माला कितने प्रकार की होती है ? रुद्राक्ष की माला के लाभ और मंत्र जाने !

❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मन पसंद & नये लेख पढ़े ❤☚

Sadhna ke liye mala kitne prakar ki hoti hai ? मित्रों जब कोई भी साधक किसी भी प्रकार की साधना करता है तो आप लोगों ने उसके हाथ में साधना के दौरान एक माला जरूर देखा होगा आखिर यह माला क्यों लेता है माला से जप या सिद्ध करना क्यों होता है क्या किसी साधना में माला लेना अनिवार्य है अथवा किसी भी साधना के लिए माला कितना महत्वपूर्ण है और कौन-कौन सी माला किस साधना के लिए प्रयोग की जाती है ।

साधना के दौरान विभिन्न प्रकार की मालाएं ली जाती है वैसे तो मालाएं अनेकों प्रकार से आप लोगों ने देखी और सुनी होंगी जैसे फूलों की माला रत्नों stone की माला बीजों की एवं धातु की तथा अन्य कुछ आभूषण के रूप में धारण करने वाली महिलाओं के रूप में आपने मालाएं देखी होंगी इसी तरह से कुछ ऐसी महिलाएं होती हैं जो साधना YOGA के दौरान विशेष महत्व रखती हैं|

sadhna karne ka tarika yog

वह कौन-कौन सी मालाएं हैं आइए 1-1 माला का नाम और महत्व बताते हैं। यह वही माला है हैं जिनको ज्योतिष और धर्म के अनुसार लोग जब तक करने में प्रयोग करते हैं।

index क्या क्या है इस लेख में ☞

स्फटिक की माला क्या है ? What is a rhinestone garland ?     

स्फटिक एक ऐसा रत्न होता है जो सफेद रंग का एक पत्थर है इस माला को माता सरस्वती और लक्ष्मी जी की उपासना के लिए प्रयोग किया जाता है इस प्रतीक को पंचमुखी ब्रह्मा का स्वरूप माना जाता है जिसके देवता का कालाग्नि हैं।

rhinestone garland sphatik mala anguthi patthar
इसका मंत्र है :

‘पंचवक्त्र: स्वयं रुद्र: कालाग्निर्नाम नामत:।।’

दरिद्रतानाशक मंत्र : ॐ ह्रीं ह्रीं श्री लक्ष्मी वासुदेवाय नम:।

स्फटिक की माला से क्या लाभ है ?  benefit of crystal beads 

किसी भी प्रकार की साधना और मंत्र जाप के लिए स्फटिक की माला का प्रयोग किया जा सकता है परंतु मां भगवती लक्ष्मी जी के मंत्र जाप में स्फटिक की माला ज्यादा लाभकारी माना जाता है क्योंकि इस माला के जाप करने से लक्ष्मी की प्राप्ति होती है और शुक्र ग्रह के दोष दूर होते हैं स्फटिक का उपयोग करने से दुख दरिद्र नष्ट हो जाता है तथा भूत-प्रेत की बाधा से भी मुक्ति मिल जाती है।

कमल गट्टे की माला क्या है ? What is lotus garland ?

कमलगट्टे की माला मां लक्ष्मी की उपासना के लिए सबसे ज्यादा शुभ मानी जाती है इसके स्वाद कमलगट्टे की माला भगवान विष्णु और मां काली की उपासना मैं भी किया जाता है।

lotus garland kamal ka phool kamal gatta

कमलगट्टे की माला का क्या लाभ है ? benefit of Kamalgatta garland

र में धन-धान्य की पूर्ति के लिए शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना करते हुए 108 बार मंत्र का जाप करें और कमल गट्टे की माला धारण करें इससे धन संबंधी समस्या समाप्त होगी इसके अलावा कमलगट्टे की माला अक्षय तृतीया दीपावली अक्षय नवमी के दिन कनकधारा का पाठ करने और माला से जाप करने से धन लाभ होता है।

”ॐ श्रींश्रीं महालक्ष्म्यै’

कमलगट्टे की माला का जाप मां काली के लिए किया जाता है तो शत्रु से विजय प्राप्त होती है मां काली की पूजा और आराधना कमलगट्टे के फूल से करते समय निम्नलिखित मंत्र जाप करें

पहला : ॐ कालिके नम:।
दूसरा : ॐ ह्रीं श्रीं क्रीं परमेश्वरि कालिके स्वाहा।

वैजयंती की माला क्या है ? What is the garland of Vaijayanti ?diya malae rangoli hindu festival

वैजयंती का माला भगवान विष्णु की आराधना या सूर्य देव की उपासना के लिए किया जाता है इसके अलावा विष्णु के अवतार श्री कृष्ण की पूजा वैजयंती माला का उपयोग किया जाता है वैजयंती की माला से जाप करने से ग्रह नक्षत्रों का दोष समाप्त होता है खास तौर पर शनिदेव का प्रकोप समाप्त हो जाता है।

वैजयंती माला का उपयोग क्या है ?  use of Vyjayanthimala

वैजयंती की माला को धारण करने से हृदय रोग नहीं होते हैं तथा शरीर में आत्मविश्वास के साथ नई शक्ति का संचार होता है कोई भी व्यक्ति वैजयंती की माला धारण करके कार्यक्षेत्र में सफल हो जाता है।

तुलसी की माला क्या है ? What is Tulsi Garland ?

