असली नीलम रत्न की कीमत और पहचान : लाभ-हानी और धारण विधि | Asli Neelam ratna ki kimat

नीलम रत्न की कीमत | Neelam ratna ki kimat : नमस्कार दोस्तों हार्दिक स्वागत है आपका आज के हमारे इस लेख में आज इस लेख में हम आप लोगों को नीलम रत्न की कीमत के विषय में जानकारी देने वाले हैं दोस्तों नीलम रत्न का रत्न शास्त्र की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण स्थान है.



इस रत्न को शनि ग्रह की स्थिति कमजोर होने पर धारण किया जाता है हालांकि बहुत से लोग नीलम रत्न की कीमत के विषय में नहीं जानते हैं इसीलिए हम इस लेख में नीलम रत्न की कीमत क्या है, ऑनलाइन नीलम रत्न की कीमत इसके विषय में जानकारी देंगे इसके अलावा नीलम रत्न कहां से खरीदें.

नीलम रत्न की कीमत, Neelam ratna ki kimat, कुंभ राशि नीलम रत्न की कीमत, नीलम रत्न की कीमत क्या है, नीलम रत्न धारण करने की विधि, Neelam ratna dharan karne ki vidhi, ऑनलाइन नीलम रत्न की कीमत, online Neelam ratna ki kimat, नीलम रत्न कहां से खरीदें, नीलम रत्न कहाँ पाया जाता है, neelam kaha se kharide, नीलम रत्न क्या है, Neelam ratna kya hai, असली नीलम रत्न की पहचान, asli Neelam ratna ki pahchan, नीलम रत्न धारण करने से लाभ, Neelam ratna dharan karne se Labh, नीलम रत्न धारण करने से दुष्प्रभाव, Neelam ratna dharan karne se dusprabhav,

नीलम रत्न की असली पहचान ,नीलम रत्न धारण करने की विधि एवं नीलम रत्न धारण करने से क्या लाभ एवं क्या हानि होती है इसके विषय में इस लेख में हम विस्तार पूर्वक संपूर्ण जानकारी देंगे अगर आप में से कोई व्यक्ति नीलम रत्न को धारण करके इस रत्न के बेहतर लाभ को प्राप्त करना चाहता है तो हम इस लेख में नीलम रत्न के विषय में संपूर्ण जानकारी दे रहे हैं जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे द्वारा दिए गए इस लेख को ध्यान पूर्वक अंत तक अवश्य पढ़ें.

♦ लेटेस्ट जानकारी के लिए हम से जुड़े ♦
WhatsApp ग्रुप पर जुड़े 
WhatsApp पर जुड़े 
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
Google News पर जुड़े 

नीलम रत्न क्या है ? | Neelam ratna kya hai ?

रत्न ज्योतिष वैदिक की एक बहुत ही महत्वपूर्ण शाखा मानी जाती है ऐसा माना जाता है कि जब किसी जातक की कुंडली में किसी ग्रह की स्थिति कमजोर होती है तो उस व्यक्ति को अपनी कुंडली में ग्रह की स्थिति मजबूत बनाने के लिए किसी विशेष रत्न को धारण करने की सलाह दी जाती है.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुल नवग्रह माने गए हैं और इन नौ ग्रह में से प्रत्येक ग्रह का संबंध किसी न किसी रत्न से है आज हम आप लोगों को एक बहुत ही खास रत्न के विषय में जानकारी देने वाले हैं जिसका प्रभाव बहुत ही जल्दी होता है.


वैसे तो बहुत से लोग ऐसे हैं जो नीलम के विषय में जानते हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें रत्न शास्त्र के विषय में बिल्कुल भी ज्ञात नहीं है जानकारी के लिए हम आप लोगों को बता दें कि नीलम एक ऐसा रत्न है जो मेष, तुला, वृषभ और वृश्चिक राशि के जातकों के लिए बहुत ही शुभ माना जाता है ऐसा कहा जाता है.

अगर इन राशि के जातकों की कुंडली में शनि ग्रह का अशुभ प्रभाव रहता है तो वह अगर उस अवस्था में इस नीलम रत्न को शास्त्र में बताई गई उचित विधि के द्वारा धारण करते हैं तो उनकी कुंडली से ग्रह का अशुभ प्रभाव समाप्त हो जाता है और इन राशि के जातकों को नीलम रत्न की वजह से काफी लाभ मिलता है.

