बहुत पछताओगे नहीं तो जान लो शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए ? | Shukrawar ke din kya nahi karna chahiye

शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए Shukrawar ke din kya nahi karna chahiye : हेलो हमारे प्रिय मित्रों नमस्कार आज मैं आप लोगों के लिए लेकर आई हूं एक बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक जिसमें मैं बात करने वाली हूं शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए. क्योंकि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हर एक दिन अलग-अलग देवी और देवताओं को समर्पित है.

शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए Shukrawar ke din kya nahi karna chahiye

इसलिए हर जातक जातिका को हर दिन को ध्यान में रखते हुए कोई भी कार्य करना चाहिए और खास करके शुक्रवार के दिन को विशेष ध्यान में रखकर किसी भी शुभ और अशुभ कार्य को करना चाहिए क्योंकि शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी को समर्पित है जो व्यक्ति के जीवन और धन को प्रभावित करती हैं और अगर कोई भी जातक या जातिका माता लक्ष्मी के रूष्ट होने की वजह से धन की कमी का अभाव महसूस करता है तो फिर वह जीवन भर धन की कमी महसूस करेगा.

क्योंकि माता लक्ष्मी को मनाना बहुत ही मुश्किल कार्य है. इसीलिए आज मैं इस महत्वपूर्ण दिन शुक्रवार तथा इस दिन को प्राप्त करने वाली देवी को ध्यान में रखते हुए इस दिन कौन सा कार्य करना शुभ और कौन सा कार्य करना अशुभ माना गया है इसके विषय में बताऊंगी ऐसे में अगर आप लोग भी शुक्रवार दिन को महत्वपूर्ण मानते हैं और जानना चाहते हैं कि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन कौन सा कार्य करना शुभ और अशुभ माना गया है, तो कृपया करके इस लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़ें

शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए ? | Shukrawar ke din kya nahi karna chahie ?

हिंदू धर्म में कोई भी कार्य करने से पहले शुभ दिन और शुभ समय देखा जाता है क्योंकि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कोई भी कार्य शुभ दिन और शुभ समय पर करने से उस कार्य को करने का अच्छा फल प्राप्त होता है इसीलिए हम यहां पर हमारे ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बताए गए शुक्रवार दिन से संबंधित कुछ ऐसे कार्यों के विषय में विस्तारपूर्वक से बताएंगे.

जिन्हें शुक्रवार के दिन भूलकर भी नहीं करना चाहिए नहीं तो घर में गरीबी और रिश्तो में खटास आ जाती हैं, तो मित्रों आइए जानते हैं महान विद्वानों तथा ज्योतिष के नजरों में शुक्रवार के दिन कौन से कार्य करना अशुभ माना गया है जैसे :

1. किसी का अपमान ना करें

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी को समर्पित है इसीलिए इस दिन किसी स्त्री का अपमान नहीं करना चाहिए क्योंकि हर स्त्री के अंदर माता लक्ष्मी निवास करती हैं ज्योतिष के अनुसार किसी स्त्री का अपमान करना यानी कि माता लक्ष्मी का अपमान करना माना गया है और ऐसा करने से माता लक्ष्मी रूष्ट हो जाती हैं तथा घर में पैसों की तंगी आने लगते हैं और जब घर में पैसों की कमी आती है तो धीरे-धीरे रिश्तो में खटास आने लगती है.

husbands talk

क्योंकि तब हर किसी की इच्छाओं की पूर्ति नहीं हो पाती है इसीलिए एक दूसरे से मनमुटाव की स्थिति पैदा हो जाती है और फिर घर में सुख शांति भी नहीं रह जाती है इसीलिए इस दिन आपको किसी भी स्त्री और अन्य लोगों का अपमान करने से बचना चाहिए.

