इच्छाशक्ति क्या है ? अपनी इच्छा शक्ति कैसे बढ़ाये ? how to increase your will power

❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मन पसंद & नये लेख पढ़े ❤☚

Ichcha shakti kya hai ? ichcha shakti kise kahte hai ? इच्छा शक्ति क्या है ? मनोविज्ञान के आधार पर इच्छाशक्ति व्यक्ति को किसी भी कार्य करने के लिए संकल्प बद्ध कर देती है जिससे व्यक्ति अपने तरीके से कार्य करने का प्रण करता है।यह व्यक्ति का आंतरिक पावर होता है इच्छाशक्ति के अंदर आकर्षण अभिप्रेरणा और विचार प्रार्थनीय मानसिक क्रियाओं की तरह होती हैं। इच्छाशक्ति मानव की एक प्रबल मानसिक क्रिया होती है | ichha shakti kaise badhaye ? 

सामान्य रूप से इच्छा शक्ति हमारा दृढ़ संकल्प होता है जिसे हम निश्चित रूप से करते हैं जिसके कारण जीवन के सभी कार्य सफल हो जाते हैं| और असंभव जैसी चीजें नहीं रह जाती हालांकि जीवन में इसका उपयोग अत्यंत कठिन है| परंतु चरित्र पहचान बनाने में एक आवश्यक गुण है | apni ichha ko kaise pura kare ? 

जिस व्यक्ति के अंदर दृढ़ इच्छा शक्ति पैदा हो जाती है वह कठिन से कठिन कार्य बड़ी आसानी से कर लेता है हर प्रकार के व्यवहार और विचारों पर पूर्ण विजय प्राप्त कर लेता है।

ichcha shakti, ichcha shakti kya hai, ichcha shakti meaning in hindi, iccha shakti kaise badhaye, ichcha shakti mantra, ichcha shakti in english, ichcha shakti per nibandh, ichcha shakti ka arth, iccha shakti automobile, इच्छा शक्ति का इंद्रजाल pdf, इच्छा शक्ति का अभ्यास, इच्छा शक्ति का महत्व, इच्छाशक्ति का अर्थ in hindi, इच्छाशक्ति का अर्थ, इच्छाशक्ति का इंग्लिश, iccha shakti badhane ke upay, ichcha shakti badhane ka mantra, iccha shakti badhane ke liye, iccha shakti badhane ke nuskhe, iccha shakti badhane ka tarika, इच्छा शक्ति के चमत्कार, इच्छा शक्ति के, iccha shakti, iccha shakti meaning, ,दृढ़ इच्छा शक्ति क्या है, इच्छा क्या है, इच्छा शक्ति कैसे बढ़ाएं, इच्छा शक्ति का अभ्यास, इच्छा शक्ति पर निबंध, इच्छा शक्ति और विवेक क्या है, संकल्प क्या है, इच्छा शक्ति के चमत्कार,

मनुष्य के जीवन में अनेक इच्छाएं उसके हृदय में रहती हैं जिनको पूरा करने के लिए वह बार-बार प्रयत्न करता रहता है और जब इच्छाएं पूर्ण हो जाती हैं तभी उसे पूरा आनंद भी प्राप्त होता है।

परंतु कुछ इच्छाएं व्यक्ति की जीवन पर्यंत पूर्ण नहीं होती और मरते दम तक उसकी इच्छाएं दबी रह जाती व्यक्ति दुनिया से चला जाता है पर इच्छाएं पूर्ण नहीं होती।

इच्छाएं आदमी के मन को व्यथित करती हैं जब हमारा मन जितना अधिक चंचल होगा हमारी इच्छा भी उतना अधिक हमें व्यथित करेंगी
इन इच्छाओं पर नियंत्रण पाने के लिए हमें अपने मन को नियंत्रण करना होगा।

यदि हम अपने मन को नियंत्रित करते हैं तो विभिन्न प्रकार की परेशानियों और बाधाओं से बच सकते हैं।

हमारी छोटी छोटी इच्छाएं हमारे अमूल्य जीवन का अधिकतम भाग नष्ट कर देती हैं। जब भी हमारी इच्छाएं इस तरह से पूरा होती हैं तो हमें विशेष आनंद की अनुभूति नहीं हो पाती है।

अब आवश्यकता इस बात की है कि हम अपनी इच्छाओ पर नियंत्रण करें और जीवन में जितनी भी हमारी इच्छाएं हैं उनका धीरे-धीरे अंत करें। जब हमारी इच्छाएं पूर्ण रुप से समाप्त हो जाएंगी तो हम भौतिक, आध्यात्मिक और सामाजिक जीवन की पूर्णता तक पहुंच जाएंगे।

यह भी पढ़े :

index क्या क्या है इस लेख में ☞

इच्छाएं व्यथित क्यों करती हैं ? Why do wishes bother?

हमारी इच्छाएं इसलिए हमें व्यथित करती है क्योंकि हमारा मन आवश्यकता से अधिक चंचल होता है जिसे मानसिक संतुलन समाप्त हो जाता है और हम इच्छाओं की दास होते चले जाते हैं अतः अपने मन को काबू करें |

जिससे इच्छाएं भी समाप्त हो जाएंगी बल्कि हम इच्छाओं के दास न होकर इच्छाएं हमारी दास हो जाएंगी, फिर हम जिस प्रकार से चाहेंगे उनका उपयोग कर सकते हैं।

दुनिया में जितने भी लोग होते हैं सब में हजारों तरह इच्छाएं स्वयं में प्रबल होती हैं और इच्छाओं के सभी लोग गुलाम बने होते हैं। इच्छाएं हजारों प्रकार की मनुष्य के अंदर जन्म लेती हैं और स्वतः समाप्त भी होती रहती हैं क्योंकि व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास की कमी होती है जिसकी वजह से इच्छाएं पूर्ण नहीं होती फलस्वरुप इच्छाएं हमें व्यथित करती रहती हैं।

जो व्यक्ति दृढ़ प्रतिज्ञ चित वाले होते हैं वह अपनी इच्छाओं को प्रबलता से नियंत्रित करते हैं। उन पर किसी भी प्रकार की असामाजिक इच्छाएं जन्म नहीं ले पाती या फिर वह उन्हें समाप्त करने के लिए सक्षम होते हैं।

इन लोगों के लिए जो इच्छाएं सामाजिक और महत्वपूर्ण होती हैं वह उन्हें पूरा करते हुए अपना नाम उज्जल करते हैं ऐसे व्यक्ति कभी भी व्यथित नहीं होते हैं।

ऐसे लोगों के सामने विभिन्न प्रकार के कष्ट आए होंगे बहुत सारी बधाई आई होंगी, परंतु उन्होंने कभी भी इच्छाओं के गुलाम नहीं होकर विजय प्राप्त किया है और कभी भी किसी भी प्रकार की परेशानियों में मुंह से एक भी नहीं निकली होगी।

मानव को जीवन में पूर्णता और श्रेष्ठ था प्राप्त करने के लिए इच्छाओं पर नियंत्रण करना होगा जिस से असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। दृढ़ इच्छा वाले व्यक्ति विपरीत इच्छाओं को दबाकर अपने लक्ष्य को प्राप्त किया है।

इच्छा शक्ति कैसे बढ़ाए ? How to increase willpower?

हमारे जीवन में इच्छा शक्ति का विशेष महत्व है जिसके द्वारा हम अपने चित में दृढ़ता लाते हैं जिसके फलस्वरुप हम अपनी इच्छाओं पर नियंत्रण प्राप्त करते हैं और असंभव कार्य भी करने में सक्षम होते हैं अपनी इच्छा शक्ति बढ़ाने के लिए कुछ उपाय हैं जिनके माध्यम से हम इच्छाशक्ति दृढ़ बनाने में समर्थ हो सकते हैं।

इच्छा शक्ति के लिए शांत वातावरण कैसा होना चाहिए ? How to choose a relaxed environment?

अपनी इच्छाशक्ति को बढ़ाने के लिए एक शांत वातावरण स्थापित करें यदि आप घर पर अपनी इच्छाशक्ति को बढ़ाने का प्रयास करते हैं तो इसके लिए ऐसा कमरा ले यहां बिल्कुल किसी प्रकार का अवरोध ना हो।

इसके बाद कमरे में पलंग पर कपड़े उतार कर लेट जाएं और धीरे-धीरे अपनी शरीर को शिथिल होने दें। फिर आप अपनी मम्मी यह भावना प्रकट करें कि अब हम कुछ नहीं कर पा रहे हैं इस तरह से इस सभी अंगो को मन की भावना से शिथिल होने का अनुभव करें धीरे-धीरे आपको नींद आ जाएगी तब आप सो जाएंगे।

 

इस प्रकार प्रतिदिन प्रयोग करने से अपनी मस्तिष्क के साथ अंगों को काबू कर सकते हैं फिर आप अपने मन पर भी नियंत्रण करते हैं धीरे-धीरे आपकी इच्छा आपके अनुकूल हो जाती है, मन पर पूरा नियंत्रण हो जाता है।

इच्छा शक्ति पाने के लिए क्या करे ? Quit Bad Habits 

आपके जीवन में जितनी भी बुरी आदतें हैं उन आदतों को पहले किसी कागज पर लिखकर ऐसी जगह टांग दें जहां पर आप की नजर बराबर पड़ती रहे।

अति दिन एक बुरी आदत को नजर के सामने रखकर यह भावना उत्पन्न न करें कि मैं आज यह बुरा कार्य नहीं करूंगा जैसे- आप शराब पीते हैं, तो आप शराब नहीं पीऊंगा यह विचार कागज पर लिख कर अपने सामने रखें रहें और इस भावना से इस पर नजर रखें कि मैं शराब नहीं पीऊंगा मैं यह भावना दीजिए कि मेरा चित्त सक्षम है और मैं इस पर नियंत्रण कर सकता हूं।

यह भावना दिन में तीन से चार बार या जितनी बार हो सके उतनी बार करें मैं शराब नहीं पिऊंगा। अपनी मन में यह भावना दृढ़ता के साथ रखें कि मैं शराब नहीं पीऊंगा बिल्कुल नहीं पिऊंगा आज निश्चित नहीं पिऊंगा। जब यह भावना हो जाएगी तो आपकी इच्छा नियंत्रित हो जाएंगी।

यह भावना रात ने सोते समय अपनी सामने रखकर मन में देना होगा और पूरे नियंत्रक के साथ रखना होगा यदि सिर दर्द, बदन दर्द कमजोरी जैसे- महसूस होता है तब भी आप अपने पर नियंत्रण रखेंगे कि मैं शराब नहीं पीऊंगा इस तरह से इच्छाशक्ति अधिक मजबूत हो जाएगी और इच्छाओं पर नियंत्रण हो जाएगा।

इच्छा शक्ति में कार्य की समय सीमा कैसे तय करें ? Set a time limit for work?

अपनी इच्छाओं को मजबूत बनाने के लिए किसी भी कार्य की समय सीमा निश्चित कर दीजिए जैसे आप कोई छोटी सी कविता याद करना चाहते हैं और आपको याद नहीं होती तो उस कविता की एक समय सीमा तय करें कि मुझे अगले 10 या 12 मिनट में इस कविता को याद करना ही है फिर 10 मिनट के अंदर मन ही मन कविता को पढ़ते हुए मन को भावना दे कि मुझे 10 मिनट में यह कविता याद हो जाएगी |

जब आप इस तरह से कोई भी कार्य करना शुरू करते हैं तो आप महसूस करेंगे कि 10 मिनट में ही कविता याद हो गई है और भी कार्य इसी तरह समय सीमा में करते रहे। निश्चित रुप से आपकी इच्छाएं नियंत्रित हो जाएंगे।

यह ध्यान रहे कि जो समय निर्धारित किया है उसी समय में कार्य पूरा होना चाहिए यदि कम समय लगता है या निर्धारित समय से ज्यादा लगता है तो दोनों अवस्थाएं अनुकूल नहीं है।

इसलिए जो समय सारी पूरा करने के लिए निर्धारित करते हैं उसी समय में होना चाहिए यही इच्छा पर नियंत्रण करने का सही प्रमाण है।

इसके लिए सामने घड़ी रखी और इस दौरान यदि आपके चेहरे पर मक्खी ही बैठ जाए तो उसे भी उड़ाना नहीं है यानि कि आपको हिलना ढुलना बिल्कुल नहीं है यदि आप ऐसा कर पाते हैं तो निश्चय मानिये कि आपकी इच्छाएं नियंत्रित हो रही हैं।

इच्छा शक्ति के लिए कठिन कार्यों का समय कैसे निश्चित करें ? Determine the time even for difficult tasks 

जब आप के छोटे कार्य समय पर होने लगे तो कठिन कार्य का भी समय निर्धारित करें ऐसे कार्य जो एक महीने से ज्यादा समय में पूरा होते हूं उनको धी समय में बांधकर पूरा करने का प्रयास करें जिससे आपकी इच्छा शक्ति और प्रबल होती जाएगी।

यदि आप नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं तो उसे भी लिख कर अपनी टेबल पर रख ले और उसके लिए प्रेत न करें कि निश्चित समय में कार्य पूरा कर लेंगे वाले ही आप को परिश्रम ज्यादा करना पड़े बाधाएं बहुत सी आ सकती हैं परंतु आपका चित्त और ज्यादा दृढ़ बनना चाहिए।

यदि आपका सभी काम निर्धारित समय में होता है तो निश्चित है कि आपकी इच्छा शक्ति पर नियंत्रण हुआ है।

back pain

जब सभी कार्य सफलता पूर्ण हो जाते हैं अब और कठिन अभ्यास कर सकते हैं जिससे अलौकिक चमत्कार हो सकता है। अपनी परवल इच्छा शक्ति को मजबूत करने के बाद आप ऐसे कार्य कर सकते हैं |

जो असंभव रहे जैसे उड़ते हुए पक्षी को अपनी इच्छा से नीचे उतार सकती हैं चलती हुई गाड़ी को रूम सपने जलती हुई आग को बुझा सकते।

अपनी इच्छा शक्ति को और ज्यादा मजबूत करने के लिए कुछ टिप्स इस प्रकार हैं –

इच्छा शक्ति को पूरा करने के लिए कैसा बोलना चाहिए ? Always say less 

दृढ़ इच्छाशक्ति को मजबूत बनाने के लिए अनावश्यक रुप से ना बोले जिससे आपकी शक्ति नष्ट होती है और उसे प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ेगी अतः अपने शरीर में शक्ति को बनाए रखने के लिए कम से कम बोले।

इच्छा शक्ति को पूरा करने के लिए कैसी संगति में रहना चाहिए ? Do not associate wrongly 

जो व्यक्ति मूर्ख अशिक्षित दुराचार तथा कमजोर चित्त वाले हों, इनके साथ बिल्कुल न रहें क्योंकि यह लोग आपके अंदर नकारात्मक भाव पैदा करेंगें। यह लोग अपना जीवन बर्बाद करने हैं साथ ही आपको भी असफल बना देते हैं अतः आप इनसे दूरी बनाए रखें।

इच्छा शक्ति को पूरा करने के लिए एकांत वासी बनने का प्रयास कैसे करें ? Try to be secluded 

दिन के समय यथासंभव एकांत में समय बिताने का प्रयास करें जिससे आपके पास कोई न रहे और कोई व्यवधान ना उत्पन्न हो।
अपने रहस्यों को अपनेतक सीमित रखें |

बहुत से विचार ऐसे होते हैं जो रहस्य भरे होते हैं, इन्हें किसी के सामने ना प्रकट करें यदि आप पर कोई किसी कारणवश नाराज हो रहा है या गुस्सा प्रकट कर रहा है तब भी आप अपने पर नियंत्रण रखें।

इच्छा शक्ति से गोपनीयता कैसे बनाये ? Create privacy 

जीवन में कभी भी किसी की बात को किसी और से बिल्कुल ना कहें बल्कि गोपनीयता बनाए रखी अर्थात चुगली करना गलत होता है अपनी मित्र या परिचित का कोई भी रह से किसी से बिल्कुल प्रकट मत करें।

इच्छा शक्ति से कैसे अपने चेहरे को निर्विकार बनाएं ? Make your face faceless 

यदि कोई भी राह से आपका परिचित आपसे बताता है और आपको पहले से पता है तब भी आप उसके सामने यह बताने का प्रयत्न न करें कि मुझे पता था बल्कि अपनी चेहरे कहा भाव इस प्रकार रखें की आपको कुछ ज्ञात ही नहीं है ऐसा लग रहा हो कि पहली बार सुन रहे हैं।

इच्छा शक्ति से खानपान, वेशभूषा, साधारण कैसी होनी चाहिए ? Catering costumes should be simple 

आप अपने खानपान वेशभूषा अलौकिकता न लाएं बल्कि बल्कि सब कुछ सामान और अच्छा होना चाहिए इससे समाज में हर तरह से रह सकेंगे। इस प्रकार करने से सभी लोग आपकी और आकर्षित होंगी और आप पर विश्वास करेंगे।

इच्छा शक्ति से एकाग्र दृष्टि कैसे रखें ? Keep a focused vision 

आंखें शरीर का विशिष्ट अंग हैं इनके माध्यम से किसी के ऊपर हम प्रभाव डाल सकते हैं इसलिए आंखों को एकाग्र करिए जिसे आंखों ने एक प्रकार का आकर्षण पैदा होता है जिसे सामने वाला व्यक्ति प्रभावित हो जाता है।

इच्छा शक्ति को पूरा करने के लिए मस्तिष्क को कैसा रखना चाहिए ? Make the mind zero thoughts 

अपने मस्तिष्क में अनावश्यक विचार न पनपने दें जिससे चेहरे पर चमक मानसिक संतुलन स्मरण शक्ति और बुद्धि में विकास होता है साथ ही बुरे विचारों का नाश होगा इसलिए ज्यादा से ज्यादा मस्तिष्क को विचार शून्य बनाएं |

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मुख्यपेज पर जाये या अपना मनपसन्द टॉपिक चुने ❤☚

✤ यह लेख भी पढ़े ✤