Neelam ratna

नीलम रत्न के लिए सबसे खास बात यह होती है कि यह रत्न जिस व्यक्ति को शूट करने लगता है तो उस व्यक्ति को इस रत्न का असर 48 घंटे के अंदर दिखाई देने लगता है हालांकि आज के समय में नीलम रत्न तुला, मेष, वृषभ और वृश्चिक राशि के जातक अपनी कुंडली में ग्रहों की अशुभ स्थिति से बचने के लिए पहनते हैं.

लेकिन आज के इस भौतिकवादी युग में ज्यादातर लोग नकली नीलम रत्न को बेचकर अंधाधुंध पैसे कमा रहे हैं यही वजह है कि लोगों को नीलम रत्न धारण करने से इसके लाभ बेहतर नहीं मिल पाते हैं इसीलिए आज का यह लेख नीलम रत्न की कीमत के ऊपर है इस लेख में हम आप लोगों को नीलम रत्न की कीमत के विषय में अच्छी जानकारी देंगे.

इसके साथ ही हम आप लोगों को नीलम रत्न से जुड़ी समस्त जानकारियां भी देंगे अगर आप नीलम रत्न को धारण करके इसके लाभ को प्राप्त करना चाहते हैं तो आपके लिए हमारा या लेख बहुत ही महत्वपूर्ण है तो दोस्तों बिना देर किए हुए चलिए नीलम रत्न के विषय में जानकारी प्राप्त करते हैं.

नीलम रत्न की कीमत | Neelam ratna ki kimat

नीलम रत्न मेष, वृषभ, वृश्चिक और तुला राशि के जातकों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है अगर इन राशि के जातक नीलम रत्न को शास्त्रों में बताई गई विधि के द्वारा धारण करते हैं तो नीलम रत्न के प्रभाव से उनके जीवन में चल रहे सभी कष्ट दूर हो जाते हैं.

नीलम रत्न शुभ शनि ग्रह की अशुभ स्थिति को कुंडली से दूर करने में बहुत ही फायदेमंद होता है इसीलिए अगर इस राशि के किसी जातक की कुंडली में शनि ग्रह की अशुभ स्थिति चल रही है तो वह अपनी कुंडली में शनि ग्रह की स्थिति को मजबूत बनाने के लिए नीलम रत्न धारण कर सकता है नीलम रत्न के लाभकारी तत्वों के कारण ही यह रत्न सबसे ज्यादा धारण किया जाता है.

आज के समय में ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें नीलम रत्न की कीमत के विषय में सही जानकारी नहीं है और वह जानना चाहते हैं कि नीलम रत्न की कीमत क्या होती है तो दोस्तों हम आप लोगों को जानकारी के लिए बता दे कि नीलम रत्न की कीमत उसकी गुणवत्ता एवं गुड़ के ऊपर निर्भर करती है.

money purse

नीलम रत्न नीले रंग का होता है हालांकि जब भी नीलम रत्न खरीदें तो उसे भली-भांति देखकर खरीदना चाहिए नीलम रत्न का रंग शुद्ध नीला होना चाहिए क्योंकि ज्यादातर नीलम रंग में मटमैला एवं कला रंग देखा जाता है और ऐसा नीलम रत्न पहनने से जातकों को इस नीलम रत्न का सही लाभ नहीं मिल पाता है इसीलिए अगर आप चाहते हैं.

कि आपको नीलम रत्न का लाभ मिले तो आपको इस रत्न का परीक्षण करने के बाद ही खरीदना चाहिए अगर हम नीलम रत्न की कीमत के विषय में बात करें तो भारत देश में नीलम रत्न की कीमत 1000 रत्ती से लेकर 100000 तक हो सकती है ज्योतिष शास्त्र में ऐसा बताया जाता है कि अगर किसी व्यक्ति को नीलम रत्न का अच्छा लाभ लेना है.

तो उसे नीलम रतन को 5 से 7 राती धारण करना चाहिए क्योंकि शास्त्रों में नीलम रत्न 5 से 7 राती धारण करना सबसे शुभ बताया गया है अगर कोई जातक नीलम रत्न को पंच धातु में धारण करता है तो यह बहुत ही शुभ होता है जानकारी के लिए यहां हम आप लोगों को नीलम रत्न की अलग-अलग कीमत के विषय में बता रहे हैं.

नीलम रत्न नीलम रत्न की कीमत
एक रत्ती नीलम रत्न की कीमत कीमत ₹1,110.00 ₹2,250.00
पांच रत्ती नीलम रत्न की कीमत कीमत ₹5,278.00 ₹1,440.00
शुद्ध नीलम रत्न की कीमत 1,000 रु कैरेट से लेकर 100,000 रु कैरेट तक हो सकती है!

ऑनलाइन नीलम रत्न की कीमत | Online Neelam ratna ki kimat

अगर आप नीलम रत्न को ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं और आपको इसके प्राइस के विषय में जानकारी प्राप्त करना है तो हम आप लोगों को बता दें कि नीलम रत्न की कीमत उसकी गुणवत्ता के ऊपर निर्भर करती है आपको ऑनलाइन नीलम रत्न थोड़ा सस्ता मिल जाएगा लेकिन जहां तक हो सके नीलम रतन को ऑनलाइन ना ही खरीदें.

क्योंकि ऑनलाइन नीलम रत्न ज्यादातर नकली आते हैं जिन्हें धारण करने पर लोगों को नीलम रत्न का लाभ नहीं मिल पाता है यदि आप नीलम रत्न को ऑफलाइन खरीदने हैं तो आप वहां पर नीलम रत्न का अच्छे से परीक्षण कर सकते हैं और उसे दूध में डालकर नीलम रत्न की असली पहचान भी कर सकते हैं इसीलिए नीलम रत्न को खरीदना ऑफलाइन सबसे अच्छा माना जाता है.neelam ratna

आज के समय में तो बड़े मंदिरों के पास एवं धार्मिक मेलों में भी नीलम रत्न बिकते हुए दिखाई देते हैं आप वहां से भी नीलम रतन को खरीद सकते हैं लेकिन आपको नीलम रत्न को किसी पंडित या फिर पुरोहित जी से संपर्क करने के बाद ही खरीदना चाहिए ऑनलाइन नीलम रत्न ₹1000 से लेकर 1 लाख तक मिलते हैं आप नीलम रत्न को अपनी बजट एवं आवश्यकता के अनुसार खरीद सकते हैं.

हालांकि नीलम रत्न को पांच से सात रत्ती धारण करना ही शुभ होता है इसीलिए आपको नीलम रत्न को पांच रत्ती से कम नहीं खरीदना चाहिए क्योंकि 5 रत्ती से कम नीलम रत्न पहनने पर नीलम रत्न का प्रभाव बहुत मंद गति से होता है इसलिए अगर आपको नीलम रत्न का लाभ जल्दी प्राप्त करना है तो आपको इस रत्न को पांच रत्ती कम से कम धारण करना चाहिए.

नीलम रत्न कहां से खरीदें ? | Neelam ratna kahan se khariden ?

श्रीलंका में पाए जाने वाला नीलमणि या नीलम रत्न सुंदरता एवं गुणवत्ता के क्षेत्र में सबसे अच्छा रत्न माना जाता है इस रत्न का रंग हल्का मध्य होता है और पूरा नीलम मैं एक समान रंग फैला हुआ दिखाई देता है ऐसा बताया जाता है कि श्रीलंका में पाए जाने वाले नीलम रत्न में ग्रे मास्किंग होती है.

जिसके कारण संतृप्त स्तर काफी कम होता है इसीलिए अगर आपको नीलम रत्न धारण करके उसके लबों को बेहतर तरीके से प्राप्त करना है तो आपको नीलमणि श्रीलंका में पाए जाने वाले नीलम रतन को ही खरीदना चाहिए इस रत्न को धारण करने से भौतिक शुभ समृद्धि प्राप्त होती है.

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

अगर कोई व्यक्ति अपने जीवन में काफी ऊंचे तक जाना चाहता है और वह प्रशासनिक राजनीतिक पदों की इच्छा रखता है तो उसे नीलम रत्न अवश्य पहनना चाहिए हालांकि नीलम रत्न पहनने से पहले उसका परीक्षण करके खरीदना चाहिए ताकि आपको नीलम का बेहतर मिल सके.

neelam ratna

जब भी आपको नीलम रत्न खरीदना हो तो उससे पहले किसी योग्य अनुभवी पुरोहित या फिर पंडित जी से नीलम रत्न के विषय में बात कर ली उनसे बात करने पर आपको नीलम रत्न के विषय में अच्छी जानकारी मिल जाएगी आप आप उनसे पूछ कर असली नीलम रतन को खरीद सकते हैं.

जब आप असली नीलम रतन को खरीद कर किसी पुरोहित एवं पंडित जी की सहायता अनुसार उचित विधि द्वारा धारण करेंगे तो आपको नीलम रत्न से बहुत लाभ प्राप्त होगा यहां हम आप लोगों को जानकारी के लिए नीलम रत्न की असली पहचान क्या होती है इसके विषय में भी बताएंगे.