तुलसी की माला भगवान राम विष्णु और कृष्ण की आराधना और उपासना के लिए प्रयोग की जाती है जब भगवान विष्णु राम और कृष्ण से संबंधित सिद्धि कर रहे होते हैं तो तुलसी के माला के साथ जाप के समय निम्न मंत्र का उच्चारण भी करते हैं।

tulsi ka ped gamla mandir bag hariyali

तुलसी की माला से लाभ क्या है ? benefits of Tulsi garland

भगवान विष्णु के लिए मंत्र कौन से है ?

ॐ विष्णवै नमः

भगवान कृष्ण के लिए मंत्र
भगवान कृष्ण की आराधना के लिए इस मंत्र का प्रयोग करें और सभी प्रकार से कष्टों से मुक्ति पाएं।

ॐ श्रीकृष्णाय शरणं मम।

या कृष्णाय वासुदेवाय हरये परमात्मने।

प्रणत क्लेशनाशाय गोविन्दाय नमो नम:॥

उपरोक्त मंत्र का जाप करने से घर परिवार में खुशियां भी आती हैं।

भगवान राम के लिए मंत्र कौन से है ?

भगवान राम की आराधना के लिए नीचे दिया गया मंत्र जाप करें और जीवन में यश कीर्ति तथा सौभाग्य बढ़ाएं

राम… राम… राम…. या ॐ हं हनुमते नम:।

तुलसी की माला को पहनकर कभी भी भगवान शिव की आराधना यह पूजा ना करें।

चंदन की माला क्या है ? What is sandalwood garland ?

 

चंदन की माला मां दुर्गा की उपासना के लिए किया जाता है इसके अलावा मंगल दोष को मिटाने तथा भगवान विष्णु और रामकृष्ण कि जब के लिए किया जाता है किसी भी उपासना के लिए लाल चंदन की माला सबसे उपयोगी होती है इसके अलावा सफेद चंदन की माला से मां सरस्वती मां लक्ष्मी गायत्री मंत्र की उपासना और जाप के लिए शुभ होती है

तुलसी की माला का प्रयोग chandan mala mala

मां दुर्गा और गायत्री की उपासना के लिए लाल चंदन की माला का प्रयोग करें और यह मंत्र जाप करें।

मां दुर्गा के लिए मंत्र कौन सा है ?

ॐ दुर्ग दुर्गाय नम:

मां गायत्री के लिए मंत्र कौन सा है ?

ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यम् भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात् |

चंदन की माला के लाभ क्या है ? benefits of sandalwood garland

चंदन की माला से मंत्रों का जाप करने से नौकरी पेशा में उन्नति होती है तथा घर परिवार खुश रहता है समाज के सभी लोगों का सहयोग मिलता है मानसिक शांति और लक्ष्मी की प्राप्ति होती है।

रुद्राक्ष की माला क्या है ? What is Rudraksha beads ?

रुद्राक्ष की माला भगवान शंकर के लिए मंत्रोचार करते समय किया जाता है जिससे भगवान शिव तुरंत प्रसन्न होते हैं रुद्राक्ष की माला के साथ मंत्र जपते समय मंत्र का जाप करें |

rudraksh ki mala rudraksha mala for hand rudraksh ki mala price rudraksh mala rudraksha mala for men original rudraksha mala 108 beads price rudraksha mala original rudraksha mala for neck rudraksha mala rules

ॐ नम: शिवाय।

इस मंत्र को जाप करने से व्यक्ति की सभी चिंताएं समाप्त हो जाती हैं मन को शांति मिलती है यदि कभी भी भगवान शिव के शिवलिंग पर जल चढ़ाते समय या फिर जॉब करते समय रुद्राक्ष की माला धारण करें
इसके अलावा रुद्राक्ष की माला से भगवान शंकर की मृत्यु पर विजय प्राप्त करने का मंत्र भी जाप किया जाता है जिसे महामृत्युंजय मंत्र कहा जाता है।

महामृंत्युजय मंत्र कौन सा है ?

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिंपुष्टिवर्द्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धानान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्।।

रुद्राक्ष की माला के लाभ क्या है ? benefits of Rudraksha beads

रुद्राक्ष की माला का जाप करने से भगवान शिव की कृपा से सर्व कल्याण होता है मंगल ही मंगल होता है तथा आयु में वृद्धि होती है धनु मीन लग्न के जातकों के लिए रुद्राक्ष की माला बहुत ही उपयोगी होती है |

हल्दी की माला क्या है ? What is turmeric garland ?

haldi turmeric haldi

अक्सर आप लोगों ने देखा होगा कि बहुत से तांत्रिक लोग हल्दी की माला को धारण करें रहते हैं दरअसल हल्दी की माला बगलामुखी साधना में किया जाता है तथा भगवान गणेश और बृहस्पति देव के मंत्र को सिद्ध करते समय भी हल्दी की माला का प्रयोग किया जाता है ।
बृहस्पति देव की आराधना के लिए हल्दी की माला के अलावा‘जीया पोताज् की माला का भी प्रयोग किया जाता है।

हल्दी माला के लाभ क्या हैं ? benefits of Haldi Mala ?

हल्दी की माला से बृहस्पति देव की पूजा करने से आर्थिक और शारीरिक कष्ट दूर हो जाते हैं इस माला को धारण करने पर धनु और मीन राशि वाले जातक पर भाग्यदोष का विनाश होता है। हल्दी की माला से मंत्र को सिद्ध करने से धन और कामना पूर्ति होती है तथा शरीर स्वस्थ भी होती है। पीलिया से पीड़ित लोगों को हल्दी की माला पहनाने से पीलिया नष्ट हो जाती है।

मोती की माला क्या है ? What is pearl beads ?

मोती की माला पहनने या धारण करने से सभी प्रकार से लाभ होता है चंद्रमा से संबंधित कोई भी दोष नष्ट हो जाता है तथा कर्क राशि के जातकों के लिए सबसे अधिक उपयोगी होती है इस माला को पहन कर चंद्र देव और शिवजी की आराधना करें
मोती के स्थान पर शंख या सीप भी माला अधिकतर तांत्रिक लोग पहनते हैं क्योंकि उन्हें तांत्रिक विद्या की साधना को करनी होती है जो उनके लिए काफी उपयोगी होता है।

sadhu सन्यासी महात्मा योगी माले sadhu yogi mahatma sant

मूंगे की माला क्या है ? What is a coral garland ?

मूंगा एक प्रकार का जलीय प्राणी शैवाल से प्राप्त होने वाला रत्न है इस रत्न की माला धारण करने से मंगल ग्रह के दोष मिट जाते हैं मेष और वृश्चिक राशि के जातकों के लिए मूंगा धारण करना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है।

मूंगे की माला से लाभ क्या है ?  benefit of coral beads ?

मूंगे की माला से मंगल देव और हनुमान जी के मंत्रों का जाप किया जाता है जिससे किसी भी प्रकार के भूत प्रेत जादू टोने से छुटकारा मिलता है साथ ही शनिदेव की पीड़ा से मुक्ति मिलती है।

माणिक्य की माला क्या है ? What is a ruby garland ?

mala har necklace

मालिक किसी माला धारण करने और मंत्र को सिद्ध करने के लिए तथा भगवान सूर्य देव के मंत्रों का जाप करते समय प्रयोग किया जाता है इस माणिक्य रत्न की माला को धारण करने से पितृदोष और ग्रह दोष समाप्त हो जाते हैं किसी भी प्रकार की पीड़ा से छुटकारा मिलता है।

-: चेतावनी disclaimer :-

सभी तांत्रिक साधनाएं एवं क्रियाएँ सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई हैं, किसी के ऊपर दुरुपयोग न करें एवं साधना किसी गुरु के सानिध्य (संपर्क) में ही करे अन्यथा इसमें त्रुटि से होने वाले किसी भी नुकसान के जिम्मेदार आप स्वयं होंगे |

हमारी वेबसाइट OSir.in का उदेश्य अंधविश्वास को बढ़ावा देना नही है, किन्तु आप तक वह अमूल्य और अब तक अज्ञात जानकारी पहुचाना है, जो Magic (जादू)  या Paranormal (परालौकिक) से सम्बन्ध रखती है , इस जानकारी से होने वाले प्रभाव या दुष्प्रभाव के लिए हमारी वेबसाइट की कोई जिम्मेदारी नही होगी , कृपया-कोई भी कदम लेने से पहले अपने स्वा-विवेक का प्रयोग करे !  

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मुख्यपेज पर जाये या अपना मनपसन्द टॉपिक चुने ❤☚

✤ यह लेख भी पढ़े ✤