बंधन में की गई कोख को कैसे खोले ? जाने 5 अचूक उपाय How to open the womb?

❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मन पसंद & नये लेख पढ़े ❤☚

Bandhi kokh kholne ke upay जब हम छोटे थे तो हमने बहुत बार टीवी पर कोख बंधन क्रिया के बारे में सुना था और हम सोचते थे कि क्या यह सही हो सकता है, क्या कोई किसी की गोद भी बांध सकता है ताकि उसे बच्चा ना हो परंतु जब हम बड़े हुए तब हमें इसके बारे में जानकारी प्राप्त हुई |kokh bandhi ho to kaise kholen,bandhi kokh kholne ke upay, bandhi kokh kholne ke totke in hindi

और तब जाकर हमने यह सच माना कि हां तांत्रिक क्रिया में ऐसे कई मंत्र बताए गए हैं जिसका इस्तेमाल करके आदमी अगर उन मंत्रों को सिद्ध कर लेता है और उसका इस्तेमाल किसी की गोद को बांधने के लिए करता है तो फिर उस औरत को कभी भी बच्चा नहीं होता है|

उसको बच्चा तभी होगा जब वह अपना इलाज किसी अच्छे तांत्रिक से करवाएगी, और जब कोई अच्छा तांत्रिक उसके गोद के बंधन को खोल देगा, अगर आप भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं|

कोख किस तरफ होती है, कोख बंधन के उपाय, देवी देवता खोलने का मंत्र, बंधन खोलने का मंत्र, शरीर खोलने का मंत्र, कोख का अर्थ, कोख बंधन खोलने का शाबर मंत्र, बंधन काटने का शाबर मंत्र, कोख बंधन खोलने के उपाय, गर्भाशय का छोटा होना, बच्चेदानी निकालने से क्या परेशानी होती है, बच्चेदानी का साइज कितना होना चाहिए, गर्भाशय क्या है, कैसे पता लगाएं कि पेट में लड़का है, प्रेगनेंसी में बेबी बॉय किस साइड होता है, बेटा बेटी होने के लक्षण, गर्भ में लड़का किस साइड रहता है, सोनोग्राफी से कैसे पता लगाएं कि पेट में लड़का है,

सामान्य तौर पर ऐसा आदमी तब करवाता है जब उसके इरादे गंदे होते हैं, जैसे कोई आदमी किसी औरत की गोद इसलिए बंधन में करवा देता है ताकि उसे कोई बच्चा ना हो और वह आदमी आगे चलकर उसकी प्रॉपर्टी को हड़प कर सके, वहीं कई महिलाएं भी ऐसी होती हैं जो दूसरी महिला की गोद इसलिए बंधन में करवा देती है ताकि उसे बच्चा ना हो, इसके पीछे जलन का कारण भी होता है, आइए अब आगे जानते हैं कि बंधन में की गई कोख को कैसे खोलें|

बंधन में की गई गोद को खोलने के लिए शुक्रवार मंत्र उपाय कैसे करे ? Friday’s measure to open the lap done in Bandhan

आपको यह उपाय किसी भी शुक्रवार के दिन से चालू करना है, आपको इसमें इस बात का ध्यान अवश्य रखना है कि किसी भी सामान्य दिन ही इसका प्रयोग करना है,आपको जब महिलाओं के पीरियड आते हो तब इसका इस्तेमाल नहीं करना है, यह प्रयोग टोटल 41 दिन का है और आपको इस प्रयोग को शुक्रवार की सुबह से चालू करना है और लगातार 41 दिनों तक करना है|

यह भी पढ़े :   गर्भ में बच्चा किस तरफ रहता है दांये या बांये ? Which side is the boy in the womb right or left ?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नीचे दिए गए मंत्रों का जाप करने की कोई निश्चित संख्या नहीं है, आप से जितना हो सके आपको उतना अधिक से अधिक इन मंत्रों का जाप करना है|

इसके अलावा आपको शुक्रवार के दिन एक पानी वाला नारियल अपने सर से 7 बार उल्टा वार के माता रानी के चरणों में समर्पित करना है और उन्हें पंच मेवे का प्रसाद भी चढ़ाना है|

आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आपको नारियल वाला पानी सिर्फ शुक्रवार केदिन ही चढ़ाना है और माता रानी से बंधन में की गई कोख को खोलने के लिए अपनी अरदास लगानी है|

‌‌‌ओम ह्रां ह्रीं ह्रूं पुत्रं कुरू कुरू स्वाहा ।

‌‌बंधन में की गई गोद को खोलने के लिए पीपल के पौधे का प्रयोग इस उपाय को करने के लिए आपको शनिवार के दिन पीपल का पौधा लाना है और आपको अगले दिन यानी रविवार को सूरज निकलने से पहले नहाना है और फिर आपको तीन प्रकार की दाल लेनी है जिसमें चने की दाल, अरहर की दाल आपको नहीं लेनी है|

इसके बाद आपको तीनों दालो को सिंदूर के अंदर मिलाना है और एक बिंदी अपने पास रखनी है और 6 चूड़ी को हाथ में रख कर घड़ी की दिशा में पांच चक्र और एक उल्टा चक्कर फिर से मारे और अपने गर्भ को छुए|

इसके बाद सभी सामग्री को ले जाकर आपके पास जो पीपल के पेड़ है उसे जमीन में गाड़ दें और सभी सामग्री उसी के पास रख दें और आपको लगातार उस पीपल के पेड़ की 3 महीने तक सेवा करनी है, जैसे ही वह पीपल का पेड़ बड़ा होगा आपको संतान प्राप्ति होगी|

‌‌कोख बंधन काटने के मंत्र क्या होता है ? Spells to cut the bondage

यह भी पढ़े :   कबूतर के पंख से प्रचंड वशीकरण कैसे करें ? मंत्र टोटका और उपाय How to vashikaran by pigeon feathers in hindi ?