असली नीलम रत्न की पहचान | Asli Neelam ratna ki pahchan

जहां तक हम जानते हैं ऐसे बहुत से लोग हैं जो नीलम रत्न को धारण करना चाहते हैं लेकिन उन्हें असली नीलम रत्न की पहचान क्या है इसके विषय में जानकारी न होने के कारण वे नकली नीलम रत्न को बाजार से खरीद कर धारण करते हैं जिसकी वजह से उन्हें नीलम रत्न का लाभ नहीं मिलता है.

इसीलिए आज यहां पर हम आप लोगों को नीलम रत्न की असली पहचान क्या होती है इसके विषय में विस्तार से जानकारी देने जा रहे हैं ताकि आप लोग नीलम रत्न खरीदते समय उसके अच्छे से पहचान कर सके जब आप असली नीलम रत्न को खरीद कर धारण करेंगे तो आपको उसे रत्न का असर 48 घंटे के अंदर दिखाई देने लगेगा.

 नीलम रत्न की वजह से बहुत ही जल्दी आपके जीवन में मची हुई उथल-पुथल खत्म हो जाएगी क्या आप लोग जानते हैं कि नीलम रत्न की असली पहचान क्या होती है अगर नहीं जानते हैं तो हम यहां आप लोगों को नीलम रत्न की असली पहचान के विषय में बता देते हैं जो असली नीलम रत्न होता है.

Neelam ratna

वह नीले रंग का पारदर्शक एवं देखने में तेज चमक वाला दिखाई देता है और जब आप असली नीलम रत्न को छुएंगे तो वह छूने पर मुलायम एवं गौर से देखने पर उसमें करने जैसी निकलती दिखाई प्रतीत होती है अगर आप इस विधि द्वारा नीलम रत्न की असली पहचान नहीं कर पाते हैं.

तो आप नीलम रत्न की पहचान बहुत सरल तरीके से भी कर सकते हैं सरल तरीके से नीलम रखने की पहचान करने के लिए किसी बर्तन में दूध ले और उसमें नीलम रत्न को डाल दे अगर नीलम रत्न असली होगा तो कुछ समय पश्चात दूध नीले रंग का दिखाई देने लगता है आप इस विधि द्वारा नीलम रत्न की असली पहचान बहुत आसानी से कर सकते हैं.

नीलम रत्न धारण करने की विधि | Neelam ratna dharan karne ki vidhi

नीलम रत्न मकर एवं कुंभ राशि के जातकों के लिए धारण करना बहुत ही शुभ होता है इसके अलावा वृश्चिक, वृष राशि, मिथुन, मेष एवम तुला राशि के जातक भी इस रत्न को पहन सकते हैं कहने का तात्पर्य है कि जिन राशि के जातकों का स्वामी शनि ग्रह वे सभी राशि के जातक नीलम रत्न को धारण कर सकते हैं.

क्योंकि नीलम रत्न का संबंध शनि ग्रह से है और इसे शनि ग्रह का शुभ प्रभाव दूर करने के लिए ही धारण किया जाता है कई बार ऐसा होता है की कुंडली में शनि ग्रह की स्थिति कमजोर हो जाती है जिसकी वजह से जातक के जीवन में कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं.

ऐसे में अगर वह व्यक्ति रतन शास्त्र में बताए गए नियम के अनुसार अपनी राशि के अनुरूप रतन को धारण करता है तो उसकी कुंडली से ग्रह का शुभ प्रभाव खत्म हो जाता है अगर इस लेख में दी गई राशि के जातकों में से किसी भी जातक के जीवन में शनि ग्रह का शुभ प्रभाव चल रहा है.

तो वह शनि ग्रह के प्रभाव को कुंडली में मजबूत बनाने के लिए नीलम रत्न को धारण कर सकता है लेकिन इस रत्न को धारण करने की एक निश्चित विधि है उसे विधि द्वारा इस रत्न को ही धारण किया जाता है अगर नीलम रत्न को ऐसे ही धारण कर लिया जाए तो इस रत्न का कोई भी लाभ नहीं मिलता है.

Neelam ratna

  1. यहाँ हम आप लोगों को जानकारी के लिए नीलम रत्न कैसे धारण किया जाता है इसके विषय में बता रहे हैं नीलम रतन को धारण करने के लिए शनिवार का दिन ही शास्त्रों में सबसे श्रेष्ठ बताया गया है इसीलिए आप जब भी नीलम रत्न धारण करने की सोच तो शनिवार का दिन ही नीलम रत्न धारण करने के लिए रखें.
  2. नीलम रत्न धारण करने के लिए शनिवार की सुबह ब्रह्म मुहूर्त में ही उठकर घरेलू कार्य से निवृत्त होकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण कर ले और इस दिन अपने घर की विशेष साफ सफाई का भी ध्यान रखें क्योंकि रत्न धारण करने में घर की स्वच्छता का भी विशेष स्थान होता है.
  3. तत्पश्चात् भगवान शनि देव का विधि विधान के साथ पूजन करें पूजा करने के पश्चात नीलम रत्न पर गंगाजल छिड़ककर नीलम रत्न को शुद्ध करें तत्पश्चाप नीलम रत्न को भगवान शनि देव के चरणों में रख दें और शनि ग्रह का अशुभ प्रभाव कुंडली से दूर होने के लिए भगवान से प्रार्थना करें.
  4. इस प्रक्रिया को करने के बाद आप नीलम रत्न को चांदी या फिर पंच धातु में धारण कर सकते हैं नीलम रत्न को धारण करते वक्त इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि नीलम रत्न को हमेशा दाहिने हाथ की मध्यमा उंगली में ही धारण करें.
  5. नीलम रत्न धारण करने के पश्चात शनि के नीचे दिए गए मंत्र का 108 बार ध्यान पूर्वक जाप करें.
  6. आप इस विधि द्वारा जब नीलम रतन को धारण करेंगे तो आपको नीलम रत्न का असर बहुत जल्दी दिखाई देने लगेगा आपको नीलम रत्न धारण करने के बाद प्रतिदिन शनि ग्रह के इस मंत्र का जब करना है और शनि देव का विधि विधान के साथ पूजन भी करना है.
  7. नीलम रतन को धारण करने के पश्चात किसी को भी अपशब्द नहीं बोलना चाहिए और ना ही किसी से लड़ाई झगड़ा करना चाहिए क्योंकि ऐसा कहा जाता है ऐसा करने से नीलम रत्न की गुणवत्ता पर बुरा असर पड़ता है.

 

मंत्र

ऊं शम शनिचराय नम

नीलम रत्न धारण करने से लाभ | Neelam ratna dharan karne se Labh

रतन शास्त्र में नीलम रत्न का अपना एक अलग ही महत्व है अगर कोई व्यक्ति अपनी कुंडली के अनुसार नीलम रत्न को सही तरीके से धारण करता है तो उसे नीलम रत्न का बेहतर लाभ मिलता है क्या आप लोग जानते हैं कि नीलम रत्न धारण करने से क्या लाभ होता है अगर नहीं जानते हैं तो हम यहां नीलम रत्न धारण करने से क्या लाभ होता है इसके विषय में जानकारी दे रहे हैं.

HAPPY GIRL

  1. आपने देखा होगा कुछ व्यक्ति ऐसे होते हैं जिनका किसी भी काम में मन नहीं लगता है अगर ऐसा कोई व्यक्ति अपनी कुंडली के अनुसार नीलम रत्न को धारण करता है तो उसकी कार्यशैली में निखार जाता है और वह पहले से बेहतर कार्य करने लगता है.
  2. जिन लोगों की सोचने समझने की क्षमता बहुत कम है उनके लिए नीलम रत्न धारण करना वरदान समान है क्योंकि रत्न शास्त्र में ऐसा बताया जाता है की नीलम रत्न धारण करने से सोचने समझने की क्षमता का विकास होता है जिससे व्यक्ति अपने जीवन के कुछ महत्वपूर्ण निर्णय को लेने में सक्षम हो जाता है.
  3. यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि ग्रह की अशुभ स्थिति चल रही है तो ऐसे में वह व्यक्ति अगर नीलम रत्न को धारण करता है तो उसकी कुंडली से शनि ग्रह का अशुभ प्रभाव खत्म हो जाता है और कुंडली में शनि ग्रह की एक मजबूत स्थिति बनती है.
  4. उचित तरीके से नीलम रत्न धारण करने पर नीलम रत्न का शरीर पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और धीरे-धीरे करके व्यक्ति की मानसिकता बदलने लगती है जिसकी वजह से व्यक्ति के जीवन में कई तरह के परिवर्तन आते हैं और यह परिवर्तन उसे भावी जीवन की प्रगति के लिए अग्रसर करते हैं.

