पूर्णिमा व्रत नियम : जाने पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए ?| Purnima vrat me kya khana chahiye

पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए | Purnima vrat me kya khana chahiye : हेलो दोस्तो नमस्कार आज मैं आप लोगों को इस लेख के माध्यम से पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए इस टॉपिक से संबंधित जानकारी प्रदान करूंगी. जिसमें मैं आप लोगों को पूर्णिमा व्रत में क्या खाना चाहिए, किस समय खाना चाहिए, कितनी मात्रा में खाना चाहिए ? यह सारी जानकारी प्रदान करूंगी. क्योंकि चाहे जो व्रत हो हर व्रत का अलग-अलग महत्व और अलग-अलग नियम होते हैं.

पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए, पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए क्या नहीं खाना चाहिए, पूर्णिमा व्रत में क्या खाना चाहिए क्या नहीं, पूर्णिमा के व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं, पूर्णिमा के व्रत में क्या खाया जाता है, पूर्णिमा के व्रत में क्या-क्या खाया जाता है, पूर्णिमा के व्रत में क्या खाएं, पूर्णिमा व्रत में क्या खाएं क्या ना खाएं, पूर्णिमा व्रत में क्या खाया जाता है, पूर्णिमा व्रत में क्या खाना चाहिए, Purnima vrat me kya khana chahiye, purnima vrat mein kya khana chahie, purnima ke fast me kya khana chahiye, पूर्णिमा व्रत में शाम को क्या खाना चाहिए, purnima vrat mein kya khaya jata hai, purnima vrat me kya khana chahiye, purnima ke vrat me kya khana chahiye, purnima vrat mein kya kya khana chahie,

इसीलिए किसी भी व्रत को करने से पहले उस व्रत के नियम, पूजा करने की विधि, पूजा करने का शुभ दिन, शुभ समय आदि की जानकारी प्राप्त होना चाहिए. क्योंकि व्रत में किसी भी प्रकार की भूल हो जाने पर व्रत पूर्ण रूप से सफल नहीं होता है साथ में माता या फिर आप जिस किसी का व्रत करते हैं वह देवता आपसे रुष्ट हो जाते हैं और फिर आपको उस व्रत का शुभ फल नहीं प्राप्त हो पाता है.

इसीलिए मैं हिंदू धर्म में बनाए गए व्रत के नियम, शुभ समय, व्रत के दौरान पूजा विधि, आदि बातों को ध्यान में रखते हुए इस लेख में पूर्णिमा व्रत के विषय में संपूर्ण जानकारी बताऊंगी क्योंकि हिंदू धर्म में पूर्णिमा व्रत को काफी ज्यादा महत्व प्रदान है ऐसा माना जाता है जो जातक जातिका हर महीने शुक्ल पक्ष की तिथि को इस व्रत को पूरे विधि विधान के साथ करता है तो उस व्यक्ति के समस्त कष्टों का निवारण हो जाता है. क्योंकि पूर्णिमा के दौरान चंद्रमा पूर्ण रूप से आकाश में दिखाई देती है.

जिसको लेकर ऐसी मान्यता है कि इस दिन चंद्रमा पक्षबली होकर बलवान हो जाती हैं. इसीलिए इस दिन जो जातक जातिका इस व्रत को करता है उस व्यक्ति के समस्त कष्टों का निवारण हो जाता है. ऐसे में अगर आप लोग भी पूर्णिमा व्रत रखते हैं या रखने की सोच रहे हैं, तो यह लेख आप लोगों के लिए उपयोगी साबित हो सकता है. इसीलिए आप लोग इस लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़े, तो आप लोगों को पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए ? इसकी जानकारी के साथ-साथ पूर्णिमा व्रत को करने की संपूर्ण प्रक्रिया की भी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.

पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए ? | Purnima vrat me kya khana chahiye ?

