पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र और प्रयोग विधि : भाग्यशाली पुत्र प्राप्ति हेतु व्रत | Putra prapti ke liye mantra

पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र | Putra prapti ke liye mantra : हेलो दोस्तो नमस्कार स्वागत है आपका हमारे आज के इस नए लेख में आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र बताने वाले हैं हमारे वैदिक शास्त्र में संतान की प्राप्ति के लिए मंत्र साधना अनुष्ठान व्रत और हवन आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी है इसीलिए आज हम आपको उन्हीं सभी चमत्कारी मंत्रों में से कुछ ऐसे मंत्र जिन्हें शिव , दुर्गा , कृष्णा , सूर्य आदि भगवानों को समर्पित किया गया है और कहां गया है कि इन मंत्रों का जाप करने पर संतान की प्राप्ति अवश्य होगी.

शास्त्रों के अनुसार ऐसा कहा गया है कि सभी देवताओं को समर्पित मंत्रों की महिमा कई शास्त्रों में बताई गई है इन मंत्रों के द्वारा मनुष्य को हर प्रकार की सफलता प्राप्त होगी और उसी के साथ उत्तम संतान की प्राप्ति भी होगी और उसी में संतान के जीवन में आने वाली हर समस्याएं दूर हो जाएंगी।

पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र बताइए, पुत्र प्राप्ति के लिए शिव मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए सूर्य मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए दुर्गा मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए गोपाल मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए कृष्ण मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए गणेश मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए किस मंत्र का जाप करें, पुत्र प्राप्ति के लिए कौन सा मंत्र जाप करना चाहिए, पुत्र प्राप्ति के लिए कौन सा मंत्र है, पुत्र प्राप्ति के लिए कौन सा मंत्र जपना चाहिए, पुत्र प्राप्ति के लिए कौन सा मंत्र जाप करें, पुत्र प्राप्ति के लिए हनुमान जी का मंत्र, पुत्र प्राप्ति के लिए कौन से मंत्र का जाप करें, पुत्र प्राप्ति के मंत्र, putra prapti ke liye durga mantra, putra prapti ke liye ganesh mantra, putra prapti ke liye gopal mantra, putra prapti ke liye hanuman mantra, putra prapti ke liye mantra in hindi, पुत्र प्राप्ति के लिए जड़ी बूटी, putra prapti ke liye krishna mantra, पुत्र प्राप्ति के लिए गणेश जी का मंत्र,

वैसे तो हम आपको बता दें कि हमारे प्रिय देवताओं में से सभी देवता बहुत ही शक्तिशाली है उनका एक अलग अपना महत्व है उन सभी को अलग-अलग मंत्रों में समर्पित किया गया है वैसे हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह एक आस्था और भक्ति में विश्वास का विषय है अगर विश्वास और सच्चे मन से आस्था पूर्वक देवताओं को याद किया जाए तो आपकी पुत्र प्राप्ति की कामना अवश्य पूर्ण हो जाएगी.

तो चलिए आज हम आप लोगों को इस लेख के माध्यम से पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र के विषय पर चर्चा करते हैं अगर आप उन सभी मंत्रों के बारे में विस्तार से जानकारी चाहते हैं उसके अलावा पुत्र प्राप्ति के कुछ ऐसे उपाय एवं व्रत के बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख में अंत तक बने रहे ताकि आप लोगों को इन सभी विषयों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो सके।

तो आइये चलो जानते है ऐसे ही कुछ मंत्र और मनचाही संतान प्राप्त करने के या पुत्र प्राप्ति के लिए उपाय के बारे में.

पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र | Putra prapti ke liye mantra

हर एक मां के लिए अपना बेटा बहुत ही प्यारा होता है सब कुछ मिल जाता है दुनिया में मगर ,याद रखना की माँ-बाप नहीं मिलते है , मुरझा कर जो गिर जाए डाली से , ये ऐसे फूल है जो फिर नहीं मिलते ।। इसीलिए आज हम आप लोगों को पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र देने वाले हैं.

boy

आज हम आपको सभी देवताओं से संबंधित पुत्र प्राप्ति के कुछ ऐसे मंत्र देंगे जिनको पढ़ने के बाद आप अवश्य ही संतान की प्राप्ति कर सकेंगे इन मंत्रों का उच्चारण आपको बहुत ही साधारण एवं अच्छे तरीके से करना है क्योंकि आपको इसमें ज्यादा चीजों की आवश्यकता नहीं होगी और आप आसानी से इन मंत्रों का जाप कर पाएंगे।

1. पुत्र प्राप्ति के लिए दुर्गा मंत्र

वैसे तो आप सभी लोग मां दुर्गा के बारे में जानते ही होंगे या देवी बहुत ही शक्तिशाली हैं इन्हें मां दुर्गा के नाम से जाना जाता है कहा जाता है कि पुत्र की प्राप्ति के लिए दुर्गा मंत्र का जाप करने से उस व्यक्ति को पुत्र की प्राप्ति अवश्य होती है मां दुर्गा का यह मंत्र बहुत ही शक्तिशाली है इस मंत्र का जाप करने के लिए आपको अपने घर में रखी मां दुर्गा की फोटो के सामने बैठकर उनकी पूजा करनी है उसके पश्चात हमारे द्वारा दिए गए मां दुर्गा पुत्र प्राप्ति मंत्र का 108 बार प्रतिदिन जाप करना है इस मंत्र के जाप से आपको पुत्र की प्राप्ति अवश्य होगी।

ॐ सर्वाबाधा वि निर्मुक्तो धन धान्य सुतान्वितः।

मनुष्यो मत्प्रसादेन भवष्यति न संशय ॥

2. पुत्र प्राप्ति के लिए गोपाल मंत्र

भगवान श्री कृष्ण को गोपाल के नाम से जाना जाता है यह बहुत ही नटखट एवं शैतान थे भगवान श्री कृष्ण एक ऐसे देवता है जिनका पूजन जन्माष्टमी के दिन किया जाता है जिस दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था उसी दिन उनकी पूजा विधि विधान पूर्वक की जाती है भगवान श्री कृष्ण के कुछ मंत्र बहुत ही प्रसिद्ध है.

krishna

जो हमने आपको नीचे दिए हैं इसके अलावा भगवान श्री कृष्ण का संतान गोपाल मूल मंत्र बहुत ही शक्तिशाली है इस मंत्र का जाप करने से हर एक महिला को पुत्र की प्राप्ति हो सकती है अगर आप में से कोई भी महिला संतान की प्राप्ति करना चाहती है तो उन्हें गोपाल मंत्र का जाप करना चाहिए।

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीम ग्लौम देवकीसुत गोविन्द वासुदेव जगतपते

देहि मे तनयं कृष्ण त्वमहं शरणं गतः गलुम् क्लीं ह्रीं श्रीं ॐ।

॥ सन्तानगोपाल मूल मन्त्र॥

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं देवकीसुत गोविन्द वासुदेव जगत्पते ।
देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गतः ग्लौं क्लीं ह्रीं श्रीं ॐ॥

  1. श्री कृष्ण के यह मंत्र बहुत ही शक्तिशाली है इन मंत्रों को जाप करने से पहले स्फटिक की माला से 1,25,000 मन्त्रों का जाप करते हुए अभिमंत्रित करना है।
  2. पश्चात भगवान श्री कृष्ण की प्रिय चीजें यानी की खीर को हवन कुंड में डालना है पंचामृत , कमल के बीज , जीरा , वजंत्री ,शतावरी आदि चीजों की आवृत्ति बनाकर हवन कुंड में मंत्रों के द्वारा डालना है।
  3. उसके पश्चात 12 ब्राह्मणों को भोजन कराना है।
  4. पुत्र की प्राप्ति के लिए एक बहुत ही अच्छा पुराण बताया गया है कहा गया है कि हरिवंश पुराण का जाप करने पर एवं उसका कन्यादान करने पर पुत्र की प्राप्ति होती है।
  5. अगर आप इन मंत्रों के साथ साथ संतान गोपाल स्त्रोत मंत्र का जाप करेंगे तो आपको जल्द ही पुत्र की प्राप्ति होगी।

3. पुत्र प्राप्ति के लिए शिव मंत्र

वैसे तो आप सभी लोग भगवान शिव के बारे में जानते ही होंगे भगवान शिव बहुत ही शक्तिशाली देवताओं में से एक है भगवान शिव के सभी मंत्र बहुत ही शक्तिशाली हैं उनके मंत्रों का उच्चारण करके अपने जीवन के सभी संकटों को दूर किया जा सकता है।

उसी प्रकार पुत्र की प्राप्ति के लिए भगवान शिव के मंत्र का जाप करने पर आपको पुत्र की प्राप्ति निश्चित हो जाएगी। तो चलिए हम आपको भगवान शिव के 23 मंत्र ऐसे देते हैं जो पुत्र की प्राप्ति के लिए बनाए गए हैं इन मंत्रों का उच्चारण करने पर आपको पुत्र की प्राप्ति अवश्य होगी।

shivling

ओम बाल शिवाय विदमहे कालिपुत्राय धीमहि तन्नो बटुक प्रचोदयात्।।

ॐ ह्रां ह्रीं ह्रीं पुत्रम कुरु कुरु स्वाहा।

ॐ ह्रां ह्रीं पुत्र हूंं कुरु कुरु स्वाहा।

  1. भगवान शिव के इन मंत्रों का उच्चारण एक निश्चित समय पर ही किया जाता है खास तौर पर चंद्र माह के पहले दिन इन मंत्रों का उच्चारण करने पर आपके मन की इच्छा अवश्य पूर्ण हो जाएगी।
  2. इस मंत्र का उच्चारण करने के लिए आम के पेड़ के नीचे बैठकर पुत्र की प्राप्ति के लिए ऊपर दिए गए मंत्रों का जाप करना चाहिए।
  3. इस मंत्र का जाप माता और पिता में से कोई एक ही व्यक्ति कर सकता है और उसे स्नानादि करने के बाद भगवान शिव के गुरु की पूजा करनी चाहिए।
  4. उसके बाद भगवान शिव के सामने तेल का दीपक जलाया और धूप जलाएं।
  5. उसके पश्चात उत्तर दिशा की ओर मुख करके ऊपर दिए गए पुत्र प्राप्ति के मंत्रों का उच्चारण सही प्रकार से करें।
  6. इन मंत्रों का उच्चारण 21 दिन तक लगातार 11 स्फटिक माला से करना है।
  7. उसके पश्चात इन मंत्रों का उच्चारण करते समय कुछ ऐसे भजनों का परहेज करना है।
  8. मंत्र का उच्चारण समाप्त होने के पश्चात ब्राह्मणों को चावल और दूध का दान अवश्य करें ताकि आपको पुत्र एवं पुत्री की प्राप्ति जल्द हो सके।

4. पुत्र प्राप्ति के लिए गणेश मंत्र

हमारे प्रिय गणेश भगवान इन्हें हिंदू धर्म का सबसे पूजनीय देवता माना जाता है यह एक ऐसे देवता है जो सर्व कार्य सिद्धि के लिए जाने जाते हैं गणेश भगवान का दूसरा नाम गणपति है भगवान श्री गणेश की पूजा सभी पूजाओं से पहले की जाती है।

ganesha

इसीलिए इन्हें पूजनीय माना जाता है भगवान श्री गणेश बहुत ही शक्तिशाली देवताओं में से एक है अगर आप में से कोई भी व्यक्ति पुत्र की प्राप्ति के लिए गणेश भगवान के मंत्र का जाप करता है तो वह पुत्र की प्राप्ति निश्चित ही कर पाएगा लेकिन उसके लिए आपको मंत्र एवं उसके उच्चारण के बारे में जानकारी अवश्य होनी चाहिए जो आज हम आपको बताएंगे।

नमोऽस्तु गणनाथाय सिद्धी बुद्धि युताय च।

सर्वप्रदाय देवाय पुत्र वृद्धि प्रदाय च।।

गुरु दराय गुरवे गोप्त्रे गुह्यासिताय ते।

गोप्याय गोपिताशेष भुवनाय चिदात्मने।।

ॐ पार्वतीप्रियनंदनाय नमः।।

भगवान श्री गणेश की यह दोनों मंत्र बहुत ही शक्तिशाली हैं इन मंत्रों को प्रतिदिन सुबह के समय 108 बार जाप करने पर पुत्र की प्राप्ति हो सकती है।

5. पुत्र प्राप्ति के लिए सूर्य मंत्र

सूर्य एक ऐसे देवता हैं जिनके बिना यह पूरा संसार सवेरा नहीं देख सकता है क्या होगा जब सूर्य देवता एक भी दिन नहीं निकलेंगे खैर आज हम आपको इसलिए अपने पुत्र की प्राप्ति के लिए सूर्य मंत्र के बारे में बताने वाले हैं। भगवान सूर्य के मंत्रों का जाप करने के लिए सबसे पहले आपको अपने घर में सोना या चांदी से बने हुए सूर्य यंत्र की स्थापना करनी है उसके पश्चात भगवान सूर्य को अर्घ्य देकर पूर्व दिशा की ओर मुख करके बैठ जाना है और उनके सामने दीपक जलाकर प्रणाम करना है पुत्र की प्राप्ति के लिए नीचे दिए गए सूर्य मंत्र का 108 बार जाप करना है।

surya

“ओम सूर्याय नम:”

ॐ भास्कराय पुत्रं देहि महातेजसे।

धीमहि तन्न: सूर्य प्रचोदयात्।।

सूर्य देवता बहुत ही शक्तिशाली हैं भगवान सूर्य के ऊपर दिए गए मंत्र का जाप करने के लिए सबसे पहले आपको चार बत्ती वाला दीपक बनाना है उसके पश्चात जो दूसरी वाली बाती है उसे 90 इंच की दूरी पर रखना है उसके पश्चात ऊपर दिए गए मंत्र का उच्चारण करते हुए दीपक जलाना है।

यह उपाय एवं मंत्र का उच्चारण को 40 दिनों तक लगातार करना है इस मंत्र के उच्चारण से संतान की प्राप्ति के लिए कोशिश की जा सकती है अगर आप अपनी प्रेगनेंसी के 4 से 5 महीने पहले ही इस उपाय को करते हैं तो आपका बच्चा स्वस्थ एवं दुरुस्त पैदा होगा।

पुत्र प्राप्ति के लिए कौन से व्रत करे ? | Putra Prapti ke liye kaun se Vrat Karen ?

1. शिव व्रत

पुत्र की प्राप्ति के लिए भगवान शिव का व्रत करना चाहिए इस व्रत को करने के लिए आपको कच्चे दूध की आवश्यकता होगी उसके पश्चात आपको भगवान शिव के मंदिर जाकर शिवलिंग पर कच्चा दूध चढ़ाकर भगवान शिव को प्रणाम करना है।

हमारे हिंदू धर्म में भगवान शिव की पूजा सोमवार के दिन की जाती है सोमवार का दिन भगवान शिव के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है सोमवार के दिन भगवान शिव का व्रत करना चाहिए व्रत को करने के लिए सबसे पहले सोमवार के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठना है और स्नान आदि से निश्चिंत हो जाना है उसके पश्चात वस्त्र धारण करना है और भगवान शिव के मंदिर जाकर जलाअभिषेक करने के बाद व्रत का संकल्प लेकर शिव और पार्वती की पूजा अर्चना करनी है और व्रत कथा को सुनना है।

विधि-विधान पूर्वक शिव व्रत करने पर आपको पुत्र की प्राप्ति अवश्य होती है क्योंकि भगवान शिव अपने भक्तों की संपूर्ण इच्छाएं पूरी करते हैं।

2. एकादशी व्रत

पुत्र की प्राप्ति के लिए एकादशी व्रत का संकल्प लेना है इस व्रत के द्वारा पुत्र सुख की प्राप्ति होती है। एकादशी व्रत मनोकामना पूर्ति एवं मोक्ष की प्राप्ति के लिए किया जाता है अगर आप में से कोई भी व्यक्ति एकादशी व्रत करता है तो वह पुत्र की प्राप्ति के लिए भगवान विष्णु के सामने अपनी इच्छा को रख सकता है और आसानी से पुत्र की प्राप्ति कर सकता है।

3. सत्यनारायण का व्रत

NARAYAN VISHNU BHAGWAN

खास तौर पर हिंदू धर्म के सभी घरों में सत्यनारायण व्रत एवं उसकी कथा की जाती है लेकिन हम आपको बता दें कि अगर किसी भी महिला को पुत्र की प्राप्ति नहीं हो रही है इसके लिए उसने तरह-तरह के उपाय किए हैं लेकिन उसे कोई भी फायदा नजर नहीं आया है तो आज हम आप लोगों को सत्यनारायण भगवान का व्रत बताने वाले हैं पुत्र की प्राप्ति के लिए सत्यनारायण व्रत एवं उसकी कथा पड़ने पर पुत्र प्राप्ति के योग प्राप्त होते हैं।

4. शनि प्रदोष व्रत

हिंदू धर्म में शनि देवता को पूजनीय माना जाता है कहा गया है कि शनि भगवान का प्रकोप जिस भी व्यक्ति के ऊपर हो जाता है वह नष्ट हो जाता है इसीलिए इन को प्रसन्न करने के लिए तरह-तरह के मंत्र एवं उपाय किए जाते हैं उसी प्रकार अगर आप पुत्र की प्राप्ति के लिए शनि प्रदोष व्रत को करते हैं तो आपकी पुत्र प्राप्ति की कामना अवश्य पूर्ण हो जाती है।

5. भगवान सूर्य का व्रत

Sun

वैसे तो सभी व्यक्ति जानते हैं कि भगवान सूर्य कौन हैं कहा जाता है कि सूर्य भगवान एक ऐसे देवता हैं जिनके बिना इस सृष्टि का कोई भी महत्व नहीं है इसीलिए अगर आप में से कोई भी व्यक्ति या कोई महिला पुत्र से वंचित है तो उसे सूर्य भगवान की व्रत का संकल्प लेना चाहिए और रविवार के दिन सूर्य भगवान का व्रत करना चाहिए इस व्रत को करने से पुत्र की प्राप्ति अवश्य होती है।

FAQ : पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र

पुत्र प्राप्ति के लिए कौन कौन से मंत्र का जाप करना चाहिए ?

ऊं देवकी सुत गोविंद वासुदेव जगत्पते ।

देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गत:।।

पुत्र प्राप्ति के लिए कौन से भगवान की पूजा करनी चाहिए ?

अगर आप में से कोई भी महिला पुत्र की प्राप्ति करना चाहती है तो उसे भगवान शिव की पूजा एवं आराधना करनी चाहिए सावन के महीने में इनकी पूजा करने पर यह बहुत ही प्रसन्न होते हैं और पुत्र की प्राप्ति का वरदान देते हैं।

शिवलिंग पर क्या चढ़ाने से पुत्र की प्राप्ति होती है ?

पुत्र की प्राप्ति के लिए भगवान शिव के मंदिर जाकर उन्हें गेहूं का दान करना है इस दान से पुत्र की प्राप्ति होती है।

निष्कर्ष

दोस्तों जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से पुत्र प्राप्ति के लिए मंत्र के बारे में बताया इसके अलावा पुत्र प्राप्ति के लिए सूर्य मंत्र , शिव मंत्र और सूर्य मंत्र आदि विषयों के बारे में जानकारी दी है अगर आपने हमारे इस लेख को अच्छे से पढ़ा है तो आपको इन सभी मंत्रों के बारे में जानकारी मिल गई होगी.

इसके अलावा पुत्र की प्राप्ति के लिए हमने आपको कुछ ऐसे चमत्कारी व्रत बताएं हैं जिनको करने पर पुत्र की प्राप्ति अवश्य होती है उम्मीद करते हैं हमारे द्वारा दिए गए मंत्र और व्रत आपको अच्छे लगे होंगे और आप के लिए उपयोगी भी साबित हुए होंगे ।

Leave a Comment