क्या सच में भविष्य देखा जा सकता है ? भविष्य देखने के वो 6 प्रमुख तरीके कौन से है ? is it possible to predict future in hindi ?

💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕
Loading...

दोस्तों ज्यादातर लोग अपना भविष्य Future देखना चाहते हैं की आखिर आने वाले समय कैसा होगा | भविष्य में होने वाली घटनाओ को जानने की रूचि भला किसमे नही होगी ? हर कोई अपना फ्यूचर देखना चाहता है | bhavisy kaise dekhe ?

fortune-telling-in-hindi-future-kaise-jane-bhavisy-janne-ke-tareke-apna-bhavisy-kaise-jane-kya-sach-me-future-jana-ja-sakta-hai-

Loading...

भविष्य को जानना बहुत ही रोमांचक होता है ऐसे में कुछ ज्योतिषी और बाबा लोग भविष्य को देखने का दावा करते हैं | आज हम आप को बतायेंगे की आखिर दुनिया में वह कौन से तरीके हैं जिनके माध्यम से हम भविष्य देखा जा सकता हैं या फिर भविष्य देखना संभव है |

साथ में यह भी जानेंगे की यह मात्र कोई कोरी कल्पना  तो नही है, आज इन्हीं सब प्रश्नों के जवाब को जानने के लिए हम आपके लिए यह लेख लेकर आए हैं यदि आप इसे अंत तक पढ़ते हैं तो आपके सारे प्रश्नों का समाधान हो जाएगा |यदि फिर भी कोई प्रसन रह जाये तो आप हमे कमेन्ट करके पूछ सकते है .

क्या भविष्य देखा या जाना जा सकता है? Can be future predicted ?

तो शायद यह जान कर आप को आश्चर्य होगा की इसका जवाब हैहां,

परन्तु 100% का दावा कोई भी नही कर सकता है, क्योकि हमारी यह दुनिया हरदम नई-नई सम्भावनाये उत्पन करती रहती है , किसी का भी भविष्य बहुत से हिस्सों factors पर निर्भर करता है , जिसमे से उसके द्वारा किये गए कार्य प्रमुख होते है , क्योंकि आपके द्वारा किए गए कार्य एक नए भविष्य का निर्माण करते हैं , हिंदू धर्म की एक धार्मिक पुस्तक गीता में भी यही कहा गया है,

कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलषु कदाचन।

मा कर्मफलहेतुर्भूर्मा ते सङ्गोऽस्त्वकमज़्णि॥

(द्वितीय अध्याय, श्लोक 47)

Loading...

इस श्लोक का अर्थ है: कर्म पर ही तुम्हारा अधिकार है, लेकिन कर्म के फलों में कभी नहीं… इसलिए कर्म को फल के लिए मत करो और न ही काम करने में तुम्हारी आसक्ति हो। (यह श्रीमद्भवद्गीता के सर्वाधिक महत्वपूर्ण श्लोकों में से एक है, जो कर्मयोग दर्शन का मूल आधार है।)

भविष्य देखने के लिए प्रमुखता से छः तरीके प्रचलित है जिन के माध्यम से यह जाना जा सकता है की भविष्य में क्या होने वाला है,  चलिए पहले इन तरीको के बारे में जान लेते है  ,

1) भूतकाल को देखकर भविष्य की सम्भावना लगाना Prediction from past

इसमें भविष्य को जानने के लिए भूतकाल यानि जो बीत चूका है के डेटा (जानकारी) के आधार पर भविष्य का आकलन करते है जो की 50% से 85% तक सच होता है , जितनी ज्यादा गहराई से जानकारी का अध्यन और विस्लेशण किया जायेगा उतना ही उस भविष्य के सच होने की सम्भावनाये बढ़ जाती है |

खास आप के लिए :-  वशीकरण कैसे करे ? किसी को भी सम्मोहन करने के 3 बेहतरीन मंत्र और तरीके जाने ! How to do vashikaran ? Best 3 mantra for hypnosis in hindi

इसका प्रयोग प्रमुखता से टेक्निकल और प्रोफेसनल लोग करते है जैसे मौसम विभाग, शेअर मार्केट के टेक्निकल एनालिस्ट, वैज्ञानिक, गड़ितज्ञ आदि | इसे ही संभावना विज्ञान भी कहते है |