ऊर्जा से भरपूर होने के लिए हर रोज नियमित समय पर भोजन करना बेहद अनिवार्य है लेकिन किसी भी व्रत का सीधा संबंध भोजन से ही लिया गया है इसीलिए व्रत में भोजन करना वर्जित बताया गया है, भोजन के अलावा अन्य चीजें खाने की सलाह दी गईं हैं. चाहे वह पूर्णिमा व्रत हो या फिर कोई और इसीलिए हम यहां पर पूर्णिमा व्रत में क्या खाना चाहिए ? इसके विषय में बता रहे हैं, धार्मिक ग्रंथों के अनुसार पूर्णिमा के व्रत में कोई भी जातक जातिका इन चीजों का सेवन कर सकता है जैसे :

1. दूध की बनीं खीर

कई तरह के धार्मिक ग्रंथों तथा पूर्णिमा के व्रत को रखने वाले जातक जातिका से पूछताछ के बाद पता चला है कि पूर्णिमा के व्रत के दौरान दूध से बनी खीर खाना शुभ माना गया है इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया है कि दूध से बनी कोई भी पदार्थों का सेवन किया जा सकता है.


सपने में खाना खाना क्या होता है सपने में मिठाई बनाते हुए देखना sapne mein meetha khana dekhna sapne mein meetha khana kya hota hai

लेकिन उनमें नमक का प्रयोग नहीं करना चाहिए इसलिए हम यहां पर पूर्णिमा के व्रत पर खाने के लिए खीर किस प्रकार से बनानी चाहिए इसके विषय में बता रहे हैं ताकि आप उसमें कोई ऐसी चीज ना डालें जिससे आपका व्रत खंडित हो जाए.

पूर्णिमा पर खीर बनाने की विधि

  1. सबसे पहले आप लोगों को खीर बनाने के लिए आधा लीटर दूध, आधा कप बासमती चावल, 1-2 धागे केसर, आधा कप चीनी,एक चौथाई कप कसा हुआ नारियल, एक चौथाई, कप छोटे टुकड़े में कटे हुए काजू, एक चौथाई कप, छोटे टुकड़े में कटे हुए बादाम, एक चौथाई कप छोटे टुकड़े में कटे हुए पिस्ता, एक चम्मच इलायची पाउडर आदि सामग्री को इकट्ठा कर ले या फिर जितनी मात्रा में खीर बनाना चाहते हैं उसी हिसाब से सामग्री इकट्ठा करें.
  2. सामग्री इकट्ठा कर लेने के बाद आप आधा घंटे पहले चावल को पानी से भिगोकर रख दें, साथ में 4 बड़ा चम्मच दूध को केसर में भिगोकर रखें.
  3. अब आप किसी बर्तन में दूध को चढ़ा कर धीमी आंच में दूध को पकाएं.
  4. जब दूध उबलने लगे तो आप दूध में पानी से भीगे हुए चावलों को अच्छे से साफ करके दूध में डाल दें.
  5. चावल डालने के बाद आप उसमें केसर डाल दें.
  6. अब आप गैस को धीमी आंच में करके खीर को अच्छी तरह से पकाएं.
  7. जब आपको लगे दूध में पडे चावल अच्छी तरह से पक गए हैं. तब आप खीर को उतारने के 10-15 मिनट पहले उसमें चीनी, इलायची पाउडर, नारियल, मेवा आदि चीजें डाल कर अच्छे से मिक्स करें उसके 5 मिनट बाद आप गैस को बंद कर दें और खीर को गैस से उतार लें.
  8. खीर पक जाने पर खीर को उतारने के बाद उसमें आप पिस्ता और बादाम डाल दें.
  9. इस तरह से पूर्णिमा के व्रत के लिए खीर बन कर तैयार हो गई है आप इस खीर को पूर्णिमा व्रत में खा सकते हैं.इसके अलावा आप साबूदाने की खीर, सवाके की खीर, दाल, पूर्णिमा के व्रत में खा सकते है.