2. घर में गंदगी ना फैलाएं

व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए हर दिन सफाई करना बेहद आवश्यक होता है लेकिन खासकर के शुक्रवार के दिन घर की अच्छे से साफ सफाई करनी चाहिए और हर एक चीज को रखने का एक स्थान बना लेना चाहिए चीजों को इधर-उधर नहीं फैलाना चाहिए. क्योंकि घर में गंदगी होने की वजह से माता लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं और जब माता रानी किसी से रुष्ट हो जाती है, तो उस घर में पैसों की कमी तथा दरिद्रता आने लगती है.

eye goggles

क्योंकि जिस प्रकार से मनुष्य को स्वच्छता पसंद होती है उसी तरह से हर देवी देवताओं को भी स्वच्छता पसंद होती है इसीलिए आप माता लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए हमेशा अपने घर की अच्छे से साफ सफाई करें और खास करके जहां पर किसी भी देवी देवता का स्थान है उस स्थान को रोज सुबह पानी से धोएं और विधिवत उनकी पूजा-अर्चना करें ऐसा करने से घर में सुख शांति बनी रहती है.

3. किसी से उधर लेन देन ना करें

यहां पर महान विद्वानों का कहना है कि शुक्रवार के दिन ना तो किसी व्यक्ति को उधार पैसे देने चाहिए और ना तो उधार पैसे लेने चाहिए क्योंकि ऐसा करने से माता लक्ष्मी रुष्ट हो जाती है क्योंकि माता लक्ष्मी नहीं चाहती हैं कि वह आपके घर से किसी दूसरे के घर में कर्ज के रूप में प्रवेश करें इसीलिए आप किसी को अगर पैसे देना चाहते हैं तो उधार नहीं बल्कि खुशी से उन्हें पैसा दे सकते हैं.

ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं लेकिन इसी के साथ में एक बात आपको यह याद रखना है कि सूर्य अस्त होते समय आप किसी को भी खुशी या फिर उधार दोनों तरीके से पैसे नहीं देना है क्योंकि सूर्यास्त के समय पैसों का लेनदेन करना आपको कर्ज की चार दिवारी में बांध सकता है जिससे निकल पाना मुश्किल हो जाता है.

4. किसी को चीनी का दान न करें

ज्योतिष शास्त्र का कहना है चीनी का संबंध शुक्र ग्रह से है इसीलिए शुक्रवार के दिन किसी को भी चीनी का दान करने से शुक्र ग्रह कमजोर हो जाता है और जब किसी भी कुंडली में शुक्र ग्रह कमजोर होता है तो उस जातक और जातिका के जीवन में तमाम कष्ट आ जाते हैं.

milk dudh

जिनसे छुटकारा पाना बहुत मुश्किल हो जाता है इसी के साथ में यह भी माना गया है कि मिष्ठान सामग्री का संबंध माता लक्ष्मी से भी है क्योंकि माता लक्ष्मी को मिष्ठान सामग्री का भोग को पसंद है इसीलिए शुक्रवार के दिन किसी को भी मीठी चीजों का दान ना करें.

5. रात को झूठे बर्तन न रखे

बुजुर्ग लोगों का कहना है अगर शाम को घर में झूठे बर्तन इधर-उधर फैले रहते हैं, तो इससे माता लक्ष्मी रुष्ट हो जाती है और फिर उस घर में कभी भी दोबारा अपने पैर नहीं रखती हैं क्योंकि माता लक्ष्मी को स्वच्छता पसंद है और खास करके शाम को माता रानी हर एक घर में भ्रमण करने के लिए आती है और जिस घर में गंदगी रहती है.

उस घर में माता रानी दोबारा कभी भी नहीं जाती हैं और उस घर के हर व्यक्ति को दाने-दाने के लिए मोहताज कर देती है इसीलिए शुक्रवार के दिन विशेष तौर से ध्यान देकर शाम को किचन की अच्छे से साफ सफाई करके बर्तन आदि को धोकर साफ स्थान पर अवश्य रखें.

शुक्रवार को भूल कर भी इन चीजों का सेवन ना करें | Shukrawar ko bhul Kar Bhi in chijo ka Sevan na Karen

जहां पर कुछ महान विद्वानों का कहना है कि शुक्रवार के दिन शुभ और अशुभ कार्य को ध्यान में रखकर करना चाहिए तो वहीं कुछ विद्वानों का कहना है कि शुक्रवार के दिन कुछ भी खाने से पहले यह जानना जरूरी हो जाता है कि शुक्रवार के दिन क्या खाना व्यक्ति के लिए हानिकारक हो सकता है.

क्योंकि शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी शुक्र ग्रह को समर्पित है इसीलिए हम यहां पर जानेंगे शुक्रवार के दिन क्या खाने से माता लक्ष्मी और शुक्र ग्रह दुष्ट हो जाते हैं. महान विद्वानों के अनुसार शुक्रवार को भूलकर भी इन चीजों का सेवन करना हर जातक जाति का लिए बहुत ही हानिकारक हो सकता है जैसे,

1. खट्टी चीजें

कई प्रकार के ज्योतिष का कहना है कि माता लक्ष्मी के रूप में माता संतोषी भी विद्यमान है इसीलिए शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी की पूजा करने वाले जातक जातिका को भूलकर भी खट्टी चीजें नहीं खानी चाहिए जिसमें खासतौर से खटाई, टमाटर, अचार और अन्य आपके हिसाब से जो खट्टी चीजें हैं उन्हें बिल्कुल भी ना खाएं.

आम का अचार

क्योंकि खट्टी चीजें खाने से माता लक्ष्मी बहुत ज्यादा क्रोधित हो जाती है और फिर आप उन्हें चाहे जितना मनाने का प्रयास कर ले माता रानी आपको कभी माफ नहीं करेगी और आपके जीवन में तमाम तरह के कष्ट परेशानियां आ जाएगी. जिनसे उभर पाना आपके लिए बहुत ही मुश्किल हो जाएगा. इसलिए जितना ज्यादा हो सके शुक्रवार के दिन आप खट्टी चीजों को अपने आप से दूर रखें और जो व्यक्ति आपके द्वारा दिए गए प्रसाद को ग्रहण करें उन्हें भी खट्टी चीजों को खाने की सलाह ना दें.

2. मांस का सेवन न करें

बड़े बड़े महान विद्वानों का कहना है कि हर एक स्त्री में माता दुर्गा, माता लक्ष्मी, और माता सरस्वती, विद्वामान रहती है और इस दिन अगर कोई भी जातक अपनी पत्नी से मांसाहारी भोजन बनावाकर ग्रहण करता है तथा अपने परिवार वालों को भी ग्रहण करवाता है, तो ऐसा करने से माता लक्ष्मी बहुत ज्यादा क्रोधित हो जाती हैं और फिर उस घर में कभी भी खुशहाली नहीं रह जाती है.

दाने-दाने के लिए माता रानी उस घर में हर सदस्य को तरसा देती हैं इसीलिए माता रानी के इस अशुभ प्रभाव से बचने के लिए शुक्रवार के दिन घर की अच्छे से साफ सफाई रखें और इस दिन सात्विक भोजन ही करें तो आपके इस कार्य से माता रानी हमेशा आपसे प्रसन्न रहेगी .

3. किसी भी प्रकार के नशे का सेवन ना करें

शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी ,माता सरस्वती, माता संतोषी, शुक्र ग्रह इन सब को समर्पित है इसीलिए इस दिन अगर कोई भी जातक या जातिका किसी भी प्रकार का नशा करते हैं तो माता लक्ष्मी उस घर से बाहर चली जाती हैं और फिर धीरे-धीरे उस घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश हो जाता है और जब किसी के घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश होता है तो उस घर में दरिद्रता आ जाती है तथा उस घर के हर एक सदस्य सुख शांति माहौल में जीने के लिए मोहताज हो जाते हैं.

drinking beer

इसीलिए हर व्यक्ति को माता रानी के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए किसी भी प्रकार के नशे से बचना चाहिए और जितना हो सके माता लक्ष्मी के स्थान पर तथा पूरे घर में अच्छे से साफ सफाई करके उनकी पूजा-अर्चना करना चाहिए.

मित्रों अब आप लोग जान गए होंगे शुक्रवार के दिन क्या नहीं खाना चाहिए अब आइए जानते हैं शुक्रवार के दिन अगर आप से कोई गलती हो जाती है तो माता लक्ष्मी को कैसे प्रसन्न किया जा सकता है.

माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के उपाय | Mata Lakshmi ko Prasann karne ke upay

महान विद्वानों का कहना है कि माता लक्ष्मी की पूजा अर्चना पूरे विधि विधान के साथ करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न रहती हैं लेकिन अक्सर करके पूजा में व्यक्ति से कोई न कोई छोटी मोटी गलती अवश्य हो जाती है इसीलिए हम यहां पर बताएंगे अगर आपके किसी भी प्रकार की गलती की वजह से माता लक्ष्मी आप से रुष्ट हो गई हैं तो उन्हें मनाने के लिए क्या करना चाहिए.

लक्ष्मी Laxmi

हमारे ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कुछ इस प्रकार के उपाय बताए गए हैं जैसे,

  1. माता लक्ष्मी की पूरी विधि विधान के साथ पूजा करने के पश्चात उनकी प्रतिमा के सामने कमल का पुष्प रखें ऐसा करने से माता रानी के अशुभ प्रभाव से छुटकारा पाया जा सकता है.
  2. शुक्रवार के दिन 5 या फिर 9 कन्याओं को खीर हलवा पूरी फल इन सब का भोजन कराने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं.
  3. अगर माता लक्ष्मी आपसे किसी भी कारण रूष्ट हो जाती हैं और आपके घर में पैसों की कमी आ जाती है तो आप को इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए घर में निकली काली चीटियों को आटा दान करना चाहिए ऐसा करने से माता रानी के अशुभ प्रभाव से छुटकारा मिल जाता है.
  4. अगर आप बार बार बीमार पड़ रहे हैं और घर में पैसों की तंगी है तो माता रानी के इस प्रभाव से बचने के लिए जब भी घर से बाहर निकले तो मीठी दही खाकर ही निकले ऐसा करने से नकारात्मक शक्तियों से बचा जा सकता है.
  5. घर में एक दूसरे से झगड़ा हो रहा है और आए दिन नई नई समस्याएं नजर आती है तो माता रानी के इस प्रभाव को कम करने के लिए रोज सुबह सुहागन स्त्री को स्नान आदि से निवृत होने के पश्चात माता रानी की पूरी विधि विधान से पूजा करनी चाहिए तत्पश्चात मंदिर में रखे गंगाजल को पूरे घर में छिड़काना चाहिए.
  6. ऐसा करने से घर की नकारात्मक शक्तियां बाहर निकल जाती है और घर में सकारात्मक शक्तियों का प्रवेश होता है फिर घर में सुख शांति का वातावरण महसूस होने लगता है.

FAQ : शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए

शुक्रवार के दिन कैसा भोजन नहीं करना चाहिए ?

शुक्रवार के दिन कोई भी खट्टी चीज नहीं खानी चाहिए खट्टी चीजें खाने से शुक्र ग्रह और माता लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं जिसके रुष्ट होने से धन दौलत में कमी आने लगती है.

शुक्रवार के दिन किस देवी देवता को समर्पित है ?

शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी शुक्र ग्रह और दैत्यों के गुरु शुक्राचार्य देव को समर्पित है.

शुक्रवार को क्या करने से धन की प्राप्ति होती है ?

शुक्रवार के दिन शुभ और अशुभ समय को ध्यान में रखकर कोई भी कार्य करना बहुत ही शुभ माना गया है इसीलिए शुक्रवार के दिन अगर कोई सुहागन महिला सूर्योदय के पश्चात स्नान आदि से निवृत होकर माता लक्ष्मी की पूजा अर्चना करने के पश्चात 5,9 कुंवारी कन्याओं को खीर और पूड़ी का भोजन कराती है बहुत जल्द मां लक्ष्मी प्रसन्न होकर उसकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाती हैं.

निष्कर्ष

तो हमारे प्रिय मित्रों जैसा कि आज हमने आप लोगों को इस लेख के माध्यम से शुक्रवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए इस विषय पर संपूर्ण जानकारी प्रदान करने की पूरी कोशिश की है जिसमें हमने खासतौर से यह बताया है कि शुक्रवार के दिन किस समय कौन सा कार्य करना शुभ और कौन सा कार्य करना घर की बुजुर्ग और महान विद्वानों के अनुसार अशुभ माना गया है,

ऐसे में अगर आप लोगों ने इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा तो आप लोगों को शुक्रवार के दिन से संबंधित शुभ और अशुभ कार्य की जानकारी अच्छे से प्राप्त हो गई होगी तो मित्रों मैं उम्मीद करती हूं आप लोगों को हमारे द्वारा बताइ गई जानकारी पसंद आई होगी और हमारा यह लेख आप लोगों के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *