कोई भी जुआ कैसे जीते : जुआ जीतने का मंत्र हिंदी में और तंत्र | how to win gambling in hindi

Jua kaise jeete ?  jua jitne ka mantra aur upay kya hai ? इस दुनिया में जन्म लेने वाला हर व्यक्ति यही चाहता है कि, वह अपनी जिंदगी में सफलता की ऊंचाइयों को छुए और इसके लिए वह जी तोड़ मेहनत भी करता है, क्योंकि व्यक्ति खाली हाथ ही इस धरती पर आता है और फिर वह अपनी मेहनत के दम पर अपना साम्राज्य खड़ा करता है. jua kaise ka totka kaise karte hai ? 

किसी व्यक्ति ने सही ही कहा है कि, अगर आप गरीब पैदा हुए, तो यह आपका दोष नहीं है परंतु अगर आप गरीबी में ही मर जाते हैं तो इसमें निश्चित ही आपकी कमी है क्योंकि भगवान सब को आगे बढ़ने के समान मौका देता है, हालांकि जो लोग मेहनती और लग्न वाले होते हैं . 😛  🙂

वह अपनी जिंदगी में आगे बढ़ जाते हैं, वही जो लोग हर काम को करने से पहले किसी ना किसी चीज का बहाना बनाते हैं, आगे चलकर उन्हें काफी पछतावा होता है और अंत में उनके पास पछतावे के अलावा और कुछ नहीं होता है.

जुआ खेलने का तरीका, जुआ जीतने का सही तरीका, जुआ जीतने का यंत्र, जुआ जीतने का ताबीज, जुआ कैसे खेले, जुआ के नियम, जुआ जीतने का जड़ी बूटी बताओ, जुआ जीतने का महामंत्र, जुआ खेलने के नुकसान, जुआ खेलने के नियम, जुआ जीतने का सही तरीका, जुआ का अर्थ, जुआ के नियम, जुआ जीतने का यंत्र, जुआ जीतने का ताबीज, जुआ कैसे खेले, ऑनलाइन जुआ कैसे खेले, जुआ खेलने के नुकसान, जुआ कैसे जीते, जुआ खेलने का तरीका, जुआ जीतने का यंत्र, जुआ के नियम, जुआ जीतने का मंत्र हिंदी में, जुआ जीतने का सही तरीका,

आपको बता दें कि, पैसे कमाने के वैसे तो बहुत से तरीके हैं, परंतु कई लोग ऐसे भी होते हैं, जो पैसे कमाने के लिए शॉर्टकट रास्ता अपनाते हैं, जिनमें कई रास्ते शामिल है, जिसमें से ही एक रास्ता है जुआ खेलने का.

हालांकि हम आपको बता दें कि जुआ खेलना किसी भी प्रकार से सही नहीं माना जाता है और यह एक व्यभिचार की लिस्ट में आता है फिर भी कई लोग जुआ खेलते हैं.

जुए का खेल पहले के जमाने से ही होता आया है,परंतु अब जुए के खेल के अंदर काफी पैसा भी है और कई बड़े-बड़े होटलों में तो जुए का खेल बकायदा आयोजन करके खेला जाता है, जिसमें कभी-कभी व्यक्ति की किस्मत अगर चमक जाती है .

तो उसे करोड़ों रुपए सिर्फ दो-तीन घंटे में ही जीत के तौर पर मिल जाते हैं,तो अगर आप भी जुआ खेलते हैं और आप जुआ में जीतना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें, क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको यह बताने वाले हैं कि जुआ कैसे जीते jua kaise jeete?

जुआ कैसे जीते ? | जुआ जीतने का उपाय 

जुआ जीतने के लिए लोग भगवान से प्रार्थना करते हैं, विभिन्न प्रकार की पूजा पाठ करते हैं, साथ ही तरह-तरह के टोटके अपनाते हैं. यहां तक कि, बहुत से लोग वैदिक अनुष्ठान या फिर तांत्रिक साधना भी करते हैं.

हालांकि जैसा कि, हमने आपको बताया कि, जुए का खेल किस्मत का खेल होता है, परंतु इस खेल में आप कुछ उपाय करके विजय प्राप्त कर सकते हैं, चलिए उन उपायों के बारे में जानते हैं.

जुआ जीतने के लिए स्वार्णाकर्षण गुटिक का उपाय कैसे करे ? | jua kaise jeete 

जुए के खेल में जीत प्राप्त करने के लिए एक महत्वपूर्ण उपाय के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है. आपको बता दें कि, यह साधना टोटल 21 दिन में पूरी हो जाती है.

इस साधना को करने के लिए आपको सबसे पहले ज्योतिष के पास से मंत्रों के द्वारा सिद्ध की हुई और प्राण प्रतिष्ठित की हुई स्वर्णाकर्षण गुटिका लेनी है और फिर आपको उसके साथ 21 दिनों तक लगातार एक अनुष्ठान करना है, वह अनुष्ठान इस प्रकार है.

जुआ जीतने का मंत्र : jua जीतने के लिए स्वर्णाकर्षण गुटिका सिद्ध करने का मंत्र क्या है ? | Jua jitne ka mantra 

ऊँ नमो वीर बैताल आकस्मिक धन देहि देहि नमः

जुआ जीतने के लिए स्वर्णा कर्षण गुटिका सिद्ध कैसे करें ? 

इस प्रयोग को करने के लिए आपको एक दीपक, धूप, सरसों का तेल, कपूर और स्फटिक की माला, साथ ही पूजा की सामग्री की आवश्यकता होगी.आपको इन सभी सामग्रियों को लेकर शुक्रवार के दिन या फिर रात को किसी भी समय अपना अनुष्ठान चालू करना है.

इसके लिए आपको सबसे पहले नहा धोकर सफेद रंग का कपड़ा पहनना है और उसके बाद आपको अपना मुंह उत्तर दिशा की ओर करके आसन पर बैठ जाना है. उसके बाद आपको नीचे दिए गए मंत्र का 21000 बार जाप करना है.यह जाप टोटल 21 दिनों तक चलेगा.इस तरह इस मंत्र का आपको रोजाना 1000 बार जाप करना है.

इस मंत्र का जाप करने से पहले आपको अपने सामने लकड़ी की एक चौकी रखनी है और फिर आपको उसके ऊपर सफेद कपड़ा बिछाकर स्वर्णाकर्षण गुटिका को स्थापित करना है और उसके बाद उसकी अक्षत, चंदन और रोली से पूजा करनी है और फिर आपको उसके बाद उसके सामने सरसों के तेल का दीपक जलाना है.

इसके बाद आपको अपनी आंखें बंद करनी है और फिर अपने इष्टदेव का ध्यान करना है और अपने इष्ट देव से अपनी मनोकामना को पूरी होने की अरदास लगानी है.

जब आपका 21 दिनों का जाप पूरा हो जाए,तो आप यह समझ जाए कि आपकी स्वर्णाकर्षण गुटिका सिद्ध हो चुकी है. उसके बाद आपको इसे उठाकर अपनी जेब के अंदर रख लेना है और इसके अचूक प्रभाव से आप जो भी बिजनेस करना चाहते हैं, उसमें आपको निश्चित ही सफलता मिलेगी.

स्वर्णाकर्षण गुटिका से jua जीतने का उपाय 

इस उपाय को करने के लिए आपको करना यह है,कि आपको किसी भी दिन सुबह में नहाकर दैनिक पूजा करने के बाद एक सरसों का तेल का दीपक जलाना है और फिर आपको एक गेंदे के फूल को हाथ में लेकर गेंद की तरह घुमाते हुए नीचे दिए गए मंत्र का 131 बार जाप करना है.आपको बता दें कि, यह मंत्र कोई सिद्ध करने की आवश्यकता नहीं है. इस मंत्र की सहायता से जुए का खेल जीता जा सकता है.

स्वर्णाकर्षण गुटिका से जुए का खेल को जीतने का मंत्र क्या है ?

चेत माई चेत माई चेत माई कलिका चेतावे तेरा बालका सूते को जगा जागते को बैठा सट्टे का नंबर आने का बता दुहाई गुरु गोरखनाथ की नाथ जी को आदेश।

यह स्वर्णाकर्षण गुटिका जुआ जीतने का शाबर मंत्र है .

jua जीतने के लिए अभिमंत्रित पाशे कैसे बनाये ? 

अभिमंत्रित पाशे का इस्तेमाल करके भी जुए का खेल या फिर लॉटरी का नंबर मालूम किया जा सकता है.इसके लिए आपको सबसे पहले दो पाशा लेना है और फिर चमेली की कलम, स्वर्ण भस्म और भोजपत्र की सामग्री से किसी भी दिन सुबह या फिर रात में आपको इस विधि को करना है.

इस विधि को करने के लिए आप मंदिर या फिर घर के पूजा घर का इस्तेमाल कर सकते हैं. इस विधि को करने के लिए आपको सबसे पहले अपने सामने दीपक जलाना है और फिर आपको भोजपत्र पर चमेली की कलम को स्वर्ण भस्म में डुबोकर मन में पहली बार उभर कर आने वाले नंबर को लिखना है.

यह नंबर एक से ज्यादा भी हो सकते हैं. नंबर लिखने के बाद आपको ऊपर दिए गए मंत्र का 108 बार जाप करना है. जब जाप पूरा हो जाए तो आपको अभिमंत्रित पासे को भोजपत्र के ऊपर फेंकना है और उसमें जो भी नंबर आएगा . वही आपकी लॉटरी का या फिर आपके जुए का नंबर होगा. इस तरह से यह नंबर आपका जीवन बदल सकता है. इस तरह से आप जुआ जीत सकते है .

जुआ जीतने का शुक्ल पक्ष वाला उपाय 

जुए के खेल में जीत प्राप्त करने के लिए आपको शुक्ल पक्ष के किसी भी गुरुवार के दिन बरगद के पेड़ के पास जाकर पांच किस्म की मिठाई, दो इलायची और बरगद के पेड़ के 1 पत्ते को आपस में लपेटकर शाम को सूरज ढलने के आधा घंटा पहले एक लोटा पानी लेकर पीपल के पेड़ के पास जाना है और फिर सभी सामग्री को बरगद की जड़ के पास रख देना है और बरगद के पेड़ पर जल चढ़ाना है.

उसके बाद आपको सामग्री में से मिठाई और इलायची निकालकर अपने हाथ में रखना है और फिर बरगद के पेड़ से अपनी मनोकामना को पूरी होने की अरदास लगानी है. ऐसा करने से कुछ ही महीने के अंदर आपकी मनोकामना अवश्य पूरी हो जाती है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *