अशुभ मंगल ग्रह दशा कैसे समाप्त करे ? निवारण ? मंगल ग्रह को शांत करने के लिए मंत्र और यंत्र ? Mangl yntra benefit

सभी व्यक्तियों पर नौ ग्रहों का शुभ और अशुभ प्रभाव हमेशा चलता रहता है। इन ग्रहों के कालचक्र से जीवन प्रभावित होता रहता है। कहीं ना कहीं कभी ना कभी ग्रहों के प्रभाव हमारे लिए बहुत बुरे साबित होते हैं। mangal grah shanti upay in hindi

ऐसे में इन ग्रहों के प्रभाव को कम करने के लिए यंत्र मंत्र तंत्र का सहारा लिया जाता है।

इसी कड़ी में हमारा मंगल ग्रह भी एक देवता के समान प्रभाव डालता है जो नौ ग्रहों में एक है और हिंदू धर्म के अनुसार मंगल को प्रभावशाली ग्रह और देवता माना गया है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल ग्रह को ग्रहों का सेनापति माना जाता है जो ऊर्जा और पराक्रम का प्रतीक होता है। यह विशेष रूप से मेष और वृश्चिक राशि का स्वामी होता है तथा मकर राशि में उच्च और कर्क राशि में निम्न माना जाता है।

मंगल ग्रह दशा कैसे समाप्त करे ?, मंगल ग्रह के प्रभाव , चौथे भाव में मंगल के उपाय, अष्टम भाव में मंगल ग्रह का प्रभाव, मंगल ग्रह शांति के उपाय, मंगल ग्रह की पत्नी ,, मंगल ग्रह को कैसे खुश करें, मंगल ग्रह ज्योतिष, मंगल ग्रह और लाल किताब, mangal bisa yantra, mangal yantra image, mangal yantra locket , mangal yantra price, original mangal yantra, mangal yantra locket benefits in hindi, mangal yantra placement, mangal yantra direction, mangal grah dsa kaise samapt hota hai, mangal badh ke upay, mangal majboot hone ke fayde, mangal grah ke upay, mangal grah ke upay lal kitab, mangal ko majboot karne ke upay, mangal grah ke lakshan aur upay, mangal ko prasan karne ke upay, mangal ke upay by pawan sinha, mangal grah ko kaise shant karen, mangal grah in hindi, mangal majboot hone ke fayde, mangal grah ke lakshan aur upay, mangal neech ke upay in hindi, mangal ke upay by pawan sinha, mangal ko prasan karne ke upay,

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल ग्रह को क्रूर ग्रह माना जाता है क्योंकि इस की ग्रह दशा व्यक्ति के ऊपर 7 वर्ष तक होती हैं।

जिस व्यक्ति की कुंडली में मंगल ग्रह कमजोर होता है उनमें पराक्रम और साहस की कमी होती है ऐसे में मंगल का लाभ लेने के लिए कुछ उपाय बताए जा रहे हैं जिनको करने से आपको लाभ होगा।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !


मंगल ग्रह दशा से निवारण के लिए व्रत कैसे रखे ? fast for mangle grah dsa 

जिस व्यक्ति को मंगलवार की ग्रह दशा सता रही है वे लोग मंगलवार को व्रत रखने प्रारंभ कर दें इस व्रत को शुरुआत में शुक्ल पक्ष से प्रारंभ करना उचित माना गया है कम से कम 21 मंगलवार व्रत धारण करना चाहिए |

व्रत वाले दिन विधि विधान से पूजा करके लाल वस्त्र धारण करके तांत्रिक मंत्र का जाप करें इस दिन नमक का सेवन बिल्कुल ना करें।

मंगलवार व्रत की आखिरी मंगलवार को हवन आदि करके किसी ब्राह्मण को मंगल से संबंधित वस्तुओं का दान करें जिससे आपको मंगल की ग्रह दशा में सुधार आएगा।

यह भी पढ़े :

मंगलवार का व्रत रखने से क्या फायदे लाभ मिलते है ?