2. मखाना के लावा खाना चाहिए

मखाना के लावा lawa

जो जातक जातिका पूर्णिमा का व्रत करते हैं वह लोग इस व्रत में मखाना के अलावा का सेवन कर सकते हैं, मखाने के लावा का सेवन आप स्नान आदि से निवृत होकर अपने घर में बने, मंदिर की पूजा पाठ करने के पश्चात ही सेवन में ले, मखाने के लावा को आप देसी घी में भून कर खा सकते हैं या फिर खीर में भी डाल कर खा सकते हैं.

3. ड्राई फूड्स खाना चाहिए

जो महिलाएं हमारे गांव में पूर्णिमा व्रत रखती हैं उनसे बातचीत करने के दौरान मुझे पता चला है कि इस व्रत में ड्राई फ्रूट्स का सेवन करना चाहिए जिसमें उन्होंने काजू, बादाम, किशमिश, अखरोट, पिस्ता, खजूर, खुबानी आदि चीजों का सेवन करने की सलाह प्रदान की है.

इसलिए आप लोग ड्राई फूड का भी पूर्णिमा के व्रत में सेवन कर सकते हैं एक टाइम यानी कि दिन में एक बार खाएं चाहे जब खाएं. क्योंकि कोई भी व्रत, व्रत की तरह रखना चाहिए, अगर आप दिन भर खाते ही रहेंगे तो व्रत किस काम का.

4. फलों का सेवन करना चाहिए

Fruit is also

इस जानकारी को सही से समझने
और नई जानकारी को अपने ई-मेल पर प्राप्त करने के लिये OSir.in की अभी मुफ्त सदस्यता ले !

हम नये लेख आप को सीधा ई-मेल कर देंगे !
(हम आप का मेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करते है यह गोपनीय रहता है )

▼▼ यंहा अपना ई-मेल डाले ▼▼

Join 866 other subscribers

★ सम्बंधित लेख ★
☘ पढ़े थोड़ा हटके ☘

शनिवार के टोटके : साढ़ेसाती, मुसीबत,शन‍ि ग्रह के कुप्रभाव में असरदार | Shaniwar ke totke
सपने में क्लासमेट को देखना फल दायक होगा या मिलेगी हर तरफ से असफलता | Sapne me classmate ko dekhna

जिस तरह से नवरात्रि के व्रत में फलों का सेवन करना बताया गया उसी तरह से पूर्णिमा के व्रत में पूर्णिमा का व्रत करने वाले जातक जातिका पके हुए केला, कच्चे केले की चटनी ,संतरा, अंगूर ,खीरा ,इन सभी फलों का सेवन कर सकते हैं. लेकिन इन फलों का सेवन तभी करना है जब आप स्नान आदि से निवृत होकर पूर्णिमा के व्रत की पूजा पाठ कर ले उसके बाद इन फलों को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर सेवन मे सकते हैं.

5. सिंघाड़े या राजगिरीआटे का हलवा खाना चाहिए

हमारी दादी को कहना है कि पूर्णिमा व्रत में सूखे हुए सिंघाड़े से पिसा हुआ जो आटा होता है, उस आटे की पूरी या फिर हलवा बनाकर खाना चाहिए. इसके अलावा राजगिरी आटे का हलवा भी पूर्णिमा के व्रत में खाना शुभ बताया गया है. इसके लिए आप लोग हलवे में देसी घी का प्रयोग कर सकते हैं, दूध डाल सकते हैं, चीनी मेवा सब कुछ डाल सकते हैं. लेकिन खीर को तभी सेवन में ले जब आप पूर्णिमा के व्रत के दौरान स्नान आदि से निवृत होकर पूजा पाठ कर ले.

6. साबूदाने की खिचड़ी खानी चाहिए

khichdi sabudana

( यह लेख आप OSir.in वेबसाइट पर पढ़ रहे है अधिक जानकारी के लिए OSir.in पर जाये  )

पूर्णिमा का व्रत करने वाली महिलाओं के माध्यम से पता चला है कि पूर्णिमा के व्रत में साबूदाने की खिचड़ी बनाकर खाना चाहिए खिचड़ी को बनाने में आप लोग साबूदाना, उबले आलू घी या रिफाइन्ड तेल, जीरा, हल्दी पाउडर, हरी मिर्च, मूंगफली के दाने भुने हुये छिले हुये, सैंधा नमक, हरा धनियां, नीबू आदि सामग्री के माध्यम से साबुन दाने की खिचड़ी बनाकर पूर्णिमा के व्रत में खाएं इस खिचड़ी को खाने से व्रत खंडित नहीं होता है.

तो मित्रो अब आप लोगों ने जान लिया है कि पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए अब हम बताएंगे पूर्णिमा के व्रत का क्या महत्व होता है

पूर्णिमा व्रत का महत्व

शास्त्रों में पूर्णिमा के व्रत के महत्व को लेकर ऐसा बताया गया है जो भी जातक जातिका पूर्णिमा का व्रत रखते हैं वह लोग सदैव स्वस्थ रहते हैं साथ में जिन लोगों की राशि चंद्र ग्रह है अगर ऐसे जातक जातिका इस व्रत को रखते हैं तो उन लोगों की कुंडली में इनके कमजोर ग्रह की स्थिति में सुधारा आएगा, साथ में इनके जीवन में हर तरफ से खुशियां ही खुशियां आ जाएगी. क्योंकि पूर्णिमा हर माह की शुक्ल पक्ष तिथि को आती है.

सत्यनारायण

इसीलिए इस व्रत को हर महीने करने से संपूर्ण जीवन में सुख शांति का वातावरण बना रहता है. क्योंकि पूर्णिमा व्रत को लेकर ऐसा माना गया है इस रात को पूर्णिमा आकाश में पूर्ण रूप से दिखाई देती है जो एक पवित्र कन्या के रूप में मानी गई है. इसलिए जो भी महिलाएं पूर्णिमा के व्रत को रखती हैं. उन्हें कभी भी मानसिक तौर से कोई समस्या नहीं होती है, साथ में जिन लोगों को विवाह में किसी प्रकार की अड़चन आ रही है, तो वह लोग अगर इस व्रत को रखते हैं तो बहुत जल्दी उन्हें सुंदर जीवनसाथी का सौभाग्य प्राप्त होगा.

पूर्णिमा के व्रत को लेकर ऐसी मान्यता है कि इस व्रत को रखने से बिना भोजन किए ही शरीर में ऊर्जा बनी रहती है. क्योंकि व्रत के लिए जातक के पास व्रत को करने की श्रद्धा और सच्ची भक्ति होनी चाहिए, तो उसे व्रत के दौरान भूख लगेगी ही नहीं और उसका शरीर ऊर्जा से भरपूर महसूस करेगा. पूर्णिमा के व्रत को लेकर शास्त्रों में ऐसा बताया गया है इस रात को कृष्ण भगवान ने गोपियों के साथ रासलीला की थी इसीलिए यह रात इतनी सुहानी मानी गई है और इसी के साथ में इस दिन समुद्र मंथन के दौरान माता लक्ष्मी प्रकट हुई थी जिसकी वजह से इस पूर्णिमा तिथि को काफी ज्यादा महत्वपूर्ण बताया गया है.

पूर्णिमा के व्रत में किसकी पूजा करनी चाहिए

शास्त्रों के अनुसार पूर्णिमा के व्रत के दौरान भगवान विष्णु की विधिवत रूप से पूजा अर्चना करनी चाहिए,और लक्ष्मी सूक्त का पाठ, कनकधारा स्त्रोत, विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ आदि पढ़ने चाहिए.

FAQ : पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए

पूर्णिमा के व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं ?

पूर्णिमा के व्रत में दूर से बने खाद्य पदार्थ फलों का सेवन ड्राई फूट्स इन सब चीजों का सेवन करना चाहिए लेकिन इस व्रत में नमक का सेवन करना अनुचित बताया गया है.

पूर्णिमा का व्रत कैसे तोड़े ?

वैसे तो पूर्णिमा का व्रत आप चांद को देखने के बाद उसकी विधिवत रूप से पूजा अर्चना करके गाय माता का दूध अर्पित करें और फिर खुले आकाश के नीचे मंत्रों का जाप करके खीर को आपस के लोगों में बांट कर तथा खुद खाकर इस व्रत को तोड़ सकते हैं. लेकिन रात भर इस व्रत को रहकर सुबह खीर बनाकर माता लक्ष्मी की विधिवत रूप से पूजा करके उस खीर को आपस के लोगों में बांट कर खुद खा कर व्रत को तोड़ना शुभ माना जाए.

पूर्णिमा के व्रत में क्या नहीं खाना चाहिए ?

पूर्णिमा के व्रत में भूलकर भी लहसुन, प्याज नहीं खाना चाहिए, साथ में किसी भी प्रकार का नशा भी नहीं करना चाहिए.

निष्कर्ष

मित्रों जैसा कि आज हमने इस लेख के माध्यम से पूर्णिमा व्रत में क्या खाना चाहिए इस टॉपिक से संबंधित जानकारी प्रदान करने की पूरी कोशिश की है जिसमें हमने आप लोगों को पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए ,किस समय खाना चाहिए कितनी मात्रा में खाना चाहिए, यह सारी जानकारी प्रदान की है. अगर आप लोगों ने इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आप लोगों को पूर्णिमा के व्रत में क्या खाना चाहिए.

osir news

इसके विषय से संबंधित संपूर्ण जानकारी अच्छे से प्राप्त हो गई होगी. ऐसे में अगर आप लोगों भी पूर्णिमा का व्रत रखने की सोच रहे हैं तो इस लेख में बताइ पूर्णिमा व्रत रखने की विधि की प्रक्रिया को अपनाकर पूर्णिमा का व्रत कर सकते हैं, तो मित्रों हम उम्मीद करते हैं आप लोगों को हमारे द्वारा बताई गई जानकारी पसंद आई होगी और उपयोगी भी साबित हुई होगी .

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेयर करे जिससे वह भी इसके बारे में जान सके और इसका लाभ पाये .

क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे.

अधिक जानकरी के लिए मुख्य पेज पर जाये : कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया

♦ हम से जुड़े ♦
फेसबुक पेज ★ लाइक करे ★
TeleGram चैनल से जुड़े ➤
 कुछ पूछना है?  टेलीग्राम ग्रुप पर पूछे
YouTube चैनल अभी विडियो देखे
यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले . यदि आप के मन में हमारे लिये कोई सुझाव या जानकारी है या फिर आप इस वेबसाइट पर अपना प्रचार करना चाहते है तो हमारे संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उस पर प्रतिक्रिया करेंगे . हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने और दोस्तों में शेयर करने के लिए आप का सह्रदय धन्यवाद !
 जादू सीखे   काला जादू सीखे 
पैसे कमाना सीखे  प्यार और रिलेशन 
☘ पढ़े थोडा हटके ☘

महिलाओं के ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने के लिए मेडिसिन का नाम और नुस्खे | Breast milk badhane ke liye medicine
वजन घटाने का Diet Chart for weight loss hindi डाइट चार्ट कैसे बनाये ?
घर में साया हो तो क्या करें : भूत-प्रेत भागने के 6 आसान उपाय | Ghar me saya ho to kya kare
कालसर्प दोष दूर करने का 1 रामबाण उपाय : Kaal sarp dosh kya hai
अगर पति मारपीट या टार्चर करे तो क्या करें ?
★ सम्बंधित लेख ★