिन व्यक्तियों की ग्रह दशा सूर्य के विपरीत है उन लोगों को इस मंत्र की स्थापना करके पूजा करने से लाभ प्राप्त होता है।

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

सूर्य यंत्र दो प्रकार के होते हैं जिसमें पहला नौ ग्रहों का एक यंत्र होता है तथा दूसरा नौ ग्रहों का अलग-अलग सूर्य यंत्र होता है इस यंत्र को सामने रखकर उपासना करने से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं व्यक्ति को शारीरिक और बौद्धिक मानसिक वृद्धि होती हैं पद प्रतिष्ठा धन वैभव की प्राप्ति होती है।

सूर्य यंत्र की स्थापना कैसे करे ? How to set up Surya Yantra?

पूरी यंत्र को स्थापित करने से सभी प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं इस यंत्र को स्थापित करने से शुद्धिकरण प्राण प्रतिष्ठा प्रक्रिया के माध्यम से विधिवत स्थापित किया जाता है सूर्य यंत्र को सूर्य ग्रह के मंत्रों की सहायता से विशेष विद के माध्यम से ऊर्जा प्रदान होती है।

puja-ke-Kalasha-se-najar-kaise-utare-najar-utarne-ke-top-10-tareeke

पूरब बनाया गया सूर्य मंत्र स्थापित करने के बाद अथवा प्राप्त करने के बाद इसे अपने घर में पूजा स्थान पर लगाएं और रविवार वाले दिन स्थापित करें इस यंत्र से शुभ प्राप्त करने के लिए नियमित रूप से पूजा करें तथा सूर्य भगवान के सामने वांछित फल प्राप्त करने के लिए प्रार्थना करें।

सूर्य यंत्र से क्या लाभ होते है ? What is the benefit of the device?

india में आसानी से job कैसे पाए

  • यंत्र के सम्मुख मंत्र जाप करने से बुरा प्रभाव नष्ट हो जाता है और अशुभ सूर्य यंत्र का प्रभाव समाप्त हो जाता है तथा जीवन में विशेष लाभ प्राप्त होता है इस यंत्र को स्थापित करने के बाद विभिन्न प्रकार के वाद-विवाद मुकदमे तथा धन वैभव सभी में सफलता मिलती है।
  • सूर्य की ग्रह दशा खराब होने के कारण व्यक्ति को कई सारी परेशानियों से गुजरना पड़ता है इस यंत्र को स्थापित करने के बाद सभी प्रकार के नुकसान समाप्त हो जाते हैं तथा नकारात्मकता अभाव हो जाता है।
  • इस यंत्र के प्रभाव से जीवन में आ रही सभी प्रकार की असफलताएं सफलता में बदल जाती हैं व्यापार कामकाज नौकरी आदमी लाभ प्राप्त होता है।
  • सूर्य यंत्र को घर में स्थापित करने के बाद शारीरिक समस्याएं समाप्त हो जाती है सिर दर्द बुखार आंखों से होने वाली समस्याएं पूरी तरह से खत्म हो जाती है।
  • इस मंत्र को स्थापित करने के बाद व्यक्ति को यह गुस्सा अधिक आता है तो उस पर नियंत्रण हो जाता है अपने अधिकारियों उच्च पद वालों से संबंध मधुर बन जाते हैं।

सूर्य यंत्र का मंत्र क्या होता है ? What is the mantra of Surya Yantra?

“ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम:”

-: चेतावनी disclaimer :-

सभी तांत्रिक साधनाएं एवं क्रियाएँ सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई हैं, किसी के ऊपर दुरुपयोग न करें एवं साधना किसी गुरु के सानिध्य (संपर्क) में ही करे अन्यथा इसमें त्रुटि से होने वाले किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे |

osir news

हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, जो Magic (जादू)  या Paranormal (परालौकिक) से सम्बन्ध रखती है , इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

गुरु यंत्र या बृहस्पति यन्त्र क्या है ? गुरु मंत्र के लाभ एवं स्थापना विधि क्या है ? बीज मंत्र और उपयोग guru yantra benefit and mantra Hindi
लड़की पटाने का टोटका क्या है ? लड़की पटाने का मंत्र ! What is the trick to impress a girl?
Sadhe Sati : उतरती साढ़ेसाती का प्रभाव, शनि की साढ़े साती उपाय और लक्षण | उतरती साढ़ेसाती : Shani ki sade sati ke upay in hindi
गर्म पानी पीने के फायदे : सुबह खाली पेट और रात में सोने से पहले | Garam pani peene ke fayde
गर्भाशय / कोख बंधन में है संकेत कैसे जाने ? बंधी कोख की पहचान और लक्षण How to know if the uterus / womb is in bondage in hindi ?
★ सम्बंधित लेख ★