2) ज्योतिष शास्त्र के द्वारा Astrology

दोस्तों ज्योतिष शास्त्र भारत का बहुत ही पुरातन आदि काल से चला आ रहा गणित का एक प्रकार है,

जो केवल भविष्य जानने के लिए ही बनाया गया था , इस शास्त्र में भोगोलिक स्थिति,गृह-नछत्र की स्थिति, समय अवं अन्य बहुत सी चीजो का ध्यान रखते हुए भविष्य की कल्पना की जाती है |

इसके जानकारों का तो यह भी कहना है की, वह इसके माध्यम से 99% तक सच होने वाली भविष्य वाणी कर सकने में सछम है| किन्तु इस शास्त्र की सही से जानने वालो की संख्या बहुत कम ही है , ज्यादातर तो इसके नाम से ठगी और फ्राड ही होता है . इसके बारे में अधिक जाने के लिए हमारी यह पोस्ट पढ़े जिसमे हमने इनकी पोल खोली है ,

>> जाने मारण,उच्चाटन,मनोकामना प्राप्ति और वशिकरण करने वाले बाबा और तांत्रिक का काला सच ! आप को कैसे लूटते है ढोंगी ?

वैसे ज्योतिष शास्त्र सपने आप में सम्पूर्ण है , भारत के हिन्दू धर्म में तो आज भी शादी लड़के-लड़की की कुंडली मिला कर ही की जाती है जिससे उनका दाम्पत्य जीवन सुख मय रहे  पर अब तो बदलते युग के साथ न तो ऐसे पंडित रहे जो सही से कुंडली देख या मिला सके और न ही लोग इसे प्रमुखता देते है , जब की इसके माध्यम से कई अनहोनी घटनाओ को टाला जा सकता है .

हालाकी हर चीज की तरह इसमें भी कई अपवाद है जो हमे इसको लेकर शंका में डाल देते है . इसलिये कुछ लोग इस पर यकीन भी नही करते है .

यदि आप को ज्योतिष शास्त्र में रूचि है और आप भी इसे सीखना चाहते है तो बने रहे हमरी इस osir.in वेबसाइट के साथ और हम आप को इस शास्त्र की हर बारीकी को बतायेंगे .

3) टैरो कार्ड रीडिंग Tarot card reading

fortune-telling-in hindi future kaise jane bhavisy janne ke tareke apna bhavisy kaise jane kya sach me future jana ja sakta hai

टैरो कार्ड जो की ताश के पत्तों की तरह दिखते है, उसके ऊपर कुछ रहस्यमय और रंगीन चित्र बने होते है जो लोगों का भविष्य जानने के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं| यह भविष्य में होने वाली घटनाओं का अंदाजा लगाने में सहायक होते है|

खास आप के लिए :-  न्यास ध्यान क्या है ? शरीर के उर्जा केन्द्रों को कैसे जगाये ? How to awaken the energy centers of the body in hindi?

इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आप हमारी यह लेख पढ़े ,

पोस्ट लिंक

4) हस्त रेखा शास्त्र Palm reading

हस्तरेखा की सहायता से किसी व्यक्ति के भविष्य का अनुमान लगाया जा सकता है. हस्तरेखा ज्योतिष में जानकार द्वारा किसी व्यक्ति के हाथ के आकार, हथेली की लकीर आदि का अध्ययन करके उस व्यक्ति के भविष्य की जानकारी का अनुमान लगाया जाता है |

5)स्वप्न के आधार पर On a dream basis

 दोस्तों कुछ लोग सपनों के द्वारा भी भविष्य का आकलन करने में अपने आप को सक्षम बताते हैं किंतु यह कितना सच और कितना झूठ है इसके बारे में तो हम भी आपको नहीं बता सकते क्योंकि यहां पर भविष्य देखने के सारे तरीकों की बारे में बात हो रही है|

स्वप्नों का हिन्दू धर्म में बहुत महत्व माना गया है। यह आपकी जिंदगी का संपूर्ण हाल बयां कर देता है और भविष्य की गति भी बता देता है।

इसलिए हमने इसे शामिल किया है इसमें रात में देखे गए सपने के आधार पर भविष्य में क्या होने वाला है उसकी परिकल्पना की जाती है आगे चलकर इस वेबसाइट पर हम इस सपनों के इस विज्ञान और इससे जुड़े रहस्य के बारे में बताएंगे इसलिए आप हमारी वेबसाइट osir.in के साथ बने रहे |

6) किसी मायावी/असाधारण ताकत के द्वारा By some elusive /extraordinary power

इसके माध्यम से भविष्य देखने की दावा अधिकतर तांत्रिक तांत्रिक, प्रीस्ट, बाबा आदि लोग करते हैं |

जिसमें इनका कहना है कि यह किसी आध्यात्मिक असाधारण शक्ति जैसे भूत-प्रेत,जिन्न,देवी-देवता आदि  से संपर्क करके भविष्य को जान लेते हैं . हालांकि इसके लिए कई साधन आए हैं किंतु कर्ण पिशाचिनी साधना इसके लिए सर्वोत्तम मानी जाती है |

अगर इन तांत्रिकों या बाबाओं की मानें तो यह 99% तक अपने भविष्य वाणी के सच होने की गारंटी ले लेते हैं किंतु यदि बात हमसे किया जाए तो अभी तक मुझे ऐसा कोई अनुभव तो नहीं मिला है जिसमें ऐसी किसी माध्यम से भविष्य की बारे में जाना गया हो खैर भविष्य में अभी हम इस पर अन्य कई लेख लिखेंगे जिसके माध्यम से आप इन सब विद्याओं के बारे में भी जान सकेंगे |

यह भी पढ़े :

खास आप के लिए :-  Yog कब,कहाँ और कैसे करे ? प्रतेक योगी के लिए आवश्यक जानकारी एवं सावधानियां ! When, where and how to do Yog?

मेरा क्या मानना है इस विषय में ? conclusion

दोस्तों जैसा कि आप लोग जानते हैं कि मेरा इन सब विषयों में बचपन से ही रूचि रही है इस वजह से मैंने ज्यादा से ज्यादा इन सब चीजों को जानने का प्रयास किया है किंतु मुझे केवल ऊपर के 2 तरीके संभावना विज्ञान और ज्योतिष पर ही भरोसा है क्योंकि अभी तक मैंने नीचे के 2 तरीकों को अनुभव नहीं किया है तो मैं उनके बारे में कुछ भी कह सकने में अछम हूँ |

ज्योतिष के माध्यम से ही बचपन में मेरी कुंडली बना दी गई थी जो कि एकदम वर्ड टू वर्ड अब सच होती जा रही है इसलिए मुझे ज्योतिष पर कुछ ज्यादा ही भरोसा हो गया है आने वाले समय में हम इस पर भी आप लोगों को कई जानकारी देंगे किन्तु अभी के लिए प्रणाम !

Loading...

यह भी पढ़े :

यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों एवं Whats App और फेसबुक मित्रो के साथ नीचे दी गई बटन के माध्यम से अवश्य शेअर करे, क्योकि आप का एक शेयर किसी की पूरी जिंदगी को बदल सकता हैंऔर इसे अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे|


💕❤ इसे और लोगो (मित्रो/परिवार) के साथ शेयर करे जिससे वह भी जान सके और इसका लाभ पाए ❤💕

आप को यह पोस्ट कैसी लगी  हमे फेसबुक पेज पर अवश्य बताये या फिर संपर्क करे |

यदि आप हमारी कोई नई पोस्ट छोड़ना नही चाहते है तो हमारा फेसबुक पेज को अवश्य लाइक कर ले , यदि आप हमारी वीडियो देखना चाहते है तो हमारा youtube चैनल अवश्य सब्सक्राइब कर ले |

 

यदि मन में कोई प्रश्न या जानकारी है तो संपर्क बाक्स में डाल दे हम जल्द से जल्द उसका जवाब देंगे |

हमारे ब्लॉग OSir.in को पढ़ने के लिए धन्यवाद !
( कुछ नया सीखने की जादुई दुनिया )

☛❤ मुख्यपेज पर जाये ❤☚

✤ यह लेख भी पढ़े ✤