पंचमुखी हनुमान जी का मंत्र : जप विधि और पूजा के लाभ | पंचमुखी हनुमान मंत्र : panchmukhi hanuman ji ka mantra

Panchmukhi hanuman ji ka mantra : प्रणाम गुरु जनों आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से panchmukhi hanuman ji ka mantra के बारे में बताने वाले हैं क्या आप जानते हैं संकट मोचन हनुमान भगवान को पंचमुखी कहा जाता है जब कोई व्यक्ति किसी संकट में फंसता है और वह पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ हनुमान भगवान का नाम लेता है तो उसके सारे संकट दूर हो जाते हैं चलिए हनुमान भगवान को संकट मोचन कहा जाता है.

क्योंकि वह अपने भक्तों के सारे दुख दर्द दूर कर देते हैं और जो इस कलयुग में मौजूद उनके भक्त हैं उनकी रक्षा करते हैं वैसे तो हनुमान जी के कई रूप हैं उनमें से एक रूप पंचमुखी हनुमान का है वैसे आपने कई जगह पंचमुखी वाले हनुमान जी की तस्वीर देखी होगी इसीलिए आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से सबसे पहले panchmukhi hanuman ji ka mantra के बारे में बताएंगे उसके बाद हनुमान जी का पंचमुखी अवतार अर्थ क्या है.