हम यहां पर आपको कोख के बंधन को काटने का मंत्र बता रहे हैं, इसके अंदर आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है,सबसे पहले आपको एक पान का पत्ता लेना है और थोड़ी सी मिश्री, केसर की कुछ फाक और गाय की मलाई भी आपको लेनी है|

अगर आपके घर के अंदर यह सारी चीजें मौजूद हैं तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, इन सभी चीजों को लेने के बाद आपको अपने सामने भगवान कृष्ण जी की मूर्ति रखनी है और उनकी पूजा करने के बाद उन्हें भोग लगाना है|

उसके बाद शाम के समय आपको मालपुआ और खीर बनाकर भगवान कृष्ण जी को समर्पितकरनी है और उनके मंत्र ओम नमो वासुदेवाय देवकी सुताय नमः का 108 बार जाप करना है|

आपको यह प्रयोग शुक्रवार से चालू करना है और आपको लगातार आठ दिनों तक यह प्रयोग करना है, ऐसा करने से भगवान श्री कृष्ण आपकी मनोकामना जरुर पूरी करेंगे और आपको मनचाहा फल देंगे|

गोद बंधन को खोलने के लिए मदार की जड़ का प्रयोग कैसे करे ?  Use of the root of madar to open the lap bond

यह भी एक बहुत ही आसान और सरल उपाय है,इस उपाय को करने के लिए किसी भी शुक्रवार के दिन आपको मदार की जड़ लानी है और उसके बाद उसे गंगाजल से सही तरीके से साफ करके उस स्त्री को देना है जिसकी कोख बंधी हुई है और उस मदार की जड़ को अपनी कमर के अंदर धारण करने के लिए कहना है, ऐसा करने से जल्द ही उसकी बंधन में की गई कोख खुल जाती है|

बंधन में की गई कोख को खोलने के लिए गोमती चक्र का प्रयोग कैसे करे ? Use of the Gomti Chakra to open the womb in bondage

अगर किसी महिला का बार-बार गर्भपात हो जाता है या फिर उसके पेट में बच्चा नहीं टिकता है तो गोमती चक्र इस समस्या में फायदेमंद हो सकता है,इसका इस्तेमाल करने के लिए गोमती चक्र को लाल कपड़े के अंदर धारण करके अगर महिला अपनी कमर में बांध लेती है, तो उसका गर्भपात नहीं होगा और उसका बच्चा भी खराब नहीं होगा|

संतान गोपाल यंत्र की पूजा कैसे की जाती है ?  Worship of child Gopal Yantra

अगर किसी महिला को बच्चा नहीं हो रहा है तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए शुक्ल पक्ष में किसी भी दिन संतान गोपाल यंत्र को घर के पूजा घर में स्थापित करना चाहिए और रोजाना इसकी विधिवत पूजा करनी चाहिए, इसके अलावा 16 गुरुवार का लगातार व्रत भी करना चाहिए, ऐसा करने से निश्चित ही फायदा होगा|

यह भी पढ़े :   नीम से वशीकरण कैसे करें ? मंत्र और 5 विधियाँ जाने How to captivate with Neem in hindi?

बंधन में की गई कोख को खोलने के लिए बरगद के पत्ते का प्रयोग कैसे करे ? Use of Banyan leaf to open the womb made in bondage

इस प्रयोग को आप किसी भी शुक्ल पक्ष के दिन कर सकते हैं, शुक्ल पक्ष के दिन आपको एक बरगद का पत्ता लेकर आना है और उसे साफ करके उसके ऊपर स्वास्तिक के चिन्ह का निर्माण करना है|

इसके बाद कुमकुम और सुपारी रखकर किसी मंदिर के अंदर जाकर उस पत्ते को रख देना है, ऐसा करने से आपको जल्दी ही संतान की प्राप्ति होगी|

-: चेतावनी disclaimer :-

सभी तांत्रिक साधनाएं एवं क्रियाएँ सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई हैं, किसी के ऊपर दुरुपयोग न करें एवं साधना किसी गुरु के सानिध्य (संपर्क) में ही करे अन्यथा इसमें त्रुटि से होने वाले किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे |

हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, जो Magic (जादू)  या Paranormal (परालौकिक) से सम्बन्ध रखती है , इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मुख्यपेज पर जाये या अपना मनपसन्द टॉपिक चुने ❤☚

✤ यह लेख भी पढ़े ✤