मंगलवार को व्रत रखने से मंगल ग्रह के सभी दुःख दूर हो जाते हैं और जीवन में सभी प्रकार की बाधाएं दूर हो जाती हैं यदि किसी भी व्यक्ति को कर्ज है तो कर्ज की समस्या समाप्त हो जाती है और संपत्ति समस्याएं समाप्त होने के बाद सुख प्राप्त होता है।

मंगल ग्रह का प्रार्थना मंत्र क्या है ?

‘ॐ धरणीगर्भसंभूतं विद्युतकान्तिसमप्रभम।
कुमारं शक्तिहस्तं तं मंगलं प्रणमाम्यहम।।’

मंगल ग्रह दशा को सही करने के लिए उपरोक्त मंत्र को प्रतिदिन प्रार्थना करें जिससे मंगल देवता जल्दी प्रसन्न होकर सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं |

मंगल ग्रह दशा शांत करने जप मंत्र कौन सा है ?

ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:’

इस मंत्र का जाप मंगलवार के दिन एक माला की 108 बार जाप करने से मंगल ग्रह की ग्रह दशा शांत होती है।

मंगलवार को क्या दान करें ?

मंगल ग्रह कल्याण प्राप्त करने के लिए मंगलवार के दिन विशेष रूप से गेहूं गुड तांबा मसूर लाल चंदन मूंगा आज चीजों का दान किया जाना चाहिए।

मंगल ग्रह शांत करने के लिए मूंगा कैसे धारण करे ?

मंगल ग्रह का आशीष प्राप्त करने और दोषों को दूर करने के लिए व्यक्ति को मंगलवार के दिन लाल मूंगा रत्न धारण करना चाहिए इस रत्न को तांबा या सोने में जड़ कर विधि-विधान पूर्वक पूजा करके धारण करने से मंगल ग्रह शांत हो जाता है तथा किसी भी प्रकार का दोष समाप्त हो जाता है।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 806 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

स्वामी समर्थ का तारक मंत्र क्या है : तारक मंत्र जप विधि और लाभ जाने | Swami Samarth Tarak Mantra
वीर्य को बढ़ाने के आसान 13 घरेलु नुस्खे | स्पर्म बढ़ाने के घरेलू उपाय | sperm count kaise badhaye

मंगलवार के दिन मूंगा को तांबे या सोने में जड़वा कर दाहिने हाथ की अनामिका उंगली में पहनना शुभ होता है।! यह पोस्ट आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है !

मंगल ग्रह को शांत करने और मंगल ग्रह दशा या दोश को खतम या समाप्त करने के लिए महा उपाय क्या है ?

मंगल ग्रह के सभी प्रकार के दोष हटाने के लिए तथा मंगल की कृपा पाने के लिए कुछ सरल उपाय किए जाते हैं जिन से शीघ्र लाभ होता है |

मंगल ग्रह को शांत करने के लिए आइए जानते हैं कुछ उपाय :

  1. मंगल ग्रह की ग्रह दशा को सही करने के लिए मंगलवार के दिन लाल रंग के कपड़े पहनना चाहिए।
  2. जो व्यक्ति किसी प्रकार की ऋण से ग्रस्त हैं उन लोगों को सुंदरकांड का पाठ अवश्य करना चाहिए |
  3. मंगलवार के दिन मंगल से संबंधित विभिन्न प्रकार की वस्तुओं जैसे गुण दाल लाल कपड़े आदि दान करनी चाहिए|
  4. मंगलवार के दिन कुछ मंत्रों का जाप करके मंगल से प्रार्थना करनी चाहिए इसके लिए निम्न मंत्र जाप करने चाहिए |

एकाक्षरी बीज मंत्र :

‘ॐ अं अंगारकाय नम:’

तांत्रिक मंत्र :

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

‘ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:’

मंगल मंत्र –

ॐ अग्निमूर्धा दिव: ककुत्पति: पृथिव्या अय्यम्।
अपां रेतां सि जिन्वति।।

मंगल ग्रह दोश निवारण के लिए मंगल यंत्र का प्रयोग कैसे करे ? 

यदि किसी की कुंडली है मंगला शुभ स्थान पर है तो उसकी दोश को शांत करने के लिए मंगल यंत्र की स्थापना विधि विधान से करके पूजा करने से लाभ प्राप्त होता है।

mangle yntra picture

मंगल यंत्र की पूजा करने से निश्चित रूप से कर्ज माफी हो जाती है और शुभ प्रभाव पड़ता है जिससे हर तरह की बढ़ोतरी होती है |

जिन महिलाओं को गर्भ धारण करने में समस्या होती हैं उन लोग महिलाओं को मंगल यंत्र का पूजन करना जरूरी है जिससे लाभ मिलता है और जिन लोगों को जीवनसाथी नहीं मिलता है उनके लिए मंगल यंत्र की पूजा करना विशेष लाभ प्राप्त करना होता है।

मंगल यंत्र का प्रयोग कैसे करें ?

मंगल यंत्र की स्‍थापना करते समय मंगल ग्रह की आराधना करें और मंगल मंत्र ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम: का 108 बार जाप करें।

मंगल यंत्र स्थापना विधि क्या है ?

मंगल यंत्र को स्थापित करने के लिए प्रातः नित्य कर्मों से निवृत्त होकर स्नान करके यंत्र को सामने रखकर 11 से 21 इस बार मंगल के बीज मंत्र ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम: का जाप करें।

जाप करने के बाद यंत्र पर गंगाजल छिड़क कर मंगल देव की सामने हाथ जोड़कर प्रार्थना करें कि वह हमेशा शुभ फल प्रदान करें।

मंगल यंत्र स्थापित करने के बाद प्रतिदिन स्नान आदि करके पूजा करें तथा विधि विधान से पूजा अर्चना करें |

-मंगल यंत्र मंत्र –

ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:

मंगल यंत्र के प्रयोग से का प्रभाव पड़ता है ? मंगल यंत्र के लाभ क्या है ?

  1. मंगल देव की पूजा से विवाह, भूमि, संपत्ति, सेहत, धन आदि का सुख प्राप्त होता है |
  2. साधक के भीतर साहस, बल, का संचार होता है|
  3. मानव शरीर में मंगल का प्रभाव रक्त, मज्जा, यकृत, होंठ, पेट, छाती एवं बाजू पर होता है |
  4. मंगल के प्रभाव से जातक में बल, पराक्रम, अहंकार, क्रोध, आदि चीजें विकसित होती हैं।

-: चेतावनी disclaimer :-

सभी तांत्रिक साधनाएं एवं क्रियाएँ सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई हैं, किसी के ऊपर दुरुपयोग न करें एवं साधना किसी गुरु के सानिध्य (संपर्क) में ही करे अन्यथा इसमें त्रुटि से होने वाले किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे |

osir news

हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, जो Magic (जादू)  या Paranormal (परालौकिक) से सम्बन्ध रखती है , इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

गर्भ में लड़के की हलचल क्यों ? क्या हलचल से पता लगेगा लड़का होगा या लड़की | Garbh me ladke ki halchal kyu hoti hai ?
कृपा प्राप्ती हेतु खाटू श्याम जी के उपाय और पूजन विधि | Khatu shyam ji ke upay
जादू कैसे सीखें : असली जादूगर कैसे बने? | Jadu kaise sikhe : Jadugar kaise bane in hindi
जाने स्त्री को सबसे ज्यादा मजा कब आता है ? बन जाएगी आप की दिवानी | Stree ko sabse jyada maja kab aata hai
नाभि ठीक करने का मंत्र एवं प्रयोग विधि और सिद्ध करने का तरीका | नाभि ठीक करने का मंत्र
★ सम्बंधित लेख ★