panchmukhi hanuman ji ka mantra panchmukhi hanuman ji ke panch naam,,,, om panchmukhi hanuman mantra,,,, panchmukhi hanuman ji ka video,,,, panchmukhi hanuman video,,,, पंचमुखी हनुमान जी का शाबर मंत्र,,,, पंचमुखी हनुमान जी का कवच मंत्र,,,, पंचमुखी हनुमान जी का बीज मंत्र,,,, पंचमुखी हनुमान मंत्र जाप,,,, पंचमुखी हनुमान मंत्र इन हिंदी,,,, पंचमुखी हनुमान गायत्री मंत्र,,,, पंचमुखी हनुमान मंत्र lyrics,,,, हनुमानजी का पंचमुखी अवतार का अर्थ,,,, हनुमान जी का पंचमुखी अवतार,,,, हनुमान जी के पंचमुखी अवतार की कथा,,,, हनुमान जी का पंचमुखी रूप,,,, पंचमुखी हनुमान अवतार,,,, हनुमान जी का पंचमुखी फोटो,,,, हनुमान जी का पंचमुखी मंत्र,,,, हनुमान जी का अवतार,,,, हनुमान जी का पंचमुखी अवतार कैसे हुआ,,,, हनुमान जी का पंचमुखी अवतार क्या है,,,, हनुमान जी पंचमुखी अवतार,,,, पंचमुखी हनुमान जी की पूजा कैसे करें,,,, panchmukhi hanuman ji ki puja kaise karen,,,, पंचमुखी हनुमान की पूजा कैसे करें,,,, panchmukhi hanuman ji ki puja kaise kare,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे की जाती है,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे करनी चाहिए,,,, बजरंगबली की पूजा कैसे की जाती है,,,, हनुमान जी की पूजा पाठ कैसे करें,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे करते हैं,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे करना चाहिए,,,, हनुमान की पूजा कैसे की जाती है,,,, पंचमुखी हनुमान जी की मूर्ति घर में रखनी चाहिए या नहीं,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे करी जाती है,,,, हनुमान जी की पूजा की विधि बताइए,,,, panchmukhi hanuman ki puja kaise kare,,,, panchmukhi hanuman ji ki puja vidhi,,,, hanuman ji ki puja kaise kare,,,, panchmukhi hanuman ji ki photo ghar me kaha lagaye,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे किया जाता है,,,, पंचमुखी हनुमान कैसे बने,,,, पंच देव की पूजा कैसे करें,,,, पंचमुखी हनुमान की,,,, हनुमान जी की पूजा कैसे होती है,,,, पंचमुखी हनुमान जी की पूजा के लाभ क्या हैं ?,,,, पंचमुखी हनुमान जी के बारे में बताइए,,,, हनुमान जी की पूजा करने से क्या लाभ होता है,,,, panchmukhi hanuman ji ke bare mein bataiye,,,, हनुमान जी का पूजा करने से क्या लाभ होता है,,,, हनुमान जी की पूजा से क्या लाभ होता है,,,, hanuman ji ki puja karne se kya labh hota hai,,,, हनुमान जी की पूजा करने से क्या लाभ मिलता है,,,, हनुमान जी की पूजा करने से क्या फायदा होता है,,,, हनुमान जी की पूजा करने से क्या होता है,,,, हनुमान जी की पूजा करने से क्या फल मिलता है,,,, panchmukhi hanuman ji ke bare mein bataen,,,, पंचमुखी हनुमान कवच,,,, पंचमुखी हनुमान कवच अर्थ सहित,,,, पंचमुखी हनुमान कवच मंत्र,,,, पंचमुखी हनुमान कवच के फायदे,,,, पंचमुखी हनुमान कवच pdf,,,, पंचमुखी हनुमान कवच स्तोत्र,,,, पंचमुखी हनुमान कवच हिंदी में,,,, पंचमुखी हनुमान कवच के लाभ,,,, पंचमुखी हनुमान कवच लिरिक्स,,,, पंचमुखी हनुमान कवच का पाठ कैसे करें,,,, पंचमुखी हनुमान कवच का पाठ,,,, पंचमुखी हनुमान का कवच,,,, panchmukhi hanuman kavach benefits,,,, panchmukhi hanuman kavach book pdf,,,, panchmukhi hanuman kavach benefits in hindi,,,, panchmukhi hanuman kavach book,,,, panchmukhi hanuman kavach by aniruddha bapu,,,, panchmukhi hanuman kavach by anand pathak,,,, panchmukhi hanuman kavach buy online,,,, panchmukhi hanuman kavach book in hindi,,,, पंचमुखी हनुमान कवच pdf download,,,, पंचमुखी हनुमान कवच mp3 download,,,, panchmukhi hanuman kavach english pdf,,,, panchmukhi hanuman kavach english,,,, panchmukhi hanuman kavacham in english,,,, panchmukhi hanuman kavach free download mp3,,,, panchmukhi hanuman kavach ke fayde,,,, panchmukhi hanuman kavach ke fayde in hindi,,,, panchmukhi hanuman kavach pdf free download,,,, panchmukhi hanuman kavach mp3 song free download,,,, पंचमुखी हनुमान जी कवच,,,, panchmukhi hanuman kavach hindi mein,,,, panchmukhi hanuman kavach hindi pdf,,,, panchmukhi hanuman kavach hindi,,,, पंचमुखी हनुमान कवच इन हिंदी,,,, पंचमुखी हनुमान कवच इन हिंदी पीडीएफ,,,, panchmukhi hanuman ji kavach,,,, panchmukhi hanuman ji kavach in hindi,,,, panchmukhi hanuman kavach download mr jatt,,,, panchmukhi hanuman ji kavach mantra,,,, पंचमुखी हनुमान कवच स्तोत्र के लाभ,,,, पंचमुखी हनुमान कवच स्तोत्र lyrics,,,, पंचमुखी हनुमान कवच संस्कृत में,,,, panchmukhi hanuman kavacham stotram,,,, panchmukhi hanuman kavach in odia,,,, panchmukhi hanuman kavach sunaiye,,,, पंचमुखी हनुमान कवच स्तोत्र pdf,,,, पंचमुखी हनुमान कवच स्तोत्र pdf मराठी,,,, पंचमुखी हनुमान कवच मंत्र pdf,,,, श्री पंचमुखी हनुमान कवच pdf,,,, panchmukhi hanuman kavach quora,,,, panchmukhi hanuman kavach with meaning,,,, panchmukhi hanuman kavach templepurohit,,,, panchmukhi hanuman kavacham telugu,,,, panchmukhi hanuman raksha kavach stotra,,,, panchmukhi hanuman raksha kavach,,,, panchmukhi raksha kavach,,,, panchmukhi hanuman ka rahasya,,,, panchamukha hanuman kavacham tamil pdf,,,, panchmukhi hanuman kavach telugu,,,, panchmukhi hanuman kavach text,,,, panchmukhi hanuman kavach translation,,,, panchmukhi hanuman kavach vidhi,,,, panchmukhi hanuman kavach youtube,,,, panchmukhi veer hanuman kavach,,,, panchmukhi hanuman kavach with lyrics,,,, panchmukhi hanuman kavach with hindi meaning,,,, panchmukhi hanuman kavach you tube,,,, panchmukhi hanuman kavach yantra,,,, पंचमुखी हनुमान कवच अर्थ सहित pdf,,,, panchmukhi hanuman kavach arth sahit,,,, पंचमुखी हनुमान कवच पाठ हिंदी में,,,, पंचमुखी हनुमान कवच पंचमुखी हनुमान कवच,,,, पंचमुखी हनुमान कवच मराठी,,,, पंचमुखी हनुमान कवच साधना,,,,

उन्होंने यह अवतार क्यों लिया था और पंचमुखी कवच कौन सा है अगर आप इन सारे विषयों की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे द्वारा दिए गए इसलिए को अवश्य पढ़ें और हनुमान जी का स्मरण करें जिससे आपके सारे दुख दरिद्र दूर हो जाएंगे जो भी व्यक्ति हनुमान पंचमुखी कवच का पाठ करता है.

उसे किसी भी प्रकार का दुख नहीं होता है इसीलिए आप भी इस कवच का पाठ अवश्य करें आज हमने आपको इस लेख में इस कवच को दिया है अगर आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ते हैं तो आपको इस कवच के बारे में अवश्य पता चलेगा।

हनुमानजी का पंचमुखी अवतार का अर्थ

हनुमान जी का पंचमुखी अवतार का अर्थ सबसे पहले मुख वानर, दूसरा गरुड़ , तीसर वराह, चौथा अश्व और पांचवां नृसिंह का है. इन सारे रूपों को मिलाकर पंचमुखी हनुमान का अवतार हुआ है हनुमान जी अपने भक्तों के सारे दुख दूर कर देते हैं इसीलिए इनके पांचों मूर्खों का अलग-अलग महत्व माना गया है।

1. अगर आप वानर मुख का अर्थ जानना चाहते हैं तो वानर मुख का अर्थ सारे दुश्मनों पर विजय प्राप्त होना होता है।
2. दूसरे मुख गरुड का इससे आपकी सारी परेशानियां दूर हो जाती है।
3. तीसरा उत्तर दिशा के वराह मुख की वजह से प्रसिद्धि शक्ति और लंबी आयु का होता है।
4. चौथा नरसिंह भगवान का मुख होता है इससे आपकी सारी मुश्किलें , तनाव और डर दूर हो जाता है।
5. पांचवा मुख्य अश्व का माना जाता है इससे आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं।


पंचमुखी रूप धारण करने की वजह

वैसे तो अगर आप यह जानना चाहते हैं कि पंचमुखी रूप धारण करने की मुख्य वजह क्या है तो इसके पीछे एक कहानी बहुत प्रसिद्ध है जिसके मुताबिक जब श्री राम के साथ युद्ध में रावण को अपनी हार का आभास हुआ तो उसने अपने भाई अहिरावण से मदद मांगी थी.

Hanuman

उसी समय अहिरावण ने अपने मायावी जाल से श्रीराम जितनी भी सेना थी वह झूल गई थी और राम लक्ष्मण को बंदी बनाकर अहिरावण पाताल लोक में ले गया था जैसे ही विभीषण और सभी को होश आया तो वह सारी चाल को समझ गए थे तो उन्होंने हनुमान जी को पाताल लोक जाने को कहा तो उसी समय हनुमान जी ने पंचमुख का रूप धारण किया था।

पंचमुखी हनुमान जी का मंत्र | पंचमुखी हनुमान मंत्र | Panchmukhi hanuman ji ka mantra

ऊं नमो हनुमते रुद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा।

पंचमुखी हनुमान जी का यह मंत्र जो भी व्यक्ति जाप करना चाहता है उसे सबसे पहले सुबह स्नान आदि से संपन्न होने के बाद घर की साफ-सफाई और स्वच्छ वस्त्र पढ़ने के बाद एक लाल कपड़े पर भगवान हनुमान की पंचमुखी मूर्ति या फिर उनका चित्र स्थापित करके इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

पंचमुखी हनुमानजी के सामने किन मंत्रों का जाप करें ? | Panchmukhi hanuman ji ke samne kis mantra ka jaap kare ?

अगर आप हनुमान जी के दर्शन प्राप्त करना चाहते हैं और पंचमुखी हनुमान के दर्शन को प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको मंगलवार के दिन हमारे द्वारा बताए गए इन मंत्रों का जाप करना है अगर आप इन मंत्रों का जाप करते हैं तो आपके ऊपर से बुरी नजर दूर हो जाएगी मंगल और शनि के दोष भी दूर हो जाएंगे पंचमुखी हनुमान जी के कुछ मंत्रों के बारे में हमने आपको बताया है जिनके आपसे आपकी सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं तो उसी प्रकार हमने आपको अलग-अलग परेशानियों के लिए विभिन्न हनुमान मंत्रों का जाप करना बताया है अगर आप इनका जाप करते हैं तो आपको लाभ अवश्य प्राप्त होता है।

1. अगर आपके मन में किसी भी प्रकार का डर बैठा है तो उसको दूर करने के लिए इस मंत्र का जाप करें।

 हं हनुमंते नम:

2. अगर आप बुरी नजर से बचना चाहते हैं तो इस मंत्र का जाप करने से आप बुरी नजर से बच सकते हैं।

हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल:।
अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते।।

3. अगर आप अपनी मनोकामना पूर्ण करना चाहते हैं अगर आपने कोई इच्छा मांगी है और वह अधूरी रह गई है तो आप इस मंत्र के जरिए अपनी इच्छा को पूर्ण कर सकते हैं।

ऊं हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट।

4. अगर आपने किसी भी व्यक्ति से कर्जा लिया है और उसका कर्जा आप चुका नहीं पा रहे हैं और आप उस कर्ज से परेशान हैं तो आपको इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

ऊं नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।

5. किसी भी प्रकार के संकटों से बचने के लिए इस मंत्र का जाप करें।

ऊं नमो हनुमते रुद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा।

जाप करने की विधि | Jap karne ki vidhi

Hanuman

  1. अगर आप इन पांचों मंत्रों का जाप करना चाहते हैं तो आपको सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से संपन्न होने के बाद स्वच्छ कपड़े धारण करने हैं।
  2. उसके बाद एक लाल कपड़ा बिछाकर उस पर पंचमुखी हनुमान जी की मूर्ति या फिर उनकी फोटो स्थापित करें।
  3. सुबह नहाकर साफ कपड़े पहनकर एक लाल कपड़े पर हनुमान की पंचमुखी मूर्ति या चित्र स्थापित करें।
  4. उसके बाद हनुमान जी की पंचमुखी मूर्ति की पूजा करें और गाय के घी का शुद्ध दीपक जलाएं वाह दीपक अंत तक जलते रहे।
  5. उसके बाद आपको जो भी समस्या है उसी प्रकार आप मंत्र को चुनकर एक मंत्र का जाप करना शुरू करें और इस मंत्र का जाप आपको रुद्राक्ष की माला से कम से कम 5 बार करना है।

पंचमुखी हनुमान जी की पूजा कैसे करें ? | Panchmukhi Hanuman ji ki puja kaise kare ?

मंगलवार के दिन पंचमुखी हनुमान भगवान की पूजा करनी है जो भी व्यक्ति मंगलवार के दिन भगवान की पूजा करता है उसे विशेष फल की प्राप्ति होती है आप चाहे तो मान मंदिर जाकर भी पूजा कर सकते हैं या फिर अपने घर में पंचमुखी हनुमान की तस्वीर को रखकर पूजा करें।

हनुमान भगवान का पूजा करने के लिए उनके उपाय लाल गुलाब के पुष्प चढ़ाएं उसके बाद सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करें भोग में उन्हें गुड व चने का भोग लगाएं भोग लगाने के बाद हनुमान जी के सामने बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें सुंदरकांड का पाठ करें उसके बाद किसी ब्राह्मण को या फिर मंदिर के पुजारी को दान करें उसके बाद जो भी प्रसाद आप ने हनुमान जी को चढ़ाया था उसे स्वयं ना खाएं बल्कि दूसरों में बांट दें।

पंचमुखी हनुमान जी की पूजा के लाभ क्या हैं ? | Panchmukhi hanuman ji ki puja ke labh kya hai ?

  1. जो भी व्यक्ति पंचमुखी हनुमान जी की पूजा करता है उसे अत्यधिक लाभ प्राप्त होता है पंचमुखी हनुमान जी की मूर्ति की पूजा करने से घर में वास्तु दोष नहीं होता है लेकिन उसके लिए आपको उस मूर्ति को घर के दक्षिण – पश्चिम दिशा में रखना चाहिए।
  2. अगर आपके घर में कोर्ट कचहरी के मामले चल रहे हैं और आप उस केस को जीतना चाहते हैं तो आपको मुझे मुखी हनुमान जी की मूर्ति के सामने एक शुद्ध देसी घी का दीपक जलाना है अगर आप यह प्रक्रिया करते हैं तो कोर्ट का निर्णय आपके पक्ष में होगा।
  3. किसी भी प्रकार की परीक्षा को पास करने के लिए नौकरी के लिए पंचमुखी हनुमान जी को मोतीचूर के लड्डू का भोग लगाएं और अनार या फिर अन्य किसी फल का भोग लगाएं अगर आप उन्हें मोतीचूर के लड्डू का भोग लगाते हैं तो आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं।
  4. पंचमुखी हनुमान जी की पूजा करने से मंगल , शनि , पित्र व भूत दोष से मुक्ति मिल जाती है लेकिन इसके लिए आपको अपने घर में पंचमुखी हनुमान की मूर्ति या फिर तस्वीर की पूजा करनी है।
  5. आपको एक बात का विशेष ख्याल रखना है पंचमुखी हनुमान भगवान की मूर्ति आपको दक्षिण दिशा में रखनी है और उनकी पूजा जीवन में आने वाले हर तरह के कष्टों से दूर कर देती है।
  6. अगर कोई व्यक्ति पंचमुखी हनुमान जी के दर्शन को प्राप्त करना चाहता है तो पंचमुखी हनुमान मंत्र का जाप करें उससे उसकी बुरी नजर दूर हो जाती है और मंगल और शनि के दोष भी दूर हो जाते हैं।
  7. आप अपनी समस्याओं के अनुसार हमारे द्वारा बताए गए मंत्रों का जाप कर सकते हैं।
  8. अगर आपके मन में किसी भी प्रकार का डर बैठा है तो आप डर को दूर करने के लिए हमारे द्वारा बताए गए मंत्रों का जाप कर सकते हैं।

पंचमुखी हनुमान कवच | Panchmukhi hanuman kavach

hanuman_

श्री गणेशाय नम:।

ओम अस्य श्रीपंचमुख हनुम्त्कवचमंत्रस्य ब्रह्मा रूषि:।

गायत्री छंद्:।

पंचमुख विराट हनुमान देवता। ह्रीं बीजम्।

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 872 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

बेहोश करने का परफ्यूम : सूंघते ही बेहोश करने वाले स्प्रे का नाम और रेट जाने | Behosh karne ka perfume
पति पत्नी की नहीं बनती तो अपनाये 7 टिप्स : बढ़ जायेगा प्यार | पति पत्नी की नहीं बनती है तो क्या करना चाहिए ?

श्रीं शक्ति:। क्रौ कीलकम्। क्रूं कवचम्।

क्रै अस्त्राय फ़ट्। इति दिग्बंध्:।

श्री गरूड उवाच्।।

अथ ध्यानं प्रवक्ष्यामि।

श्रुणु सर्वांगसुंदर। यत्कृतं देवदेवेन ध्यानं हनुमत्: प्रियम्।।१।।

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

पंचकक्त्रं महाभीमं त्रिपंचनयनैर्युतम्।बाहुभिर्दशभिर्युक्तं सर्वकामार्थसिध्दिदम्।।२।।

पूर्वतु वानरं वक्त्रं कोटिसूर्यसमप्रभम्। दंष्ट्राकरालवदनं भ्रुकुटीकुटिलेक्षणम्।।३।।

अस्यैव दक्षिणं वक्त्रं नारसिंहं महाद्भुतम्। अत्युग्रतेजोवपुष्पंभीषणम भयनाशनम्।।४।।

पश्चिमं गारुडं वक्त्रं वक्रतुण्डं महाबलम्।सर्वनागप्रशमनं विषभूतादिकृन्तनम्।।५।।

उत्तरं सौकरं वक्त्रं कृष्णं दिप्तं नभोपमम्।पातालसिंहवेतालज्वररोगादिकृन्तनम्।ऊर्ध्वं हयाननं घोरं दानवान्तकरं परम्। येन वक्त्रेण विप्रेन्द्र तारकाख्यमं महासुरम्।।७।।

जघानशरणं तस्यात्सर्वशत्रुहरं परम्।ध्यात्वा पंचमुखं रुद्रं हनुमन्तं दयानिधिम्।।८।।

खड्गं त्रिशुलं खट्वांगं पाशमंकुशपर्वतम्। मुष्टिं कौमोदकीं वृक्षं धारयन्तं कमण्डलुं।।९।।

भिन्दिपालं ज्ञानमुद्रा दशभिर्मुनिपुंगवम्। एतान्यायुधजालानि धारयन्तं भजाम्यहम्।।१०।।

प्रेतासनोपविष्टं तं सर्वाभरण्भुषितम्। दिव्यमाल्याम्बरधरं दिव्यगन्धानु लेपनम सर्वाश्चर्यमयं देवं हनुमद्विश्वतोमुखम्।।११।।

पंचास्यमच्युतमनेकविचित्रवर्णवक्त्रं शशांकशिखरं कपिराजवर्यम्। पीताम्बरादिमुकुटै रूप शोभितांगं पिंगाक्षमाद्यमनिशं मनसा स्मरामि।।१२।।

मर्कतेशं महोत्राहं सर्वशत्रुहरं परम्। शत्रुं संहर मां रक्ष श्री मन्नपदमुध्दर।।१३।।

ॐ हरिमर्कट मर्केत मंत्रमिदं परिलिख्यति लिख्यति वामतले। यदि नश्यति नश्यति शत्रुकुलं यदि मुंच्यति मुंच्यति वामलता।।१४।।

ॐ हरिमर्कटाय स्वाहा ओम नमो भगवते पंचवदनाय पूर्वकपिमुखाय सकलशत्रुसंहारकाय स्वाहा।

ॐ नमो भगवते पंचवदनाय दक्षिणमुखाय करालवदनाय नरसिंहाय सकलभूतप्रमथनाय स्वाया।

ॐ नमो भगवते पंचवदनाय पश्चिममुखाय गरूडाननाय सकलविषहराय स्वाहा।

ॐ नमो भगवते पंचवदनाय उत्तरमुखाय आदिवराहाय सकलसंपत्कराय स्वाहा।

ॐ नमो भगवते पंचवदनाय उर्ध्वमुखाय हयग्रीवाय सकलजनवशकराय स्वाहा।

 

मूल मंत्र

इस कवच का मूल मंत्र है

ॐ श्री हनुमंते नमः

पंचमुखी हनुमान कवच पाठ विधि | panchmukhi hanuman kavach path in hindi

Hanuman

हनुमान भगवान अपने सभी भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण कर देते हैं और वह अपने भक्तों की हर तरह के कष्टों को दूर कर देते हैं अगर कोई व्यक्ति हनुमान कवच का पाठ करता है तो उस से मरा हुआ आदमी भी जीवित हो जाता है इस कवच से रोग से छुटकारा मिल जाता है यह कवच टोटके और काले जादू से भी बचाता है इसीलिए अगर आप पंचमुखी हनुमान कवच का पाठ मंगलवार के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि.

से निश्चिंत होने के बाद पंचमुखी भगवान की मूर्ति के सामने बैठकर इस कवच का पाठ करें और हनुमान भगवान से प्रार्थना करें कि इस कवच में जो भी शक्तियां दी गई है और अच्छाई के मार्ग पर ले जाएं और कभी भी आपके साथ कोई गलत काम ना हो उसके बाद में आपको अपने मन में 7 बार हनुमान चालीसा का पाठ करना है और उसके बाद “ हं हनुमंते नम: मंत्र का 108 बार उच्चारण करके इस कवच को धारण कर ले।

FAQ : Panchmukhi hanuman ji ka mantra

हनुमान मंत्र का जाप कितनी बार करना चाहिए ?

अगर आप अपने जीवन में सफलता को प्राप्त करना चाहते हैं और हमेशा अपने जीवन में खुश रहना चाहते हैं तो हनुमान जी के मंत्रों का जाप करें हनुमान कार्य सिद्धि मंत्र का दिन में 11 बार जाप करना है अगर आपके जीवन में बहुत ही ज्यादा समस्याएं हैं और असाधारण कार्य को पूरा करने के लिए इस मंत्र का 108 बार या 40 दिन तक 11 बार जाप करना चाहिए बहुत ही प्रसिद्ध है।

हनुमान जी को प्रसन्न करने का मंत्र क्या है ?

अगर आप हनुमान जी के दर्शन को प्राप्त करना चाहते हैं और उन्हें प्रसन्न करना चाहते हैं तो आपको इस मंत्र का जाप करना चाहिए। ॐ हं हनुमते नम:। ' ''अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम्। सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं रघुपतिप्रियभक्तं वातजातं नमामि॥'' 'ॐ अंजनिसुताय विद्महे वायुपुत्राय धीमहि तन्नो मारुति प्रचोदयात्

हनुमान जी का सिद्ध मंत्र कौन सा है?

अगर आप अपने भय को दूर करना चाहते हैं तो हनुमान जी के इस मंत्र का जाप करें।

osir news
ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट। महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते। हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये।। ॐ नमो हनुमते रुद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा।

निष्कर्ष

जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से panchmukhi hanuman ji ka mantra के बारे में बताया उसके अलावा पंचमुखी अवतार किस वजह से हुआ था और इसका अर्थ क्या है इन सारे विषयों के बारे में जानकारी दी है अगर आपने हमारे इस लेख को अच्छे से पढ़ा है तो आपको इसकी संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी उम्मीद करते हैं हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

6 स्टेप : लड़की पटाने का फार्मूला क्या है ? | how to impress a girl hindi ?
अदृश्य चीजे, खजाना देखने वाली कजली बनाने की विधि हाजरात सिद्धि | Kajali banane ki vidhi
शुभ-लाभ धन प्राप्ति हेतु शुक्रवार के दिन क्या खरीदना चाहिए ? | Shukrawar ke din kya kharidna chahiye
सट्टे का नंबर देने वाले बाबा नाम और पता और सट्टे का नंबर जानने का मंत्र | satte ka number dene vale baba
मीन राशि 2023 : कैरियर,रिलेशन,प्यार,भाग्य,शिक्षा,स्वास्थ्य और भविष्यफल | मीन राशि वालों के लिए वार्षिक राशिफल 2023 : Meen rashifal 2023
★ सम्बंधित लेख ★