नीलम रत्न धारण करने से नुकसान | Neelam ratna dharan karne se nuksan

  1. ज्योतिष शास्त्र एवं रत्न शास्त्र में ऐसा कहा गया है कि नीलम रत्न धारण करने से जातकों को इतनी जल्दी नुकसान नहीं मिलते हैं क्योंकि नीलम रत्न एक बहुत ही विशेष रत्न है जिसका नुकसान बहुत ही कम होता है लेकिन दोस्तों हम आप लोगों को बता दें कि अगर कोई व्यक्ति नीलम रत्न को अपनी राशि के अनुसार नहीं धारण करता है.
  2. तो उसे नीलम रत्न के दुशप्रभाव का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि नीलम रत्न धारण करने के लिए शास्त्र में कुछ राशियां बताई गई हैं उन राशियों के लोग ही नीलम रत्न को धारण कर सकते हैं अन्य राशियों के लोग के लिए नीलम रत्न धारण करना हानिकारक हो सकता है.
  3. धनु मीन जैसी राशियों के लोगों को नीलम रत्न धारण करने से बचना चाहिए क्योंकि इन राशियों के स्वामी शनि ग्रह नहीं होते हैं इसीलिए अगर इस राशि के जातक नीलम रत्न को धारण कर लेते हैं तो उनके ऊपर नीलम रत्न का नुकसान पड़ता है.
  4. कुंडली के अनुसार नीलम रत्न न धारण करने पर नीलम रत्न की वजह से व्यवसाय में घाटा मिल सकता है इसके अलावा जीवन में कई तरह की समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं.
  5. अगर कोई व्यक्ति नीलम रत्न को उचित तरीके से धारण नहीं करता है तो उसे नीलम रत्न का नकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है जिसकी वजह से उसे शारीरिक कष्ट एवं उसके जीवन में कई तरह की उलझनें एवं समस्याएं भी उत्पन्न होने की संभावनाएं रहती है.

girl sad boy

FAQ: नीलम रत्न की कीमत

नीलम रत्न की कीमत क्या होती है ?

वैसे तो नीलम रत्न की कीमत ₹1000 से स्टार्ट होकर एक लाख तक है लेकिन अगर हम नीलम रत्न की कीमत के विषय में विस्तार से अध्ययन करें तो नीलम रत्न की कीमत उसकी गुणवत्ता के हिसाब से निर्धारित होती है.

नीलम रत्न किस दिन पहनना चाहिए ?

कोई भी रन हो जब उसे उचित विधि एवं निश्चित दिन नहीं धारण किया जाता है तब तक उसे रन का सही प्रभाव नहीं मिलता है नीलम रत्न धारण करने का रतन शास्त्र में शनिवार का दिन महत्वपूर्ण बताया गया है इस दिन नीलम रत्न को पंच धातु या फिर चांदी की धातु में धारण करना चाहिए.

असली नीलम रत्न कैसा दिखाई देता है ?

अगर कई नीलम रत्न को एक साथ रखकर ध्यान से देखा जाए तो नीलम रत्न के कलर में अंतर दिखाई देता है लेकिन जो असली नीलम रत्न होता है वह पारदर्शी एवं चमकदार होता है उसे नीलम रत्न में पूरा नीलम एक ही कलर का होता है असली नीलम रत्न दूध में डालने पर दूध का कलर भी परिवर्तित कर देता है.

निष्कर्ष

दोस्तों जैसा की आज इस लेख के माध्यम से हमने आप लोगों को नीलम रत्न की कीमत के विषय में जानकारी दी है इसके अलावा नीलम रत्न कहां से खरीदें ,असली नीलम रत्न की पहचान क्या होती है ,ऑनलाइन नीलम रत्न की कीमत ,नीलम रत्न धारण करने की उचित विधि एवं किन राशियों के जातकों को नीलम रत्न धारण करना चाहिए, नीलम रत्न धारण करने से क्या लाभ एवं क्या हानि होती है.

इसके विषय में हमने आप लोगों को इस लेख में विस्तार पूर्वक संपूर्ण जानकारी दी है अगर आपने हमारे द्वारा दिए गए इस लेख को अच्छे से पढ़ा होगा तो आपको नीलम रतन की कीमत के विषय में समस्त जानकारी प्राप्त हो गई होगी हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आप लोगों को पसंद आई होगी और निश्चित ही आप लोगों के लिए फायदेमंद भी रही होगी.

osir news
यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
कोई सलाह देना है या हम से संपर्क करना है ? अभी तुरंत अपनी बात कहे !
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले .

यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !

 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन