तुला राशि भाग्य मंत्र की सम्पूर्ण जाप, प्रयोग विधि और 5 लाभ | Tula rashi bhagya mantra

तुला राशि भाग्य मंत्र Tula rashi bhagya mantra : हेलो दोस्तों नमस्कार आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से तुला राशि भाग्य मंत्र बताने वाले हैं जैसा कि आप सभी लोग जानते होंगे ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पूरी 12 राशियां बताई गई हैं जिनमें नौ ग्रह होते हैं और इन्हीं 12 राशियों में से सातवें नंबर पर तुला राशि आती है जिसका स्वामी शुक्र है और इस राशि का वास्तविक चिन्ह दो तराजू के पलड़े हैं.



तुला राशि भाग्य मंत्र tula rashi

जिसके माध्यम से तुला राशि की पहचान की जा सकती है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बताया गया है कि तुला राशि के जातक के अंदर किसी भी कार्य को करने की बहुत जल्दबाजी होती है जिसकी वजह से कई बार इनका बना बनाया कार्य भी बिगड़ जाता है या फिर छोटी-छोटी बातों में अपनों से गुस्सा हो जाते हैं.

लेकिन फिर भी इनके अंदर एक बहुत बड़ा गुण है वह यह है कि यह लोग कई प्रकार के कलाकारी होते हैं जिसके चलते अपने जीवन को समृद्ध और सरल बना लेते हैं. लेकिन कई बार तमाम मेहनत करने के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगती है इसलिए आज हम इस लेख में तुला राशि वालों के भाग्य उदय के लिए कुछ ऐसे चमत्कारी मंत्र लेकर आए हैं.

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

जिन्हें जपने से आपके भाग्य का उदय होगा और आपके उन्नति के लिए आगमन के नए रास्ते खुल जाएंगे. ऐसे में अगर आप और मंत्र की जानकारी विधि पूर्वक प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़ें.

तुला राशि भाग्य मंत्र | Tula rashi bhagya mantra

जैसा कि अभी हमने आप लोगों को बताया है तुला राशि का स्वामी शुक्र होता है जिसकी वजह से इन लोगों को किसी भी बात पर बहुत जल्दी गुस्सा आ जाता है और इनका बना बनाया कार्य भी बिगड़ जाता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि के जातकों को अपने गुस्से पर काबू पाने और अपने बिगड़े हुए कार्य को बनाने के लिए कुछ ऐसे चमत्कारी मंत्र बताए गए हैं.


जिनका जाप करने से आपके जीवन में खुशियां आ जाएगी तो फिर देर किस बात की आइए जल्दी से जान लेते हैं उस मंत्र के विषय में :

तुला राशि के भाग्य को चमकाने का मंत्र | Tula rashi ke bhagya ko chamkane ka mantra

तुला राशि के जातक का अगर भाग्य साथ नहीं दे रहा है, तमाम मेहनत करने के बाद भी घर में पैसों की तंगी की समस्या बनी रहती है ,तो आप इस मंत्र का जाप प्रतिदिन अवश्य करें तो आपको कुछ ही दिनों में शुभ फल देखने को मिलेंगे जैसे :

libra tula rashi

ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम: ।।

या फिर इस तरह से भी कर सकते हैं.

ॐ बु बुधाय नम .।।

मंत्र जाप करने की विधि

तुला राशि के जातक सुबह सूर्योदय के पश्चात स्नान आदि से निवृत होकर किसी एकांत स्थान पर आसन बिछाकर

ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम:

का 180 बार जाप करना चाहिए तो 8 दिन के अंदर आपको उन्नति के नए रास्ते नजर आने लगेंगे अगर आपके पास इस मंत्र को 180 बार जाप करने का समय नहीं है, तो आप सुबह स्नान करने के पश्चात इस मंत्र का जितनी बार जाप हो सके अपने मन को केंद्रित करके जाप करें तो बुद्धदेव आपसे प्रसन्न होकर आपको बुद्धि प्रदान करेंगे और आपको सफलता के मार्ग की ओर प्रेरित करेंगे जिससे आप हर क्षेत्र में प्रगति हासिल कर सकते हैं.

ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम: मंत्र जाप करने के फायदे ? | ॐ ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम:

अगर तुला राशि के कोई भी जातक जाति का इस मंत्र का प्रतिदिन प्रातः काल स्नानादि से निवृत्त होने के पश्चात अपने मन को केंद्रित करके कुछ समय तक इस मंत्र का जाप करते हैं तो उनके जीवन में कुछ इस प्रकार के शुभ और चमत्कारी लाभ देखने को मिलेंगे जैसे,

1. परिवारिक जीवन में खुशहाली लाए

Family

अगर तुला राशि के जातक जातिका के परिवारिक जीवन में किसी भी प्रकार का कष्ट है या फिर घर में एक दूसरे से मनमुटाव की स्थिति बनी रहती है ऐसे में इस समस्या को सुलझाने के लिए तुला राशि के जातक जातिका को प्रतिदिन

ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम:”

मंत्र का जाप करना चाहिए तो कुछ दिनों में ही आपको अपने परिवारिक जीवन में बदलाव नजर आएगा और आपके परिवार के सभी सदस्य एक दूसरे से मिलजुल कर रहेंगे तथा सभी कार्य में आपका सहयोग करेंगे.

2. आर्थिक स्थिति बेहतर बनाएं

क्या तुला राशि के जातक तमाम मेहनत करने के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगती ,या फिर आपके घर में पैसा नहीं टिकता है ,या आपके घर में हर कोई हमेशा बीमार रहता है, तो ऐसे में आपको


ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम:


मंत्र का जाप सुबह सूर्य उदय होने के पश्चात शाम को सूर्य अस्त होने से पहले करना चाहिए तो आपके घर में पैसा टिकने लगेगा और आपके घर के सभी खर्च भी मैनेज होते रहेंगे तथा आपकी मेहनत के अनुसार आपको हमेशा तरक्की मिलती रहेगी.

receiving money

क्योंकि यह मंत्र आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाए रखने के लिए बहुत ही प्रभावशाली मंत्र है इसीलिए आप इस मंत्र का प्रतिदिन जाप अवश्य करें तो आपको इस मंत्र को जाप करने का फायदा अपने आप नजर आने लगेगा.

3. व्यक्ति की स्मरण क्षमता बढ़ाए

हमारे प्रिय दर्शकको जो मंत्र हमने आप लोगों को ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बताया हैं यह मंत्र बुध ग्रह से संबंधित है जिसके जाप से व्यक्ति की सोचने की क्षमता तेज होती है और वह किसी भी कठिन से कठिन कार्य को बिना किसी की सहायता के आसानी से सुलझा लेता है. क्योंकि उसके अंदर अपने आप सोचने की क्षमता आ जाती है. जिसकी वजह से उसे किसी भी प्रकार की समस्या को सुलझाने के लिए अन्य लोगों का सहारा या सुझाव लेने की आवश्यकता नहीं होती है.

ऐसे में अगर आप भी किसी बड़े कार्य को लेकर परेशान रहते हैं और दूसरे लोगों का सहारा लेना पड़ता है, तो ऐसे में आपको इस मंत्र का प्रतिदिन जाप करना चाहिए, तो आप की स्मरण शक्ति बढ़ेगी और आप हर क्षेत्र में प्रगति हासिल करेंगे तथा आपका मान-सम्मान बढ़ेगा और आपको अचानक से किसी सरकारी पद की प्राप्ति होगी.

4. निसंतान को संतान की प्राप्ति होती है

Son

अगर तुला राशि के जातक जीवन में सभी प्रकार के भौतिक सुखों से परिपूर्ण है और उन्हें एक संतान की प्राप्ति नहीं है तो ऐसे में तमाम वैभव और भौतिक सुख भी फीके फीके से लगते हैं ऐसे में अगर एक निसंतान औरत दीपावली या फिर होली की रात में


ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम :


मंत्र का जाप 108 बार करती है तो उसकी मनोकामना की पूर्ति अवश्य होती है. इसीलिए आप मनोकामना के तौर पर पुत्र प्राप्ति की मनोकामना कर सकती हैं और मां बनने का सुख प्राप्त कर सकते हैं यहां तक कि यह भी कहा जाता है कि दीपावली की रात में इस मंत्र का जाप करने से यह मंत्र सिद्ध हो जाता है जिससे किसी भी समय किसी भी समस्या को सुलझाने के लिए उपयोग में लिया जा सकता है इसीलिए इस मंत्र को दीपावली की रात में अवश्य 180 बार जाप करना चाहिए

5. उन्नति के नए रास्ते दिखाएं

कई बार तुला राशि के जातक के साथ ऐसा होता है कि वह कोई ऐसा कार्य करते हैं कि उन्हें बहुत सारा फायदा मिलने वाला है लेकिन जब वह काम शुरू करते हैं तो उन्हें लाभ मिलने की जगह घाटा ही मिलता है जिसकी वजह से वह अन्य कोई कार्य करना प्रारंभ कर देते हैं. लेकिन उस कार्य में भी इन्हें नुकसान ही मिलता है.

जिसकी वजह से तुला राशि के जातक बहुत ज्यादा निराश भावना लेकर घर में बैठ जाते हैं लेकिन आपको निराश होने की जगह


( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

ओम ब्रां ब्रीं बौं स: बुधाय नम :


मंत्र का जाप करना चाहिए तो आपको उन्नति के नए रास्ते नजर आने लगेंगे और आप उन रास्तों में से अगर किसी एक ही रास्ते को अपनाते हैं, तो आपको वह रास्ता प्रगति की ओर ले जाएगा और फिर आप अपनी मेहनत के दम पर सभी भौतिक सुख संपदाओं को प्राप्त कर पाएंगे. क्योंकि यह मंत्र तुला राशि के जातक के भाग्य को खोलने का प्रभावशाली मंत्र है.

हमारे प्रिय दर्शकों अगर आप लोग इस मंत्र का जाप पूरे विधि विधान से करते हैं तो आपको हमारे द्वारा बताए गए लाभ अवश्य देखने को मिलेंगे.

शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के उपाय | Sukra grah ko prasann karne ke upay

अब हम यहां पर शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के कुछ उपाय बताएंगे क्योंकि शुक्र ग्रह तुला राशि का स्वामी होता है इसीलिए हमें मंत्र जाप के साथ-साथ अपनी राशि के स्वामी को भी खुश रखना बेहद आवश्यक होता है नहीं तो हमें मंत्र जाप का शुभ फल नहीं मिलता है. शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के लिए ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुछ इस प्रकार के उपाय बताए गए हैं जैसे :

1. सफेद वस्त्रों का दान करें

white cloth

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा बताया गया है शुक्र देवता को सफेद रंग बहुत पसंद है इसीलिए आप शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के लिए ब्राह्मण या फिर किसी गरीब व्यक्ति को सफेद रंग के वस्त्र दान कर सकते हैं, साथ में खुद भी सफेद वस्त्र धारण करें और शुक्र भगवान की पूजा अर्चना करें, तो बहुत जल्दी इसका शुभ फल देखने को मिलेगा.

2. सफेद गाय को रोटी खिलाएं

शुक्र ग्रह को प्रसन्न करने के लिए तुला राशि के जातकों को भोजन बनाने के पश्चात भोजन करने से पहले एक रोटी सफेद गाय को नियमित रूप से खिलानी चाहिए ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शुक्र देव आपसे बहुत ज्यादा प्रसन्न होंगे और आपके जीवन पर शुभ प्रभाव डालेंगे.

feed the cow

जिसकी वजह से आपके घर में आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा, परिवारिक जीवन में सुख शांति आएगी और आगमन के नए रास्ते नजर आने लगेंगे. क्योंकि शुक्र ग्रह को सफेद गुलाबी रंग बहुत प्रिय है. इसलिए सफेद गाय को रोटी खिलाने से शुक्र देवता प्रसन्न होते हैं.

3. शुक्रवार को व्रत

शुक्रवार के दिन आप शुक्र देवता का व्रत रखें और सूर्योदय से पहले उठकर घर की साफ सफाई कर दें और फिर स्नान आदि से निवृत्त होकर सफेद वस्त्र धारण कर ले घर में सभी को सफेद वस्त्र धारण करने की सलाह दे उसके बाद शुक्र देवता की प्रतिमा के सामने धूपबत्ती, अगरबत्ती, अक्षत, सफेद फूल, खीर यह सब कुछ अर्पित करें.

उसके पश्चात अपनी मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना करें शुक्र देवता के साथ-साथ भगवान शिव की भी पूजा अवश्य करें ऐसा कुछ शुक्रवार करने से आपको अपने जीवन में कुछ चमत्कारी प्रभाव नजर आने लगेंगे और आपकी बुद्धि तेज होगी जिससे आप किसी भी काम को आसानी से कर पाएंगे और आपको हर क्षेत्र में प्रगति अवश्य मिलेगी.

4. छोटी कन्याओं को भोजन कराएं

अगर तुला राशि के जातक के जीवन में किसी भी प्रकार की समस्याएं आ रही हैं तो उन समस्याओं से निपटने के लिए शुक्रवार के दिन 5 या फिर 9 छोटी कन्याओं को खीर हलवा का भोजन कराना चाहिए जिसमें आप पेड़ा, बर्फी आदि कुछ भी दे सकते हैं.

Barfi

लेकिन जो वस्तु दे वह सफेद ही होनी चाहिए या फिर गुलाबी भी हो सकती है ऐसा करने से शुक्र देवता प्रसन्न होंगे और आपको सदा ख़ुशी रहो का आशीर्वाद देंगे उसके बाद आपके जीवन में सभी प्रकार के दुख अपने आप दूर हो जाएंगे और आप अपने जीवन में आगे बढ़ पाएंगे तथा आपके वैवाहिक जीवन में सुख शांति आएगी.

ऐसे में अगर आप लंबे समय तक कन्याओं को भोजन कराते हैं तो आपको बहुत जल्दी संतान की प्राप्ति हो सकती है क्योंकि छोटी कन्याए भी मां दुर्गा का रूप होते हैं जिनके आशीर्वाद से बहुत उन्नति हासिल होती है.

5. घर की अच्छे से साफ सफाई रखें

शुक्र देवता को साफ-सफाई बेहद पसंद है ऐसे में अगर आपके घर में सफाई नहीं रहती है कपड़े इधर पड़े हैं, बर्तन उधर पड़े हैं, कूड़ा का ढेर घर में लगा है, तो ऐसे में आपकी कुंडली में शुक्र ग्रह कमजोर हो जाता है और फिर उसके कमजोर होने की वजह से आपके जीवन में अशुभ प्रभाव देखने को मिलते हैं. जिसकी वजह से तुला राशि का जातक कई प्रकार की समस्याओं से घिर जाता और फिर चाह कर भी उन से नहीं निकल पाता है.

इसीलिए आपको अपनी कुंडली में शुक्र ग्रह को प्रसन्न रखने के लिए घर की अच्छे से साफ सफाई रखनी चाहिए, रोज सुबह घर को पानी से धोना चाहिए, कपड़े एक तरफ, बर्तन एक तरफ, हर एक चीज को रखने का एक एक स्थान बना ले और उस चीज को उसी जगह पर रखें, इधर उधर ना फेंके. खास करके जहां पर आपके घर में किसी भी देवी देवता का मंदिर है. वहां साफ-सफाई अवश्य होनी चाहिए और शाम को मंदिर में दीपक अवश्य जलाना चाहिए. ऐसा करने से घर में माता लक्ष्मी का वास होता है और घर की आर्थिक स्थिति बेहतर रहती है.

FAQ : तुला राशि भाग्य मंत्र

तुला राशि का स्वामी कौन है ?

तुला राशि का स्वामी शुक्र ग्रह को माना गया है.

तुला राशि की दुश्मन कौन सी राशि हैं ?

कुंभ राशि को तुला राशि का सबसे बड़ा दुश्मन माना जाता है.

तुला राशि किन अक्षरों से शुरू होती है ?

जिन लोगों के नाम का पहला अक्षर रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू या ते से प्रारंभ होता है उनकी राशि तुला होती है जिनका स्वामी शुक्र ग्रह को माना गया है.

निष्कर्ष

दोस्तों जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से तुला राशि वालों के भाग्य उदय मंत्र के विषय में जानकारी प्रदान की है अगर आप लोगों ने इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आप लोगों को उस मंत्र की जानकारी मिल गई होगी .

जिन्हें आप लोग जाप करके अपने जीवन को सरल बना सकते हैं तो हमारे प्रिय मित्रों हम उम्मीद करते हैं आप लोगों को हमारे द्वारा बताई गई जानकारी पसंद आई होगी और यह लेख आप लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन